दस्त से राहत पाने के लिए आसान घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

दस्त (Loose Motion) की समस्या किसी को भी हो जाती है। कई बार खाना ठीक से पचने के कारण भी दस्त की समस्या हो जाती है। इसके अलावा, बैक्टीरिया और वायरस भी दस्त का कारण हो सकते हैं। दस्त लगने पर हमारे शरीर से लगातार पानी की कमी होती रहती है। इस वजह से कमजोरी, भूख की कमी, उल्टी, मतली जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। इस आर्टिकल में हम आपको दस्त की दवा लेने के साथ ही दस्त से बचने के घरेलू उपाय बताएंगे। आइए जानते हैं दस्‍त के घरेलू उपाय और नुस्खे क्या हैं।

दस्‍त के घरेलू उपाय- अदरक:

अदरक का उपयोग पाचन को मजबूत बनाने के लिए किया जाता है। इसलिए, अदरक का उपयोग दस्त रोकने के घरेलू उपाय का एक अच्छा विकल्प साबित होता है। इसके लिए एक चम्मच अदरक के पाउडर को थोड़े-से जीरा पाउडर और दालचीनी पाउडर के साथ शहद में मिलाएं और इसे दिन में तीन बार लें। इसके अलावा, आप अदरक की चाय का भी उपयोग कर सकते हैं। अदरक की चाय को पीने से पेट में उठने वाले दर्द से राहत मिलती है, जोकि दस्त के कारण होती है। आप अदरक के रस के साथ नींबू के रस को बराबर मात्रा में मिलाए। फिर इसमें थोड़ी मात्रा में काली मिर्च को मिलाकर दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें। 

दस्‍त के घरेलू उपाय- केले का सेवन:

केले का सेवन दस्त को ठीक करने में आपकी मदद कर सकता है। केले में मौजूद पेक्टिन एक प्रकार का घुलनशील फाइबर है, जो आंत में तरल पदार्थों के अवशोषण करने में मदद करता है। इससे आप पानी की कमी से भी बच पाते हैं। जब भी आप को दस्त हों, तो आपको नाश्ते के रूप में एक से दो केले खाने से फायदा हो सकता है। इसके अलावा, केले के साथ इमली के चूर्ण को मिलाकर उसमें स्वादानुसार एक चुटकी नमक मिलाकर खाने से डायरिया में राहत मिलती है।

और पढ़ें : दाद (Ringworm) से परेशान लोगों के लिए कमाल हैं ये घरेलू उपाय

दस्‍त के घरेलू उपाय- दही का सेवन:

खाने के साथ दही का सेवन दस्त से उबरने में मदद करने का एक प्रभावी तरीका होता है। दस्त में पाए जाने वाले बैक्टीरिया आपकी आंत में जाकर सुरक्षा प्रदान करने वाली एक परत बनाते हैं। यह आपके अंदर के विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करते हैं। इसलिए, जब भी आप को दस्त हों, तो आप दही का सेवन करें। लेकिन, ध्यान रहे जब तक आपके पेट और पाचन तंत्र से संबंधित बीमारी (जिसमें दस्त भी शामिल हैं) ठीक नहीं हो जाती, तब तक आप दही के अलावा अन्य डेयरी उत्पादों का सेवन न करें। यह आपके स्वास्थ्य को और बिगाड़ सकते हैं।

दस्‍त के घरेलू उपाय- मेथी के बीज:

मेथी के बीज में मौजूद चिकनेपन के कारण उन्हें दस्त के लिए एक उपयोगी प्राकृतिक औषधि माना जाता है। इसके लिए आप दही के साथ एक चम्मच मेथी के बीज मिलाकर खा सकते हैं। इसके अलावा, आप चाहें तो, दो चम्मच मेथी के बीज और थोड़ा-सा भुना हुआ जीरा मिलाकर और दिन में दो से तीन बार सेवन कर सकते हैं।

और पढ़ें : A-Z होम रेमेडीज: इन बीमारियों के लिए फायदेमंद हैं ये घरेलू नुस्खे

दस्‍त के घरेलू उपाय- संतरे के छिल्के:

संतरे के छिल्कों में पाचन को सही करने की क्षमता पाई जाती है, इसलिए इनकी चाय का उपयोग आप दस्त को ठीक करने में कर सकते हैं। इसके लिए आप सबसे पहले संतरे को धोकर उसका छिल्का उतार लें। फिर, आधे कप गर्म पानी में संतरे के छिल्कों को डालकर थोड़ी देर उबालें। कुछ देर बाद, इसमें शहद या शक्कर मिलाएं। इस चाय का दिन में दो से तीन बार सेवन करने से दस्त में राहत मिल सकती है।

दस्‍त के घरेलू उपाय- व्हाइट राइस (White Rice)

दस्त में आपका कुछ खाना खाने का मन नहीं करेगा। व्हाइट राइस आपको राहत प्रदान कर सकता है। यह आसानी से डायजेस्ट हो जाते हैं। ये आपके पेट को खराब नहीं करेंगे। ये दस्त के लक्षण को कम करने में मदद करता है। व्हाइट राइस में लो फाइबर होता है जो डायरिया में आराम पहुंचाता है।

और पढ़ें : जानिए प्रेग्नेंसी में दस्त होने पर क्या खाना होगा सही?

दस्‍त के घरेलू उपाय- ईसबगोल (psyllium)

ईसबगोल सोल्यूबल फाइबर होता है। ये इंटेस्टाइन में तरल पदार्थ को अवशोषित कर मल को ठोस बनाता है। दस्त से राहत पाने के लिए एक टी स्पून ईसबगोल को पानी की बोटल में मिला लें और अच्छे से मिलाकर लें। आप चाहे तो दिन में इसके दो कैप्सूल ले सकते हैं।

दस्‍त के घरेलू उपाय- नारियल पानी (Coconut water)

बार-बार दस्‍त लगने के कारण आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है लेकिन, नारियल पानी का उपयोग कर आप डिहाइड्रेशन का इलाज कर सकते हैं। नारियल पानी का इस्तेमाल आपके शरीर में खोए हुए पोषक तत्‍व और तरल पदार्थ की कमी को पूरा करता है। इसके लिए आपको नियमित रूप से दिन में एक से दो गिलास नारियल पानी पीने की आवश्‍यकता है। यह आपके शरीर को ऊर्जा दिलाने के साथ ही दस्‍त को कम करने में सहायक हो सकता है।

और पढ़ें : एनीमिया के घरेलू उपाय: खजूर से टमाटर तक एनीमिया से लड़ने में करते हैं मदद

दस्‍त के घरेलू उपाय- नींबू पानी (Lemon Water)

नींबू का रस, चीनी, नमक और पानी का इस्तेमाल कर नींबू पानी बनाएं। ये डायरिया के लक्षण को कम करने में मदद करता है।

दस्‍त के घरेलू उपाय- एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar)

एप्पल साइडर विनेगर में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इन्फलामेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं, जो दस्त होने के जिम्मेदर रोगाणुओं से लड़ने में मदद कर सकते हैं और सूजन वाली आंतों को राहत प्रदान कर सकता है। दस्त से निजात पाने के लिए आप 2 टेबल स्पून एप्पल साइडर विनेगर को एक गिलास पानी में शहद डालकर ले सकते हैं।

और पढ़ें : बवासीर का इलाज (Piles) घर पर कैसे करें?

दस्‍त के घरेलू उपाय- इन चीजों का सेवन एवॉइड करें

डायरिया की शिकायत है तो फ्राइड और ऑयली फूड का सेवन न करें। इसके अलावा उच्छ फाइबर वाले खाद्य पदार्थों का सेवन सीमित मात्रा में करें, क्योंकि ये सूजन को बढ़ा सकते हैं। दस्त में निम्नलिखित चीजों का सेवन न करें…

  • एल्कोहॉल (alcohol)
  • सॉफ्ट ड्रिंक (soft drinks)
  • बींस (beans)
  • बैरी (berries)
  • ब्रोकली (broccoli)
  • कैबेज (cabbage)
  • गोभी (cauliflower)
  • चने (chickpeas)
  • कॉफी (coffee)
  • कॉर्न (corn)
  • आइसक्रीम (ice cream)
  • हरे पत्ते वाली सब्जियां (green leafy vegetables)
  • दूध (milk)
  • मटर (peas)
  • काली मिर्च (peppers)
  • चाय (tea)

तो अगर आपको दस्त की समस्या होती है, तो आप ऊपर बताए गए दस्त के घरेलू उपाय अपना सकते हैं, लेकिन अगर आपको लगे कि यह ठीक नहीं हो रहे हैं, तो बेहतर है कि बिना देरी किए आप डॉक्टर से सलाह ले लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Cassie absolute: कैसी एब्सोल्युट क्या है?

जानिए कैसी एब्सोल्युट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, कैसी एब्सोल्युट उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Cassie absolute डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 31, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Rose Geranium Oil: रोज जेरेनियम ऑयल क्या है?

जानिए रोज जेरेनियम ऑयल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, रोज जेरेनियम ऑयल उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Rose Geranium Oil डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Traveler’s diarrhea : ट्रैवेलर्स डायरिया क्या है? जानिए इसके कारण लक्षण और उपाय

जानिए ट्रैवेलर्स डायरिया क्या है in hindi, ट्रैवेलर्स डायरिया के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Traveler's diarrhea को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z मार्च 21, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Antibiotic-associated diarrhea : एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त क्या है?

जानिए एंटीबायोटिक से संबंधित डायरिया क्या है in hindi, एंटीबायोटिक से संबंधित डायरिया के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Antibiotic-associated diarrhea को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जनवरी 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

निजोनाइड टैबलेट Nizonide Tablet

Nizonide Tablet : निजोनाइड टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
सेट्रोजिल ओ टैबलेट

Satrogyl-O Tablet : सेट्रोजिल ओ टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 20, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
Chinese Rhubarb-चाइनीज रुबाब

Chinese Rhubarb: चाइनीज रुबाब क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Mona narang
प्रकाशित हुआ मई 18, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
बच्चों को दस्त

बच्चों को दस्त होने पर न दे ये फूड्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ मई 12, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें