backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Carbidopa: कार्बिडोपा क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Mayank Khandelwal


Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/12/2021

Carbidopa: कार्बिडोपा क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Uses

कार्बिडोपा (Carbidopa) क्या है?

कार्बिडोपा का उपयोग आमतौर पर पार्किंसंस या इसके लक्षणों (जैसे-अकड़न, कंपकंपी, चलने में कठिनाई) के उपचार के लिए किया जाता है। इस दवा को एक ऐसी दवा के साथ लेना चाहिए जिसमें लेवोडोपा हो। अगर सिर्फ कार्बिडोपा का इस्तेमाल किया जाएगा तो पार्किंसंस के लक्षणों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। दरअसल, पार्किंसंस रोग मस्तिष्क में प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले पदार्थ (डोपामाइन) की कम मात्रा के कारण होता है। लेवोडोपा मस्तिष्क में डोपामाइन में बदल जाता है, जो चलने और बात करने की गतिविधि को नियंत्रित करने में मदद करता है। कार्बिडोपा ब्लड में लेवोडोपा के टूटने को रोकता है ताकि ज्यादा से ज्यादा लेवोडोपा मस्तिष्क तक पहुंच सके। कार्बिडोपा, लेवोडोपा के कुछ साइडइफेक्ट्स जैसे-मतली और उल्टी को भी कम करने में सहायक हो सकता है।

मुझे कार्बिडोपा का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए? (How to take Carbidopa)

  • इस दवा को अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित भोजन के साथ या खाली पेट लिया जा सकता है। दवा की खुराक और समय आपकी चिकित्सा स्थिति और उपचार की प्रतिक्रिया के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है। डॉक्टर के निर्देशों का सावधानीपूर्वक पालन करें।
  • यह दवा हमेशा लेवोडोपा के साथ ली जाती है, इसलिए उपचार के दौरान हाई-प्रोटीन डाइट से बचना सही रहेगा क्योंकि इससे शरीर में लेवोडोपा की मात्रा कम हो सकती है। इस दवा की खुराक को आयरन सप्लिमेंट्स (जैसे-मिनरल्स और मल्टीविटामिन) के साथ न लें। आयरन शरीर द्वारा अवशोषित लेवोडोपा की मात्रा को कम कर सकता है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।
  • ज्यादा से ज्यादा फायदे के लिए इस दवा को नियमित रूप से लें। एक भी खुराक लेना न भूलें। इसके लिए दवा को हर दिन एक ही समय पर लें।
  • कुछ लोगों को दवा की खुराक के बाद लक्षणों के बिगड़ने का अनुभव हो सकता है या थोड़े से समय के लिए शरीर में अकड़न भी महसूस हो सकती है। यदि ऐसे कोई भी लक्षण दिखें, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें जो इन प्रभावों को कम करने में मदद कर सकते हैं।
  • अपने डॉक्टर से परामर्श के बिना दवा या लेवोडोपा युक्त उत्पाद को लेना बंद न करें। अगर इन दवाओं को लेना अचानक बंद कर दिया जाए या कम कर दिया जाए तो स्थिति बिगड़ सकती है।
  • साथ ही अगर बीमारी के लक्षण कम न हो या स्थिति बिगड़ रही हो तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

मैं कार्बिडोपा को कैसे स्टोर करूं? (How to store Carbidopa)

को हमेशा रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इस दवा के अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। स्टोर करने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इस बारे में पूछें। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे नाही टॉयलेट में फ्लश करें और न नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें: Hatric 3 Tablet: हैट्रिक 3 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

कार्बिडोपा

Precautions & warnings

कार्बिडोपा (Carbidopa) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • इस दवा का उपयोग करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी मेडिकल हिस्ट्री बताएं। विशेष रूप से अगर आपको लिवर सबंधी रोग, ग्लोकोमा, श्वास संबंधी समस्या (अस्थमा), हृदय संबंधी समस्या (जैसे हार्ट अटैक, अनियमित हार्ट बीट), किडनी की समस्या, पेट/आंत का अल्सर, मानसिक/मनोदशा संबंधी विकार (जैसे-डिप्रेशन), रक्त विकार या नींद से जुड़ा कोई विकार हो।
  • इस दवा के सेवन से आपको चक्कर महसूस हो सकते हैं। दवा लेने के बाद ड्राइव न करें और न ही कोई मशीनरी कार्य करें। ऐसी गतिविधियां भी अवॉयड करें जिसमें सतर्कता की आवश्यकता हो। ऐसी गतिविधियों को करने में जब तक आप सुरक्षित महसूस न करें तब तक मादक पेय पदार्थों का सेवन सीमित तौर पर करें।
  • सर्जरी करने से पहले, अपने डॉक्टर या डेंटिस्ट को बताएं कि आप यह दवा ले रहे हैं।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं तो इस दौरान आपको सिर्फ उन्हीं दवा का इस्तेमाल करना चाहिए जिनकी सलाह आपको आपके डॉक्टर ने दी है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कार्बिडोपा लेना सुरक्षित है? (is it safe to taking Carbidopa during pregnancy or breast feeding)

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इसके इस्तेमाल करने से महिलाओं को किस तरह की परेशानियां हो सकती हैं इसके बारे में अभी कोई खास जानकारी नहीं है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें। हालांकि, यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) ने प्रेग्नेंसी के दौरान इसके इस्तेमाल को लेकर इसे खतरे की ‘सी श्रेणी’ में रखा है।

नीचे एफडीए प्रेग्नेंसी से जुड़ी लिस्ट है:

  • ए=कोई जोखिम नहीं
  • बी=कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि इसके कोई जोखिम नहीं है
  • सी=कुछ जोखिम हो सकते हैं
  • डी=जोखिम भरा हो सकता है
  •  एक्स=इस बारे में मतभेद है
  •  एन=कोई जानकारी नहीं है।

और पढ़ें: क्या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान गर्भनिरोधक दवा ले सकते हैं

Side effects

कार्बिडोपा (Carbidopa) के दुष्प्रभाव क्या हैं? (side effects of carbidopa)

  • कार्बिडोपा के साइड इफेक्ट दुर्लभ हैं। लेवोडोपा युक्त उत्पाद के साथ इस दवा के सेवन से कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं।
  • चक्कर आना, घबराहट, मतली, उल्टी, भूख न लगना, नींद न आना, असामान्य सपने आना या सिरदर्द जैसे साइड इफेक्ट्स दिख सकते हैं। यदि इनमें से कोई भी प्रभाव लगातार बना रहता है या बिगड़ जाता है, तो अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट को तुरंत बताएं।
  • चक्कर की वजह से होने वाले जोखिम को कम करने के लिए, बैठने या लेटने की स्थिति से उठते समय धीरे-धीरे उठें।   डॉक्टर यह दवा आपके लिए तभी निर्धारित करते हैं जब उससे होने वाले लाभ साइड इफेक्ट्स ज्यादा होते हैं। हालांकि, इस दवा का उपयोग करने वाले कई लोगों पर किसी तरह का कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है।

    देखा गया है कि लेवोडोपा/कार्बिडोपा के साथ इस दवा को लेने वाले कुछ लोग अपनी सामान्य दैनिक गतिविधियों (जैसे कि फोन पर बात करना, ड्राइविंग) के दौरान अचानक सो गए। कुछ मामलों में लोगों को सुस्ती महसूस होने से पहले ही नींद आ गई। भले ही आपने लंबे समय तक इन दवाओं का उपयोग किया हो फिर भी नींद का प्रभाव इलाज के दौरान कभी भी हो सकता है। नींद के इस प्रभाव का जोखिम शराब या अन्य दवाओं के उपयोग के साथ बढ़ सकता है।

  • किसी प्रकार की गंभीर एलर्जी, ऐंठन, ज्यादा आंख झपकना, बेहोशी, दिखाई देने में परेशानी (जैसे धुंधला दिखना), आंखों में दर्द, पेट में अत्यधिक दर्द, टार जैसा स्टूल, मानसिक / मनोदशा में बदलाव (जैसे-अवसाद, आत्महत्या के विचार आना), संक्रमण के लक्षण (जैसे गले में खराश होना जो खत्म न हो रही हो ), आसानी से चोट लगना, हाथ / पैरों में झुनझुनी, सेक्स में अरुचि आदि लक्षण दिखने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।
  • यदि आपको सीने में दर्द जैसा कोई गंभीर साइड इफेक्ट दिखे, तो डॉक्टर को दिखाना सही रहेगा।
  • इस दवा की खुराक को अचानक रोकना या कम करने की वजह से न्यूरोलेप्टिक मैलिग्नेंट सिंड्रोम (एनएमएस) नामक एक गंभीर स्थिति हो सकती है। हालांकि, यह काफी दुर्लभ है। यदि आपको बुखार, मांसपेशियों में अकड़न, पसीना, तेज / अनियमित धड़कन, तेज श्वास जैसे लक्षण दिखे, तो चिकत्सीय परामर्श लें।
  • हालांकि, इस दवा से किसी भी तरह की गंभीर एलर्जी दुर्लभ है लेकिन, त्वचा पर दाने, खुजली / सूजन (विशेषकर चेहरे / जीभ / गले पर), चक्कर आना, सांस लेने में परेशानी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़े, तो डॉक्टर से सलाह लें।
  • हालांकि, दवा का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों में ये लक्षण नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं, जिनके बारे में यहां पर नहीं बताया गया है। अगर आपको इससे होने वाले किसी भी तरह के साइड इफेक्ट को लेकर कोई सवाल है, तो आपने डॉक्टर से संपर्क करें।

    और पढ़ें: Glimepiride : ग्लिमेपिराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    Interactions

    कौन-सी दवाएं कार्बिडोपा (Carbidopa) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

    • कुछ उत्पाद जो इस दवा (या लेवोडोपा) के साथ रियेक्ट कर सकती हैं जैसे-एंटीसाइकोटिक दवाएं (क्लोरप्रोमाजिन, हेलोपरिडोल, थिओरिडाजिन), कुछ उच्च रक्तचाप के लिए दी जाने वाली दवाएं (जैसे मेथिल्डा, रेसेरपाइन), टेट्राबेनजीन।
    • MAO इनहिबिटर के साथ इस दवा को लेना गंभीर रिएक्शन दे सकता है। उपचार के दौरान MAO इनहिबिटर (isocarboxazid, linezolid, मेथिलीन ब्लू, मोकोब्लमाइड, फेनलेजिन, प्रोकार्बाजिन, ट्रानिलसिप्रोमाइन) लेने से बचें। उपचार से पहले लगभग दो सप्ताह तक ज्यादातर MAO इनहिबिटर नहीं लिया जाना चाहिए। हालांकि, कुछ MAO इनहिबिटर (rasagiline, safinamide, selegiline) का उपयोग डॉक्टर की देखरेख में किया जा सकता है। अपने डॉक्टर से पूछें कि इस दवा को कब शुरू या बंद करना है।
    • यह दवा (या लेवोडोपा) कुछ प्रयोगशाला परीक्षणों (यूरिन कैटेकोलामाइन / ग्लूकोज / कीटोन टेस्ट ) को प्रभावित कर सकती है। संभवतः गलत परिणाम मिल सकते हैं। सुनिश्चित करें कि प्रयोगशाला कर्मियों और आपके डॉक्टर को पता है कि आप इस दवा का उपयोग करते हैं।
    • कार्बिडोपा के साथ दूसरी दवाओं का इस्तेमाल रिएक्ट कर सकता है। किसी भी तरह के बुरे प्रभाव से बचने के लिए आपको उन सभी दवाओं की एक लिस्ट रखनी चाहिए जिनका आप उपयोग कर रहे हैं (जिसमें डॉक्टर के पर्चे वाली दवाएं, गैर-पर्चे वाली दवाएं और हर्बल प्रोडक्ट्स शामिल हैं) और इसे अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट को दिखाएं। सुरक्षा के लिए अपने डॉक्टर की स्वीकृति के बिना किसी-भी दवा की खुराक को न तो शुरू करें, ना ही दवा लेना बंद करें और नाही खुराक को बदलें।
    • क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ कार्बिडोपा (Carbidopa) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

      अगर किसी भी प्रकार के भोजन या एल्कोहॉल के साथ कार्बिडोपा का सेवन कर रहें हैं तो अपने डॉक्टर को इसके बारे में बताएं। कुछ मामलों में इसके परिणाम खतरनाक साबित हो सकते हैं।

      कार्बिडोपा (Carbidopa) से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

      कार्बिडोपा (Carbidopa) का इस्तेमाल सेहत के कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

      और पढ़ें: Diphenhydramine : डाय​फि​नहायड्रामिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

      उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और कार्बिडोपा (Carbidopa) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

      डिस्क्लेमर

      हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।



      के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

      Mayank Khandelwal


      Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/12/2021

      ad iconadvertisement

      Was this article helpful?

      ad iconadvertisement
      ad iconadvertisement