backup og meta

एक ड्रिंक बचाएगी आपको हार्ट अटैक (दिल का दौरा) के खतरे से!

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Piyush Singh Rajput द्वारा लिखित · अपडेटेड 18/08/2021

एक ड्रिंक बचाएगी आपको हार्ट अटैक (दिल का दौरा) के खतरे से!

दिल का दौरा (Heart attack) की नौबत तब आती है जब दिल की मांसपेशियां (Heart muscles) ठीक तरह से खून पंप करने में नाकाम हो जाती हैं। दुनियाभर में हर साल 2 करोड़ 30 लाख लोग इस हृदय विकार का शिकार होते हैं। इसके पीछे कई तरह के कारण जैसे बल्ड प्रेशर, अनियमित धड़कन, ड्रग्स का इस्तेमाल, किमोथेरिपी और अत्यधिक शराब का सेवन। हालांकि, हाल ही में हुई एक रिसर्च में सामने आया है कि दिन में एक से दो ड्रिंक उल्टा दिल को बचाने में मददगार साबित होती हैं। खासतौर पर अधेड़ उम्र के लोगों में इसके सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते हैं। “हैलो स्वास्थ्य” के इस आर्टिकल में जानते हैं हार्ट अटैक का कारण क्या है? एल्कोहॉल किस तरह से का सीमित सेवन किस तरह से दिल का दौरा (Heart attack) की संभावना को कम कर सकता है।

और पढ़ें : ANA Test: जानें क्या है ए.एन.ए टेस्ट?

एल्कोहॉल और हार्ट फेलियर (Alcohol and Heart Failure)

यूरोपियन जर्नल की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 40 से 60 साल की उम्र के बीच के पुरुष जो हफ्ते में लगभग 7 ग्लास एल्कोहॉल कंज्यूम करते हैं उनमें हार्ट अटैक (Heart attack) होने की संभावना 20 प्रतिशत तक कम हो जाती है। वहीं महिलाओं में हार्ट अटैक की संभावना 16 प्रतिशत तक कम हो जाती है।

[mc4wp_form id=”183492″]

वहीं स्वीडन में 30 हजार पुरुषों पर की गई एक और स्टडी के मुताबिक एल्कोहॉल और दिल की सेहत का सीधा कनेक्शन है, जिसमें फायदे और नुकसान भी हैं। इसे ‘U’ यू शेप कनेक्शन कहा गया है। इसका मतलब यह कि अल्कोहल का सीमित और कम मात्रा में सेवन हार्ट फेल होने के खतरे को कम करता है, लेकिन इसका अत्यधिक सेवन हार्ट फेल का खतरा बढ़ा देता है।

ज्यादातर डॉक्टर्स एल्कोहॉल के सीमित मात्रा में सेवन को मानते हैं। डॉक्टर्स के मुताबिक पुरुषों के लिए प्रतदिन दो ड्रिंक्स सुरक्षित और फायदेमंद बताई गई जिसमें एक ड्रिंक में 14 ग्राम अल्कोहल हो यानी एक छोटे ग्लास वाइन या आधी बियर या विस्की (whisky) या वोदका (vodka) का एक शॉट।

और पढ़ें: हार्ट अटैक में फर्स्ट ऐड कब और कैसे दें? पढ़िए इसकी पूरी जानकारी

हद से ज्यादा एल्कोहॉल है खतरनाक :

तय सीमा से अधिक एल्कोहॉल लेना खतरनाक भी माना गया है। अत्यधिक शराब के सेवन से हृदय संबंधी रोग (Heart diseases) होने के साथ-साथ कई जानलेवा बीमारी और मौत भी हो सकती है।

पुरुषों और महिलाओं में इसका असर :

ज्यादातर डॉक्टर्स मानते हैं कि एल्कोहॉल का असर पुरुषों और महिलाओं में अलग-अलग तरह से पड़ता है। कई रिसर्च कहती हैं कि महिलाओं का शरीर एल्कोहॉल को अलग ढंग से पचाता है ऐसा उनके शरीर में मौजूद फैट प्रपोर्शन की वजह से होता है। इसका मतलब ये है कि अल्कोहल सेवन से महिलाओं के खून में एल्कोहॉल की ज्यादा मात्रा पहुंचती है। वहीं अल्कोहल के सीमित सेवन से होने वाले फायदे महिलाओं के मुकाबले पुरुषों को ज्यादा होते हैं।

भले ही हर दिन एक ड्रिंक पीने से आपके हार्ट अटैक (दिल का दौरा) का खतरा कम हो जाता पर इसे किसी थेरेपी या ट्रीटमेंट समझकर शराब पीने  का बहाना नहीं बनाना चाहिए क्योंकि अति हर चीज की बुरी होती है।

हार्ट अटैक के लक्षण क्या हैं? (Signs of heart attack)

दिल का दौरा पड़ने के लक्षण इस प्रकार हैं:

  • सांस लेने में कठिनाई होना (Having difficulty in breathing)
  • छाती या बाहों पर दबाव (Pressure on the chest of arms)
  • सीने में जलन (Heartburn)
  • “कोल्ड स्वेट” आना (डर, चिंता या बीमारी की वजह से पसीना आना) (Cold sweat) (sweating due to fear, anxiety or illness)
  • चक्कर आना (Dizziness)
  • सीने में तेज दर्द (Severe chest pain)

हालांकि, जरूरी नहीं है कि ये लक्षण सभी में एक जैसे हो। हर व्यक्ति के लिए ये लक्षण अलग-अलग हो सकते हैं। अगर आपको किसी भी तरह के असामान्य लक्षण आपके शरीर में दिखे तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

और पढ़ें: जानिए महिलाओं में हार्ट अटैक के लक्षण पुरुषों की तुलना में कैसे अलग होते हैं

दिल का दौरा पड़ने पर किए जाने वाले परीक्षण (Diagnosis of Heart attack)

नियमित शारीरिक जांच (Physical test) के दौरान आपका डॉक्टर ऐसे जोखिम वाले कारकों को टेस्ट करेगा जिसकी वजह से दिल का दौरा (heart attack) पड़ सकता है। हार्ट अटैक (दिल का दौरा) की जांच के लिए निम्नलिखित टेस्ट किए जाते हैं:

  • एलेक्ट्रोकार्डिओग्राम (ईसीजी) (Electrocardiogram (ECG) : हार्ट अटैक (दिल का दौरा) का निदान करने के लिए सबसे पहले ईसीजी (ECG) किया जाता है।
  • ब्लड टेस्ट (रक्त परीक्षण) : जब दिल का दौरा (हार्ट अटैक) पड़ता है तो कई एंजाइम ब्लड में फैल जाते हैं। यह जानने के लिए कि इस एंजाइम रक्त में है या नहीं। आपका डॉक्टर आपके खून की जांच करवा सकता है।
  • हार्ट अटैक (दिल का दौरा) से बचाव कैसे करें? (Tips to prevent heart attack)

    दिल के दौरे से बचने के लिए ये कुछ उपाय किए जा सकते हैं-

    • स्वस्थ आहार (Healthy diet) लें।
    • वजन को कंट्रोल में रखें। (Keep weight under control)
    • धूम्रपान (smoking) न करें। (Do not smoke)
    • नियमित रूप से व्यायाम करें। (Exercise Regularly)
    • तनाव (Stress) न लें।
    • सॉफ्ट ड्रिंक (शीतल पेय) या अन्य पेय पदार्थ जिनमें चीनी रहती है, उन्हें न पीए।
    • हाई बीपी (High blood pressure), ब्लड में कोलेस्ट्रॉल के हाई लेवल और डायबिटीज जैसी समस्याओं पर नियंत्रण करें।
    • आहार में ताजे फल और सब्जियां शामिल करें। साथ ही जैतून का तेल, कनोला ऑयल जैसे तेलों का इस्तेमाल खाना पकाने में करें।
    • साथ ही ड्राई फ्रूट्स जैसे-बादाम, मूंगफली, अखरोट, पिस्ता आदि का भी सेवन अनिवार्य रूप से करें।

    यदि आपको मधुमेह (Diabetes) हो तो उसके लिए सलाहित दवाइयों का उपयोग करें और अपने ब्लड शुगर (Blood sugar) के स्तर की जांच कराते रहें। यदि आपको कोई हृदय रोग है तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें और डॉक्टर द्वारा परामर्श की गई दवाओं का ही उपयोग करें।

    और पढ़ें: महिलाओं में मेनोपॉज का दिल की बीमारी से रिश्ता जानने के लिए खेलें क्विज

    हार्ट अटैक के लक्षण सभी लोगों में एक जैसे नहीं होते हैं। कुछ लोगों को सीने में हल्का दर्द होता है तो कुछ लोगों में (खासकर महिलाओं, बुज़ुर्गों और मधुमेह से पीड़ित) दर्द ही नहीं होता है।

    आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख (दिल का दौरा) पसंद आया होगा। इस आर्टिकल में हार्ट अटैक से जुड़ी सारी जानकारी देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो डॉक्टर से जल्द से जल्द संपर्क करें। यदि हार्ट अटैक (दिल का दौरा) से जुड़ी आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं। हम अपने एक्सपर्ट्स द्वारा आपके प्रश्न के जवाब दिलाने की पूरी कोशिश करेंगे। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट कर बता सकते हैं। अगर आपको अपनी समस्या को लेकर कोई सवाल हैं, तो कृपया अपने डॉक्टर से परामर्श लेना ना भूलें।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Piyush Singh Rajput द्वारा लिखित · अपडेटेड 18/08/2021

    advertisement iconadvertisement

    Was this article helpful?

    advertisement iconadvertisement
    advertisement iconadvertisement