home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Pepto-bismol (Bismuth): पेप्टो बिस्मोल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

परिचय|पेप्टो बिस्मोल के क्या उपयोग हैं?|पेप्टो बिस्मोल को कैसे लेना चाहिए |पेप्टो बिस्मोल के जोखिम | पेप्टो बिस्मोल को लेने के सावधानियां
Pepto-bismol (Bismuth): पेप्टो बिस्मोल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

परिचय

पेप्टो-बिस्मोल (बिस्मथ) क्या है?

पेप्टो बिस्मोल एक आसानी से मेडिकल स्टोर पर मिलने वाली (ओटीसी) दवा है, यह तब ली जाती है जब किसी व्यक्ति को अपच, जलन और दस्त जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

पेप्टो बिस्मोल एक एंटासिड है। यह कई रूपों में उपलब्ध है, जिसमें कैप्सूल और तरल पदार्थ शामिल हैं। कुछ लोगों को पेप्टो बिस्मोल लेने के बाद दुष्प्रभाव महसूस हो सकते हैं, जैसे बहुत गहरा या काला मल का होना । हालांकि, ये दुष्प्रभाव आम तौर पर अस्थायी और हानिरहित होता है। व्यक्ति को इलाज के लिए पेप्टो बिस्मोल या इसी तरह के उत्पादों का थोड़े समय तक के लिए ही उपयोग करना चाहिए। किसी को भी पाचन संबंधी समस्या से निपटने के लिए अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

और पढ़ें : Capsule Endoscopy: कैप्सूल एंडोस्कोपी क्या है?

पेप्टो बिस्मोल के क्या उपयोग हैं?

बिस्मथ सबसालिसिलेट पेप्टो बिस्मोल में मुख्य संघटक(ingredient) है। यह एक एंटासिड दवा है जो पाचन तंत्र में जलन को कम करने में मदद करती है। जर्नल क्लीनिकल एंड एक्सपेरिमेंटल गैस्ट्रोएंटरोलॉजी नोट्स जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, बिस्मथ में शरीर में एंटीडायरेहिल, जीवाणुनाशक और अनुत्तेजक गुण होते हैं।

इन पाचन संबंधित लक्षणों से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं जैसे:

कुछ मामलों में, और हमेशा एक डॉक्टर के मार्गदर्शन में लोग पेप्टो बिस्मोल का उपयोग कर सकते हैं और लोग बैक्टीरिया एच पाइलोरी के कारण संक्रमण और उनसे उत्पन्न होने वाले लक्षणों के उपचार करने के लिए पेप्टो बिस्मोल और अन्य दवाओं का उपयोग कर सकते हैं। कभी-कभी डॉक्टर इसे गंभीर पाचन डिसऑर्डर के लक्षणों के उपचार के लिए भी सुझाव दे सकता है।

कुछ लोग अंजान जगह की यात्रा करते समय भी पेप्टो बिस्मोल के जीवाणुनाशक प्रभाव को उपयोगी पाते हैं, जहां स्थानीय बैक्टीरिया उनके पाचन तंत्र को संक्रमित कर सकते हैं और यात्री के दस्त का कारण बन सकते हैं।

किसी भी व्यक्ति को अंदरूनी समस्या का खुद से उपचार नहीं करना चाहिए और इसका इलाज करने के लिए पेप्टो बिस्मोल का उपयोग करना चाहिए। जिसके लक्षण खराब हो जाते हैं या 2 दिनों से अधिक समय हो जाता है, तब पूर्ण निदान के लिए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

और पढ़ें : क्या एंटीबायोटिक्स कर सकती हैं गट बैक्टीरिया को प्रभावित?

पेप्टो बिस्मोल को कैसे लेना चाहिए 

पाचन संबंधी लक्षणों के इलाज के लिए पेप्टो बिस्मोल लेने वाले किसी भी व्यक्ति को लेबल पर दिए गए निर्देशों का पालन करना चाहिए।

तरल पेप्टो बिस्मोल में 30 मिली लीटर (एमएल) कप शामिल है, जो एक खुराक है, जोकि बिस्मथ सबसालिसिलेट के 525 मिलीग्राम (मिलीग्राम) पहुंचाता है। पेप्टो बिस्मोल की वेबसाइट इसे लेने की सलाह कुछ इस तरह से देती है:

  • पेट खराब, मतली, सीने में जलन, और अपच के लिए आवश्यकतानुसार हर 30 मिनट में 30 मिलीलीटर तक की खुराक लेना चाहिए
  • दस्त या यात्रा के दौरान दस्त लगी हो उनके लिए़ हर 30 मिनट में एक 30 मिली की खुराक या दो खुराक हर घंटे लेना चाहिए
  • साथ ही 24 घंटे में आठ खुराक से अधिक नहीं लेने की चेतावनी भी देता है। चबाने योग्य गोलियों का उपयोग करते समय, एक खुराक दो गोलियां होती हैं। खुराक लेनी की यह सलाह दी जाती है:
  • दस्त के लिए हर 30 मिनट में दो गोलियां या हर घंटे चार गोलियां
  • पेट खराब, मतली, दिल में जलन और अपच के लिए हर 30 मिनट में दो गोलियां इसी तरह, 24 घंटे में आठ खुराक (16 गोलियां) से अधिक न लें।
  • 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए, पेप्टो बिस्मोल का उपयोग करने से पहले बच्चों के समान दवाइयों का उपयोग करें या डॉक्टर से बात करें।

निर्देशित से अधिक पेप्टो बिस्मोल न लें, भले ही लक्षण स्पष्ट न हों। अधिक गंभीर समस्याओं के इलाज के लिए पेप्टो बिस्मोल या इसी तरह की दवाओं का उपयोग करने वाला कोई भी व्यक्ति, जैसे संक्रमण, को अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही इस्तेमाल करना चाहिए।

और पढ़ें : Heartburn: हार्टबर्न (सीने में जलन) क्या है?

पेप्टो बिस्मोल के जोखिम 

बिस्मथ उपसालिसिलेट का उपयोग करने से होने वाले दुष्प्रभाव आम नहीं हैं। सबसे आम दुष्प्रभाव में काले रंग के मल, और जीभ पर कालापन है। यह बिस्मथ की प्रतिक्रिया है। जब व्यक्ति दवाई लेना बंद कर देता है तो मलिनकिरण दूर हो जाता है।

  • लोगों को सैलिसिलेट से एलर्जी है, जो एस्पिरिन में पाया जाने वाला एक रसायन है, वे अधिक गंभीर दुष्प्रभावों का अनुभव कर सकते हैं। जिस किसी को भी इन अवयवों से एलर्जी है, वह अपने डॉक्टर से पेप्टो बिस्मॉल के उपयोग के विकल्पों के बारे में बात कर सकते हैं।
  • दुर्लभ मामलों में, कुछ व्यक्ति को कानों में बजने या सुनाई देना बंद हो जाता है। यदि ऐसा होता है, तो व्यक्ति को तुरंत दवाई लेना बंद कर देना चाहिए और डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  • गंभीर ऐंठन, खून और डार्क, चिपचिपा मल या उल्टी जैसे लक्षण दिखते हैं, ऐसे में दवा लेना बंद कर देना चाहिए और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  • जो बच्चे या किशोर चिकनपॉक्स या फ्लू से उबर रहे हैं, उन्हें पेप्टो बिस्मोल नहीं लेना चाहिए। इन स्थितियों में पेप्टो बिस्मॉल लेने से रेये सिंड्रोम हो सकता है। रेये के सिंड्रोम के लक्षणों में व्यवहार में बदलाव, मतली, उल्टी और दौरे शामिल हैं। यह दुर्लभ प्रतिक्रिया है, जो मेडिकल इमर्जन्सी की जरूरत हो सकती है।

गर्भावस्था और स्तनपान

इस बात के बहुत कम प्रमाण हैं कि पेप्टो बिस्मोल गर्भावस्था के दौरान हानिकारक दुष्प्रभाव डालता है, हालांकि इस पर बहुत कम शोध हुए हैं, इसलिए कुछ कह नहीं सकते कि यह सुरक्षित है या नहीं। गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को हमेशा पेप्टो बिस्मोल या किसी भी दवाई का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए जिसमें बिस्मथ सबसालिसिलेट शामिल हो।

दवाओं का पारस्परिक प्रभाव

अपने फार्मासिस्ट या डॉक्टर से बात करें यह देखने के लिए कि क्या पेप्टो-बिस्मोल आपके द्वारा ली गई किसी भी दवा के साथ परस्पर प्रभाव करता है।

पेप्टो-बिस्मोल के साथ परस्पर प्रभाव कर सकने वाली दवाओं के उदाहरणों में शामिल हैं:

  • एंजियोटेनसिन-परिवर्तित एंजाइम (एसीई) अवरोधक जैसे कि बेनाजिप्रिल, कैप्टोप्रिल, एनालाप्रिल, फॉसिनोप्रिल, लिसिनोप्रिल और ट्रैंडोलैप्रिल
  • रक्त पतले (थक्कारोधी) जैसे कि वारफारिन
  • मधुमेह के लिए दवाएं जैसे इंसुलिन, मेटफॉर्मिन, सल्फोनीलुरियास, डाइप्टिडिडाइल-पेप्टिडेज- IV (DPP-IV) अवरोधक, और सोडियम ग्लूकोज ट्रांसपोर्टर (SGLT) 2 इनहिबिटर
  • गाउट के लिए दवाएं जैसे प्रोबेनेसिड
  • अन्य सैलिसिलेट जैसे एस्पिरिन
  • एस्पिरिन, नेप्रोक्सन, इबुप्रोफेन, मेलॉक्सिकैम, इंडोमेथेसिन और डाइक्लोफेनाक जैसे अनुत्तेजक दवाएं (एनएसएआईडी)

और पढ़ें : क्या मधुमेह रोगी चीनी की जगह खा सकते हैं शहद?

 पेप्टो बिस्मोल को लेने के सावधानियां

  • जिस किसी को भी अल्सर या ब्लीडिंग की समस्या है, उसे बिस्मथ सबसालिसिलेट का उपयोग नहीं करना चाहिए।
  • जिस किसी को भी एस्पिरिन या अन्य सैलिसिलेट्स से एलर्जी है, उन्हें पेप्टो बिस्मोल का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए। इसी तरह, जिस किसी को भी एनएसएआईडी सूट नहीं करता है, उन्हें भी पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
  • जिनके परिवार में ब्लीडिंग डिसऑर्डर का इतिहास पाया जाता है उन्हें केवल डॉक्टर के सलाह पर ही पेप्टो बिस्मोल का उपयोग करना चाहिए।
  • जिन लोगों को दवा में अन्य निष्क्रिय अवयवों से रीऐक्शन भी हो सकता है और किसी भी दवाइयों का उपयोग करने से पहले सभी अवयवों की जांच करनी चाहिए।

पेप्टो बिस्मोल आम तौर पर सुरक्षित होता है जब कोई व्यक्ति इसका सही तरीके से उपयोग करता है, लेकिन इसका ओवरडोज न किया जाए। ओवरडोज के संकेतों में शामिल हैं:

अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pepto-bismol. https://www.drugs.com/mtm/pepto-bismol.html. Accessed On 09 October, 2020.

PEPTO-BISMOL- bismuth subsalicylate . https://dailymed.nlm.nih.gov/dailymed/fda/fdaDrugXsl.cfm?setid=33baaf04-498d-44f2-9288-02b8f874f914&type=display. Accessed On 09 October, 2020.

Bismuth Subsalicylate. https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a607040.html. Accessed On 09 October, 2020.

PeptoBismol® Use to Reduce Gastrointestinal Events in Healthy Volunteers Receiving DMF [Tecfidera®] Twice Daily. https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT01915901. Accessed On 09 October, 2020.

Bismuth Subsalicylate. https://www.ams.usda.gov/sites/default/files/media/Bismuth%20Subsalicylate%20TR.pdf. Accessed On 09 October, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Poonam द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/10/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x