backup og meta

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) : अभी तक मुल्तानी मिट्टी के फायदे सुने होंगे, ये मिट्टी भी स्किन के लिए है तोहफा

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 23/06/2022

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) : अभी तक मुल्तानी मिट्टी के फायदे सुने होंगे, ये मिट्टी भी स्किन के लिए है तोहफा

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) नैचुरल क्ले है। यह मुलायम, महीन मिट्टी होती है। इसे पानी के साथ मिलाकर पेस्ट बनाकर लगाया जाता है। कई लोग इसका उपयोग रैशेज और एक्ने के इलाज के लिए करते हैं। इसका उपयोग हेयर मास्क के रूप में भी किया जाता है। बेंटोनाइट क्ले का उपयोग कई सालों से स्किन की गंदगी, ऑयल और टॉक्सिन्स को हटाने के लिए किया जाता है। कई स्किन प्रोडक्ट्स में इसका उपयोग होता है। कई लोग इसका उपयोग फूड्स और ड्रिंक्स में भी करते हैं ताकि डायजेस्टिव परेशानियों से राहत प्राप्त की जा सके।

कई स्टडीज में इस मिट्टी के फायदे बताए गए हैं लेकिन ज्यादातर रिसर्च एनिमल्स पर की गई हैं। इसके फायदों को लेकर अधिक रिसर्च करना जरूरी है। इस आर्टिकल में बेंटोनाइट क्ले के फायदों के साथ ही संभावित रिस्क के बारे में भी बताया जा रहा है।

बेंटोनाइट क्ले कैसे काम करती है? (How does bentonite clay work?)

बेंटोनाइट क्ले स्किन से ऑयल और धूल को सोखने में मदद करती है। बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) अपने मॉलेक्यूल्स या अणुओं के जरिए मटेरियल्स को एब्जॉर्ब कर लेते हैं। जैसे ही मिट्टी बॉडी से हटाई जाती है या अपने साथ टॉक्सिन और दूसरे मॉलेक्यूल्स को ले जाती है। जब कोई व्यक्ति इसे स्किन पर लगाता है तो यह बैक्टीरिया और ऑयल को एब्जॉर्ब करने का काम करती है। इसमें नैचुरल मिनरल्स जैसे कि कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन पाए जाते हैं। जो अतिरिक्त फायदे प्रदान करते हैं।

ज्वालामुखी की राख से बेंटोनाइट क्ले बनता है। इसका नाम व्योमिंग में फोर्ट बेंटन से लिया गया है, जहां यह बड़ी मात्रा में होती है। लोग इस मिट्टी को अन्य जगहों पर भी प्राप्त कर सकते हैं जहां ज्वालामुखी की राख जमी हुई है।

और पढ़ें: सी बकथॉर्न ऑयल (Sea Buckthorn Oil) : बालों और त्वचा के लिए नैचुरल रेमेडी

ऑयली (Oily) और मुंहासे वाली स्किन (Acne prone skin) का इलाज करे

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) का एब्जॉर्बेंट पावर एक्ने ब्रेकआउट और ऑयली स्किन के इलाज में मदद कर सकता है। यह मिट्टी स्किन की सतह से सीबम, ऑयल को हटाने में मदद करती है। इसके साथ ही इसमें मौजूद ठंडक और मुंहासों के कारण होने वाले इंफ्लामेशन को रोकने में मदद करती है। क्ले मास्क का उपयोग स्किन की गंदगी को हटाने के साथ ही पिंपल्स और स्किन इंफेक्शन के रिस्क को कम कर सकता है।

मास्क तैयार करने के लिए इसमें पानी को मिलाएं और गाढ़ा पेस्ट बनाकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं। 15-20 मिनट के लिए इसको रखें और फिर धो लें। मार्केट से भी ऐसे मास्क को खरीदा जा सकता है जिसमें बेंटोनाइट क्ले हो।

एलर्जिक रिएक्शन (Allergic reaction) के इलाज के लिए

कई लोग एलर्जिक रिएक्शन के इलाज के लिए भी बेंटोनाइट क्ले का यूज करते हैं। यह ठंडक प्रदान करने के साथ ही लालिमा, खुजली और इर्रिटेशन को कम करने में मदद करती है। इस मिट्टी का उपयोग पॉइजन आईवी से होने वाली एलर्जी के इलाज में भी किया जाता है। एलर्जी के इलाज के लिए इसका उपयोग करने से पहले प्रभावित हिस्से को पानी और साबुन से धो लें। इसके बाद मिट्टी का पेस्ट बनाकर लगाएं। इसे बैंडेज या साफ कपड़ से कवर करें। इसे दिन में दो तीन बार लगाया जा सकता है।

डायपर रैशेज (Diaper rashes) को दूर करने में भी मददगार

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay)

एनसीबीआई (NCBI) में छपी एक स्टडी के अनुसार बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) डायपर रैशेज का इलाज करने में भी मददगार है। एनसीबीआई की ही एक दूसरी स्टडी के अनुसार जिन इंफेंट्स पर इस क्ले का उपयोग रैशेज के इलाज के लिए किया गया उनके रैशेज में 6 घंटों में सुधार हुआ और 3 दिन में वे पूरी तरह से ठीक हो गए। बच्चों पर इसका उपयोग करने के लिए मिट्टी का पानी के साथ पेस्ट बनाकर सीधे रैशेज पर लगाएं। इसे शिया बटर, कोकोनट ऑयल या जिंक ऑक्साइड क्रीम के साथ भी मिक्स किया सकता है। अगर रैशेज गंभीर हैं तो डॉक्टर की सलाह के बिना बच्चे की स्किन पर किसी भी चीज का उपयोग न करें।

सन प्रोटेक्शन (Sun Protection) प्रदान करे

हालांकि फूड एंड ड्रग एडमिनस्ट्रेशन ने अब तक बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) को सनस्क्रीन इंग्रीडिएंट के तौर पर अप्रूव नहीं किया है, लेकिन एनसीबीआई एक स्टडी के अनुसार यह मिट्टी हानिकारक अल्ट्रावॉयलेट किरणों से सुरक्षा प्रदान कर सकती है। एक व्यक्ति को हमेशा अच्छे और अप्रूव्ड सनस्क्रीन का ही उपयोग करना चाहिए।

और पढ़ें: हार्मफुल सन रेज को कड़ी टक्कर दे सकते हैं ये टॉप 5 सनस्क्रीन जेल

बेंटोनाइट क्ले के अन्य उपयोग

स्किन हेल्थ के बारे में इस मिट्टी का उपयोग दूसरी कंडिशन्स के इलाज में भी किया जाता है। चलिए उनके बारे में भी जान लेते हैं। हैवी मेटल्स जैसे कि लेड के अत्यधिक संपर्क में आने से स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। बच्चों का दिमाग लेड के प्रति विशेष रूप से संवेदनशील होता है, और यह उनके लिए सीखने में अक्षमता का कारण बन सकता है

लेड पॉइजनिंग (Lead Positioning) से बचाने में मददगार

लेड के संपर्क से बचना और लेड एक्सपोजर के लिए परीक्षण करवाना लेड पॉइजनिंग को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है। कुछ शोधों के अनुसार बेंटोनाइट क्ले शरीर से लेड को निकालने में सहायक हो सकती है।

बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) में निटेटिव चार्ज होता है, जिसका अर्थ है कि यह पॉजिटिव चार्ज मेटल्स जैसे लेड से बाइंड हो सकता है। एक अध्ययन में पाया गया कि बेंटोनाइट क्ले अपशिष्ट जल से लेड हटाने में प्रभावी था। डॉक्टर की सलाह के बिना बच्चे के लिए इसका उपयोग ना करें। अगर डॉक्टर सलाह दें तो हर दिन आधी चम्मच क्ले दी जा सकती है।

और पढ़ें: स्किन की सबक्यूटेनियस लेयर क्या करती है काम, जानिए

डायरिया (Diarrhea)

कुछ शोध से पता चलता है कि बेंटोनाइट जैसे सोखने वाली मिट्टी वायरस से संबंधित पाचन संबंधी परेशानियों को कम करने में मदद कर सकती है, जैसे कि दस्त। उदाहरण के लिए, रोटावायरस गंभीर दस्त का कारण बन सकता है और आसानी से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है। एक अध्ययन में पाया गया कि डायोस्मेक्टाइट (Diosmectite) नामक एक सोखने वाली मिट्टी ने रोटावायरस को रेप्लिकेट होने से रोकने में मदद की।

अगर होम रेमेडीज के तौर पर वायरस रिलेटेड डायरिया का इलाज करने के लिए बेंटोनाइट क्ले का उपयोग करना चाहते हैं तो इसे दिन में एक या दो बार लें। अगर डायरिया बना रहता है तो डॉक्टर की सलाह लें। साथ ही खुद को हायड्रेटेड रखने के लिए पानी पीते रहें। एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि मिट्टी के खनिजों ने गायों में रोटावायरस को सोख लिया।

यदि मिट्टी के उत्पादों के उपचार के बाद दस्त कम नहीं होता है, तो एक व्यक्ति को बहुत सारे तरल पदार्थ पीना जारी रखना चाहिए, दस्त के इलाज के लिए और अधिक सामान्य तरीकों का प्रयास करना चाहिए और अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

क्या इस मिट्टी के उपयोग से कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं? (Side effects of bentonite clay)

अध्ययनों में अनुशंसित मात्रा में बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) का उपयोग करने के गंभीर दुष्प्रभाव नहीं पाए गए हैं। हालांकि, चूंकि यह एक प्राकृतिक उत्पाद है, इसलिए इसके खराब होने का खतरा रहता है। बेंटोनाइट मिट्टी धरती से प्राप्त की जाती है, जहां यह भारी धातु, कीटनाशक या अन्य पदार्थ एकत्र कर सकती है।

एफडीए बेंटोनाइट क्ले उत्पादों को विनियमित नहीं करता है। यह जानना मुश्किल हो सकता है कि प्रोडक्ट में केवल लेबल पर मौजूद कंटेंट है या नहीं। वास्तव में, विशेषज्ञों ने पाया है कि कुछ बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) उत्पादों में हैवी मेटल्स हो सकते हैं। 2016 में एफडीए ने उच्च लेड स्तर होने के कारण उपभोक्ताओं को एक निश्चित प्रकार की बेंटोनाइट क्ले का उपयोग नहीं करने की चेतावनी दी थी।

 ध्यान रखें

यदि कोई व्यक्ति बेंटोनाइट क्ले का उपयोग करना चाहता है, तो उसे किसी प्रतिष्ठित ब्रांड या सोर्स से आंतरिक उपयोग के लिए सुरक्षित लेबल वाले उत्पाद की तलाश करनी चाहिए। वे यह भी सुनिश्चित करने के लिए डॉक्टर से अपने ब्लड में लेड के लेवल की जांच करवाना सकते हैं कि वे बेंटोनाइट क्ले से लेड के संपर्क में नहीं आ रहे हैं। त्वचा पर बेंटोनाइट क्ले (Bentonite Clay) या किसी भी प्राकृतिक उपचार का उपयोग करने से पहले, एलर्जी के लिए त्वचा परीक्षण करें। उत्पाद की थोड़ी मात्रा को कोहनी के अंदर के क्षेत्र पर लगाएं और 24 घंटे तक प्रतीक्षा करें। यदि कोई प्रतिक्रिया नहीं होती है, तो उत्पाद का उपयोग आगे करें।

और पढ़ें: हाइड्रोक्विनोन स्किन को करता है लाइट, इन स्किन कंडिशन्स में हो सकता है बेहद यूजफुल

उम्मीद करते हैं कि आपको बेंटोनाइट क्ले के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 23/06/2022

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement