Cinnarizine+Dimenhydrinate: सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date मई 25, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
Share now

उपयोग

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट दो एंटीहिस्टामाइन (antihistamine) दवाइयों का कॉम्बिनेशन है। इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल कई प्रकार के वर्टिगो (Vertigo) के इलाज में होता है। अक्सर यह उबकाई, उल्टी, पसीना आना या चलने में परेशानियों से जुड़ी होती है। यह दवा वर्टिगो के लक्षण जैसे उबकाई, चक्कर आना और उल्टी या स्पिनिंग सेंसेशन में राहत प्रदान करती है।

यह कॉम्बिनेशन दिमाग में हिस्टामाइन और मुस्केराइनिक रिसेप्टर्स (muscarinic receptors) को दिमाग में स्थिति वॉमिटिंग सेंटर में ब्लॉक कर देता है। इससे कान के केंद्रीय हिस्से में स्थित वेस्टिबुलर एपाराटस (vestibular apparatus) से वॉमिटिंग सेंटर में जाने वाले सिग्नल ब्लॉक हो जाती हैं। इससे मिडिल इयर वॉमिटिंग सेंटर (जहां से उल्टी के संकेत निकलते हैं।) को बधित नहीं कर पाता है, जो वर्टिगो, उबकाई  और उल्टी का कारण बनता है।

यह भी पढ़ें : Bisoprolol: बिसोप्रोलोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का इस्तेमाल करने के लिए दवा के पैकेज पर छपे दिशा निर्देशों को सावधानी पूर्वक पढ़ें। इसके अलावा, आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह ले सकते हैं। आमतौर पर अधिकतम रूप से इस कॉम्बिनेशन का सेवन चार हफ्तों से ज्यादा नहीं करना चाहिए। इस दवा का सेवन करने के लिए आपको इसे चबाना या तोड़ना नहीं है। डॉक्टर की सलाह पर आप इसे भोजन या खाली पेट एक ग्लास पानी के साथ ले सकते हैं। हालांकि खाली पेट इसका सेवन करने से आपका पेट खराब हो सकता है। बेहतर होगा कि आप भोजन के साथ या इसके बाद में इस दवा का सेवन करें। इससे अपच जैसी स्थिति से बचा जा सकता है। यदि आप फिर भी इसके इस्तेमाल को लेकर चिंतित हैं तो अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

यह भी पढ़ें: Cremaffin : क्रेमाफीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा ना जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • यदि आपको किडनी से संबंधित कोई भी समस्या है।
  • यदि आपको लिवर से संबंधित कोई भी समस्या है।
  • यदि आपको पार्किंसन डीजेज है।
  • यदि आपको प्रोस्टेट ग्लैंड (Prostate gland) की समस्या है।
  • यदि आपके उस हिस्से में ब्लॉकेज है, जहां पर पेट और आंत आपस में जुड़ते हैं।
  • यदि आपको हाई या लो ब्लड प्रेशर की समस्या है।
  • यदि आपको हार्ट और रक्त वाहिकाओं से संबंधित समस्याए हैं।
  • यदि आपको हाइपोथाइरॉयडिज्म की समस्या है।
  • यदि आपकी आंखों में प्रेशर की समस्या जैसे एंगल ग्लूकोमा है।
  • यदि आपको पोरफायरेस (porphyrias) की समस्या है।
यह भी पढ़ें: डेक्सट्रोमेथोर्फेन क्या है? जानिए इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी में सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का सेवन करने से यह प्लेसेंटा के जरिए गर्भाशय में स्थित भ्रूण में प्रवेश कर सकता है। हालांकि, डॉक्टरों में भी इस बात को लेकर आम राय नहीं है कि इस स्थिति में इसका सेवन सुरक्षित है या नहीं, चूंकि इस संबंध में अभी तक कोई ठोस जानकारी उपलब्ध नहीं है।

ब्रेस्टफीडिंग में यह दवा मां के दूध के जरिए शिशु की बॉडी में प्रवेश कर सकती है, जिससे उसकी बॉडी को नुकसान हो सकता है। इस कारण को देखते हुए ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

यह भी पढ़ें : Ibugesic Plus : इबूगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का सेवन करने से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

दुर्लभ मामलों में सामने आने वाले साइड इफेक्ट्स:

  • कंपकंपी
  • मरोड़
  • घबराहट
  • गट का डिस्टर्ब होना जैसे उबकाई, डायरिया और अपच
  • पसीना आना
  • रैश
  • सुई चुभने का अहसास
  • यूवी लाइट के प्रति त्वचा की संवदेनशीलता बढ़ना
  • यूरिन पास करने में परेशानी आना
  • दृष्टि में समस्या
  • एलर्जिक रिएक्शन

अत्यंत दुर्लभ साइड इफेक्ट्स:

  • खून में सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या में इजाफा होना।
  • खून में प्लेटलेट्स की संख्या में कमी आना।
  • आंशिक या पूरी तरह से रक्त कोशिकाओं के विकास बंद होना।

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Clobetasol : क्लोबेटासोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिएक्शन

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

निम्नलिखित दवाइयों के साथ इस कॉम्बिनेशन का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से आपको ड्रग रिएक्शन हो सकता है।

  • एंटीसाइकोटिक्स दवाइयां (जैसे हेलोपेरिडोल (haloperidol))
  • टेमाजेपेम (temazepam)
  • एमएओआई एंटीडिप्रेसेंट्स दवाइयां
  • फेनेलजाइन (phenelzine)
  • आइसोकारबोक्साजिड (isocarboxazid)
  • ट्रानयलकायप्रोमाइन (tranylcypromine)
  • दर्द नाशक अन्य दवाइयां
  • क्लोरफेनामाइन (chlorphenamine)
  • हाइड्रोक्सिजीन (hydroxyzine)
  • नींद की दवाइयां
  • जोपिक्लोन (zopiclone)
  • मजबूत नशीली पेन किलर दवाइयां
  • कोडिआइन (codeine)
  • डिहाइड्रोकोडाइन (dihydrocodeine)
  • मोरफाइन (morphine)
  • ट्रिसाइक्लिक इंटीडिप्रेशेन्ट दवा एमिट्रिप्टयलाइन (amitriptyline)
  • प्रोसाक्लिडाइन (procyclidine)
  • ओरफेनाड्राइन (orphenadrine)
  • ट्रिहेक्साफेनिडायल (trihexyphenidyl)
  • टोल्टरोडाइन (tolterodine)
  • ओक्सायबुटियनिन (oxybutynin)
  • क्लोरप्रोमाजाइन (chlorpromazine)
  • क्लोजेपाइन (clozapine)
  • हाइस्काइन (hyoscine)
  • एट्रोपाइन (atropine)
  • फेनेल्जाइन (phenelzine)
  • आइसोकारबोक्सजिड (isocarboxazid)

हालांकि उपरोक्त दवाइयों के अलावा भी कुछ ऐसी दवाइयां हो सकती हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह अवश्य लें।

यह भी पढ़ें : Sucralfate : सुक्रालफेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

यह भी पढ़ें: Dimethicone : डायमेथीकॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या एल्कोहॉल के साथ सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

एल्कोहॉल के साथ सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का सेवन करना असुरक्षित है। ऐसा करने से आपको चक्कर आ सकते हैं। यदि आपको चक्कर या उनींदापन महसूस होता है तो ड्राइव या किसी भी प्रकार की मशीन ना चलाएं, जिसमें मेंटल फोकस की जरूरत पड़ती हो।

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का सेवन आपकी मौजूदा हेल्थ कंडिशन को प्रभावित कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। बेहतर होगा कि आप इसका इस्तेमाल करने से पहले अपनी मौजूदा हेल्थ की विस्तृत जानकारी डॉक्टर या फार्मासिस्ट को दें। ऐसा करने से इसके संभावित नुकसान को कम किया जा सकता है। सबसे अहम बात कि एलर्जी के इलाज के लिए किए जाने वाले स्किन टेस्ट को यह दवा प्रभावित कर सकती है। इससे बचने के लिए तय टेस्ट से कम से कम दो दिन पहले इसका सेवन बंद कर दें। चूंकि एंटीहिस्टामाइन दवा स्किन रिेएक्शन को कम या रोक देती है, जिससे एलर्जी का पता नहीं चलता है। ऐसा होने पर टेस्ट के नतीजे विश्वसनीय नहीं होंगे।

डोसेज

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का सामान्य डोज क्या है?

वर्टिगो के इलाज में अडल्ट्स के लिए सामान्य डोज:

  • सिनेरीजीन 20 mg और डिमेनहाइड्रिनेट 40 mg दिन में तीन बार चार हफ्तों तक।
  • हालांकि हर मरीज के मामले में सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का डोज अलग हो सकता है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नही होती हैं। सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट के उपयुक्त डोज के लिए अपने फार्मासिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

ओवरडोज की स्थिति में आपको गंभीर डायरिया, मांसपेशियों की कमजोरी, मूड में बदलाव, धीमा या असामान्य हार्टबीट और हल्का या यूरिन न आना जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं। आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : Clonidine : क्लोनिडीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट (Cinnarizine+Dimenhydrinate) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

सिनेरीजीन+डिमेनहाइड्रिनेट का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

हेलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

और पढ़ें:-

Paracetamol : पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Chymotrypsin: कायमोट्रिप्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Levofloxacin: लिवोफ्लॉक्सासिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Dextromethorphan : डेक्सट्रोमेथोर्फेन क्या है? जानिए इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Emeset: एमसेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एमसेट दवा की जानकारी in hindi. डोज, साइड इफेक्ट्स, सावधानी और चेतावनी, रिएक्शन, स्टोरेज के साथ किन बीमारी में होता है इसका इस्तेमाल, जानें इस आर्टिकल में।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 11, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Dizziness : चक्कर आना क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चक्कर आना क्या है, चक्कर आना का उपचार कैसे करें, चक्कर आने के कारण क्या हो सकते हैं, Chakar के घरेलू उपचार, Dizziness के लक्षण, Vertigo की समस्या।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 8, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Stugeron: स्टुगेरोन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए स्टुगेरोन (Stugeron) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितनी खुराक लें, स्टुगेरोन डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 8, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Vertin: वर्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

वर्टिन टेबलेट की जानकारी in hindi, इसके डोज, उपयोग, सावधानियों के साथ साइड इफेक्ट, रिएक्शन और इसे कैसे स्टोर करें आदि जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 4, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

सिलकार टी

Cilacar T : सिलकार टी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on जून 16, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
Cifran CTH सिफ्रान सीटीएच

Cifran CTH : सिफ्रान सीटीएच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on जून 15, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
वायरल फीवर-Viral Fever

Viral Fever : वायरल फीवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
Published on जून 11, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
घुटनों में दर्द -knee pain

Knee Pain : घुटनों में दर्द क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
Published on जून 11, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें