Norgestrel + Ethinyl Estradiol : नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date मई 29, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
Share now

इस्तेमाल

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है? 

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल एक गर्भनिरोधक दवाई है, जिसका प्रयोग गर्भावस्था को दूर करने के लिए किया जाता है। दो दवाईओं के मेल से बनी नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल में फीमेल हार्मोन्स होते हैं, जो ओव्यूलेशन को रोकने में मदद करती हैं। इस दवाई में दो हार्मोन्स होते हैं :प्रोजेस्टिन और  एस्ट्रोजन। यह दवाई मासिक धर्म के दौरान एग रिलीज को रोकने का काम करती है। यह दवाई सर्वाइकल म्यूकस और गर्भाशय लाइनिंग में बदलाव करने में भी सहायक है। यह गर्भनिरोधक दवाई पीरियड की समस्या को दूर करके मासिक धर्म को नियमित करती है, खून की कमी को कम करती है और पीरियड के दौरान होने वाली दर्द से भी राहत दिलाती है। यह दवाई ओवेरियन सिस्ट्स के जोखिम को भी कम करती है और इससे मुहांसे भी दूर होते हैं।

और पढ़ें : Levonorgestrel (oral): लिवोनोगेस्ट्रल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

नोर्गेस्त्रेल+ एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • इस दवाई को लेने से पहले उस पेशेंट इनफार्मेशन लीफलेट को अवश्य पढ़ें जो डॉक्टर ने आपको दिया है। इस लीफलेट में इस उत्पाद के बारे में वो सब जानकारियाँ होंगी जो आपको जाननी चाहिए। अगर कोई प्रश्न है तो डॉक्टर से अवश्य पूछ लें।
  • इस दवाई को मुंह के माध्यम से आमतौर पर दिन में एक बार डॉक्टर की सलाह के बाद ही लें। इस दवाई को नियमित रूप से और रोज एक ही समय पर लें।
  • डॉक्टर के बताए अनुसार इस दवाई को लेना बहुत आवश्यक है। इस दवाई की हर टेबलेट में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन की मात्रा साइकिल के विभिन्न समय में अलग हो सकती है। 
  • इसके पैक पर दी इंस्ट्रक्शन को भी पूरी तरह से पालन करें।  पहली टेबलेट को पैक के अनुसार लें और उसके बाद सही ऑर्डर में इस दवाई को लें। इसकी किसी भी टेबलेट को स्किप न करें। 
  • उलटी या डायरिया इस बर्थ कंट्रोल पिल्स के काम को प्रभावित कर सकते हैं।  अगर आपको उल्टी या डायरिया है तो आप इस दवाई को न लें।
  • अपने रात के खाने या सोते हुए इसे लेने से आपको पेट की गड़बड़ी या जी मचलने की समस्या दूर हो सकती है। आप इस दवाई को दिन के किसी भी समय लें। लेकिन, यह आवश्यक है कि रोजाना आप इसे एक ही समय लें।
  • इस दवाई के पैक में 21 पिल्स होती है जिसमे एक्टिव मेडिकेशन होती हैं। इसके अलावा सात और पिल्स होती है जिनमे कोई मेडिकेशन नहीं होती। लगातार 21 दिनों तक आपको रोजान एक एक्टिव पिल लेनी चाहिए इसके बाद सात दिनों तक इनएक्टिव पिल्स लें। इसके साथ ही इस दवाई को कैसे लेना है अपने डॉक्टर को अवश्य पूछें।
  • अगर आप इस दवाई को पहली बार ले रहे हैं और किसी अन्य हार्मोनल बर्थ कंट्रोल के तरीके का प्रयोग नहीं कर रहे हैं, तो इस दवाई के पैक की पहली टेबलेट को अपने पीरियड की शुरुआत के पहले इतवार या पीरियड के पहले दिन लें। अगर आप को इतवार को पीरियड आए हैं तो उसी दिन इस दवाई को लेना शुरू कर दें। प्रयोग के पहले पीरियड साइकिल के दौरान पहले सात दिनों तक गर्भावस्था से बचने के लिए नॉन हार्मोनल बर्थ कंट्रोल के तरीके अपनाएं। 

और पढ़ें : Paracetamol+Phenylephrine+Chlorpheniramine Maleate: पैरासिटामोल+फिनाइलेफ्रिन+क्लोरफेनीरामिन मालेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल को कैसे स्टोर करूं?

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल को हमेशा रूम टेंपरेचर 15 और 30 डिग्रीज के बीच (59 और 86 डिग्रीज F) पर ही स्टोर करना चाहिए। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इसे डैमेज होने से बचाने के लिए कभी भी इसे फ्रीज में स्टोर करके न रखें।  स्टोर से जुड़ी जानकारी जुटाने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछे। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से पूछे।

और पढ़ें : Roxithromycin: रॉक्सीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

1) इस दवाई के प्रयोग से पहले अपने डॉक्टर को अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में अवश्य बताएं जैसे:

2) अगर आपकी नजर कमजोर है या आप कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, तो आप अपने कॉन्टेक्ट लेंस को पहनने में दृष्टि की समस्या या परेशानी पैदा कर सकते हैं। अगर ऐसी कुछ समस्याएं हों तो नेत्र चिकित्सक से परामर्श करें।

3) अगर आपकी कोई सर्जरी हुई है या आप ऐसा कोई काम करते हैं, जिसमें लंबे समय तक बैठना पड़ता है तो इससे आपमें ब्लड क्लॉट बनने की समस्या बढ़ सकती है। खासतौर पर, अगर आप हॉर्मोनल बर्थ कंट्रोल लेते हैं। इस दौरान आपको यह दवाई लेना बंद कर देनी चाहिए।

4) अगर आपको इस दवाई या किसी अन्य दवाई से कोई एलर्जी है, तो अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं।  यही नहीं, अगर आपको किन्हीं अन्य चीजों से भी एलर्जी है जैसे भोजन, डाई, परिरक्षक या जानवरों से तो भी डॉक्टर की सलाह लें। जिन उत्पादों की सलाह डॉक्टर ने न दी हो, उन उत्पादों के लेवल या पैकेज को अच्छे से पढ़ कर ही उसका प्रयोग करें।

5) अगर आपको डायबिटीज है तो यह दवाई आपकी ब्लड शुगर को प्रभावित कर सकता है। अपनी ब्लड शुगर नियमित रूप से चैक कराएं और अपने डॉक्टर से रिपोर्ट की जांच कराएं। अगर आपको हाई ब्लड शुगर के लक्षण दिखाई दें जैसे प्यास या मूत्र त्याग में बढ़ोतरी तो तुरंत डॉक्टर को बताएं। ऐसे में डॉक्टर आपकी डायबिटीज मेडिकेशन, एक्सरसाइज प्रोग्राम या भोजन को एडजस्ट कर सकते हैं।

6) इस दवा से आपके चेहरे और त्वचा (मेलास्मा) पर धब्बे, डार्क एरिया हो सकते हैं। सूरज की रोशनी इस प्रभाव को खराब कर सकती है। धुप में कम समय रहें। टेनिंग बूथ और सनलैम्प्स से बचें। बाहर जाने पर सनस्क्रीन का प्रयोग करें और सुरक्षात्मक कपड़े पहनें।

और पढ़ें : #Boislockerroom : इंस्टाग्राम ग्रुप में दिल्ली के लड़कों ने की रेप प्लानिंग वाली चैट, बॉडी और स्लट शेमिंग पर की बातें

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था के दौरान इस दवाई का सेवन कभी भी नहीं करना चाहिए। यह एक गर्भनिरोधक दवाई है ऐसे में प्रेगनेंसी या स्तनपान के दौरान इसे नहीं लिया जाता।

और पढ़ें : Estradiol : एस्ट्राडिओल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) के साइड इफेक्ट्स

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल के निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। हालांकि इस लिस्ट में जो साइड इफेक्ट्स दिए गए हैं वो हर व्यक्ति में देखने को नहीं मिलते। लेकिन, अगर आप को इन में से कोई साइड इफेक्ट महसूस हों तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। यह साइड इफेक्ट इस प्रकार हैं:

  • मासिक धर्म का असामान्य रूप से होना या मिस होना
  • पीठ दर्द
  • डकार
  • आंखों का धुंधला होना
  • स्तन का कोमल होना, दर्द होना, स्तनों का बढ़ना, या स्राव
  • मासिक धर्म के दौरान ब्लीडिंग में परिवर्तन
  • स्किन के रंग का बदलना या उसमे दर्द, कोमलता
  • हाथों और पैरों की सूजन
  • छाती में दर्द या बेचैनी
  • ठंड लगना
  • मिट्टी के रंग का मल
  • निप्पल से साफ या खून जैसा स्त्राव
  • खांसी
  • गहरा मूत्र
  • डायरिया 
  • निगलने में मुश्किल 
  • चक्कर आना
  • कम दर्द या पैरों में दबाव या भारीपन
  • तेजी से दिल धड़कना
  • बुखार
  • पेट में भरा हुआ या फूला हुआ अहसास या दबाव
  • सिरदर्द
  • हीव्स
  • बोलने में समस्या
  • अपच
  • योनि या गुप्तांग में खुजली 
  • क्षतिग्रस्त नसों के पास खुजली
  • पीरियड के दौरान और संभोग के बाद योनि से  हल्का खून आना
  • भूख में कमी
  • ब्रेस्ट में या बाजू के नीचे गांठ
  • मतली और उल्टी
  • घबराहट
  • हाथ, जबड़े, पीठ या गर्दन में दर्द या तकलीफ
  • कानों में फुंसियां ​​या पलकों या आंखों, चेहरे, होंठ या जीभ के आसपास सूजन
  • स्तन में लालिमा या सूजन
  • सीजरस
  • पसीना आना
  • पेट के ऊपर सूजन या नरम होना 
  • सूजे हुए पैर और एड़ियों
  • गाढ़ा, सफेद  (बिना गंध या हल्के गंध के साथ) योनि स्राव
  • छाती में जकड़न
  • सांस की बदबू
  • मासिक धर्म रक्तस्राव का रुकना
  • असामान्य थकान या कमजोरी
  • खून की उल्टी

इसके अलावा भी कुछ अन्य समस्याएं देखने को मिल सकती हैं

  • मुहांसे
  • वजन या भूख में बदलाव
  • संभोग में रुचि कम हो गई
  • इरेक्शन होना या इसे बनाये रखने में असमर्थता
  • बालों का बढ़ना, विशेष रूप से चेहरे पर
  • यौन क्षमता, इच्छा या प्रदर्शन में कमी
  • खोपड़ी पर बालों का झड़ना

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल के कुछ ऐसे साइड इफ़ेक्ट भी हो सकते हैं जो ऊपर नहीं दिए गए हैं। लेकिन, अगर आपको इनके अलावा भी कोई साइड इफेक्ट महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर को बताएं। 

और पढ़ें : Maxtra Syrup: मैक्सट्रा सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

अगर आप इस दवाई को अन्य दवाइयों या उत्पादों के साथ लेते हैं, तो नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल का प्रभाव बदल सकता है। इससे साइड इफ़ेक्ट का जोखिम बढ़ सकता है या यह दवाई सही से अपना काम नहीं करेगी । इसलिए अपने डॉक्टर को उन सभी दवाइयों के बारे में बताएं जिनका सेवन आप कर रहे हैं।  इसमें विटामिन्स या अन्य हर्बल सप्लीमेंट भी शामिल हैं। नॉरएस्ट्रल + एथिनिल एस्ट्राडियोल इन दवाइयों और उत्पादों के साथ इंटरैक्ट कर सकती है।

  • कुछ उत्पाद इस दवाई के साथ इंटरैक्ट कर सकते हैं जैसे एरोमाटेज़ इनहिबिटर (जैसे अनस्ट्रोजॉल, एक्सएमएसटेन), ऑस्पीमिफेन, टामॉक्सीफेन, तीजणीडीन, ट्रेनेक्सामिक एसिड, क्रोनिक हेपेटाइटिस C के उपचार के लिए प्रयोग होने वाले कुछ कॉम्बिनेशन उत्पाद (ओमबीट्सवीर / परीताप्रेवीर/ रिटोनावीर के साथ या डासबुवीर के बिना)।
  • कुछ दवाएं आपके शरीर में जन्म नियंत्रण हार्मोन की मात्रा को कम करके हार्मोनल बर्थ कंट्रोल को कम करने का काम कर सकती हैं। इससे प्रेगनेंसी के परिणाम पर प्रभाव पड़ता है। ग्रिसोफुल्विन, मोडाफिनिल, रिफैमाइकिंस (जैसे रिफैम्पिन, रिफैबूटिन), सेंट जॉन वोर्ट, सीजरस के उपचार वाली दवाइयां जैसे कि बार्बिटुरेट्स, कार्बामाजेपाइन, फेलबामेट, फिनाइटोइन, प्राइमिडोन, टोपिरामस) ,HIV दवाईआं (जैसे नेल्फिनावीर, नवीरपीन, रिटोनावीर)
  • यह दवा कुछ लेबोरेटरी टेस्टस (जैसे रक्त के ब्लड क्लॉटिंग फैक्टर, थायरॉयड) के साथ हस्तक्षेप कर सकती है, संभवतः गलत परीक्षण परिणामों का कारण बन सकती है। सुनिश्चित करें, कि प्रयोगशाला कर्मियों और आपके सभी डॉक्टर जानते हैं कि आप इस दवा का उपयोग करते हैं।
  • इसके अलावा भी कुछ अन्य दवाइयां हो सकती हैं, जिन्हें नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल के साथ लेने से स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। अपने डॉक्टर के बारे में इनके बारे में पहले ही पूरी जानकारी ले लें।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ नोर्गेस्त्रेल+ एथिनिल एस्ट्राडियोल  का इस्तेमाल किया जा सकता है? 

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल को भोजन या एल्कोहॉल के साथ लेने से दवाई के काम करने के तरीके में प्रभाव पड़ सकता है। भोजन और एल्कोहॉल के साथ इस दवाई के इंटरेक्शन के बारे में कृपया अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से अवश्य पूछ लें। अगर आप गर्भनिरोधक दवाई का सेवन कर रही हैं तो धूम्रपान से बचे। खासतौर, पर अगर आप 35 साल से अधिक उम्र की हैं। ऐसे में धूम्रपान करने से ब्लड क्लॉट्स, स्ट्रोक या हार्ट अटैक का खतरा बढ़ सकता है।

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है? 

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल आपकी हेल्थ कंडिशन पर अपना प्रभाव डाल सकता है। यह इंटरेक्शन आपकी हेल्थ कंडीशन को और भी खराब या दवाई के प्रभाव को कम कर सकती है। यह बहुत आवश्यक है कि हमेशा अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अपनी मौजूदा हेल्थ कंडिशंस के बारे में बताएं।

और पढ़ें :  Serrapeptase: सेररटीओपेप्टिड्स क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोजेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

गर्भनिरोध (Contraception) के लिए वयस्कों के लिए डोज

ओरली दिन में एक बार -1 टेबलेट

कमैंट्स:

  • इसे रोजाना एक बार उसी समय पर लेना चाहिए
  • इसके सही और लगातार उपयोग के परिणामस्वरूप परिणाम में विफलता की दर कम हो सकती है।
  • एक्टिव टेबलेट लेना बंद करने के बाद 3 दिनों के भीतर ब्लीडिंग हो सकती है।

प्रयोग : महिलाएं गर्भावस्था की रोकथाम के लिए जो गर्भनिरोधक के तरीके के रूप में इस उत्पाद का प्रयोग करती हैं।

रीनल डोज अजस्टमेंट्स

सावधानी से प्रयोग करें; गुर्दे की बीमारी के रोगियों में गर्भनिरोधक के अन्य तरीकों पर विचार किया जाना चाहिए।

नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल (Norgestrel + Ethinyl Estradiol) किस रूप में आती है?  

  • टेबलेट

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

नोर्गेस्त्रेल+ एथिनिल एस्ट्राडियोल की ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति के लिए अपने स्थानीय डॉक्टर या हॉस्पिटल से संपर्क करें। 

यदि मुझसे नोर्गेस्त्रेल + एथिनिल एस्ट्राडियोल की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

अगर आप नोर्गेस्त्रेल+ एथिनिल एस्ट्राडियोल की डोज मिस कर दे तो क्या करना चाहिए जिसकी पूरी जानकारी आपकी उत्पाद के पैकेज पर मिल जाएगी उसे पढ़ लें।  आपको बैक-अप बर्थ कंट्रोल जैसे कंडोम, स्परमिसिड आदि का प्रयोग करना चाहिए, ताकि प्रेग्नेंसी से बचा जा सके। किसी भी सवाल का उत्तर जानने के लिए अपने डॉक्टर से अवश्य पूछें। अगर आप डॉक्टर के बताये अनुसार पिल लेना भूल गए हैं तो अपने डॉक्टर की सलाह का पालन करें।

  • अगर आप एक एक्टिव पिल लेना भूल गयी हैं तो याद आने पर दो पिल्स यानी गोलियां ले लें। इसके बाद रोजाना एक गोली लें।
  • अगर आप पहले या दूसरे हफ्ते में लगातार एक या दो बाद दो एक्टिव पिल्स लेना भूल हैं तो पैक के खत्म होने तक रोजाना एक ही गोलों लें। गोलियों को खाना भूलने के कम से कम 7 दिनों के लिए बैक-अप जन्म नियंत्रण तरीकों का उपयोग करें।
  • अगर आप तीसरे हफ्ते में दो एक्टिव पिल्स लेना भूल गयी हैं या पहले तीन हफ़्तों में कभी भी लगातार तीन गोलियां लेना भूल गयी हैं तो बचे हुए पैक को फेंक दें। नया पैक लाएं और उसी दिन से उस पैक को पहले दिन की तरह शुरू करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप मेडिकल सलाह,निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Mifegest Kit : मिफेजेस्ट किट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

मिफेजेस्ट किट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, मिफेजेस्ट किट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Mifegest Kit डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Livogen XT tablet : लिवोजेन एक्सटी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

लिवोजेन एक्सटी टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, लिवोजेन एक्सटी टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Livogen XT tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

हाइपरग्लेसेमिया : जानिए इसके लक्षण, कारण, निदान और उपचार

हाइपरग्लेसेमिया क्या है, हाइपरग्लेसेमिया के कारण, लक्षण, उपचार, पाइये कुछ आसान टिप्स, Hyperglycemia in diabetes in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
हेल्थ सेंटर्स, डायबिटीज जुलाई 7, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

क्या आप जानते हैं गर्भावस्था के दौरान शहद का इस्तेमाल कितना लाभदायक है?

गर्भावस्था के दौरान शहद के फायदे, गर्भावस्था में शहद का प्रयोग, असली शहद को कैसे पहचाने, गर्भावस्था में शहद, benefits of honey during pregnancy,

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Anu Sharma
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी जुलाई 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें