backup og meta

Abscess: एब्सेस क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपाय

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Priyanka Srivastava द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/05/2020

Abscess: एब्सेस क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिभाषा

एब्सेस (Abscess) क्या है?

एब्सेस कुछ और नहीं त्वचा पर उभरी हुई गांठ है, जो गुलाबी और गहरे लाल रंग की होती है, जिसे छूकर आसानी से महसूस किया जा सकता है। यह एक फोड़ा होता है, जिसके अंदर मवाद या पस भरा होती है।

फोड़ा आपके शरीर पर कहीं भी हो सकता है। पर यह आमतौर पर आपकी आर्मपिट (एक्सिलिया), फीमेल में प्राइवेट पार्ट के आसपास (बर्थोलिन ग्लैंड फोड़ा), आपकी रीढ़ का आधार (पाइलोनिडल फोड़ा) और आपकी कमर के आसपास होता है।

एब्सेस (Abscess) कितना सामान्य है?

इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

ये भी पढ़े Anthrax : एंथ्रेक्स क्या है?

एब्सेस (Abscess) के लक्षण क्या हैं?

  • फोड़े अक्सर काफी पेनफुल और लाल रंग की उभरी गांठ हैं, जो छूने पर गर्म और सख्त लगते हैं।

  • जैसे-जैसे फोड़े-फुंसी बढ़ते जाते हैं उनका सिरा नुकीला हो जाता है, जिसके खुलने पर पस बाहर निकलती है।
  • बिना देखभाल के यह और बदतर हो जाते हैं, जिससे इंफेक्शन स्किन टिश्यू और ब्लड में फैल सकता है।
  • अगर इंफेक्शन टिश्यू में अंदर तक फैल गया है, तो आपको बुखार भी आ सकता है और आप बीमार महसूस करने लगते हैं।
  • शरीर के अंदर फोड़े की पहचान करना तब तक मुश्किल है जब तक वह बाहर न दिखे लेकिन, इसके कुछ लक्षण दिखने लगते हैं। इन लक्षणों में शामिल हैं-

    • इंफेक्टेड एरिया में दर्द महसूस होना
    • हाई टेम्प्रेचर (शरीर का तापमान बढ़ना)
    • अनहेल्दी महसूस करना (शरीर से जुड़ी किसी तरह की परेशानी महसूस करना)
    • ऊपर बताए गए लक्षणों के अलावा, अन्य लक्षण भी हो सकते हैं। अगर आपको इनमे से कोई लक्षण नजर आता है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

      मुझे अपने डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

      अगर आपको लगता है कि आपको एब्सेस हो सकता है, तो अपने डॉक्टर से मिलें। वह आपके स्किन एब्सेस की जांच करता है और अगर आपको इंटरनल एब्सेस है, तो वह आपको हॉस्पिटल भी भेज सकता है।

      एक फोड़े का निदान करने के लिए कई टेस्ट मौजूद है, बस निर्भर करता है कि वह कहां पर है।

      कारण

      एब्सेस (Abscess) का क्या कारण होता है?

      आयल ग्लैंड और स्वेट ग्लैंड में में ब्लॉकेज का कारण स्किन पोर्स में सूजन आ जाती है। जब यह बैक्टीरिया के संपर्क में आता है शरीर की इम्यूनटी इन बैक्टीरिया को मारने की कोशिश करती है। इससे इंफ्लमेटरी रिएक्शन होता है, जिससे एब्सेस बनता है।

      एब्सेस के अंदर पस, डेड सेल बैक्टीरिया और मवाद होता है। इसके इंफेक्शन एरिया बढ़ने लगता है और त्वचा में तनाव पैदा होता है, जिससे आसपास सूजन आ जाती है। सूजन और दबाव के कारण ही दर्द होता है।

      यह भी पढ़ें : 5 Steps: ब्रेस्ट कैंसर की जांच ऐसे करें

      रिस्क फैक्टर

      फोड़े के लिए मेरा जोखिम कब बढ़ जाता है?

      जिनकी इम्यूनिटी कमजोर होती है (वैसे व्यक्ति जिनकी इम्यूनिटी पावर कमजोर होती है), उनमें फोड़े की अधिक संभावना होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि शरीर में संक्रमण को कम करने की क्षमता कम हो जाती है।

      • क्रोनिक स्टेरॉयड थेरिपी होना 
      • कैंसर जैसी बीमरी के इलाज के लिए कीमोथेरिपी से इलाज होना
      • डायबिटीज की समस्या होना
      • कैंसर होना 
      • एड्स होना
      • सिकल सेल की बीमारी होना 
      • ल्यूकेमिया की शिकायत होना
      • पेरिफेरल वेस्क्युल डिसॉर्डर
      • क्रोहन रोग
      • अल्सरेटिव कोलाइटिस
      • जलना महसूस होना 
      • शराब या नशीली दवाओं का उपयोग

      फोड़े के अन्य रिस्क फैक्टर में गंदे वातावरण के संपर्क में आना, स्किन इंफेक्शन, पुअर हाइजीन और पुअर सर्क्युलेशन वाले व्यक्तियों के संपर्क में आना।

      यह भी पढ़ें : जानें क्या है ब्रेस्ट कैंसर, सर्जरी और टिप्स

      निदान और उपचार

      दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

      फोड़े का निदान कैसे किया जाता है?

      डॉक्टर एक मेडिकल हिस्ट्री लेगा जिसमे आपसे कुछ सवाल पूछ सकता है:

      • फोड़ा कितने समय से है?
      • क्या उस जगह कोई चोट लगी थी?
      • आप कौन-सी दवाएं ले रहे हैं या किस तरह की दवाओं का सेवन करते हैं?
      • क्या आपको कोई एलर्जी है?
    • डॉक्टर फोड़े और आसपास के जगह की जांच करेगा। यदि यह आपकी गुदा/मलाशय के पास है, तो डॉक्टर गुदा परीक्षण करेगा। यदि हाथ या पैर पर है तो लिंफ ग्रंथि आपके कमर में या आपकी बांह के नीचे महसूस होगी।
    • ये भी पढ़ें: लोब्यूलर ब्रेस्ट कैंसर (Lobular breast cancer) क्या है ?

      फोड़े का इलाज कैसे किया जाता है?

      त्वचा पर छोटा-सा फोगा या फुंसी निकल आना तो नॉर्मल है, जो खुद ही सिकुड़ जाता है, सूख भी जाता है और बिना इलाज के ठीक भी हो सकता है।

      • हालांकि, बड़े फोड़े को डॉक्टर द्वारा इलाज की आवश्यकता हो सकती है।
      • डॉक्टर इसे ऑपरेट करके साफ कर देते हैं।
      • फोड़े के आसपास की जगह को सुन्न कर दिया जाता है।
      • हालांकि, पूरी तरह से सुन्न करना मुश्किल होता है लेकिन, एनेस्थीसिया से इस प्रक्रिया का दर्द काफी कम हो जाता है।
      • फोड़ा बड़ा होने पर आपको नींद या बेहोशी की दवाइयां भी दी जा सकती हैं।
      • उस जगह पर एंटीसेप्टिक सॉल्युशन लगा कर स्टेराइल टॉवेल से ढक दिया जाता है।
      • डॉक्टर फोड़े या एब्सेस में चीरा लगाकर उसके मवाद को पूरी तरह साफ कर देता है।
      • पस निकल जाने के बाद डॉक्टर घाव को भरने के लिए कुछ दवा लगा देते हैं, जिसे एक या दो दिन रखा जाता है।
      • फिर मरहम पट्टी के बाद घर पर देखभाल के निर्देश मिलते हैं। इस दौरान डॉकटर जो सलाह देते हैं उसका पालन करना चाहिए। 
      • ज्यादातर लोगों को फोड़े की सफाई के तुरंत बाद आराम मिल जाता है।
      • यदि आपको बाद में काफी दर्द रहता है, तो डॉक्टर उसके लिए आपको पेनकिलर देते हैं।

      यह भी पढ़ें : ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम करता है स्तनपान, जानें कैसे

      जीवनशैली में बदलाव और घरेलू उपचार

       जीवनशैली में बदलाव या घरेलू उपचार क्या हैं जो फोड़े से बचाव करने में मदद कर सकते हैं?

      नीचे बताए गए जीवनशैली में बदलाव और घरेलू उपचार आपको फोड़े से निपटने में मदद कर सकते हैं:

      • नियमित रूप से अपनी त्वचा की अच्छे से सफाई करें और हाई जीन मेंटेन करें।
      • किसी भी घाव को तुरंत चिकित्सा दें या बिना देर किये हेल्थ एक्सपर्ट से मिलना।
      • अगर आपको लगता है कि उसमें कुछ गंदगी है।
      • अगर बताए गए लक्षणों में से कुछ नजर आता है तो।
      • अगर आप स्टेरॉयड या कीमोथेरिपी पर हैं।

      अगर आप एब्सेस से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

      और पढ़ें :-

      114 साल के बरनांडो लपाल्लो (Bernardo Lapallo) से सीखें लंबे समय तक स्वस्थ रहना

      जानें मेडिटेशन से जुड़े रोचक तथ्य : एक ऐसा मेडिटेशन जो बेहतर बना सकता है सेक्स लाइफ

      कभी आपने अपने बच्चे की जीभ के नीचे देखा? कहीं वो ऐसी तो नहीं?

      दांत टेढ़ें हैं, पीले हैं या फिर है उनमें सड़न हर समस्या का इलाज है यहां

      अर्थराइटिस के दर्द से ये एक्सरसाइज दिलाएंगी निजात

      डिस्क्लेमर

      हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

      के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

      Dr. Pooja Bhardwaj


      Priyanka Srivastava द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/05/2020

      advertisement iconadvertisement

      Was this article helpful?

      advertisement iconadvertisement
      advertisement iconadvertisement