home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Cyra D: सायरा डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Cyra D: सायरा डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

सायरा डी (Cyra-D ) कैसे काम करता है?

सायरा डी (Cyra-D ) पेट संबंधी समस्या जैसे कि स्टमक में एसिड, हार्टबर्न, गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स रोग (Gastroesophageal reflux disease), हैवी ब्लॉटिंग आदि समस्याओं के निदान के लिए किया जाता है। सायरा डी का उपयोग गैस्ट्रिक अल्सर, आंत में अल्सर की समस्या, अपच की समस्या में भी किया जाता है। आप कह सकते हैं कि सायरा डी ड्रग का यूज पेट की कई समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। जब भी आपको उपरोक्त पेट संबंधी समस्या होगी तो डॉक्टर आपको सायरा डी (Cyra-D ) लेने का परामर्श दे सकता है। आपका डॉक्टर अन्य समस्याओं में भी इसका सेवन करने की सलाह दे सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

सायरा डी की कैमिकल (Cyra-D ) कंपोजीशन क्या है ?

सायरा डी (Cyra-D ) मुख्य रूप से रबेप्रेजॉल सोडियम (Rabeprazole Sodium) और डॉमपेरिडोन (Domperidone) का संयोजन है।

रबप्राजोल सोडियम ( Rabeprazole Sodium) -20mg

डॉमपेरिडोन (Domperidone) – 30mg

और पढ़ें : Cremaffin : क्रेमाफीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

सायरा डी (Cyra-D ) का एडल्ट्स के लिए सामान्य डोज क्या है?

सायरा डी (Cyra-D ) का डोज कैप्सूल, टेबलेट और इंजेक्शन तीनों तरह से दिया जाता है। सायरा डी कैप्सूल प्रोटान पंप इनहिबिटर से बिलॉन्ग करता है। बीमारी के अनुसार डॉक्टर इसके कैप्सूल की एक से दो खुराक लेने की सलाह दे सकते हैं। डॉक्टर एक टेबलेट या कैप्सूल सुबह और एक शाम को खाने की सलाह दे सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के सायरा डी का सेवन न करें क्योंकि डॉक्टर जांच के बाद ही दवा के सेवन की सलाह देता है। जरूरत के हिसाब से डॉक्टर सायरा डी को इंजेक्शन के रूप में भी दिया जा सकता है। यह दवा बच्चों को लेने की सलाह नहीं दी जाती है। आप इस बारे में एक बार डॉक्टर से जरूर पूछ लें। अगर आपको पेट में या छाती में जलन है तो पहले डॉक्टर से जांच कराएं।

वयस्कों के लिए डोज – एक टेबलेट सुबह और एक शाम को।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

ओवरडोज की स्थिति में आपको कुछ लक्षण नजर आ सकते हैं। ऐसे में बेहतर है कि आप नजदीक के अस्पताल में जाएं और इस बारे में डॉक्टर को जानकारी दें। डोज को तय समय पर लेने की कोशिश करें और अधिक दवा का सेवन न करें। अगर आपको दवा भूल जाने की बीमारी है तो आप दिन में तय समय के हिसाब से अलार्म लगा सकते हैं। ऐसा करने से आपको दवा सही टाइम पर लेना याद रहेगा।

सायरा डी (Cyra-D ) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

अगर आपकी डोज मिस हो जाती है और अगली डोज को लेने में 4 घंटे से ज्यादा का समय बाकी है तो आप मिस डोज को ले सकते हैं। अगर आपकी मिस डोज और दूसरी डोज का समय चार घंटे से कम रह गया हो तो बेहतर होगा कि आप पहली खुराक को न लें। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक ना खाएं।

और पढ़ें :Carbidopa+Levodopa: कार्बिडोपा+लेवोडोपा क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

मुझे सायरा डी (Cyra-D ) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

किसी भी ड्रग को यूज करने के दौरान आप दवा के लेबल पर छपे दिशा- निर्देशों को जरूर पढ़ें। ऐसा करने से आपको इसके इस्तेमाल के बारे में जानकारी के साथ ही दवा की एक्सपायरी डेट का भी पता चल जाएगा। अगर आपके पेट में समस्या है तो पहले डॉक्टर को दिखाएं। डॉक्टर आपको जांच के बाद बताएगा कि आपको सायरा डी (Cyra-D ) टेबलेट का यूज करना है या फिर सायरा डी (Cyra-D ) इंजेक्शन का।

सायरा डी टेबलेट दिन में दो बार खाने की सलाह दी जा सकती है। एक गोली सुबह और दूसरी गोली शाम को। आपको दवा खाली पेट खानी है या फिर नाश्ते के बाद, इस बारे में डॉक्टर से जानकारी जरूर लें। इसे पानी के साथ आप सुबह और शाम को खाएं।

सायरा डी (Cyra-D ) का उपयोग गैस्ट्रोइंटस्टाइन कंडिशन को ठीक करने के लिए किया जाता है। हार्टबर्न के साथ ही गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स रोग (GERD) की समस्या होने पर इस ड्रग को लेने की सलाह दी जाती है। जब छाती या गले में जलन का एहसास हो या फिर मुंह में खट्टापन लगे तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। ऐसी स्थित में पेट में अधिक मात्रा में गैस बनने लगती है। कुछ लोगों के स्मॉल इंटेस्टाइन में घाव की स्थिति भी बन जाती है और जीवाणुओं का भी अटैक हो सकता है। इस कारण से छोटी आंत में अल्सर बन जाता है। इन्हीं कारणों से पेट में अधिक गैस बनने लगती है। जोलिंगर-एलिसन सिंड्रोम ( Zollinger-Ellison syndrome) भी इन्हीं में शामिल है। सायरा डी ड्रग का यूज करने से इन समस्याओं से राहत मिलती है।

साइड इफेक्ट्स

सायरा डी (Cyra-D ) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

सायरा डी लेने के बाद अगर आपको किसी भी तरह की तकलीफ होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर या नजदीकी अस्पताल के इमेरजेंसी वॉर्ड में संपर्क करें। ऐसा जरूरी नहीं है कि सायरा डी की गोली या फिर इंजेक्शन लेने के बाद सभी लोगों को साइड इफेक्ट्स दिखाई दें, लेकिन ऐसा कुछ लोगों के साथ हो सकता है। जानिए सायरा डी लेने के बाद क्या साइड इफेक्ट्स हो दिख सकते हैं।

अगर आपको उपरोक्त लक्षणों में से किसी भी प्रकार की समस्या महसूस होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। निर्धारित डोज खत्म हो जाने पर साइड इफेक्ट्स भी समाप्त हो जाते हैं, लेकिन आपको अपने डॉक्टर को इस बारे में जानकारी जरूर देनी चाहिए। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

सावधानियां और चेतावनी

सायरा डी (Cyra-D ) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

सायरा डी का सेवन करने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए। सायरा डी कुछ दवाओं के साथ रिएक्शन करती है, जिसके कारण शरीर में साइड इफेक्ट्स दिखाई पड़ते हैं। आप इस बारे में जानकारी जरूर प्राप्त करें और साथ ही कुछ बातों में सावधानी जरूर रखें।

  • अगर आपको पहले से एलर्जी की समस्या है तो बेहतर होगा कि आप डॉक्टर को इस बारे में बता दें क्योंकि सायरा डी एलर्जी की समस्या को बढ़ाने का काम करती है।
  • अगर व्यक्ति कोई न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट ले रहा है तो उसे सायरा डी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से इस बारे में सलाह जरूर कर लेनी चाहिए।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं तो आपको दवा के सेवन के पहले सावधानी रखनी चाहिए। प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग में आपको सिर्फ उन्हीं दवाइयों का सेवन करना चाहिए, जिनकी सलाह डॉक्टर द्वारा दी गई हो।
  • अगर आपको सायरा डी के सेवन के बाद कब्ज की समस्या हो गई है तो बेहतर होगा कि आप फाइबर युक्त खाना खाएं।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान सायरा डी (Cyra-D ) को लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंट महिलाओं को सायरा डी से खतरा है या फिर नहीं, इस बारे में किसी भी तरह की रिचर्स नहीं हुई है। बेहतर होगा कि आप डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करें। ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को सायरा डी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ये दवा बच्चे को शरीर में दूध के माध्यम से पहुच सकती है। बेहतर होगा कि आप इस बारे में डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करें।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां सायरा डी (Cyra-D ) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

सायरा डी आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकती है। ऐसा भी हो सकता है कि ये अन्य दवा का कार्य करने का तरीका बदल दे। ऐसा होने पर आपको गंभीर साइड इफेक्ट्स होने की संभावना हो सकती है। अगर आपको पहले से कोई हेल्थ कंडिशन हो या फिर आप किसी बीमारी का इलाज करा रहे हैं तो इस बारे में डॉक्टर को जानकारी दें। साथ ही उन्हें बताएं कि आप किस दवा का सेवन कर रहे हैं। कुछ दवाओं के साथ सायरा डी रिएक्शन कर सकती है।

अगर आप एचआईवी ड्रग का सेवन कर रहे हैं और साथ ही सायरा डी का सेवन कर रहे हैं तो रिएक्शन की संभावना बढ़ जाती है। वारफेरिन (WARFARIN) के साथ सायरा डी लेने पर एब्नॉर्मल ब्लीडिंग की समस्या हो सकती है। वहीं साइक्लोस्पोरिन के साथ ही दवा का रिएक्शन हो सकता है। शरीर में बढ़ा हुआ मेथोट्रेक्सेट का लेवल भी सायरा डी के साथ साइड इफेक्ट्स पैदा कर सकता है। कुछ अन्य दवाएं भी हैं जो सायरा डी के साथ रिएक्शन कर सकती हैं।

  • कीटोकोनाजोल (ketoconazole)
  • फिनाइटोइन (Phenytoin)
  • नेफ्लिनवीर (Nelfinavir)
  • कैंसर ड्रग
  • एंटीफंगल ड्रग

क्या सायरा डी (Cyra-D ) भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

जब आप किसी बीमारी के इलाज के लिए दवाएं ले रहे हो तो बेहतर होगा कि एल्कोहॉल का सेवन न करें। एल्कोहॉल के साथ सायरा डी का रिएक्शन होता है या फिर नहीं, इस बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। खाने के साथ इसके इस्तेमाल को लेकर आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह ले सकते हैं।

स्टोरेज

मैं सायरा डी (Cyra-D ) को कैसे स्टोर करूं?

सायरा डी को सन लाइट से बचाना चाहिए। सायरा डी को गीले स्थान में न रखें। सायरा डी को स्टोर करने के पैकेट में दिए गए निर्देशों को जरूर पढ़ लें और उसी के अनुसार स्टोरेज करें। अगर आपको सायरा डी के स्टोरेज को लेकर जानकारी नहीं है तो आप एक बार फार्मासिस्ट से पूछ सकती हैं। सायरा डी को बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखें। दवा खाने के बाद उसे सुरक्षित स्थान में ही रखें। अगर आपको स्टोरेज के बारे में जानकारी नहीं है तो बेहतर होगा कि एक बार डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर प्राप्त करें।

सायरा डी (Cyra-D ) किस रूप में उपलब्ध है?

  • इंजेक्शन
  • टेबलेट
  • कैप्सूल

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान और उपचार प्रदान नहीं करता।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड