Muira Puama: मुइरा पूमा क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

परिचय

मुइरा पूमा क्या है?

मुइरा पूमा एक पौधा होता है। इसकी शाखाओं और जड़ों से दवाइयां बनाई जाती हैं। मुइरा पूमा को विशेष रूप से यौन उत्तेजक औषधि के रूप में जाना जाता है। अमेजन फॉरेस्ट के मूल निवासी इस छोटे से पौधे का उपयोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल, न्यूरोमस्कुलर और गठिया जैसे समस्याओं का उपचार करने के लिए करते हैं।

मुइरा पूमा को तनाव दूर करने, तंत्रिका को आराम दिलाने और अवसाद के लक्षणों से राहत पाने के लिए भी उपयोगी माना जाता है। इसका इस्तेमाल एक एडाप्टोजेनिक, एंटी स्ट्रेस दवाओं के तौर पर करने की भी सलाह दी जाती है। इसके अलावा मुइरा पूमा के इस्तेमाल की सलाह पेट की समस्याओं, अनियमित मासिक धर्म की समस्या, जोड़ों में दर्द की समस्या और पैरालिसिस की समस्या होने पर भी किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: Green Coffee: ग्रीन कॉफी क्या है?

मुइरा पूमा का उपयोग किसलिए किया जाता है?

इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल निम्न स्थितियों में किया जा सकता है, जिसमें शामिल हैंः

सेक्स संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए

खासतौर पर इसका इस्तेमाल कामेच्छा और यौन प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए एक प्राकृतिक जड़ी बूटी के तौर पर किया जा सकता है। अधिकतर मामलों में इसके इस्तेमाल से किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स भी नहीं देखे जाते हैं। मुइरा पूमा जड़ी बूटी शक्ति लकड़ी के नाम से भी जानी जाती है और यह दक्षिणी अमेरिकी मूल की जड़ी बूटी है।

हालांकि, सेक्स की उत्तेजना बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल खासतौर पर सिर्फ पुरुषों के लिए ही निर्धारित किया जा सकता है।अन्य जड़ी बूटियों और दावओं के मिश्रण के साथ मुइरा पूमा का उपयोग पुरुष यौन प्रदर्शन समस्याओं जैसे- स्तंभन दोष, इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए किया जा सकता है। महिलाओं की सेक्स उत्तेजना बढ़ाने में यह कितना असरदार हो सकता है, इसके बारे में अभी भी उचित अध्ययन करने की आवश्यकता हो सकती है। अगर कोई पुरुष यौन समस्याओं के लिए इसकी खुराक का सेवन करते हैं, तो उनके डॉक्टर उन्हें इसकी दो से छह टैबलेट लेने की सलाह दे सकते हैं।

त्वचा संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए

इसके अलावा मुइरा पूमा जड़ी-बूटी का इस्तेमाल त्वचा से संबंधित बीमारियों के इलाज करने के लिए भी किया जा सकता है।

भूख से संबंधित समस्याओं के लिए

अगर किसी को भूख न लगने की समस्या है, तो इस जड़ी-बूटी की मदद से भूख न लगने की समस्या भी दूर की जा सकती है। आमतौर पर भूख बढ़ाने वाली दवाओं में इसका इस्तेमाल किया जाता है।

तनाव से संबंधित समस्याओं के लिए

इस जड़ी-बूटी का उपयोग तनाव प्रबंधन, तंत्रिका तंत्र उत्तेजना और सामान्य स्वास्थ्य के लिए भी किया जा सकता है।

टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने के लिए

वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि यह जड़ी बूटी टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में भी मददगार साबित हो सकती है। हालांकि, यह अभी तक नैदानिक रूप से सिद्ध नहीं हुआ है। इस दिशा में अभी भी उचित शोध करने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें: Oolong Tea: ओलोंग चाय क्या है?

मुइरा पूमा कैसे काम करता है?

मुइरा पूमा का इस्तेमाल करने या ऐसी किसी भी दवा जिसमें इसकी मात्रा हो, उसका इस्तेमाल करने से पहले आपको अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

  • इस जड़ी-बूटी को आज दुनिया भर में एक हर्बल के रूप में जाना जाता है। ब्राजील और दक्षिण अमेरिका में मुइरा पूमा को एस्टेनिया, ब्रेन स्ट्रोक, पुरानी गठिया, यौन नपुंसकता और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के विकारों के लिए एक न्यूरोमस्कुलर टॉनिक की तरह उपयोग किया जाता है।
  • इसका उपयोग तंत्रिका तंत्र को टोन करने और हल्के थकावट के मामलों के इलाज के लिए किया जा सकता है।
  • अगर आप किसी अन्य दवा के साथ इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो आपको इसके बारे में अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि, यह आपके मौजूदा दवाओं के प्रभाव के साथ इंट्रैक्शन कर सकता है।
  • इसके अलावा, अगर आपको किसी भी जड़ी-बूटी या इस जड़ी बूटी में पाए जाने वाले किसी भी तत्व से एलर्जी है, तो मुइरा पूमा का सेवन करने से बचें और इस बारे में अपने डॉक्टर की उचित सलाह जरूर लें।

उपयोग

मुइरा पूमा का उपयोग कितना सुरक्षित हो सकता है?

यौन क्षमता बढ़ाने के लिए मुइरा पूमा का इस्तेमाल काफी लंबे समय से किया जा रहा है, जो सबसे प्रचलित औषधि भी मानी जाती है।

यौन से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में यह कितना कारगर हो सकता है, इसे जानने के लिए एक शोध में ऐसे पुरुषों को शामिल किया गया जिन्हें कामेच्छा से जुड़ी समस्याएं थी या जिन्हें लिंग के इरेक्शन करने में परेशानी होती थी। अध्ययन के दौरान पाया गया कि, लगभग 62 फीसदी पुरुषों ने इस जड़ी-बूटी के सेवन से अपनी कामेच्छा से जुड़ी समस्याओं में काफी सुधार किया था। इस अध्ययन के दौरान उन्हें लगातार दो सप्ताह के लिए भोजन के साथ इस जड़ी-बूटी के सेवन की सलाह दी गई थी।

इसका उपयोग वृद्ध पुरुषों के लिए कई पुनर्जीवित दवाओं के तौर पर भी किया जा सकता है। कम समय में ही यह लिंग में रक्त के प्रवाह को बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़ें: Buchu: बुचु क्या है?

साइड इफेक्ट्स

मुइरा पूमा के इस्तेमाल से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अधिकतर मामलों में इसके सेवन के कारण साइड इफेक्ट्स की संभावना बहुत ही कम देखी जाती है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

डोसेज

यहां प्रदान की गई जानकारी किसी भी तरह की चिकित्सीय सलाह प्रदान नहीं करती है। ऐसी किसी भी औषधि का इस्तेमाल करने से पहले आपको अपने डॉक्टर की उचित सलाह लेनी चाहिए।

मुझे कितनी मात्रा में मुइरा पूमा की खुराक का सेवन करना चाहिए?

  • मेडिकल सलाह के बिना मुइरा पूमा को बिल्कुल ना लें।
  • हर मरीज के लिए मुइरा पूमा की खुराक अलग होती है।
  • ये आपकी शारीरिक हालत और उम्र पर निर्भर करता है।
  • हर्बल हमेशा सुरक्षित नहीं होती इसलिए डॉक्टर की सलाह लेना ना भूलें।

यह भी पढ़ेंः Oswego Tea: ओसवेगो चाय क्या है?

उपलब्ध

मुइरा पूमा किन रूपों में उपलब्ध है?

निम्नलिखित रूपों में आप इस मुइरा पूमा औषधि को प्राप्त कर सकते हैं, जिनमें शामिल हैंः

  • कच्चा मुइरा पूमा
  • मुइरा पूमा कैप्सूल
  • मुइरा पूमा तरल अर्क

हम आशा करते हैं कि मुइरा पूमा के विषय में दी गई यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। अगर आपको भी यहां बताई गई स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो आप डॉक्टर की सलाह पर इस हर्ब का उपयोग कर सकते हैं।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकली सलाह या उपचार की सिफारिश नहीं करता है। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो कृपया इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए एसीमिज एमआर की जानकारी, इसके फायदे और उपयोग करने का तरीका, एसीमिज एमआर का इस्तेमाल कैसे करें, Acemiz MR की डोज, Acemiz MR के साइड इफेक्ट्स।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

सिंघाड़ा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Singhara (Water chestnut)

सिंघाड़ा को सिंघाणा, लिंग नट, डेविल पॉड, बैट नट और भैंस नट भी कहा जाता है। इसे वॉटर चेस्टनट (Water chestnut) और वाटर कालट्रॉप (Water Caltrop) भी कहते हैं।

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Ankita Mishra
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 4, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

परवल के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Parwal (Pointed Guard)

जानिए परवल के फायदे एंव नुकसान और उपयोग के तरीके। परवल खाने से होने वाले साइड इफेक्ट्स। परवल स्किन के लिए कैसे लाभकारी होता है? Pointed Guard in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Ankita Mishra
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Fever : बुखार क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

जानिए बुखार (Fever) की जानकारी in hindi,निदान और उपचार, बुखार के क्या कारण हैं, लक्षण क्या हैं, घरेलू उपचार, जोखिम फैक्टर, Fever का खतरा, जानिए जरूरी बातें।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 2, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें