home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

तनाव से लेकर कैंसर तक को दूर कर सकता है चीकू, जानिए इसके फायदे!

तनाव से लेकर कैंसर तक को दूर कर सकता है चीकू, जानिए इसके फायदे!

चीकू एक ऐसा फल होता है जो दिखता आलू की तरह है लेकिन, स्वाद और मिठास से भरपूर होता है। इसे कप्पोटा, सापेटा, नोज बेर, सपोड़ीला पल्म आदि के नाम से भी जाना जाता है। इसमें बहुत से पोषक तत्व और एंटी-ऑक्सिडेंट गुण होते हैं। चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) एक नहीं बल्कि बहुत से हैं। यही नहीं, चीकू में 71 प्रतिशत पानी, 1.5 प्रतिशत प्रोटीन, 1.5 प्रतिशत चर्बी और 25.5 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट होता है। इसमें मौजूद विटामिन, मिनरल और फाइबर आदि भी शरीर के लिए उपयोगी हैं। चीकू में शुगर की मात्रा भी पर्याप्त होती है, जिससे तुरंत हमें ऊर्जा प्राप्त होती है। चीकू स्वास्थ्य के लिए जादू की तरह है और इसके फायदे हजारों हैं। चीकू को सपोडिला फल (Sapodilla fruit) नाम से भी जाना जाता है।

जानिए चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) क्या हैं

दिमाग के लिए फायदेमंद

तनाव में चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) काफी होते हैं। आजकल की जीवनशैली और दिनचर्या के कारण लोगों को तनाव और चिंता जैसी समस्याएं होना सामान्य है। चीकू खाने से हमारा मानसिक स्वास्थ्य ठीक रहता है, जिससे दिमाग शांत रहता है और तनाव जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) – थकावट हो दूर

चीकू में पर्याप्त मात्रा में शुगर होती है, जिसे खाने से ऊर्जा मिलती है। इससे थकावट दूर होती है और नींद अच्छी आती है। अगर आपको अनिद्रा की शिकायत है, तो चीकू का सेवन करना न भूलें।

और पढ़ें : इन 7 फलों को करे फ्रूट डाइट में शामिल

गर्भावस्था में लाभ

गर्भावस्था में होने वाली समस्याएं जैसे सिरदर्द की समस्या, उल्टी, मतली आदि बेहद सामान्य हैं। लेकिन,चीकू खाने से इस तरह की सभी समस्याएं दूर होती हैं। यही नहीं, इसमें कार्बोहाइड्रेट और आवश्यक पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा पाए जाने की वजह से यह गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी चीकू बहुत फायदेमंद होता है। चीकू गर्भावस्था के दौरान होने वाली अन्य कमजोरी जैसे मतली और चक्कर आना जैसी दिक्कतों को भी कम करता है।

त्वचा के लिए लाभदायक

त्वचा के लिए चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) या सपोडिला फल (Sapodilla fruit) अनेक हैं। चीकू में विटामिन-ई पाया जाता है, जिससे त्वचा स्वस्थ,सुंदर,चमकदार और नमी युक्त बनती है। इसलिए, चीकू का सेवन लाभदायक है। चीकू में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सिडेंट उम्र को कम करने में प्रभावी हैं। इससे झुर्रियां कम होती हैं। इसके साथ ही, चीकू के बीज का बना तेल भी त्वचा के लिए औषधि के समान है।

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) – बालों के लिए उपयोगी

चीकू के बीज का तेल सिर में लगाना सिर की त्वचा के लिए लाभदायक है। इससे बाल बढ़ते हैं। यही नहीं, इससे बाल भी नहीं झड़ते।

और पढ़ें : कैसे बनाएं घर पर टेस्टी और हेल्दी गार्लिक सॉल्ट

पाचन तंत्र के लिए लाभदायक

चीकू पाचन तंत्र को मजबूत करता है और गैस की समस्या को दूर करता है। वजन कम करने में भी यह बहुत लाभदायक है। इसमें पाए जाने वाले एंटी-डाइरियल गुणों के कारण अगर चीकू को उबाल कर इसका काढ़ा बना कर पिया जाए, तो दस्त जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है। यह बवासीर रोग और पेचिश से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है।

चीकू में पाया जाने वाले फाइबर और लैक्सटिव के कारण कब्ज की समस्या दूर होती है।

आंखों के लिए

चीकू में विटामिन-ए होता है। बढ़ती उम्र के कारण आंखों की रोशनी कम हो जाती है लेकिन, एक रिसर्च के अनुसार विटामिन-ए के सेवन से वो समस्या दूर होती है।

और पढ़ें : पेट से लेकर हड्डियों तक के लिए बेहद फायदेमंद है हॉग प्लम (Hog Plum)

हड्डियों के लिए लाभदायक

हड्डियों के लिए भी चीकू लाभदायक है। इसमें कैल्शियम, फॉस्फोरस और आयरन होता है, जिससे हड्डियां मजबूत होती हैं।

सर्दी और खांसी

सर्दी और खांसी होने पर चीकू खाएं। इससे पुरानी से पुरानी खांसी भी ठीक होती है। चीकू में कुछ खास तत्व पाए जाते हैं, जो कफ और बलगम को हमारे श्वसन तंत्र से बाहर निकाल कर पुरानी खांसी में राहत देता है।

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) झुर्रियों को कम करनें में होते हैं

चीकू में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। एंटी ऑक्सीडेंट झुर्रियों से निजात पाने में सहायक माना जाता है। इसी कारण चीकू को एंटी एंजिंग के रूप में भी देखा जाता है। चीकू स्किन में बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम कर देता है। साथ ही यह फ्री रेडिकल्स को खत्म कर देता है।

और पढ़ें- क्या आप दुनिया के सबसे छोटे और बड़े फल के बारे में जानते हैं?

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo)– वायरल से बचा सकता है चीकू

चीकू में एंटी वायरल और एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। चीकू में पाया जाने वाला पॉलीफेनोलिक एंटीऑक्सीडेंट इसे एंटी वायरल और एंटी बैक्टीरियल बनाते हैं। चीकू में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट शरीर में बैक्टीरिया को प्रवेश करने से रोकता है। साथ ही चीकू में विटामिन सी और पोटेशियम पाया जाता है। जो पाचन तंत्र को नियमित और स्वस्थ्य रखने में मदद करता है। चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) या सपोडिला फल (Sapodilla fruit) जानकर आप इसे और पसंद करने लग जाएंगे।

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) वजन घटाने में भी मिलते हैं

आज के दौर में जंक फूड और भागती-दौड़ती लाइफस्टाइल के कारण कई लोग बढ़े वजन से जूझ रहे हैं। ऐसे में लोग डायट से लेकर कई उपायों से वजन कम करने की कोशिश करते हैं। वहीं चीकू भी वजन घटाने में लाभदायक साबित हो सकता है। चीकू के फायदे में शामिल है कि यह गैस्ट्रिक एंजाइमों को खत्म करके डाइजेशन को मजबूत कर मोटापे से बचाने मदद करता है।

गुर्दे की पथरी में चीकू के फायदे (Benefits of chikoo)

चीकू के बीज को पीस कर खाने से गुर्दे की पथरी बाहर निकल जाती है। यही नहीं, इससे गुर्दे की अन्य समस्याएं भी दूर होती है। चीकू में पाया जाने वाला लेटेक्स दांतों के कीड़े को दूर करने के लिए लाभदायक है।

और पढ़ें – जानें एक साल के बच्चे के लिए फल और सब्जियों से बनी हेल्दी रेसिपीज

चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) – कैंसर से बचाव

चीकू में विटामिन-ए और बी होता है यही नहीं, इसमें एंटी-ऑक्सिडेंट, फाइबर और अन्य पोषक तत्व भी होते हैं, जो कैंसर से बचाव करते हैं। विटामिन-ए मुंह के कैंसर से बचाव करता है।

फंगल ग्रोथ को रोकने में चीके के फायदे

चीकू फंगल ग्रोथ को रोकने में भी मददगार साबित होता है। चीकू के पौधे से निकलने वाले रस का इस्तेमाल स्किन पर हुईं गांठों और फंगल को कम करने के लिए किया जा सकता है। चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) स्किन की अन्य समस्याओं में भी होते हैं।

इन सब चीजों से एक बात तो साफ है कि चीकू न केवल खाने में लाजबाब है, बल्कि चीकू के फायदे (Benefits of chikoo) या सपोडिला फल (Sapodilla fruit) भी अनेक हैं। इसलिए, इस फल को अवश्य खाएं। इससे न केवल आप स्वस्थ रहेंगे, बल्कि आपकी त्वचा और बाल भी चमकदार और निरोगी रहेंगे। इस फल को ऐसे ही खाएं या इसका शेक या जूस बना कर पिएं। हर सूरत में यह लाभ ही करेगा।

हमें उम्मीद है कि हैलो स्वास्थ्य के इस लेख में चीकू के बारे में दी गई जानकारियां आपके लिए उपयोगी साबित होंगी। अगर आपकी कोई हेल्थ कंडिशन है तो चीकू का सेवन करने पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लें। फल नुकसान नहीं पहुंचाता ऐसा न सोंचे।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड