Clavam 625 : क्लैवम 625 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by | By

Update Date जुलाई 9, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Share now

उपयोग

क्लैवम 625 (Clavam 625) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

क्लैवम 625 (Clavam 625) एक एंटीबायोटिक दवा है, जिसका इस्तेमाल आमतौर पर फेफड़ों और सांस की नली, त्वचा, साइनस, कान और योनि के इंफेक्शन जैसे बैक्टीरियल इन्फेक्शन के इलाज के लिए किया जाता है। टॉन्सिलिटिस, निमोनिया, ब्रोंकाइटिस और गोनोरिया जैसी स्थितियों के इलाज के लिए डॉक्टर इसके इस्तेमाल की सलाह देते हैं। 

क्लैवम में अमोक्सिसिलिन (Amoxicillin) और क्लवुलैनीक एसिड (Clavulanic Acid) नामक दो सक्रिय तत्व होते हैः

अमोक्सिसिलिन

अमोक्सिसिलिन एक पेनिसिलिन एंटीबायोटिक है, जो बैक्टीरिया खत्म करता है। यह बैक्टीरिया सेल के उत्पादन में जीवाणुओं और कोशिका के काम में बाधा डालता है और उन्हें खत्म करता है। 

क्लवुलैनीक एसिड

क्लवुलैनीक एसिड बीटा-लैक्टमैज एंटी नामक दवा का एक प्रकार है। क्लवुलैनीक एसिड बीटा-लैक्टमैज की क्रिया को रोकता है और एंटीबायोटिक्स को जीवाणुओं के खिलाफ लड़ने के लिए मजबूत बनाता है। 

क्लैवम 625 (Clavam 625) का उपयोगः

हालांकि, क्लैवम 625 दवा का उपयोग फ्लू या ठंड के कारण हुए इंफेक्शन में नहीं किया जा सकता है। बताए गए निम्न लक्षणों के अलावा अन्य समस्याओं में भी इसका उपयोग किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : Dolokind Plus: डोलोकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्लैवम 625 (Clavam 625) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

अगर क्लैवम 625 की गोलियों का सेवन कर रहे हैं, तो गोली को कुचलें या चबाएं नहीं बल्कि पानी के साथ इसे पूरा निगल लें। पहली बार दवा की खुराक लेने से पहले इसके पैकेट में दिए गये लीफलेट को पढ़ना चाहिए। इस दवा का इस्तेमाल हमेशा डॉक्टर के परामर्श के बाद ही करना चाहिए। क्लैवम 625 को खाने से ठीक पहले या खाना खाने के साथ लेना चाहिए। इस तरह इसका सेवन करने से ये पेट को  ठीक रखने में भी मदद करती है। हालांकि, खाने के साथ न लेने पर भी यह दवा अपना काम करती है।

इसके अलावा एक बार में सिर्फ एक ही खुराक लें। अगर आप इसकी खुराक लेना भूल जाते हैं, खुराक लेने में देरी करते हैं या खुराक लेने के बाद उल्टी हो जाती है, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें। इस दवा का सेवन हमेशा डॉक्टर की देखरेख में ही करें।

अगर दवा की खुराक लेना भूल गए हैं और कई घंटे बीत गए हैं, तो अगली खुराक से पहले इसका का सेवन न करें और निश्चित किए गए समय पर अपनी अगली खुराक जारी रखें।

और पढ़ें : एम्पीसिलिन और सलबैक्टम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्लैवम 625 के रख-रखाव के लिए कमरे का तापमान सबसे बेहतर होता है। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी में आने से बचाना होता है। क्लैवम 625 को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। मार्केट में क्लैवम 625 के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी क्लैवम 625 खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। 

बिना निर्देश के क्लैवम 625 को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुकी है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। 

सावधानियां और चेतावनियां

क्लैवम 625 (Clavam 625) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

क्लैवम 625 का उपयोग करने से पहले इन स्थितियों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करेः

  •   अगर क्लैवम 625 में शामिल किसी भी सामग्री से एलर्जी हो, तो इसके उपयोग के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।
  •   लीवर की समस्या
  •   किडनी रोग
  •   पीलिया
  •   गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन करने के समय
  •   दवा की पैकेजिंग अगर डैमेज होने पर
  •   दिल से जुड़ी कोई बीमारी होने पर
  •   डायबिटीज होने पर
  •   प्रेग्नेंट होने पर या प्रेग्नेंसी की योजना कर रहीं हैं तो
  •   पहले से ही कोई विटामिन ले रहें हैं
  •   ब्रेस्टफीडिंग के समय
  •   शराब का सेवन करने पर
और पढ़ें : Clavulanic Acid : क्लैवुलेनिक एसिड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्लैवम 625 (Clavam 625) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्लैवम 625 के इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं, इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। 

और पढ़ें : Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate : गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

क्लैवम 625 (Clavam 625) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नीचे क्लैवम 625 के सेवन से होने वाले कुछ संभावित दुष्प्रभावों की एक सूची है। अगर आपको निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से कोई भी लक्षण नजर आए तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और इसके इस्तेमाल को तुरंत रोक देः 

अगर निम्न में से कोई दुष्प्रभाव महसूस हो, तो कृपया डॉक्टर से सलाह लें।

इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें। 

और पढ़ें : Zolpidem : जोल्पिडेम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन सी दवाएं क्लैवम 625 (Clavam 625) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं, तो उसके साथ क्लैवम 625 इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर जान लें कि उसके साथ इसका इस्तेमाल करने से आपको किस तरह के परेशानी हो सकती है। साथ ही यह आपकी दवा के असर को भी प्रभावित कर सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें। 

  •    ल्कोहॉल (Alcohol)
  •   वार्फरिन (Warfarin)
  •   मैक्रोलाइड (Macrolides)
  •   अल्लोपुरिनॉल (Allopurinol)
  •   सेर्ट्रालिन (Sertraline)
  •   गर्भनिरोधक गोली (Oral contraceptives)
  •   प्रोबेनेसिड (Probenecid)
  •   डॉक्सीसाइक्लिन (Doxycycline)
  •   मिथोट्रेक्सेट (Methotrexate)
  •   एथीनील ऐस्ट्राडिओल (Ethinyl Estradiol)
  •   वैक्सीन (Live vaccines)

और पढ़ें : Glimepiride : ग्लिमेपिराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ क्लैवम 625 (Clavam 625) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी दवा या एल्कोहॉल के साथ क्लैवम 625 का सेवन किया जाए, तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

क्लैवम 625 (Clavam 625) से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

क्लैवम 625 का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। इसका अधिक सेवन किडनी और लीवर के लिए खतरनाक हो सकता है। अगर इसके इस्तेमाल से किसी भी तरह के लक्षण नजर आते हैं, तो तुरंत इसका सेवन बंद कर दें और डॉक्टर की सलाह लें। 

  •   कोलाइटिस
  •   मोनोन्यूक्लिओसिस
  •    गुर्दे की बीमारी

खुराक

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपनी स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड जाएं। अगर ओवरडोज कुछ ही समय में लिया हो तो रोगी को तुरंत उल्टी करने का प्रयास करना चाहिए। हालांकि, इसके ओरडोज के लिए कोई विशेष एंटीडोट उपलब्ध नहीं है। एक्टिव चारकोल का उपयोग वैकल्पिक तौर पर उपचार के रूप में किया जा सकता है। एक्टिवेटेड चारकोल कार्बन का एक रूप है जिसमें छोटे और कम मात्रा वाले छिद्र होते हैं। ये छिद्र विषैले पदार्थों को साफ करने का काम करते हैं। 

ओवरडोज होने के लक्षणः

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर क्लैवम 625 की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। 

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Helicobacter Pylori Infection: हेलिकोबैक्टर पाइलोरी इंफेक्शन क्या है?

जानिए क्या है हेलिकोबैक्टर पाइलोरी इंफेक्शन in hindi, हेलिकोबैक्टर पाइलोरी इंफेक्शन के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Helicobacter pylori infection को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Anu Sharma
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z मार्च 31, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Anemia, hemolytic: एनीमिया हेमोलिटिक क्या है?

हेमोलिटिक एनीमिया क्या है in hindi, हेमोलिटिक एनीमिया के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, anemia Hemolytic को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Poonam
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या एंटीबायोटिक्स का फर्टिलिटी पर असर होता है?

एंटीबायोटिक्स का फर्टिलिटी पर असर in hindi. क्या एंटीबायोटिक्स दवाएं गर्भधारण में रुकावट पैदा कर सकती हैं? प्रेग्नेंसी प्लान करने वाली महिलाओं को कोई भी दवा डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं लेना चाहिए।

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Kanchan Singh
प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी जनवरी 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

स्किन इन्फ्लेमेशन क्या है? जानिए एंटी इन्फ्लमेटरी डायट कैसे रोक सकती है इसे

स्किन इन्फ्लेमेशन को कम करने का तरीका जानिए in hindi. anti inflammatory diet क्या है? स्किन इन्फ्लेमेशन या सूजन को कम करने के उपाय क्या हैं?

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Sunil Kumar
स्किन केयर, स्वस्थ जीवन दिसम्बर 27, 2019 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

Oflox 200 ओफ्लॉक्स 200

Oflox 200 : ओफ्लॉक्स 200 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on जुलाई 13, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
सिप्लोक्स 500-Ciplox 500

Ciplox 500: सिप्लोक्स 500 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by shalu
Published on जून 5, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
एंटीबायोटिक रेजिस्टेंस

Antibiotic Resistance: एंटीबायोटिक रेजिस्टेंस क्या है?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Manjari Khare
Published on मई 26, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
ब्राउन रिक्लुज मकड़ी

brown recluse spider: ब्राउन रिक्लुज स्पाइडर क्या है?

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Siddharth Srivastav
Published on अप्रैल 11, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें