Ginseng : जिनसेंग क्या है? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट

Medically reviewed by | By

Update Date दिसम्बर 15, 2019
Share now

परिचय

जिनसेंग को चिकित्सीय प्रक्रिया में शताब्दियों से इस्तेमाल किया जाता रहा है। यह एक पौधा है, जिसके डंठल को दवाई बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जिनसेंग के कई प्रकार होते हैं, जैसे- एशियन जिनसेंग, अमेरिकन जिनसेंग, साइबेरियन जिनसेंग आदि। साइबेरियन जिनसेंग (Ginseng) को एडाप्टोजेन भी कहा जाता है। एडाप्टोजेन एक नॉन-मेडिकल टर्म है, जो कि उस चीज को बताने के लिए कहा जाता है जो शरीर को मजबूत बनाए और सामान्य तनाव को दूर रखने में मदद करे।

इसका बोटेनिकल नाम एलेउथेरोकोकस संतरीकोस (Eleutherococcus senticosus) है, जो कि अरालियासी (Araliaceae) फैमिली से आता है। इसके अलावा साइबेरियन जिनसेंग को दिल की समस्याओं, डायबिटीज, आर्थराइटिस, फ्लू आदि समस्याओं के लिए उपयोग किया जाता है। जिनसेंग त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद है और यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। साइबेरियन जिनसेंग का इस्तेमाल स्किन केयर प्रोडक्ट्स में भी किया जाता है।

यह भी पढ़ें : Rhatany: रैतनी क्या है?

उपयोग

साइबेरियाई जिनसेंग किसके लिए उपयोग किया जाता है?

साइबेरियायन जिनसेंग का इस्तेमाल कई रोगों के इलाज के लिए किया जाता है, जैसे:

  • उच्च रक्त चाप/ हाई ब्लडप्रेशर
  • कम रक्त चाप/ लो ब्लडप्रेशर
  • धमनियों का सख्त होना (एथेरोस्क्लेरोसिस)
  • वातरोग से पीड़ित ह्रदय रोग
  • किडनी की बीमारी
  • अल्जाइमर रोग
  • क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम
  • डाइबिटीज
  • अर्थराइटिस
  • फ्लू
  • क्रोनिक ब्रोंकाइटिस
  • टीबी
  • कैंसर कीमोथेरेपी के साइड इफेक्ट
  • एथलेटिक प्रदर्शन
  • नींद की समस्या (अनिद्रा)
  • हरपीज सिंप्लेक्स टाइप-2 के कारण संक्रमण के लक्षण
  • इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है
  • सर्दी से बचाव
  • भूख बढ़ाने में
  • मैनुफैक्चरिंग में, साइबेरियन जिनसेंग से स्किन केअर के प्रोडक्ट तैयार किये जाते है

यह भी पढ़ें : Acai: असाई क्या है?

यह कैसे काम करता है?

साइबेरियन जिनसेंग के अंदर कई ऐसे कैमिकल होते हैं, जो दिमाग, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता और कुछ निश्चित हॉर्मोन को प्रभावित करते हैं। इसमें शायद कुछ ऐसे भी केमिकल होते हैं, जो कुछ बैक्टीरिया और वायरस के खिलाफ कार्य करते हैं।

अभी इस बारे में पर्याप्त शोध नहीं हुए हैं कि इन बताए गई जानकारी से ज्यादा जिनसेंग कैसे काम करता है। अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने चिकित्सक से बात करें।

यह भी पढ़ें : Red sandalwood: लाल चंदन क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

साइबेरियन जिनसेंग का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

साइबेरियन जिनसेंग का इस्तेमाल करने से पहले निम्नलिखित स्थितियों में अपने चिकित्सक या फार्मसिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें:
1. यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं- गर्भवती या स्तनपान कराने की स्थिति में किसी भी आहार या दवा का सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से जरूर परामर्श करें, क्योंकि इसका सीधा प्रभाव बच्चे और मां के स्वास्थ्य पर पड़ता है।
2. यदि आप कोई अन्य दवा ले रहे हैं- इसमें आपके द्वारा ली जा रही कोई भी दवा शामिल है, जो बिना डॉक्टर के पर्चे के खरीदने के लिए उपलब्ध है।
3. यदि आपको साइबेरियन जिनसेंग या अन्य दवाओं या अन्य जड़ी बूटियों के किसी भी पदार्थ से एलर्जी है।
4. यदि आपको कोई अन्य बीमारी, विकार या चिकित्सा स्थितियां हैं।
5. यदि आपको किसी अन्य प्रकार की एलर्जी है, जैसे कि खाद्य पदार्थ, डाई, डिब्बा बंद चीजें या जानवर से।

किसी भी हर्बल सप्लीमेंट को सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते हैं जितने कि अंग्रेजी दवा के। सुरक्षा के लिहाज से अभी इसमें और अध्ययन की जरूरत है। हर्बल सप्लीमेंट के सेवन से होने वाले फायदे से पहले आपको इसके खतरों को समझ लेना चाहिए। ज्यादा जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट से बात करें।

यह भी पढ़ें : Fenugreek : मेथी क्या है?

दुष्प्रभाव/साइड इफेक्ट

साइबेरियाई जिनसेंग से मुझे किस तरह के दुष्प्रभाव हो सकते हैं?

इसके सेवन के बाद कुछ लोगों में तंद्रा, हार्ट बीट में बदलाव, उदासी, चिंता, मांसपेशियों में ऐंठन या अन्य किस्म के साइड इफेक्ट हो सकते हैं।अधिक मात्रा में जेनसिंग का सेवन करने से ब्लडप्रेशर बढ़ सकता है।

जरूरी नहीं कि हर किसी को ऐसे ही साइड इफेक्ट का सामना करना पड़े। दूसरे भी कुछ साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो लिस्टेड नहीं है। यदि आपको साइड इफेक्ट को लेकर कोई चिंता है, तो कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

विशेष सावधानी और चेतावनीः

बच्चों के लिएः साइबेरियन जिनसेंग का सेवन संभावित रूप से किशोरावस्था (12-17 वर्ष की उम्र) में 6 हफ्तों तक सुरक्षित है। लेकिन, लंबे समय तक इसका सेवन करने से संबंधित पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है।

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्ट-फीडिंग- इस बारे में अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है कि अगर आप प्रेग्नेंसी या ब्रेस्ट-फीडिंग करवाते समय साइबेरियन जिनसेंग का सेवन कर सकती हैं या नहीं। इसलिए, इसका सेवन न करना ही आपके लिए सुरक्षित है।

मधुमेह- साइबेरियन जिनसेंग ब्लड शुगर को घटा भी सकता है और बढ़ा भी सकता है। इसलिए, अगर आपको मधुमेह है और आप साइबेरियन जिनसेंग का सेवन कर रहे हैं, तो अपने ब्लड शुगर की जांच करते रहें। क्योंकि यह आपके ब्लड शुगर को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।

उच्च रक्तचाप के दौरान- उच्च रक्तचाप के दौरान साइबेरियन जिनसेंग का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि, यह इसे और ज्यादा बढ़ा सकता है।

साइबेरियाई जिनसेंग के साथ मेरे क्या इंटरैक्शन हो सकते हैं?

यह हर्बल सप्लीमेंट आपकी मौजूदा दवाओं या मेडिकल कंडिशंस में फेरबदल कर सकता है। उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट, फार्मसिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

मेडिकल कंडीशन जो इस हर्बल के साथ इंटरैक्ट कर सकती हैं, जैसे:

  • ब्लीडिंग डिसऑर्डर
  • हार्ट प्रॉब्लम
  • डाइबिटीज
  • ब्रेस्ट कैंसर, गर्भाशय कैंसर, ओवरियन के कैंसर, एंडोमेट्रियोसिस या गर्भाशय फाइब्रॉएड
  • हाई ब्लडप्रेशर
  • मानसिक स्थिति जैसे पागलपन या सिजोफ्रेनिया

यह भी पढ़ें : Eucalyptus: नीलगिरी क्या है?

मात्रा/ डोसेज

दी गई जानकारी को चिकित्सा सलाह के रूप न देखें। हमेशा इस दवा का उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट या चिकित्सक से परामर्श करें।

जेनसिंग के लिए सामान्य खुराक क्या है?

हरपीज सिंप्लेक्स टाइप 2 इंफेक्शन के लिए:

साइबेरियन जिनसेंग अर्क या एक्सट्रेक्ट के साथ एलुथेरोसाइड ई 0.3 प्रतिशत मिला के 400 एमजी की खुराक प्रतिदिन के लिए निर्धारित की गई है।

आम सर्दी जुकाम के लिए:

400 मिलीग्राम का एक कॉम्बिनेशन, जिसमें साइबेरियन जिनसेंग और एक विशिष्ट एण्ड्रोजन एक्सट्रेक्ट के साथ प्रमाणित किया हुआ 4-5.6 मिलीग्राम एण्ड्रोजनोग्राफी (कान जंग, स्वीडिश हर्बल संस्थान ) युक्त डोज/ दिन में तीन बार 

इस हर्बल सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग-अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। कृपया सही खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

उपलब्धता

साइबेरियन जिनसेंग किस रूप में आता है?

यह हर्बल सप्लीमेंट निम्नलिखित खुराक रूपों में उपलब्ध हो सकता है:

  • टैबलेट या गोली 500 एमजी

हेलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की कोई चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें :

Elderberry: एल्डरबेरी क्या है?

Oak: बलूत क्या है?

Olive Oil : जैतून का तेल क्या है?

Omega 3 : ओमेगा 3 क्या है?

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Rooibos tea: रूइबोस चाय क्या है?

    जानिए रूइबोस चाय (Rooibos tea) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, रूइबोस चाय उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Rooibos tea डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar

    Grains of paradise : स्वर्ग का अनाज क्या है?

    जानिए स्वर्ग का अनाज के फायदे। स्वर्ग का अनाज उपयोग, ग्रेन ऑफ पैराडाइस का इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar

    Quebracho: क्वेब्राचो क्या है?

    जानिए क्वेब्राचो की जानकारी, फायदे, क्वेब्राचो उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar

    Turtle head : टर्टल हेड क्या है?

    जानिए टर्टल हेड की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, टर्टल हेड उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Turtle head डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Anu Sharma