Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate : गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट मई 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

उपयोग

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट का कॉम्बिनेशन खांसी में राहत देता है। यह तीन दवाइयों का कॉम्बिनेशन है। गुअइफेनेसिन एयर पैसेज में बलगम के स्राव को बढ़ा देता है, जिससे मुंह के वायु मार्ग से इसे निकालने में मदद मिलती है। एम्ब्रोक्सोल एक म्युकोलाइटिक दवा है, जो म्यूकस को पतला और ढीला करके उसे खांसी के जरिए बॉडी से बाहर आने में मदद करता है। क्लोरफेनीरमाइन मैलीएट एक एंटीएलर्जिक दवा है, जो नाक बहना, आंख से पाने आने और छींक जैसे एलर्जी के लक्षणों से राहत देती है।

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन मौखिक रूप से किया जा सकता है। हालांकि, हर मामले में इसको इस्तेमाल करने का तरीका अलग हो सकता है। सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही इसे खाली पेट या भोजन के साथ लें। इसके अतिरिक्त, दवा के पैकेज पर छपे दिशा निर्देशों को सावधानीपूर्वक पढ़ें। यदि आप फिर भी इसके इस्तेमाल करने के तरीके को लेकर कनफ्यूज हैं तो अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Levofloxacin: लिवोफ्लॉक्सासिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनीरमाईन मैलीएट को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा ना जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Lomotil : लोमोटिल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानी और चेतावनी

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर दवाइयां ली जानी चाहिए। हालांकि, प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग में इस दवा का सेवन सुरक्षित नहीं है।
  • यदि आप किसी अन्य दवा का सेवन कर रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई, मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हर्बल प्रोडक्ट जैसी दवाइयां शामिल हैं।
  • यदि आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • चार वर्ष से कम आयु के बच्चों में इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : Ceftriaxone: सेफ्ट्रायक्सोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के सामान्य साइड इफेक्ट्स निम्नलिखित हैं:

उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के लक्षण नजर आते ही इसकी सूचना अपने डॉक्टर को दें और इसका इस्तेमाल करना बंद कर दें। हालांकि, हर व्यक्ति को उपरोक्त साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा भी गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Loperamide : लोपेरामाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इंटरैक्शन

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट के साथ समान प्रभाव वाली दवाइयों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से यह दवाइयां आपस में रिएक्शन कर सकती हैं, जिससे गंभीर साइड इफेक्ट्स का खतरा बढ़ सकता है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

क्या एल्कोहॉल के साथ गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट  (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

बिना डॉक्टर की सलाह के एल्कोहॉल के सेवन के दौरान किसी भी दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। एल्कोहॉल के सेवन के दौरान इन दवाइयों का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें : Dolo 650MG Tablet : डोलो 650 एमजी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट (Guaifenesin+Ambroxol+Chlorpheniramine Maleate) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

उम्मीद है आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसमें हमने आपको गुआइफेनेसिन+एम्ब्रोक्सोल+क्लोरफेनेरमाइन मैलीएट दवा के कॉम्बिनेशन के बारे में बताया। साथ ही आपने जाना कि किस तरह से ये दवा असर करती है और किन लोगों को इसके सेवन से बचना चाहिए। अगर आप ये दवा लेते हैं तो ये आर्टिकल आपकी जानकारी बढ़ाने में काफी काम आ सकता है। अगर फिर भी आपके मन में इस दवा से जुड़े अन्य सवाल हैं, तो आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर जरूर पूछें। इस बात का ध्यान रखें कि हर व्यक्ति की शारीरिक स्थिति अलग होती है, इसलिए दवा का सेवन कभी भी अपनी मर्जी से न करें। अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षण नजर आते हैं, तो डॉक्टर ही आपको ये दवा देने की सलाह दे सकते हैं। आप डॉक्टर की सलाह पर ही इस दवा का सेवन करें। आपके लिए इस दवा की कितनी मात्रा निर्धारित करनी है, उस बारे में भी डॉक्टर ही आपको बताएंगे। इसके अलावा, इस दवा को लेते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना है, इस बारे में आप अपने डॉक्टर से अच्छी तरह बात कर लें, ताकि किसी तरह का दुष्प्रभाव न पड़े।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

और पढ़ें :-

Febrex Plus : फेब्रेक्स प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

 Glycomet : ग्लाइकोमेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Clavulanic Acid : क्लैवुलेनिक एसिड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Enterogermina : एंटरोजर्मिना क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Knee Pain : घुटनों में दर्द क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

जानिए घुटनों में दर्द का कारण, क्या इस दर्द का निदान और उपचार है?, नी पेन के लक्षण, उसका घरेलू उपचार, Knee Pain के लिए ट्रीटमेंट, Knee Pain की सर्जरी।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

बरगद के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Banyan Tree (Bargad ka Ped)

जानिए बरगद के पेड़े के फायदे और नुकसान, बगरद के पेड़ के औषधीय गुण, वट के पेड़ से घरेलू उपचार, Bargad ka Ped के साइड इफेक्ट्स, Banyan Tree क्या है। Bargad ke ped ki kaise pehchan karen

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra

Dizziness : चक्कर आना क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चक्कर आना क्या है, चक्कर आना का उपचार कैसे करें, चक्कर आने के कारण क्या हो सकते हैं, Chakar के घरेलू उपचार, Dizziness के लक्षण, Vertigo की समस्या।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Stugeron: स्टुगेरोन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए स्टुगेरोन (Stugeron) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितनी खुराक लें, स्टुगेरोन डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

Recommended for you

बिसाकोडिल दिला सकती है कब्ज से राहत

जब कब्ज और एसिडिटी कर ले टीमअप, तो ऐसे जीतें वन डे मैच!

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ जनवरी 11, 2021 . 8 मिनट में पढ़ें
निजोनाइड टैबलेट Nizonide Tablet

Nizonide Tablet : निजोनाइड टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पाइरिजेसिक टैबलेट

Pyrigesic Tablet : पाइरिजेसिक टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
वायरल फीवर-Viral Fever

Viral Fever: वायरल फीवर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
प्रकाशित हुआ जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें