आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

Becadexamin: बेकाडेक्सामिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
    Becadexamin: बेकाडेक्सामिन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    फंक्शन

    बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) कैसे काम करता है?

    बेकाडेक्सामिन मल्टीविटामिन और मल्टीमिनिरल का संयोजन है। बेकाडेक्सामिन सॉफ्ट जिलेटिन कैप्सूल होता है जो कि हेल्थ इंप्रूवमेंट के लिए मुख्य रूप से काम करता है। शरीर में विटामिन की कमी हो जाने यानी विटामिन डेफिशिएंसी होने पर और इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए बेकाडेक्सामिन कैप्सूल का यूज किया जाता है। इन कैप्सूल का यूज करने से ब्लड सर्क्युलेशन में सुधार होता है और साथ ही ये शरीर को जरूरी न्यूट्रिएंट्स भी प्रदान करते हैं।

    बॉडी की मिनिरल रिक्वायरमेंट को पूरा करने के लिए डॉक्टर बेकाडेक्सामिन कैप्सूल यूज करने की सलाह दे सकते हैं। मल्टीमिनिरल सप्लिमेंट का यूज कई प्रकार की बीमारियों को ठीक करने में किया जाता है। बेकाडेक्सामिन कैप्सूल शरीर के स्टेमिना को बढ़ाने का काम करता है। बेकाडेक्सामिन कैप्सूल की हेल्प से शरीर एंटीबॉडी का निर्माण करने लगता है, ताकि किसी खास तरह की बीमारी से आसानी से लड़ा जा सके।

    बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) का संयोजन क्या है?

    बेकाडेक्सामिन के संयोजन में विटामिन ए, विटामिन डी 3, विटामिन ई, विटामिन बी 1, विटामिन बी 2, विटामिन बी 6, विटामिन बी 12, विटामिन बी 9, विटामिन बी 3, विटामिन सी, कॉपर सल्फेट मैग्नीशियम, डी-पंथेनॉल, पोटेशियम, मैंगनीज, जिंक सल्फेट, मैग्नीशियम पाए जाते हैं।

    और पढ़ें : Intagesic MR: इंटाजेसिक MR क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    डोसेज

    बेकाडेक्सामिन की सामान्य डोज क्या है?

    बेकाडेक्सामिन मल्टीविटामिन और मल्टीमिनिरल कैप्सूल है। बेकाडेक्सामिन को नाश्ते के बाद लेना चाहिए। डॉक्टर बेकाडेक्सामिन के एक कैप्सूल को नाश्ते के बाद खाने की सलाह देते हैं। बेकाडेक्सामिन को पानी या फिर दूध के साथ लिया जा सकता है। बेकाडेक्सामिन की खुराक आपको दिन में कितनी बार लेनी है, इस बारे में अपने डॉक्टर से एक बार जरूर संपर्क करें। बीमारी के अनुसार डॉक्टर आपको मल्टीविटामिन और मल्टीमिनिरल कैप्सूल खाने की सलाह दे सकता है।

    बेकाडेक्सामिन का ओवरडोज होने पर क्या होता है?

    जब रोगी के शरीर में मिनिरल्स, विटामिन आदि की ज्यादा कमी हो जाती है तो डॉक्टर इस कैप्सूल को लेने की सलाह दे सकते हैं। बेकाडेक्सामिन के ओवरडोज से शरीर में दुष्प्रभाव भी दिखाई दे सकते हैं। अगर बेकाडेक्सामिन कैप्सूल को अधिक मात्रा में लिया जाए तो ओवरडोज सिमटम्स जैसे कि दस्त की समस्या, पेट में दर्द होना, कब्ज की समस्या हो जाना, भूख न लगना, वजन में बदलाव आना, मसल्स में दर्द होना, सिर दर्द की समस्या होना, पीठ दर्द की समस्या होना, यूरिन में ब्लड आना आदि लक्षण दिख सकते हैं। दवा के ओवरडोज होने पर उपरोक्त सभी लक्षण नजर आए, ये जरूरी नहीं है। हो सकता है कि आपको कुछ कम या फिर अधिक लक्षण नजर आएं।

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल का डोस मिस करने पर शरीर में विटामिन और मिनिरल की अधिक कमी हो जाएगी जो शरीर को अधिक कमजोर कर सकती है। बेहतर है कि डॉक्टर ने आपको बेकाडेक्सामिन कैप्सूल की जितनी खुराक लेने की सलाह दी है, उतनी खुराक जरूर लें। साथ ही डॉक्टर से बेकाडेक्सामिन कैप्सूल के साइड इफेक्ट्स के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर लें।

    उपयोग

    मुझे बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    बेकाडेक्सामिन का उपयोग कई प्रकार की बीमारियों के इलाज में किया जाता है। शरीर में विटामिन ए, मल्टीविटामिन आदि की कमी हो जाने पर बेकाडेक्सामिन का उपयोग किया जाता है। कई बीमारियां हैं, जिनके इलाज के दौरान डॉक्टर बेकाडेक्सामिन का उपयोग करने की सलाह देते हैं। जानिए कौन-सी वो बीमारियां हैं जिनके इलाज हेतु इस कैप्सूल का यूज किया जाता है।

    • शरीर में विटामिन की कमी होने पर
    • एनीमिया की समस्या में
    • किडनी इंफेक्शन
    • पेट में गड़बड़ी होने पर
    • लो मैग्नीशियम लेवल
    • प्रेग्नेंसी के दौरान
    • फोलिक एसिड की कमी होने पर
    • स्किन इंफेक्शन होने पर
    • न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर होने पर
    • क्रॉनिक कॉपर टॉक्सिसिटी
    • हार्ट प्रॉब्लम
    • मेंटल प्रॉब्लम
    • हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल
    • डायरिया की समस्या
    • आंखों से संबंधित विकार के इलाज में
    • अल्जाइमर की बीमारी में
    • गठिया की समस्या
    • चेस्ट पेन
    • हार्टबर्न
    • माइल्ड बर्न
    • लो ब्लड कैल्शियम लेवल
    • सनबर्न

    उपरोक्त सभी समस्याओं के होने पर बेकाडेक्सामिन का उपयोग करने की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं। अगर आपको उपरोक्त में किसी भी प्रकार की बीमारी हो या फिर किसी प्रकार की समस्या हो तो बिना डॉक्टर की सलाह से बेकाडेक्सामिन का प्रयोग न करें। बेकाडेक्सामिन का उपयोग शरीर में अन्य प्रकार की समस्याओं से निजात पाने के लिए भी किया जाता है।

    • इंफेक्शन में इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए
    • शरीर में असेंशियल मिनिरल की कमी होने पर
    • ब्लड में पोटेशियम की कमी होने पर
    • हेल्दी स्किन और हेयर के लिए
    • इमेटिक्स (emetics) के ट्रीटमेंट में
    • फॉस्फोरस बर्न के ट्रीटमेंट में
    • घाव को हील करने में
    • हड्डियां मजबूत बनाने में
    • टाइप 2 डायबिटीज, अर्थराइटिस की समस्या
    • लिवर की समस्या होने पर

    और पढ़ें :Muscle strain : मसल्स स्ट्रेन क्या है?

    साइड इफेक्ट्स

    बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं?

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल लेने पर सभी व्यक्तियों को साइड इफेक्ट्स हो, ये जरूरी नहीं है। बेकाडेक्सामिन का उपयोग करने से कुछ व्यक्तियों में साइड इफेक्ट्स भी दिख सकते हैं। कई बार डॉक्टर इस बारे में जानकारी भी देते हैं कि फलां दवा खाने से आपको ये साइड इफेक्ट्स दिख सकते हैं। यहां हम आपको कुछ लक्षणों के बारे में बता रहे हैं जो बेकाडेक्सामिन को खाने के बाद साइड इफेक्ट्स के रूप में निम्नलिखित लक्षण दिखाई पड़ सकते हैं।

    • सिर में भारीपन लगना
    • उल्टी आना
    • मसल्स में दर्द होना
    • खांसी आना
    • यूरिन का बार-बार पास होना
    • हार्टबीट का बढ़ जाना
    • एलर्जी की समस्या
    • कब्ज की समस्या
    • आंखों में सूखापन आ जाना
    • वजन का बढ़ जाना
    • बेचैनी होना

    उपरोक्त दिए लक्षणों में हो सकता है कि कुछ लक्षण आपको नजर आएं। अगर आपको बेकाडेक्सामिन कैप्सूल खाने के बाद किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। डॉक्टर आपकी समस्या का निदान करेगा।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    और पढ़ें :Ergotamine : एर्गोटामीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    सावधानियां और चेतावनी

    बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) लेने के पहले किन बातों के बारे में पता होना चाहिए?

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल लेने की जरूरत सभी व्यक्तियों को नहीं होती है। एक सामान्य व्यक्ति जो पूर्ण रूप से स्वस्थ्य है, उसे अपने रोजाना के आहार से ही पूर्ण पोषण मिलता है। उन्हें किसी भी प्रकार के मल्टी विटामिन या फिर मल्टीमिनिरल सप्लिमेंट की जरूरत नहीं होती है। शरीर में बिना जरूरत के विटामिन ए और विटामिन ई स्टोर हो जाते हैं और साथ ही बॉडी में साइड इफेक्ट्स भी दिखने लगते हैं।

    • बेकाडेक्सामिन कैप्सूल की जरूरत आपको है या फिर नहीं, इस बारे में डॉक्टर ही आपको परामर्श देंगे।
    • ब्रेस्टफीडिंग के समय दवा ली जा सकती है, लेकिन इस बारे में एक बार डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें।
    • बेकाडेक्सामिन कैप्सूल का सेवन दिन में एक बार करना है या फिर दो बार, इस बारे में डॉक्टर से परामर्श करें।
    • बेकाडेक्सामिन कैप्सूल प्रेग्नेंसी के दौरान भी दिया जाता है, लेकिन महिलाओं की इसकी जरूरत है या फिर नहीं, इस बारे में आपको डॉक्टर ही बता सकते हैं। सभी प्रेग्नेंट महिलाओं को बेकाडेक्सामिन कैप्सूल की जरूरत नहीं होती है।
    • शरीर में विटामिन या फिर मिनिरल की अधिकता होने पर भी दुष्प्रभाव दिखाई दे सकते हैं।

    और पढ़ें : Unwanted 72: अनवांटेड 72 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    रिएक्शन

    कौन-सी दवाइयां बेकाडेक्सामिन (Becadexamin) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल का रिएक्शन अन्य दवाओं के साथ हो सकता है। अगर किसी व्यक्ति की कोई हेल्थ कंडिशन है और ऐसे में व्यक्ति बेकाडेक्सामिन लेता है तो उस दवा का रिएक्शन हो सकता है। बेकाडेक्सामिन का रिएक्शन किसी दवा के साथ या फिर किसी फूड के साथ भी हो सकता है।

    अगर आप बेकाडेक्सामिन कैप्सूल का सेवन कर रहे हैं तो एल्कोहॉल यानी शराब का सेवन न करें। एल्कोहॉल का सेवन करने से टॉक्सिक इफेक्ट बढ़ सकता है। साथ ही बेकाडेक्सामिन का अन्य दवाओं के साथ रिएक्शन भी हो सकता है। कुछ दवाएं जैसे कि,

    • एसिटामिनोफेन (Acetaminophen),
    • एक्टिनोमाइसिन (Actinomycin), कुछ एंटीबायोटिक्स, डाययूरेटिक्स,
    • कॉर्टिकॉस्टिरॉयड्स (Corticosteroids),
    • कार्डिएक ग्लाइकोसाइड्स (Cardiac glycosides)
    • बिस्फोस्फोनेट्स(Bisphosphonates)
    • फोलिक एसिड एंटागोनिस्ट (Folic acid antagonists)
    • ऐमियोडैरोन (Amiodarone)
    • कोलेस्टेरमाइन, कोलस्टिपोल और मिनिरल ऑयल और ऑर्लिस्ट (Cholestyramine, colestipol and mineral oils and orlistat)

    आयरन सप्लीमेंट

    अगर आयरन का सप्लिमेंट अलग से ले रहे हैं तो जिंक का अवशोषण कम हो जाता है। बेकाडेक्सामिन में मौजूद कैल्शियम आयरन का अवशोषण कम कर देता है। अगर आपको पहले से कोई बीमारी हो तो पहले डॉक्टर को इस बारे में जानकारी दें, ताकि डॉक्टर आपको दवा देते समय अन्य दवाओं के रिएक्शन के बारे में सावधानी बरत सकें।

    जिंक सप्लीमेंट

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल के सेवन के साथ ही अगर आप जिंक सप्लिमेंट भी ले रहे हैं तो जिंक सप्लीमेंट कॉपर का अवशोषण रोक सकता है। अगर अधिक मात्रा में जिंक सप्लिमेंट लिया जाए तो कॉपर की कमी शरीर में हो सकती है।

    गर्भावस्था में कैप्सूल का यूज

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल लेने की सलाह प्रेग्नेंट महिलाओं को भी दी जा सकती है, लेकिन ये जरूरी नहीं है कि सभी महिलाओं को ये दवा दी जाए। अगर महिला को किसी भी प्रकार की समस्या है तो डॉक्टर बेकाडेक्सामिन कैप्सूल न लेने की सलाह भी दे सकता है। बेकाडेक्सामिन कैप्सूल के अन्य दवाओं के साथ रिएक्शन के साथ ही अन्य जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

    और पढ़ें : Bromhexine: ब्रोम्हेक्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    स्टोरेज

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल को स्टोर कैसे करें?

    बेकाडेक्सामिन कैप्सूल को स्टोर करने के लिए कमरे के तापमान बेहतर है। साथ ही दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को जरूर पढ़ लें। दवा को बच्चों की पहुंच से और जानवरों की पहुंच से दूर रखें। दवा को अधिक ताप से दूर रखने की कोशिश करें। बिना डॉक्टर की सलाह से किसी भी तरह की दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। बेकाडेक्सामिन ड्रग मार्केट में टैबलेट के रूप में उपलब्ध है।

    अगर आप बेकाडेक्सामिन कैप्सूल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/06/2020 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड