आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Chemotherapy treatment for Liver cancer: कब जरूरत पड़ सकती है लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी!

Chemotherapy treatment for Liver cancer: कब जरूरत पड़ सकती है लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी!

कीमोथेरिपी एक इलाज है जिसकी सहायता कैंसर सेल्स को नष्ट किया जाता है। लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) का विकल्प भी चुना जाता है। इसलिए यहां लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी से जुड़ी महत्वूर्ण बातों को समझेंगे।

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी से जुड़ी जानकारी से पहले यह समझना जरूरी है कि बॉडी में लिवर की अपनी खास भूमिका होती है। लिवर, खाने को डायजेस्ट करने और बॉडी के टॉक्सिन को बाहर निकालने में मदद मददगार है। अब अगर इसे आसान शब्दों में समझें, तो जब हम कुछ खाते हैं, तो आहार के छोटे-छोटे टुकड़े हो जाते हैं, ब्लड की मदद से लिवर तक पहुंचता है। लिवर पोषक तत्वों को अलग करने में अपनी मुख्य भूमिका अदा करता है। इसलिए लिवर का स्वस्थ (Healthy Liver) रहना जरूरी है। अगर लिवर से जुड़ी कोई परेशानी या लिवर में कैंसर की समस्या शुरू होती है, तो शरीर को पोषक तत्वों की कमी हो सकती है और आप इससे होने वाले शारीरिक नुकसान का अंदाजा भी लगा सकते हैं। इसलिए कुछ केसेस में लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) की जरूरत पड़ सकती है।

और पढ़ें : ALK positive lung cancer: एएलके पॉसिटिव लंग कैंसर क्या है? जानिए इसके लक्षण और इलाज!

  • लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट क्या है?
  • कौन-कौन से कीमोथेरिपी ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा सकता है?
  • लिवर कैंसर पेशेंट को कीमोथेरिपी कैसी दी जाती है?
  • कीमोथेरिपी ड्रग्स के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं?
  • लिवर की समस्या से बचाव के लिए क्या करें?

चलिए अब लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट क्या है? (About Chemotherapy for Liver cancer)

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer)

कीमोथेरिपी जिसे कीमो (Chemo) भी कहा जाता है और इस कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट की मदद से कैंसर सेल्स को नष्ट किया जाता है। अमेरिकन कैंसर सोसाइटी (American Cancer Society) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट (Chemotherapy treatment for Liver cancer) उनलोगों के लिए बेहतर विकल्प माना गया है जिन्हें सर्जरी की मदद से ठीक नहीं किया जा सकता। इसके साथ ही लोकल थेरिपी जैसे एब्लेशन (Ablation), इंबोलाइजेशन (Embolization) या टार्गेटेड थेरिपी से (Targeted therapy) फायदा ना मिला हो।

और पढ़ें : Total Pancreatectomy: जानिए टोटल पैनक्रिएटेक्टॉमी सर्जरी की जरूरत कब पड़ती है!

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट: कौन-कौन से कीमोथेरिपी ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा सकता है?

फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (Food and Drug Administration) द्वारा प्रमाणित एवं नैशनल कैंसर इंस्टिट्यूट यूएसए (National Cancer Institute USA) द्वारा पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ड्रग्स (Chemotherapy drugs for Liver cancer) में निम्नलिखित ड्रग्स को शामिल किया गया है। जैसे:

  • एटेजोलिजुमाब (Atezolizumab)
  • एवास्टिन (Avastin)
  • बेवाकिजुमाब (Bevacizumab)
  • कैबोमेटीक्स (Cabometyx)
  • कैबोजानटिनिब-एस-मालाटे (Cabozantinib-S-Malate)
  • क्रैमजा (Cyramza)
  • इंफिग्रेटिनिब फॉस्फेट (Infigratinib Phosphate)
  • कीट्रूडा (Keytruda)
  • लेन्वातिनिब मेसाइलेट (Lenvatinib Mesylate)
  • लेंविमा (Lenvima)
  • नेक्सावर (Nexavar)
  • निवोलुमाब (Nivolumab)
  • पेमाजीरे (Pemazyre)
  • पेम्ब्रोलिजुमाब (Pembrolizumab)
  • पेमिगेटिनिब (Pemigatinib)
  • रामुसीरुमाबी (Ramucirumab)
  • रेगोराफेनीब (Regorafenib)
  • सोराफेनीब टोसाइलेट (Sorafenib Tosylate)
  • स्टिवर्ग (Stivarga)
  • टेकेंट्रिक (Tecentriq)
  • ट्रुसेल्टिक (Truseltiq)

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी ट्रीटमेंट के दौरान इन ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा सकता है। कुछ लिवर कैंसर पेशेंट्स को कीमोथेरिपी के दौरान एक ड्रग के साथ अन्य कीमोथेरिपी ड्रग्स (Chemotherapy Drugs) की भी जरूरत पड़ सकती है। इसका निर्णय ऑन्कोलॉजिस्ट कैंसर की गंभीरता और पेशेंट की हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखकर करते हैं।

और पढ़ें: Lung cancer treatment: लंग कैंसर ट्रीटमेंट कैसे किया जाता है, जानिए इसके बारे में विस्तार से!

लिवर कैंसर पेशेंट को कीमोथेरिपी कैसी दी जाती है? (How is chemotherapy given)

लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer)

लिवर कैंसर पेशेंट को कीमोथेरिपी ड्रग्स निम्नलिखित तरह से दी जाती है। जैसे:

सिस्टमैटिक कीमोथेरिपी (Systemic chemotherapy)

कीमो ड्रग्स को इंजेक्शन की सहायता से वेन में दिया जाता है या दवाओं का सेवन मुंह से भी किया जाता है। इसका निर्णय ऑन्कोलॉजिस्ट करते हैं कि पेशेंट को कीमो ड्रग्स इंजेक्शन की सहायता से देना है या पेशेंट को ओरली खिलाना है। ये ड्रग्स ब्लडस्ट्रीम से होते हुए पूरे शरीर में फैल जाती है। यह इसलिए भी लाभकारी माना जाता है क्योंकि कीमोथेरिपी ड्रग्स से बॉडी में फैले हुए कैंसर सेल्स को नष्ट करने में मदद मिलती है।

लिवर कैंसर के इलाज के लिए कीमोथेरिपी ड्रग्स को कैथेटर की सहायता से वेन में अगर दिया जाता है, तो इसे मेडिकल टर्म में सेंट्रल वेनस कैथेटर्स (Central Venous Catheters [CVCs]) कहा जाता है। सेंट्रल वेनस कैथेटर्स की मदद से ब्लड टेस्ट भी किया जाता है। वैसे बहुत अलग-अलग तरह के सेंट्रल वेनस कैथेटर्स उपलब्ध होते हैं।

लिवर कैंसर के इलाज के लिए कीमोथेरिपी ड्रग्स के अलग-अलग सेशन होते हैं जो 2 से 3 सप्ताह तक चल सकता है। वैसे ड्रग्स की डोज बीमारी की गंभीरता और पेशेंट की हेल्थ कंडिशन पर निर्भर होता है।

और पढ़ें: Uterine cancer: कितना गंभीर है यूट्रस को प्रभावित करने वाला यूटेरिन कैंसर?

रीजनल कीमोथेरिपी (Regional chemotherapy)

रीजनल कीमोथेरिपी के दौरान आर्टरी (Artery) में दिया जाता है। रीजनल कीमोथेरिपी ड्रग लिवर में विशेष रूप से वहीं दी जाती है जहां ट्यूमर हो। ऐसा माना जाता है कि रीजनल कीमोथेरिपी ड्रग से साइड इफेक्ट्स भी कम देखे जा सकते हैं।

हेपेटिक आर्टरी इंफ्यूजन (Hepatic artery infusion)

सिस्टमेटिक कीमोथेरिपी की तुलना में हेपेटिक आर्टरी इंफ्यूजन को ज्यादा असरदार एवं कम साइड इफेक्ट्स वाला माना गया है। इस कीमोथेरिपी के दौरान डॉक्टर हेपेटिक आर्टरी में ड्रग्स देते हैं। वैसे यह कीमोम्बोलाइजेशन (Chemoembolization) से अलग होता है क्योंकि इस थेरिपी के दौरान सर्जरी की जरूरत पड़ती है जिससे इंफ्यूजन पंप (Infusion pump) को पेट के माध्यम से अंदर प्रवेश करवाया जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान पेशेंट को जेनरल एनेस्थीसिया (General anesthesia) दिया जाता है। इंजेक्शन की सहायता से कीमो ड्रग को इंफ्यूजन पंप में डाला जाता है जिसे धीरे-धीरे हेपेटिक आर्टरी रिलीज किया जाता है। हेपेटिक आर्टरी इंफ्यूजन के दौरान कीमो ड्रग की डोज को बढ़ा दिया जाता है, लेकिन इससे साइड इफेक्ट्स ज्याद नहीं होता है। जिन मरीजों को लिवर कैंसर सर्जरी से विशेष लाभ नहीं मिलता है तो उनके लिए यह कीमोथेरिपी ड्रग्स (Chemotherapy Drugs) ज्यादा प्रभावी माना गया है।

लिवर कैंसर पेशेंट को कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) इन्हीं अलग-अलग प्रक्रिया से दी जाती है। वैसे कीमोथेरिपी के साइड इफेक्ट्स (Side effects of Chemotherapy) भी हो सकते हैं।

और पढ़ें: Metastatic lung cancer: मेटास्टेटिक लंग कैंसर क्या हैं? जानिए मेटास्टेटिक लंग कैंसर के लक्षण और इलाज से जुड़ी प्रमुख जानकारियां!

कीमोथेरिपी ड्रग्स के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं? (Side effects of Chemotherapy)

कीमोथेरिपी के साइड इफेक्ट्स निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

  • जी मिचलाना (Nausea) और उल्टी (Vomiting) होना।
  • भूख नहीं (Loss of appetite) लगना।
  • बाल झड़ने (Hair loss) की समस्या होना।
  • डायरिया (Diarrhea) की समस्या होना।
  • कब्ज (Constipation) की समस्या होना।
  • मुंह में छाले (Mouth sores) आना।
  • इंफेक्शन का खतरा (Increased chance of infection) बढ़ना।
  • ब्लड में प्लेटलेट्स कम (Shortage of platelets) होना।
  • अत्यधिक थकान (Fatigue) महसूस होना।
  • सांस लेने में तकलीफ (Shortness of breath) महसूस होना।

कीमोथेरिपी के साइड इफेक्ट्स ट्रीटमेंट कम्प्लीट होने के बाद ठीक हो जाते हैं। जैसे अगर हेयर लॉस (Hair loss) हुआ है, तो कीमोथेरिपी (Chemotherapy) के बाद बाल फिर से आ जाते हैं। हालांकि लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) के दौरान या बाद में किसी भी तरह की परेशानी महसूस होने पर डॉक्टर से इस बारे में डिस्कस करें। डॉक्टर इन ऊपर बताई तकलीफों को दूर करने के लिए दवा प्रिस्क्राइब कर सकते हैं।

और पढ़ें : स्टडी: शरीर के बढ़ते वजन के कारण कैंसर की संभावना 20 प्रतिशत तक बढ़ सकती है!

लिवर की समस्या से बचाव के लिए क्या करें? (Tips to prevent Liver problem)

लिवर की समस्या से बचाव के लिए निम्नलिखित टिप्स फॉलो करने से लाभ मिल सकता है। जैसे:

  • बिना जरूरत के और बिना डॉक्टर के सलाह के किसी भी दवाओं (Medicine) का सेवन ना करें।
  • एल्कोहॉल (Alcohol) का सेवन ना करें।
  • स्मोकिंग (Smoking) ना करें।
  • हेल्दी डायट (Healthy diet) फॉलो करें।
  • रोजाना एक्सरसाइज (Exercising regularly) करें।
  • ज्यादा पानी (Drinking more water) पीने की आदत डालें।

इन टिप्स को फॉलो कर हेल्दी रहने में मदद मिल सकती है।

अगर आप लिवर कैंसर (Liver cancer) या लिवर कैंसर के लिए कीमोथेरिपी (Chemotherapy for Liver cancer) से जुड़े किसी तरह के सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज पर कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हैलो स्वास्थ्य के हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने की पूरी कोशिश करेंगे।

स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Chemotherapy for Liver Cancer/https://www.cancer.org/cancer/liver-cancer/treating/chemotherapy.html/Accessed on 01/07/2022

Drugs Approved for Liver Cancer/https://www.cancer.gov/about-cancer/treatment/drugs/liver/Accessed on 01/07/2022

Chemotherapy in Treating Patients With Liver Cancer/https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT00003044/Accessed on 01/07/2022

Treatment of Liver Cancer/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4561392/Accessed on 01/07/2022

Liver cancer/https://www.healthdirect.gov.au/liver-cancer/Accessed on 01/07/2022

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/07/2022 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड