Dolo 650 MG Tablet : डोलो 650 एमजी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by | By

Update Date जून 30, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
Share now

इस्तेमाल

डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

डोलो 650 (Dolo 650)  को आमतौर पर दर्द निवारक और बुखार के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसे माइक्रो लैब्स लिमिटेड कंपनी ने विकसित किया है और वही इसकी बिक्री भी करता है। डोलो 650 एमजी टैबलेट को पैरासिटामोल (Paracetamol) भी कहा जाता है। इसमें एनाल्जेसिक (यह सिरदर्द, मेंसट्रअल पीरियड्स, दांत के दर्द, पीठ के दर्द, ऑस्टियोअर्थराइटिस के अलावा सर्दी, खांसी में भी फायदेमंद हैं।) और एंटीपैरिक के गुण होते हैं, जो दर्द और बुखार से राहत देते हैं। यह सीधा काउंटर पर बिकने वाला प्रोडक्ट है। ग्राहक इसे बिना डॉक्टर की परामर्श के सीधा स्टोर से खरीद सकते हैं।

और पढ़ें : Akurit 4: अकुरिट 4 क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

मैं डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) का इस्तेमाल कैसे करूं?

इस दवा का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की देख-रेख के भी किया जा सकता है। डोलो 650 में पैरासिटामोल सक्रिय तत्व के रूप में होता है। डोलो 650 आमतौर पर टैबलेट के रूप में मिलती है। इसे खाना खाते समय या खाना खाने के बाद पानी के साथ भी लिया जा सकता है। तेजी से घुलने वाली गोलियों के लिए इन्हें चबाएं या फिर इन्हें जीभ पर घुलने दें। इसके बाद पानी के साथ या पानी के बिना निगल लें निगल लें। चबाने वाली गोलियों को निगलने से पहले अच्छी तरह से चबा लें। ऐसा करने पर दवा एक बार में ठीक से रिलीज हो जाएगी। इसके अलावा टैबलेट को टुकड़ों में तोड़ने से पहले देख लें कि इस पर स्कोरलाइन (यानि दवा को कहां से तोड़ा जा सकता है) पर बनी हो। इसे वहीं से तोड़ें। यदि आपको डॉक्टर ने  इसे तोड़ने की सलाह दी है तो ही इसे तोड़ें।

पानी में घोल कर पी जाने वाली टैबलेट्स को बताई मात्रा में पानी में डालकर घुलने का इंतजार करें। तीन दिन से ज्यादा बुखार रहने की स्थिति में इस दवा को न लें। वहीं व्यस्क लोग 10 दिन से ज्यादा समय से हो रहे दर्द के लिए इस दवा का प्रयोग न करें। वहीं बच्चों को अगर पांच दिन से ज्यादा दर्द की समस्या है या गले में खराश है (विशेष रूप से तेज बुखार, सिरदर्द या मतली / उल्टी के साथ), तो भी इसे देने की बजाए डॉक्टर को दिखाए।

मैं डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) को कैसे स्टोर करूं?

डोलो 650 के रख-रखाव के लिए रूम टेम्परेचर सबसे बेहतर होता है। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी में आने से बचाने की जरूरत होती है। डोलो 650 को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह में न रखें। मार्केट में डोलो 650 के अलग-अलग ब्रांड है, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी डोलो 650 खरीदें, तो सबसे पहले उसके पैकेट पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़े या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के डोलो 650 को टॉयलेट या किसी सीवेज में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुकी है, तो इसका इस्तेमाल न करें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें :Lobate Gm Neo: लोबाटे जीएम नियो क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

सावधानियां

डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अगर विटामिन, हर्बल सप्लीमेंट, आदि जैसी दवाओं का इस्तेमाल पहले से ही करते हैं, तो डोलो 650 का सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक से इसके बारे में बात करें। साथ ही अगर आपको एलर्जी है या किसी बीमारी का इलाज करवा रहे हैं या हाल ही में कोई सर्जरी हुई है या होने वाली है, तो इसकी सारी जानकारी अपने डॉक्टर को दें।

अगर आप प्रेग्नेंट हैं, प्रेग्नेंट होने की योजना बना रही हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं, तो भी इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लें।

अगर डोलो 650 से एलर्जी है, तो इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए।

अगर नियमित रूप से किसी अन्य दवा (कोई एलर्जी की दवा, दर्द की दवा, नींद की दवा) का सेवन करते हैं, तो अपने चिकित्सक को बताएं। इस तरह की अन्य दवाओं के साथ डोलो 650 का सेवन करने से साइड इफेक्ट्स का खतरा बना रहता है।

और पढ़ें : Mobizox Tablet : मोबिजॉक्स टैबलेट क्या है? जानिए उपयोग और साइड इफेक्ट

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसका इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं। इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। हालांकि, गर्भवती महिलाओं को विशेषकर तीसरी तिमाही में आने के बाद इसका सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप प्रेग्नेंसी के दिनों में इसका सेवन करना चाहती हैं, तो अपने डॉक्टर की देख-रेख में ही करें।


साइड इफेक्ट्स

डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

नीचे डोलो 650 से होने वाली निम्नलिखित संभावित दुष्प्रभावों की एक सूची है। अगर आपको निम्नलिखित दुष्प्रभावों में से कोई भी लक्षण नजर आए तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और इसके इस्तेमाल को तुरंत रोक देः 

  •       त्वचा लाल होना
  •       एलर्जी
  •       सांसों की कमी
  •       बीमारी की भावना
  •       त्वचा पर चकत्ते आना
  •       गैस्ट्रिक/मुंह का अल्सर
  •       बहती नाक
  •       जी मिचलाना
  •       उल्टी आना
  •       चक्कर आना
  •       पेट दर्द
  •       खुजली
  •       दस्त
  •       भूख की कमी

 इसके इस्तेमाल के कारण होने वाले सभी दुष्प्रभाव यहां पर नहीं बताएं गए हैं। अगर आप किसी भी तरह का जोखिम महसूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें : Ascoril LS Syrup: एस्कोरिल एलएस सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

कौन सी दवाएं डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं, तो उसके साथ डोलो 650 इस्तेमाल करने से पहले यह जरूर जान लें कि उसके साथ इसका इस्तेमाल करने से आपको किस तरह की परेशानी हो सकती है। साथ ही यह आपके दवा के असर को भी प्रभावित कर सकती है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन न करें। 

  •   डोलो 650 का सेवन कम समय के लिए सुरक्षित होता है।
  •   डोलो 650 की अधिक खुराक लेना लिवर के लिए हानिकारक हो सकता है।
  •   लिवर की बीमारी से पीड़ित हैं, तो इसका सेवन न करें।
  •   अगर पहले पैरासिटामाल का इस्तेमाल किया है। लेकिन, इसका कोई असर नहीं हुआ है, तो डोलो 650 का सेवन न करें।
  •   अगर नियमित एल्कोहॉल का सेवन करते हैं, तो डोलो 650 का सेवन न करें।

कीटोकोनाजोल (Ketoconazole) के डोलो 650 के साथ मिलने से साइड इफेक्ट हो सकते हैं। इन दोनों के साथ में इस्तेमाल से कुछ लेबोरेटरी टेस्ट पर असर हो सकते है और टेस्ट के रिजल्ट में गड़बड़ी की आशंका बढ़ जाती है। ऐसे में सुनिश्चित करें की आपके डॉक्टर और लेबोरेटरी वालों को पता हो कि आप इसका उपयोग करते हैं।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अगर किसी भी दवा या एल्कोहॉल के साथ डोलो 650 का सेवन किया जाए, तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बात करें। 

  •   शराब के साथ इसका सेवन करने से पेट में रक्त्स्राव हो सकता है।
  •   चक्कर आना, थकान, बुखार, जोड़ों में दर्द की शिकायत हो सकती है।
  •   लिवर पर गंभीर प्रभाव पड़ सकता है।

यदि आपको पेरासिटामोल के इस्तेमाल से हेपैटिक इंपेयरमेंट (Hepatic impairment) या फिर रेनैल इंपेयरमेंट (Renal Impairment) जैसी कोई एलर्जी है, तो इस स्थिति में इसका इस्तेमाल बिल्कुल न करें या फिर विशेषज्ञ की सलाह के बाद ही इस्तेमाल करें।

और पढ़ेंः Chlorfeniramine Maleate: क्लोरफेनिरामाइन मैलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोलो 650 एमजी टैबलेट (Dolo 650 MG Tablet) खाने से स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ सकता है?

डोलो 650 का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

डोजेज

 दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

डोलो 650 कैसे उपलब्ध है?

डोलो 650 निम्नलिखित खुराकों के तौर पर उपलब्ध है:

  •  टैबलेटः मात्रा: 80 मिग्रा, 160 मिग्रा, 325 मिग्रा, 500 मिग्रा, 650 मिग्रा 
  •  कैप्लेटः मात्रा: 80 मिग्रा, 160 मिग्रा, 325 मिग्रा, 500 मिग्रा, 650 मिग्रा
  •  सोल्युशनः मात्रा: 80 मिग्रा/0.8 मिली, 80 मिग्रा/2.5 मिली, 160 मिग्रा/5 मिली, 500 मिग्रा/15 मिली
  •  एलिक्सिरः मात्रा: 32 मिग्रा/1 मिली
  •  इंजेक्शन सोल्युशनः मात्रा: 10 मिग्रा/1 मिली

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड जाएं।

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर डोलो 650 की खुराक लेना भूल जाते हैं, तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए एसीमिज एमआर की जानकारी, इसके फायदे और उपयोग करने का तरीका, एसीमिज एमआर का इस्तेमाल कैसे करें, Acemiz MR की डोज, Acemiz MR के साइड इफेक्ट्स।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Spondylosis: स्पोंडिलोसिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

जानिए स्पोंडिलोसिस क्या है, स्पोंडिलोसिस के लक्षण और कारण, Spondylosis का निदान कैसे करें, Spondylosis के उपचार की प्रक्रिया क्या है।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Weakness : कमजोरी क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

आखिर कमजोरी होती क्यों है? क्या इसको नैचुरल तरीके से कम किया जा सकता है? कमजोरी का पता लगाने के लिए कौन-से टेस्ट किये जाते हैं? Weakness in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Fatty Liver : फैटी लिवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

फैटी लिवर जो कि सिरोसिस के बाद लिवर फेलियर तक का कारण बन सकती है। आइए जानते हैं कि, इसे कैसे कंट्रोल किया जाए। Fatty Liver in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

D Cold Total, डी कोल्ड टोटल

D Cold Total: डी कोल्ड टोटल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
Published on जून 30, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
कोल्डैक्ट

Coldact: कोल्डैक्ट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जून 29, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पारिजात - Parijatak

पारिजात (हरसिंगार) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Night Jasmine (Harsingar)

Medically reviewed by Dr Ruby Ezekiel
Written by Ankita Mishra
Published on जून 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
विधारा - elephant creeper

विधारा (ऐलीफैण्ट क्रीपर) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Vidhara Plant (Elephant creeper)

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Ankita Mishra
Published on जून 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें