Quiz : क्यों बढ़ती जा रही है कोलेस्ट्रॉल की समस्या?

द्वारा

अपडेट डेट जून 5, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

कोलेस्ट्रॉल एक तरह का फैट है। कोलेस्ट्रॉल का उत्पादन लिवर द्वारा होता है। कोलेस्ट्रॉल की जरूरत शरीर को होती है, लेकिन अगर यह आवश्यकता अनुसार न बने तो यह सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। कोलेस्ट्रॉल शरीर में दो तरह के होते हैं। गुड कोलेस्ट्रॉल और बैड कोलेस्ट्रॉल। सामान्य से ज्यादा कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने की वजह से दिल से संबंधित बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। सामान्य कोलेस्ट्रॉल लेवल 200 mg/dL होता है। कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने की अगर आशंका है या कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ चुका है, तो चीज, दूध और हाई फैट रेड मीट के सेवन से बचने के साथ-साथ स्मोकिंग भी नहीं करना चाहिए। बॉडी में कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के लक्षण अधिक होने पर यह कोशिकाओं में जमना शुरू कर देता है जो हमारे शरीर में कई बीमारियां आसानी से दस्तक देने के लिए तैयार रहती हैं। कोलेस्ट्रॉल के बढ़ जाने से दिल का दौरा आने का खतरा बना रहता है। इस बीमारी से बचने के लिए दवा भी दी जा सकती है। इसलिए बैड कोलेस्ट्रॉल से बचने के लिए इससे जुड़ी अहम जानकारी के लिए खेलें क्विज और कोलेस्ट्रॉल से बचाव करें।

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

18 साल के बाद हर महिला को करवानी चाहिए ये 8 शारीरिक जांच

जानिए महिलाओं को कौन-कौन सी शारीरिक जांच कब-कब करवानी चाहिए. 10 से 39 साल की उम्र में शारीरिक जांच से क्या लाभ हैं? शारीरिक जांच कराने के फायदे क्या हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
महिलाओं का स्वास्थ्य, स्वस्थ जीवन मार्च 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Mary Kom’s Birthday : मां बनने के बाद थम नहीं जाती है दुनिया, मैरी कॉम ने ऐसे बदली समाज की पुरानी सोच

मैरी कॉम का नाम जबान पर आते ही महिलाओं को साहस मिलता है कुछ करने का, मुश्किल हालातों से लड़ने का, क्षमताओं से कहीं अधिक जीत लेने का और जीवन जीने की कला भी।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
लोकल खबरें, स्वास्थ्य बुलेटिन फ़रवरी 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Cyproheptadine+Tricholine Citrate+Sorbitol: साइप्रोहेप्टाडीन+ट्राईकोलिन साइट्रेट+सोर्बिटोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए साइप्रोहेप्टाडीन+ट्राईकोलिन साइट्रेट+सोर्बिटोल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, साइप्रोहेप्टाडीन+ट्राईकोलिन साइट्रेट+सोर्बिटोल उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, cyproheptadine-tricholine-citrate-sorbitol डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anoop Singh
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल फ़रवरी 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

वर्कआउट के बाद आप क्या खाते हैं, इसका है विशेष महत्व

वर्कआउट के बाद फूड खाना बहुत जरूरी होता है। मसल्स से ग्लाइकोजन और प्रोटीन की मात्रा कम होने लगती है, ऐसे में वर्कआउट के बाद फूड लेने से मसल्स जल्द रिपेयर हो जाती हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

Recommended for you

Change your bad habits- गलत आदतों से छुटकारा

क्यों न इस स्वतंत्रता दिवस अपनी इन गलत आदतों से छुटकारा पाया जाए

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
हाई ट्राइग्लिसराइड्स- High Triglycerides

High Triglycerides : हाई ट्राइग्लिसराइड्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
प्रकाशित हुआ जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
बाइपोलर डिसऑर्डर के घरेलू उपाय

REM sleep behavior disorder : रैपिड आई मूवमेंट स्लीप बिहेवियर डिसऑर्डर

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Siddharth Srivastav
प्रकाशित हुआ अप्रैल 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
ओवर ईटिंग-overeating

Overeating: ओवर ईटिंग क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Sunil Kumar
प्रकाशित हुआ मार्च 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें