home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Frozen Shoulder: कंधे की अकड़न क्या है?

कंधे की अकड़न (Frozen shoulder) क्या है?|फ्रोजन शोल्डर के लक्षण क्या हैं?|कारण|किन कारणों से कंधे की अकड़न की समस्या बढ़ सकती है?|निदान और उपचार को समझें|फ्रोजन शोल्डर (Frozen shoulder) होने पर जीवनशैली में क्या बदलाव करें
Frozen Shoulder: कंधे की अकड़न क्या है?

कंधे की अकड़न (Frozen shoulder) क्या है?

कंधे की अकड़न (फ्रोजन शोल्डर) (ऐड्हीसिव कैप्सुलाइटिस) कंधे में अकड़न और दर्द की समस्या है। स्ट्रोक, डायबिटीज या चोट लगने की वजह से फ्रोजन शोल्डर की समस्या हो सकती है। कभी-कभी ठीक से नहीं सोने की वजह से भी कंधे में अकड़न की समस्या शुरू हो जाती है। ऐसा होने पर हाथ के मूवमेंट पर भी असर पड़ता है। यह परेशानी आमतौर पर धीरे-धीरे आती है, फिर एक साल या उससे अधिक वक्त के बाद धीरे-धीरे दूर हो जाती है।

कितना सामान्य है कंधे की अकड़न की समस्या?

कंधे की अकड़न बहुत ही सामान्य है और यह किसी भी उम्र में हो सकता है। इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। इसलिए बेहतर होगा की डॉक्टर से संपर्क किया जाए।

और पढ़ें : Lung Cancer : फेफड़े का कैंसर क्या है?

फ्रोजन शोल्डर के लक्षण क्या हैं?

कंधे की अकड़न को बड़ी ही आसानी से समझा जा सकता है। अगर कंधे में दर्द हो या भारीपन महसूस होने तो आप कंधे की अकड़न की समस्या से पीड़ित हैं। यह परेशानी आमतौर पर धीरे-धीरे आती है, फिर एक साल या उससे अधिक वक्त के बाद धीरे-धीरे दूर हो जाती है। फ्रोजन शोल्डर के तीन स्टेज होते हैं और हर स्टेज को ठीक होने में कम से कम एक महीने का वक्त लगता है।

हालांकि्, कुछ लोगों को रात के वक्त दर्द बढ़ जाता है और कभी-कभी दर्द की वजह से नींद भी नहीं आ पाती है। ऐसा भी हो सकता है की इन लक्षणों के अलावा अन्य लक्षण हों। इसलिए डॉकटर से संपर्क करना बेहतर होगा।

और पढ़ेंः Arthritis : संधिशोथ (गठिया) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

डॉक्टर से कब संपर्क करना चाहिए?

अगर आपको लक्षण समझ आ रहे हैं या आप परेशानी महसूस कर रहें हैं तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। हर एक व्यक्ति के शरीर की बनावट अलग होती है, इसलिए बेहतर इलाज और रिजल्ट के लिए डॉक्टर से ही संपर्क करना सही निर्णय है।

[mc4wp_form id=”183492″]

कारण

कंधे की अकड़न के अहम कारणों का तो सही आकलन नहीं किया जा सकता क्योंकि यह कुछ लोगों में क्यों होता है। लेकिन, चोट या ठीक से नहीं सोने की वजह से ऐसा होता है।

किन कारणों से कंधे की अकड़न की समस्या बढ़ सकती है?

कंधे की अकड़न बढ़ने के कई कारण हो सकते हैं, उनमें कारणों में विशेषकर शामिल है:

  • 40 साल से ज्यादा उम्र होने पर।
  • महिलाओं में फ्रोजन शोल्डर की समस्या ज्यादा देखी जाती है।
  • कंधे पर ज्यादा जोर देकर घंटों बैठने की वजह से।
  • रोटेटर कफ में चोट लगना।
  • हाथ टूटने की वजह से।
  • सर्जरी ठीक होने बाद।

जिन लोगों को कुछ बीमारियां होती हैं उनमें फ्रोजन शोल्डर होने की संभावना ज्यादा होती है। जोखिम बढ़ाने वाले रोगों में शामिल हैं:

और पढ़ें : Meningitis : मेनिंजाइटिस क्या है?जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

निदान और उपचार को समझें

दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

कंधे की अकड़न (Frozen shoulder) का निदान कैसे किया जाता है?

चेकअप के दौरान डॉक्टर कंधे और हाथों का मूवमेंट चेक करते हैं। हाथों को आराम देकर फिर से मूव कर डॉक्टर देख सकते हैं। शोल्डर मूवमेंट करने या नहीं करने से भी फ्रोजन शोल्डर की समस्या का पता चल सकता है।

फ्रोजन शोल्डर का आमतौर पर संकेतों और लक्षणों से ही पता लगाया जा सकता है। लेकिन, आपके डॉक्टर अन्य समस्याओं का पता लगाने के लिए इमेजिंग टेस्ट – जैसे X-rays या MRI का सुझाव दे सकता है।

कंधे की अकड़न (Frozen shoulder) का इलाज कैसे किया जाता है?

अधिकांश जमे फ्रोजन शोल्डर के इलाज में कंधे के दर्द को कम किया जाता है।

ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक जैसे कि एस्पिरिन और इबुप्रोफेन (एडविल, मोट्रिन आईबी, अन्य), फ्रोजन शोल्डर से जुड़े दर्द और सूजन को कम किया जा सकता है।

फिजिकल थेरेपिस्ट की मदद से आप आसानी से सीख सकते हैं की हाथों को कैसे पहले की तरह एक्टिव किया जाए और दर्द को कैसे कम किया जाए। फिजिकल एक्सरसाइज आपको नियमित रूप से करने पर ही फायदा मिल सकता है।

अधिकांश फ्रोजन शोल्डर 12 से 18 महीनों के भीतर खुद ठीक हो जाते हैं। डॉक्टर आपको निम्नलिखित सुझाव दे सकते हैं:

  • स्टेरॉयड इंजेक्शन: शुरुआती दौर में कंधे में कॉर्टिकोस्टेरॉइड को इंजेक्ट कर के दर्द को कम करने और कंधे की मूवमेंट को ठीक किया जाता है।
  • जॉइंट डिस्टेंशन: कंधे के मूवमेंट के लिए स्टेराइल इंजेक्शन दिया जाता है।
  • शोल्डर मैनिपुलेशन: इस प्रक्रिया में आप बेहोशी की अवस्था में होते हैं, जिस वजह से आप दर्द महसूस नहीं करते हैं। इसी वक्त डॉक्टर आपके कंधे की मूवमेंट करते हैं, जिससे सख्त हुई मसल को ठीक किया जा सके।
  • बहुत ही कम होता है कि फ्रोजन शोल्डर ठीक करने के लिए सर्जरी की जाए। अगर परेशानी ज्यादा है तो डॉक्टर आपको सर्जरी की सलाह दे सकते हैं।
और पढ़ेंः Slip Disk : स्लिप डिस्क क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

फ्रोजन शोल्डर (Frozen shoulder) होने पर जीवनशैली में क्या बदलाव करें

निम्नलिखित जीवनशैली और घरेलू उपचार आपको फ्रोजन शोल्डर से निपटने में मदद कर सकते हैं:

  • अपने कंधे से काम करना जारी रखें जितना संभव हो सके दर्द पर ध्यान न दें।
  • दर्द कम करने के लिए कंधे पर हॉट या आइस पैक से सिकाई करें।
  • आराम से प्रोग्रेसिव रेंज-ऑफ-मोशन एक्सरसाइज और स्ट्रेचिंग करते रहें। इससे आपको सर्जरी की जरूरत नहीं होगी।

इस आर्टिकल में हमने आपको फ्रोजन शोल्डर से संबंधित जरूरी बातों को बताने की कोशिश की है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस बीमारी से जुड़े किसी अन्य सवाल का जवाब जानना है, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे। अपना ध्यान रखिए और स्वस्थ रहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Frozen shoulder Accessed on 10/01/2017

Frozen shoulder: What you need to know Accessed on 10/01/2017

What Is a Frozen Shoulder? Accessed on 10/01/2017

Frozen shoulder Accessed on 06/12/2019

Frozen shoulder Accessed on 06/12/2019

Frozen Shoulder Accessed on 06/12/2019

7 stretching & strengthening exercises for a frozen shoulder Accessed on 06/12/2019

लेखक की तस्वीर
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/07/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड