आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Cherry angioma: क्यों जरूरी है स्किन पर लाल रंग के इन धब्बों का उपचार?

    Cherry angioma: क्यों जरूरी है स्किन पर लाल रंग के इन धब्बों का उपचार?

    स्किन प्रॉब्लम्स आमतौर पर हानिरहित होती है, जिनसे आप कुछ ही समय में आसानी से निजात पा सकते हैं। लेकिन, कई बार यह समस्याएं गंभीर भी हो सकती हैं। आज हम बात करने वाले हैं एक स्किन प्रॉब्लम के बारे में, जिसे चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) कहा जाता है। स्किन में नजर आने वाले स्मॉल और रेड बम्प्स आमतौर पर गंभीर नहीं होते हैं। यह समस्या आमतौर पर तीस की उम्र के बाद नजर आती है और इन्हें आसानी से रिमूव किया जा सकता है। आइए जानें चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के बारे में विस्तार से।

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) किसे कहा जाता है?

    लाल मोल्स यानी चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) सामान्य स्किन ग्रोथ हैं, जो हमारे शरीर के अधिकतर एरिया में डेवलप हो सकती है। इस रोग को सिनाइल एंजियोमा (Senile angiomas) या कैंपबेल डी मॉर्गन स्पॉट (Campbell de Morgan spots) भी कहा जाता है। चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के अंदर स्मॉल ब्लड वेसल्स के कलेक्शन के कारण यह लाल रंग के नजर आते हैं। इस तरह की स्किन ग्रोथ आमतौर पर तब तक चिंता का विषय नहीं होती, जब तक इससे ब्लीडिंग न हो या इनके साइज, शेप या रंग में बदलाव न हो। अगर आप इसमें ब्लीडिंग या किसी तरह का बदलाव नोटिस करें तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। क्योंकि यह स्किन कैंसर का लक्षण हो सकते है। अब जानते हैं चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के लक्षणों के बारे में।

    और पढ़ें: डेमोडेक्स फॉलिकलोरम (Demodex folliculorum) : स्किन में रहने वाले इन पैरासाइट के बारे में जानते हैं आप?

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के लक्षण क्या हैं?

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) अधिकतर ब्राइट रेड, सर्कुलर और शेप में ओवल और छोटे होते हैं। इसका साइज कम से लेकर अधिक तक हो सकता है। कई बार यह स्मूथ दिखते हैं। लेकिन, कई बार यह स्किन पर उभार की तरह नजर आ सकते हैं। यह समस्या अधिकतर धड़, बाजू, टांगों और कंधों पर होती है। इसके लक्षण इस प्रकार होते हैं:

    • ब्राइट चेरी रेड कलर
    • साइज में छोटे से लेकर डायमीटर में 0.5 सेंटीमीटर तक हो सकते हैं
    • स्मूथ

    इसके अलावा इसके कुछ अन्य लक्षण भी नजर आ सकते हैं। अब जानते हैं इसके कारणों के बारे में।

    और पढ़ें: लाइकेन प्लानस : इस स्किन कंडिशन के बारे में जानते हैं आप? इसको ठीक होने लग जाते हैं वर्षों

    क्या हैं चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के कारण?

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के डायरेक्ट कारणों के बारे में जानकारी नहीं है। लेकिन, ऐसे कई फैक्टर्स हैं जो इस समस्या के कारण बन सकते हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

    • एजिंग (Aging)
    • प्रेग्नेंसी Pregnancy (Hormones)
    • जेनेटिक म्युटेशन (Genetic mutations)
    • केमिकल एक्सपोजर (Chemical exposure)
    • कुछ मेडिकल कंडिशंस (Certain medical conditions)
    • क्लाइमेट (Climate)

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) और उम्र के बीच में गहरा लिंक है। आमतौर पर तीस साल के उम्र के लोगों में यह समस्या होती है और 75 से अधिक उम्र के 75 प्रतिशत लोगों को भी यह प्रॉब्लम हो सकती है। चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) का कैसे हो सकता है निदान और उपचार जानिए।

    चेरी एंजियोमास,Cherry angioma

    और पढ़ें: Fitzpatrick Skin Types : स्किन कैंसर के बारे में जानने का आसान तरीका है फिट्जपैट्रिक स्किन टाइप्स!

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) का निदान और उपचार कैसे संभव है?

    सिनाइल एंजियोमा (Senile angiomas) या चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के निदान के लिए सबसे पहले डॉक्टर रोगी के लक्षणों को पहचानेंगे। इसके बाद इस समस्या के उपचार के तरीकों पर विचार किया जा सकता है। आमतौर पर इन्हें उपचार की जरूरत नहीं होती है, लेकिन कॉस्मेटिक रीजंस से इसे रिमूव किया जा सकता है। यदि यह ऐसे एरिया में हैं जो आसानी से बम्पड हो या जिनसे नियमित रक्तस्राव हो, तो इसे हटाने की आवश्यकता हो सकती है, जिससे। इसके उपचार के विकल्प इस प्रकार हैं:

    चेरी एंजियोमा (Cherry angioma): एक्सीजन (Excision)

    इस मेथड में स्किन से जख्म को कट या शेव किया जाता है। इसमें डॉक्टर दर्द को कम करने के लिए लोकल ऐनेस्थेटिक (Local anesthetic) को अप्लाई करते हैं। रोगी को प्रोसीजर के बाद दर्द या परेशानी भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में डॉक्टर की सलाह लेना न भूलें।

    और पढ़ें: Sunburn On Dark Skin: जानिए डार्क स्किन पर सनबर्न के बारे में यहां!

    इलेक्ट्रोडेसिकेशन (Electrodesiccation)

    इलेक्ट्रोडेसिकेशन वो मेथड है जिसे एलेक्ट्रोकॉटेरी (Electrocautery) भी कहा जाता है, इसमें चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) में होने वाली स्किन ग्रोथ को बर्न किया जाता है। त्वचा विशेषज्ञ आमतौर पर इसका उपयोग बिनाइन ट्यूमर, सीरियस स्किन कैंसर और प्री-कैंसर के लिए करते हैं। इसके लिए डॉक्टर सबसे पहले रोगी में लोकल एनेस्थेटिक को इंसर्ट करते हैं। फिर, वे ब्लड वेसल्स को नष्ट करने और एंजियोमा को स्क्रैप करने के लिए असामान्य टिश्यू को इलेक्ट्रिक नीडल से टच करेंगे। इसके बाद डॉक्टर घाव की ड्रेसिंग कर देंगे और ऐसा तब तक किया जाएगा जब तक घाव पूरी तरह से भर नहीं जाता। इस प्रोसीजर के बाद प्रभावित व्यक्ति को डिस्कम्फर्ट हो सकता है। इस प्रोसीजर के बाद स्मॉल और व्हाइट स्कार रह जाता है।

    और पढ़ें: रोजहिप ऑयल (Rosehip oil) स्किन हेल्थ के लिए क्यों माना जाता है फायदेमंद

    क्रायोसर्जरी (Cryosurgery)

    क्रायोसर्जरी, चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के कारण होने वाली स्किन ग्रोथ के उपचार के लिए प्रयोग किया जाने वाला सामान्य मेथड है। इसमें टिश्यू को फ्रीज किया जाता है। डॉक्टर इस एरिया को फ्रीज करने के लिए लिक्विड नाइट्रोजन के स्प्रे या स्वैब का इस्तेमाल करते हैं। इससे एंजियोमा ठीक होने से पहले ब्लिस्टर या पील हो जाता जाता है। कुछ मामलों में, इससे आपको खुजली हो सकती है। यह उपचार दूसरों की तुलना में कम प्रभावी हो सकता है।

    लेजर रिमूवल (Laser removal)

    इस मेथड में एक लेजर स्किन के माध्यम से पास करती है और एंजियोमा में ब्लड वेसल्स, बीम को अवशोषित करते हैं। इस उपचार के बाद, एंजियोमा गायब हो जाता है या ग्रे या किसी अन्य गहरे रंग का हो जाता है। इसके बाद यह लगभग दो से चार हफ्ते में फेड हो जाता है। ऐसा माना जाता है कि चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के बेस्ट रिजल्ट्स के लिए रोगी को दो ट्रीटमेंट्स की जरूरत होती है। हालांकि इसका रिजल्ट स्किन टोन के अनुसार अलग हो सकता है। स्मॉल चेरी एंजियोमा की स्थिति में सिंगल ट्रीटमेंट भी काफी है। लेजर ट्रीटमेंट के दो हफ्ते पहले या दो हफ्ते बाद तक सन एक्सपोजर से बचें। ताकि, आपको बेहतरीन रिजल्ट्स मिले और साइड इफेक्ट्स कम हों।

    और पढ़ें: Red Circle On the Skin: त्वचा पर लाल चकत्ते सिर्फ एक नहीं, बल्कि कई स्किन डिजीज की ओर इशारा कर सकते हैं!

    यह तो थी जानकारी चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के बारे में। हालांकि, इसके डायरेक्ट कारणों के बारे में जानकारी नहीं है। न ही कोई ऐसा तरीका है जिससे इस समस्या से बचा जा सकता है। लेकिन इस समस्या से बचने के लिए आपको इसका कारण बनने वाले केमिकल्स या ट्रीटमेंट्स से बचना चाहिए जैसे टोपिकल नाइट्रोजन मस्टर्ड (topical nitrogen mustard), ब्रोमाइड (Bromide) आदि। उम्मीद है कि यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। चेरी एंजियोमा (Cherry angioma) के हार्मलेस समस्या है जिसमें मेडिकल अटेंशन की जरूरत नहीं होती है। लेकिन, इसके कारण आपको परेशानी हो रही हो या इसमें ब्लीडिंग हो रही हो, तो तुरंत मेडिकल हेल्प लें। ताकि, इसका उपचार सही समय पर हो सके। अगर इस बारे में आपके मन में कोई भी सवाल है, तो डॉक्टर से इस बारे में अवश्य जानें।

    आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: