backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Nitrofurantoin Capsule: नाइट्रोफ्यूरंटाइन कैप्सूल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Mayank Khandelwal


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 04/08/2020

Nitrofurantoin Capsule: नाइट्रोफ्यूरंटाइन कैप्सूल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का उपयोग किसलिए होता है?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का उपयोग यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) के इलाज या रोकथाम के लिए किया जाता है। नाइट्रोफ्यूरंटाइन एक प्रकार की एंटीबायोटिक है जिसका उपयोग विभिन्न तरह के बैक्टीरियल संक्रमण के इलाज के लिए किया जाता है। यह दवा वायरल इंफेक्शन के लिए असरदार नहीं है, जैसे कि सर्दी-जुकाम, फ्लू इत्यादि। किसी भी एंटीबायोटिक के अधिक सेवन से उसका प्रभाव घट जाता है।

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का उपयोग कभी भी किसी एक महीने से कम उम्र के बच्चे के लिए नहीं किया जाना चाहिए। ऐसा करने से हेमोलिटिक एनीमिया होने की संभावना बढ़ जाती है।

और पढें : Urinary Tract Infection : यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) क्या है?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का इस्तेमाल कैसे किया जाए?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का सेवन सिर्फ वैसे ही करें जैसा कि पर्चे में डॉक्टर द्वारा निर्धारित किया गया है। कभी भी अधिक मात्रा में नाइट्रोफ्यूरंटाइन न लें। साथ ही इसे अपने डॉक्टर द्वारा द्वारा निर्धारित अवधि से अधिक समय तक ना लें। नाइट्रोफ्यूरंटाइन को आप पानी या दूध के साथ ले सकते हैं। इसे भोजन के पहले या उसके बाद भी नाइट्रोफ्यूरंटाइन टैबलेट लिया जा सकता है। इस दवा को लेते समय एंटासिड का सेवन करने से बचें। डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें।

दवा की खुराक और अवधि आपकी स्वास्थ्य स्थिति और चिकित्सा की प्रतिक्रिया पर निर्भर करती है। बच्चों को दी जाने वाली खुराक उनके शरीर के वजन पर आधारित है। नाइट्रोफ्यूरंटाइन के सर्वोत्तम प्रभाव के लिए इस एंटीबायोटिक को नियमित रूप से एक ही समय पर लें।

कृपया अपने डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें। भले ही दवा के सेवन के कुछ दिनों बाद ही रोग के लक्षण गायब हो जाए, लेकिन कोर्स समाप्त होने तक दवा का सेवन जारी रखें। दवा को जल्दी बंद करने से यूटीआई दोबारा हो सकता है, जिसके परिणामस्वरूप संक्रमण बढ़ सकता है।

और पढ़ें : खुद से इन दवाओं का सेवन करना आपकी किडनी पर पड़ सकता है भारी

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

यदि आपको नाइट्रोफ्यूरंटाइन से एलर्जी है तो इसके सेवन से पहले, अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को इस बारे में बताएं। इस दवा में ऐसे कई निष्क्रिय तत्व हो सकते हैं, जिससे आपको एलर्जी या अन्य समस्याएं हो सकती हैं। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

यदि पहले से कोई मेडिकल कंडिशन है तो इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए। अगर आपको निम्नलिखित में से कोई भी समस्या है तो इस दवा का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श अवश्य लें :

  • ओलिग्यूरिया या एन्यूरिया
  • किडनी की बीमारी
  • कोई अनुवांशिक बीमारी
  • लिवर की बीमारी
  • एनीमिया
  • फेफड़े का रोग
  • तंत्रिका समस्या
  • नेत्र रोग
  • मधुमेह
  • विटामिन बी की कमी

नाइट्रोफ्यूरंटाइन के सेवन से टाइफाइड वैक्सीन या किसी भी लाइव बैक्टीरिया का टीका बेअसर हो जाता है। इसलिए इस दवा का उपयोग करते समय कोई भी टीकाकरण अपने डॉक्टर के परामर्श के बिना ना करवाएं।

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है किडनी की कार्यक्षमता में गिरावट आती है। यह दवा किडनी द्वारा छन जाती है। इसलिए, उम्रदराज लोगों में इस दवा का साइड इफेक्ट देखने को मिलता है। गर्भावस्था के दौरान निश्चित रूप से आवश्यक होने पर ही इस दवा का उपयोग किया जाना चाहिए। यदि आप गर्भावस्था के 38-42 सप्ताह में हैं तो इस दवा का सेवन ना करें। गर्भावस्था में इसके सेवन से पहले अपने अपने डॉक्टर का परामर्श अवश्य लें।

यह दवा स्तन के दूध से होकर गुजरती है। इसका एक महीने से कम उम्र के शिशुओं पर गंभीर प्रभाव पड़ सकता है। स्तनपान कराने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

क्या गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान नाइट्रोफ्यूरंटाइन का सेवन सुरक्षित है?

गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान नाइट्रोफ्यूरंटाइन का उपयोग कितना जोखिम भरा है इस बारे में अभी तक कोई पर्याप्त अध्ययन नहीं हैं। नाइट्रोफ्यूरंटाइन लेने से पहले संभावित लाभ और हानि को तौलने के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श लें। एफडीए (FDA) के अनुसार नाइट्रोफ्यूरंटाइन की गर्भावस्था जोखिम श्रेणी बी है।

एफडीए की गर्भावस्था जोखिम कैटेगरी निम्नलिखित है :

A = कोई जोखिम नहीं

B = कुछ अध्ययनों में कोई जोखिम नहीं

C = कुछ जोखिम हो सकता है

D = जोखिम होने की अधिक संभावना

X = विरोधाभाषी

N = अज्ञात

और पढ़ें : क्या स्तनपान के दौरान दवाएं लेना सुरक्षित है?

[mc4wp_form id=’183492″]

नाइट्रोफ्यूरंटाइन से क्या दुष्प्रभाव हो सकते हैं?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन के सेवन से होने वाले दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं :

  • जी मचलाना
  • उल्टी
  • भूख न लगना
  • सिरदर्द होना
  • गहरे पीले या भूरे रंग की यूरिन पास होना 

यदि इनमें से कोई भी दुष्प्रभाव लगातार बना रहता है या ज्यादा बिगड़ जाता है, तो तुरंत अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को सूचित करें। यह प्रभाव हानिरहित होते हैं और दवा के बंद होने पर गायब हो जाएंगे।

यदि यह दवा आपके डॉक्टर ने प्रिसक्राइब की है तो इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि उनकी समझ के अनुसार इस दवा से आपको होने वाले लाभ साइड इफेक्ट्स से कहीं अधिक है। हालांकि, कुछ लोगों पर इस दवा का उपयोग करने से गंभीर साइड इफेक्ट्स भी होते हैं।

इस दवा के सेवन से होने वाले गंभीर दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं :

लंबे समय तक या बार-बार पीरियड के लिए इस दवा का उपयोग करने से वजायनल इंफेक्शन हो सकता है।

हर किसी को इन दुष्प्रभावों का अनुभव नहीं होता है। ऐसे कई साइड इफेक्ट्स हैं जो ऊपर सूचीबद्ध नहीं हैं, पर आपको उनका अनुभव हो सकता है। यदि किसी भी साइड इफेक्ट के बारे में कोई शंका है, तो कृपया अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श लें।

और पढ़ेंः आम बुखार और स्वाइन फ्लू में कैसे अंतर करें ?

कौन सी दवाएं नाइट्रोफ्यूरंटाइन के साथ परस्पर क्रिया कर सकती हैं?

यदि आप सल्फोनोप्राजोन का सेवन कर रहे हैं तो इस दवा का उपयोग करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अवश्य सूचित करें।

हालांकि ज्यादातर एंटीबायोटिक्स, पैच या रिंग जैसे गर्भ निरोधक के साथ कोई क्रिया नहीं करतीं। परंतु कुछ एंटीबायोटिक्स जैसे रिफैम्पिन, रिफैबूटिन गर्भ निरोधक की प्रभावशीलता को कम कर सकते हैं। नाइट्रोफ्यूरंटाइन के सेवन के साथ अगर आप पैच या रिंग जैसे गर्भ निरोधक का उपयोग कर रहे हैं तो आपको गर्भधारण का खतरा हो सकता है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।

नाइट्रोफ्यूरंटाइन कई यूरिन ग्लूकोज टेस्ट के परिणामों को प्रभावित कर सकती है। यदि आप नाइट्रोफ्यूरंटाइन का सेवन कर रहे हैं तो ऐसे टेस्ट से पहले आप अपने डॉक्टर को इस बात से अवगत करा दें।

नाइट्रोफ्यूरंटाइन उन सभी दवाओं के साथ क्रिया कर सकती है जो आप वर्तमान में ले रहें हैं। जिसकी वजह से आपकी दवा के कार्य करने का तरीका बदल सकता है। किसी भी संभावित दवा के रिएक्शन से बचने के लिए आपको उन सभी दवाओं की एक सूची बनाकर रखनी चाहिए जिनका आप उपयोग कर रहे हैं। इसमें डॉक्टर के पर्चे की दवाएं और गैर-पर्चे वाली दवाइयां भी शामिल हो सकती हैं। इसे अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। बगैर डॉक्टर के निर्देश के दवा को शुरू या बंद ना करें।

क्या भोजन या एल्कोहॉल नाइट्रोफ्यूरंटाइन के साथ परस्पर क्रिया करते हैं?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का सेवन आपके भोजन और एल्कोहॉल के साथ क्रिया कर सकता है। यह इंटरैक्शन आपकी स्वास्थ्य स्थिति को बिगाड़ सकता है। इसलिए आप अपने डॉक्टर को अपनी वर्तमान स्वास्थ्य संबंधित सभी स्थितियों के बारे में जरूर बता दें।

क्या आपकी स्वास्थ्य स्थिति नाइट्रोफ्यूरंटाइन के साथ परस्पर क्रिया कर सकती है?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन का सेवन स्वास्थ्य स्थिति के साथ क्रिया कर सकता है। यह इंटरैक्शन आपकी स्वास्थ्य स्थिति को बिगाड़ सकता है। इसलिए अपने डॉक्टर को अपनी वर्तमान स्वास्थ्य संबंधित सभी स्थितियों के बारे में जरूर बता दें।

नाइट्रोफ्यूरंटाइन किस रूप में उपलब्ध हैं?

नाइट्रोफ्यूरंटाइन निम्नलिखित रूप में उपलब्ध है:

  • टैबलेट
  • लिक्विड रूप में
  • पाउडर

आपातकाल की स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपातकाल की स्थिति में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने निकटतम अस्पताल में जाएं।

कोई खुराक भूलने पर क्या करें?

यदि आप दवा की कोई खुराक भूल गए हैं तो खुराक याद आते ही इसे जल्द से जल्द लें। यदि आपकी अगली खुराक का समय आ गया है, तो छूटी हुई खुराक को रहने दें और अपनी नियमित खुराक निर्धारित समय पर ले लें। दोहरी खुराक न लें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।



के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Mayank Khandelwal


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 04/08/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement