home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Rejunex CD3: रेजुनेक्स सीडी 3 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Rejunex CD3: रेजुनेक्स सीडी 3 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

रेजुनेक्स सीडी3 (Rejunex CD3) कैसे काम करती है?

रेजुनेक्स सीडी3 (Rejunex CD3) डायबिटीज, एल्कोहॉल या फिर किसी मेडिसिन के सेवन से इंड्यूस न्यूरोपैथी और हाइपरहोमोसिस्टेनेमिया (hyperhomocysteinemia) (रक्त में होमोसिस्टीन नामक एमिनो एसिड का स्तर अधिक होने को हाइपरहोमोसिस्टिनिमिया कहा जाता है) के रूप में काम करता है। ये शरीर में डैमेज नर्व को एक्टिव करने का काम करता है और साथ ही होमोसिस्टीन के लेवल ( homocysteine levels) को शरीर से कम करता है। इस ड्रग में मुख्य कंपोनेंट के रूप में अल्फा लिपोइक एसिड मौजूद होता है।

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) का कंपोजीशन क्या है?

रेजुनेक्स सीडी 3 में विटामिन जैसे कि विटामिन डी 3 (Vitamin D3), बेनफोटियामिन (Benfotiamine),अल्फा लिपोइक एसिड, फोलिक एसिड (Folic acid) , मेथिलकोबालामीन (Methylcobalamin), कैल्शियम कार्बोनेट (Calcium carbonate), क्रोमियम पिकोलिनेट (Chromium Picolinate), इनोसिटोल (inositol), निकोटिनामाइड (Nicotinamide),पायरिडोक्सिन हाइड्रोक्लोराइड (Pyridoxine Hydrochloride) आदि का कंपोजीशन पाया जाता है।

अल्फा लिपोइक एसिड (Alpha Lipoic Acid)

अल्फा लिपिक एसिड नर्व प्रॉब्लम को ठीक करने का काम करता है। वहीं डायबिटीज पेशेंट में न्यूरॉन के फंक्शन को इंप्रूव करता है।

इनोसिटोल (Inositol)

इनोसिटोल का काम बॉडी में कैमिकल्स को बैलेंस करने का होता है। साथ ही ये इंसुलिन के काम को बेहतर करता है। डायबिटीज के कारण हुई नर्व प्रॉब्लम को ये ठीक करने का काम करता है।

बेनफोटियामिन (Benfotiamine)

बेनफोटियामिन न्यूरॉन्स के ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस कम करने का काम करता है और न्यूरॉन्स को खराब होने से भी बचाता है।

मिथाइलकोबालामिन, फोलिक एसिड, पाइरिडोक्सीन (Methylcobalamin, Folic Acid, Pyridoxine)

ये शरीर में होमोसिस्टीन के लेवल को कम करने का काम करता है। साथ ही न्यूरोनल सेल्स की डेथ भी रुकती है। साथ ही न्यूरोट्रांसमीटर के लिए मेटाबॉलिज्म के लिए जरूरी पदार्थों को बढ़ाने का काम करता है।

क्रोमियम

यह शरीर में ग्लूकोज और इंसुलिन को नियंत्रित करने का काम करता है।

और पढ़ें : Mintop: मिनटॉप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) का सामान्य डोज क्या है?

रेजुनेक्स सीडी 3 कैप्सूल और इंजेक्शन दोनों तरीके से लिया जा सकता है। डॉक्टर बीमारी के अनुसार ही दवा का सेवन करने की सलाह देते हैं। रेजुनेक्स का सेवन विभिन्न प्रकार की बीमारियों में किया जाता है। डॉक्टर आपको एक या दो कैप्सूल लेने की सलाह दे सकता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

किसी भी दवा का ओवरडोज शरीर में विभिन्न प्रकार के साइड इफेक्ट्स दिखा सकता है। अगर रेजुनेक्स सीडी 3 का आपने अधिक सेवन कर लिया है और शरीर में किसी प्रकार की समस्या यानी दुष्प्रभाव दिख रहे हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। बीमारी की सही इलाज डोज को नियमित लेने पर ही संभव है। डोज लेने का सही समय जरूर ध्यान रखें।

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

किसी भी दवा का सेवन सही समय पर करना बहुत जरूरी है। डॉक्टर के बताए तय समय अगर आपने मेडिसिन मिस कर दी है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। दूसरी डोज सही समय पर जरूर लें। दो दवाओं का सेवन एक साथ करने की भूल न करें वरना आपको साइड इफेक्ट भी दिख सकते हैं। बेहतर होगा कि अलार्म की सहायता से डोज का सेवन सही समय पर करें ताकि आपको जल्द समस्या से छुटकारा मिल सके।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें : Nicotex: निकोटेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

रेजुनेक्स सीडी 3 का उपयोग कैप्सूल के रूप में और इंजेक्शन के रूप में किया जाता है। आपको कैप्सूल की जरूरत है या फिर इंजेक्शन की, इस बारे में डॉक्टर आपको बता देगा। अगर डॉक्टर ने आपको कैप्सूल लेने की सलाह दी है तो पानी से कैप्सूल को खाएं। दवा को तोड़े नहीं। डॉक्टर से इस बारे में जरूर पूछ लें दवा का सेवन किस समय करना सही रहेगा। अगर डॉक्टर ने इंजेक्शन लगवाने की सलाह दी है तो सही समय पर इंजेक्शन जरूर लगवाएं।

इन बीमारियों में किजा जाता है रेजुनेक्स सीडी 3 का उपयोग

डायबिटीज न्यूरोपैथी में

इस दवा का यूज डायबिटीज न्यूरोपैथी ( हाथों-पैरों में झुनझुनी, चुभन या सुन्न हो जाना) में किया जाता है। डायबिटीज में तंत्रिकाओं को नुकसान पहुंचने की वजह से हाथों-पैरों में झुनझुनी, चुभन और सुन्न होने जैसी तकलीफ होने लगती हैं. इसे डायबिटिक न्यूरोपैथी कहते हैं।

नर्व पेन की समस्या

डायबिटीज के साथ ही जिन व्यक्तियों में नर्व पेन की समस्या होती है, उन्हें भी इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जा सकती है। इस दवा के सेवन से पैर और बाहों में जलन की समस्या, हाथ पैर के सुन्न पड़ जाने के लक्षणों में सुधार होता है। दवा का असर तीन से पांच हफ्तों में दिखना शुरू हो जाता है।

ब्लड में अधिक कोलेस्ट्रॉल

रेजुनेक्स सीडी 3 के सेवन से ब्लड में कोलेस्ट्रॉल के लेवल में सुधार होता है। साथ ही मोटापे की समस्या से जूझ रहे लोगों में इस दवा का सकारात्मक परिणाम देखने को मिला है।

रेजुनेक्स सीडी 3 का सेवन करने की सलाह डॉक्टर आपको जब दें, तभी दवा का सेवन करें। बीमारी के अनुसार ही डॉक्टर दवा का सेवन करने की सलाह देता है। अगर आपको रेजुनेक्स सीडी 3 के बारे में अधिक जानकारी चाहिए तो अपने डॉक्टर से इस बारे में परामर्श जरूर करें।

और पढ़ें : Cyra D: सायरा डी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

रेजुनेक्स सीडी 3 लेने से शरीर में कुछ साइड इफेक्ट दिख सकते हैं। इस दवा के सेवन से ब्लड में शुगर लेवल कम हो सकता है। अगर आप डायबिटीज की दवा ले रहे हैं तो इस बारे में डॉक्टर को जरूर बता दें, ताकि किसी प्रकार का दुष्प्रभाव न दिखे। अगर थायरॉइड की समस्या से आप जूझ रहे हैं तो बेहतर होगा कि डॉक्टर को इस बारे में जरूर बताएं। दवा के अधिक सेवन करने से चक्कर, कमजोरी, सिर दर्द की समस्या आदि हो सकती है। दवा की जितनी डोज बताई गई हो, उतनी ही लें। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से बात जरूर करें।

  • एक्ने
  • एलर्जी की समस्या
  • चेहरे पर चकत्ते पड़ना
  • कमजोरी महसूस होना
  • चक्कर आना

और पढ़ें : Bro Zedex: ब्रो जेडेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानियां और चेतावनी

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

कुछ मामलों में रेजुनेक्लेस सीडी 3 लेने की सलाह नहीं दी जाती है। हो सकता है कि आपका डॉक्टर डोज को कम करके दें। अपनी पहले की किसी बीमारी के बारे में डॉक्टर को बताना न भूलें। अगर आप रेजुनेक्लेस सीडी 3 दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं और कोई मेडिकल और डेंटल सर्जरी करवा रहे हैं तो अपने सर्जन और डेंसिस्ट से दवा के सेवन के बारे में जानकारी जरूर शेयर करें। दवा का सेवन करने के बाद एल्कोहॉल का सेवन न करें। दवाओं के सेवन के बाद एल्कोहॉल का सेवन न करना सुरक्षित रहता है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श करें। दवा का सेवन करने के बाद कुछ समय के लिए आप आराम करें। अगर आप ठीक महसूस कर रहे हैं तो ड्राइविंग व अन्य कार्यों को कर सकते हैं। अगर आपको तबियत खराब लग रही है तो बेहतर होगा कि आप मेहनत वाला काम न करें।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान रेजुनेक्स सीडी3 (Rejunex CD3) को लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था के दौरान रेजुनेक्स सीडी 3 लेने की सलाह डॉक्टर दे सकता है। ब्रेस्टफीडिंग के समय इस दवा का यूज करना चाहिए या नहीं, इस बारे में डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान दवा दूध के जरिए बच्चे तक पहुंचने का खतरा रहता है। इसलिए इस बारे में डॉक्टर से जरूर पूछ लें ।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

कुछ दवाइयां रेजुनेक्स सीडी 3 के साथ रिएक्शन कर सकती हैं। अगर आप किसी दवा का सेवन कर रहे हैं तो इस बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। कुछ दवाओं का सेवन एक साथ करने से शरीर पर अधिक दुष्प्रभाव दिखाई पड़ सकते हैं। अगर दवा का सेवन करने के बाद आपको शरीर में कुछ साइड इफेक्ट दिखते हैं तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

  • ग्लाइबुराइड (डायबेटा) glyburide (DiaBeta)
  • ग्लीनेज प्रेसटैब ( Glynase PresTab)
  • पियोग्लिटाजोन (एक्टोस) (pioglitazone (Actos)
  • रोजिग्लिटाजोन (rosiglitazone)
  • क्लोरप्रोपामाइड (chlorpropamide)
  • ग्लिपीजाइड (glipizide)
  • टोलबूटामाइड (tolbutamide)

अगर आप इनमें से किसी भी दवा का सेवन कर रहे हैं तो उन्हें छोड़ दें। इसके अलावा डॉक्टर से परामर्श करके अन्य विकल्पों का चयन करें।

और पढ़ें– Rifagut: रिफागट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

मैं रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3) को कैसे स्टोर करूं?

रेजुनेक्स सीडी 3 को नमी वाले स्थान में न रखें। इसे सूरज की रोशनी से बचाकर कमरे के टेम्प्रेचर पर ही रखें। दवा को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। इसे किसी बंद कंटेनर में ही रखें। दवा के खराब या एक्सपायर होने पर उसे नाली या बाथरूम में न फेंके। इसे डंप कैसे करना चाहिए, इस बारे में डॉक्टर से बात जरूर करें।

रेजुनेक्स सीडी 3 (Rejunex CD3 ) किस रूप में उपलब्ध है?

  • कैप्सूल
  • इंजेक्शन

ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी ड्रग का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। हैलो स्वास्थ्य किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड