home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

दूध या अन्य डेयरी प्रोडक्ट डायजेस्ट न होने के ये कारण भी हो सकते हैं

दूध या अन्य डेयरी प्रोडक्ट डायजेस्ट न होने के ये कारण भी हो सकते हैं

कहते हैं कि एक गिलास दूध रोजाना पीना चाहिए। इससे आप स्वस्थ रहेंगे, लेकिन अगर आपको दूध या उससे जुड़े प्रोडक्ट लेने के बाद परेशानी होने लगे तो? कई बार दूध पीने के बाद या ऐसे खाद्य पदार्थ जो डेयरी उत्पाद शामिल हैं खाने के बाद पेट फूलना, गैस, दस्त , पेट में दर्द या ऐंठन जैसी परेशानियां होती हैं। ऐसे में कहा जाता है कि ऐसा दूध में मौजूद लैक्टोज की वजह से ऐसा होता है, लेकिन ऐसा जरूरी नहीं है। इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं।

क्या है लैक्टोज? What is lactose?

सामान्य भाषा में अगर लैक्टोज को समझा जाए तो डेयरी प्रोडक्ट में प्राकृतिक रूप से शुगर मौजूद होता है। कुछ लोगों में दूध डाइजेस्ट नहीं होने की परेशानी होती है। यह तब होता है जब छोटी आंत (Small Intestine) लैक्टोज को डाइजेस्ट नहीं कर पाती है, लेकिन दूध को ठीक तरह से नहीं पचा पाना सिर्फ लैक्टोज की वजह से नहीं होता है।

सबसे पहले जानते हैं दूध में मौजूद पौष्टिक तत्व कौन-कौन से हैं?

एक कप दूध में निम्नलिखित पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं:

एक रिसर्च के अनुसार 60 प्रतिशत युवाओं को दूध पचाने में परेशानी होती है। वैसे अक्सर देखा जाता है की बच्चें और बड़ों को दूध पीना पसंद नहीं आता है। इसके डाइजेस्ट नहीं होने के कई कारण हो सकते हैं। लैक्टोज और डेयरी प्रॉडक्ट से एलर्जी होना अलग-अलग कारण है। ऐसा भी हो सकता है की आपको डेयरी प्रॉडक्ट से ही एलर्जी हो। डेयरी प्रॉडक्ट एलर्जी होना कभ-कभी जानलेवा भी हो सकता है। डेयरी एलर्जी वाले लोगों को उन सभी खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों से बचने की आवश्यकता होती है जिनमें दूध या अन्य डेयरी उत्पाद होते हैं। हर व्यक्ति में एलर्जी अलग-अलग तरह से और अलग-अलग चीजों से होती हैं।

और पढ़ें: जानकर हैरान रह जाएंगे केले के 12 फायदे

दूध डायजेस्ट नहीं होने के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं :

दूध का ना पचना

  • दूध से एलर्जी होना (Allergic to milk)- एलर्जी की समस्या किसी को भी हो सकती है और यह किसी भी खाद्य या पे पदार्थों से हो सकती है।
  • दूध का स्वाद पसंद न आना (Do not like the taste of milk)- कुछ लोगों को इसका स्वाद पसंद नहीं आता है। इस वजह से भी परेशानी महसूस हो सकती है। ऐसी परिस्थिति में आप दूध में चॉकलेट पाउडर, ड्राई फ्रूट्स या कोई और खाद्य पदार्थ जो आपको पसंद हो उसे मिलाकर पी सकते हैं। बाजार में ऐसी कई चीजें उपलब्ध हैं जिसे दूध में मिलाकर पीया जा सकता है।
  • दूध का अत्यधिक सेवन करना (Excessive intake of milk)- किसी भी खाद्य पदार्थ के अत्यधिक सेवन से उसका बुरा प्रभाव पड़ सकता है अब वो चाहे दूध ही क्यों न हो।

दूध के सेवन से आसानी से पौष्टिक तत्व शरीर को मिल जाता है। अगर आप किसी कारण दूध का सेवन नहीं कर पा रहें तो आपको निम्नलिखित खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं, लेकिन अपनी समस्या डॉक्टर को बताएं, इससे आपको और डॉक्टर दोनों को ही समझने में आसानी होगी की आप दूध का सेवन क्यों नहीं कर पा रहें हैं।

और पढ़ें: दिमाग तेज करने के साथ और भी हैं चिलगोजे के फायदे, जानकर हैरान रह जाएंगे

निम्नलिखित खाद्य पदार्थ दूध के बदले आहार में शामिल किये जा सकते हैं।

  • सोया मिल्क या सोया पनीर
  • ड्राई फ्रूट्स जैसे बादाम, नट्स या काजू
  • अंजीर
  • ब्रोकली
  • फल
  • हरी पत्तीदार सब्जी

दूध के सेवन से हो सकते हैं मुहांसे (Consumption of milk can cause acne)

दूध

कई मामलों में देखा गया है कि दूध से कुछ लोगों को एलर्जी होती है। इस कारण उन्हें स्किन पर परेशानियां हो सकती है। ऐसे में लोगों को चेहरे पर मुंहासे और फुंसियां हो सकती है। दरअसल, दूध में कॉम्पलेक्स फैट होता है, जिसे पचाने में कुछ लोगों को परेशानी हो सकती है। इसी के कारण लोगों को फुंसी या मुंहासों को दिक्कत होती है।

और पढ़ें: Lactose intolerance: लैक्टोज इनटॉलेरेंस क्या है?

मिल्क से बढ़ सकता है कोलेस्ट्रॉल (Milk can increase cholesterol)

दूध में फैट की काफी मात्रा होती है। ऐसे में दूध पीने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है। इससे मोटापा, ब्लड प्रेशर और अन्य ह्रदय संबंधी बीमारियां हो सकती हैं।

दूध से पेट में दर्द होने की समस्या (Milk causes stomach ache)

जिन लोगों को लेक्टोज से एलर्जी होती हैं, उन्हें दूध पीने से पेट दर्द की परेशानी हो सकती है। जब पेट में दूध पच रहा होता है और यदि इंसान को दूध से एलर्जी है, तो उसके पेट में जलन शुरू हो जाती है। इस कारण कुछ मामलों में पेट और आंतों में सूजन की समस्या भी हो जाती है। ऐसी स्थिति नें तुरंत दूध का सेवन बंद कर देना चाहिए और डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत होती है।

और पढ़ें: Goat’s Milk: क्या बच्चों के लिए बकरी का दूध होता है फायदेमंद?

दूध के साथ इन चीजों का सेवन न करें (Do not consume these things with milk)

दूध के साथ कुछ चीजों को भी खाने से बचने की जरूरत होती है।

नींबू और दूध (Lemon and milk)

दूध के साथ नींबू या नमक से बनी कोई भी चीज जैसे सब्जी आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपके शरीर को काफी नुकसान पहुंचता है। इतना ही नही इससे स्किन इंफेक्शन होने की आशंका बनी रहती है। जिसकी वजह से उन्हे दाद, खाज, खुजली, एग्जिमा जैसी बीमारियां हो सकती है।

अम्लीय पदार्थ न खाएं (Do not eat acidic substances)

दूध के साथ गाजर, शकरकंद, आलू, तेल, दही, नारियल, लहसुन जैसी चीजों का भी सेवन नही करना चाहिए और फिर भी यदि आप इन चीजों का सेवन करना चाहते हैं तो खाने से पहले या खाने के 2 घंटों का गैप रखें।

खट्टी चीजों का सेवन ( Avoid Sour foods with milk)

दूध के साथ खट्टी चीजों का सेवन तो भूल कर भी ना करें। ऐसा करना आयुर्वेद के अनुसार दूध विषैला बना देता है। नुकसान देता है।

गर्म चीजों के साथ न पिएं दूध (Do not drink milk with hot things )

दूध की तासीर ठंडी होती है इसलिए इसे किसी भी गर्म चीज के साथ नहीं पीना चाहिए। यह भी जान लें की मछली के साथ दूध भूलकर भी नहीं पिएं, क्योंकि मछली की तासीर काफी गर्म होती है। जो सेहत के लिए बेहद नुकसानदेय है।

ऊपर दी गई कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन आपको करना चाहिए, लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट को अपनी समस्या जरूर बताएं और डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह को फॉलो करें।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और मिल्क प्रोडक्ट्स के सेवन से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

11 stomach-soothing steps for heartburn/https://www.health.harvard.edu/staying-healthy/11-stomach-soothing-steps-for-heartburn/Accessed on 09/12/2019

Can milk help soothe heartburn?/ https://www.avogel.co.uk/health/digestive-system/heartburn/milk-for-heartburn/Accessed on 09/12/2019

Lactose Intolerance/https://www.niddk.nih.gov/health-information/digestive-diseases/lactose-intolerance/ Accessed on 23/02/2021

Lactose Intolerance/https://medlineplus.gov/lactoseintolerance.html/Accessed on 23/02/2021

 

 

 

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Nidhi Sinha द्वारा लिखित
अपडेटेड 06/10/2019
x