home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्या नींद न आने की परेशानी सेहत पर डाल सकता है नकारात्मक प्रभाव?

क्या नींद न आने की परेशानी सेहत पर डाल सकता है नकारात्मक प्रभाव?

आमतौर पर देखा गया है कि, आजकल की तेजरफ्तार जीवनशैली में हम उतनी नींद नहीं ले पाते जितनी हमारी सेहत के लिए जरुरी होती है। बड़े शहरों में रहने वाले लोगों के लिए यह समस्या ज्यादा गंभीर हो जाती है क्योंकि उन्हें घर, परिवार और ऑफिस सभी एक साथ संभालना होता है। ऐसे में लोग अपने लिए जरुरी नींद का समय नहीं निकाल पाते जिससे उनके शरीर में कई नई बीमारियों का शिकार बन जाते है।

नींद न आने की परेशानी से होने वाली शारीरिक समस्या

अक्सर लोग अपने हिस्से की जरुरी नींद न आने की परेशानी के कारण अपने रोज के जीवन में कई कठिनाइयों का सामना करते हैं। नींद न आने की परेशानी से दिमाग को सुकून नहीं मिल पाता है। इसलिए वह तनाव महसूस करते हैं। उन्हें हर छोटी-बड़ी बात पर शिकायत होती है और किसी काम में मन भी नहीं लगता है।

और पढ़ें : Anorexia : एनोरेक्सिया क्या है? इसके लक्षण और इलाज

नींद न आने की परेशानी से होने वाली गंभीर बीमारियां कौन-कौन सी हैं?

नींद न आने की परेशानी से दस्तक दे सकती हैं निम्नलिखित बीमारियों को-

  • नींद न आने की परेशानी से दिल की बीमारी का हो सकता है खतरा
  • नींद न आने की परेशानी की वजह से दिल का दौरा पड़ सकता है
  • ठीक से नींद पूरी न होने की स्थिति में अनियमित दिल की धड़कन होना
  • उच्च रक्त चाप (हाई ब्लड प्रेशर होना) की समस्या होना
  • नींद न आने की परेशानी में शामिल है स्ट्रोक की समस्या
  • नींद की कमी से डायबिटीज की समस्या भी शुरू हो सकती है
  • इसके अलावा नींद न आने की परेशानी की वजह से शरीर में थकावट, झिंझलाहट और दर्द महसूस हो सकता है

कुछ अनुमानों के अनुसार, अनिद्रा (insomnia ) जो नींद की कमी की गंभीर समस्या है, इससे पीड़ित 90% लोगों को स्वास्थ्य संबंधित दूसरी परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है। अच्छी नींद लेना आप की सेहत के लिए बहुत जरुरी है। दरअसल अच्छी नींद लेना उतना ही जरुरी है जितना कि अच्छा खान-पान और व्यायाम।

और पढ़ें : जानें पुरुषों में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (UTIs) के बारे में

नींद आप के लिए क्यों जरुरी है, इसके कुछ अहम कारण बताए जा रहे हैं

  • रिसर्च के जरिए साबित हुआ है, कि नींद की कमी के कारण आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं।
  • अच्छी नींद वाले लोग कम नींद प्राप्त करने वालों की तुलना में कम कैलोरीज लेते हैं। एक अध्ययन से पता चला है कि कम नींद लेने वाले व्यक्तियों में ज्यादा भूख होती है, जिसके कारण वह अधिक कैलोरी लेते हैं। नींद की कमी से भूख के हार्मोन की फंक्शनिंग में खराबी पैदा होती है, जो आगे चल कर मोटापे जैसी बिमारियों का कारण बन सकती है।
  • अच्छी नींद से ध्यान लगाने में आसानी होती है और इंसान की काम करने की क्षमता बढ़ जाती है। दिमाग से जुड़े विभिन्न पहलुओं के लिए नींद महत्वपूर्ण है। इसमें कॉन्सेंट्रेशन, कॉग्निशन, काम करने की क्षमता, अच्छी परफॉरमेंस शामिल हैं। नींद की कमी से दिमाग पर भारी नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  • एथलेटिक प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरुरी है। बास्केटबॉल खिलाड़ियों पर किए गए एक अध्ययन में साबित हुआ था कि, अच्छी नींद से स्पीड बढ़ाता है, खेलने में ध्यान बढ़ता है।
  • खराब नींद से डिप्रेशन का खतरा बढ़ सकता है। दिमागी स्वास्थ्य परेशानियां जैसे डिप्रेशन, याददाश्त आदि समस्या नींद की कमी से जुड़ी हुई है। अंदाजा लगाया गया है कि डिप्रेशन से लड़ने वाले 90 प्रतिशत लोग नींद की कमी की शिकायत करते हैं। नींद की कमी से सुसाइड के खतरे भी बढ़ सकते हैं।
  • अच्छी नींद आपके इम्यून फंक्शन को बेहतर बनाती है। कहा जाता है कि नींद कि जरा भी कमी इम्यून सिस्टम को बिगाड़ सकती है। दो हफ्तों की एक स्टडी में लोगों को सर्दी जुखाम के वायरस वाले नेसल ड्रॉप्स दिए गए। देखा गया कि जिन लोगों ने 7 घंटे से कम नींद ली उनमें सर्दी खांसी के खतरे ज्यादा थे जब कि 8 घंटे या उससे ज्यादा नींद लेने वालों में सर्दी न के बराबर पाई गई।
  • नींद भावनाओं और सामाजिक इंटरेक्शन्स पर भी प्रभाव डालती है। एक स्टडी से पाता चला कि जो लोग कम नींद लेते हैं उन्हें गुस्से और खुशी के एक्सप्रेशन भी समझ पाना मुश्किल महसूस करते है।

और पढ़ें : जानें कैसा होना चाहिए आपका वर्कआउट प्लान!

नींद न आने की परेशानी को दूर करने के लिए अपनाएं निम्नलिखित उपाय-

  • नींद न आने की परेशानी को दूर करने के लिए 7-9 घंटे की नींद की नींद अवश्य लें। 7 से 9 घंटे की नींद हमारे शरीर के लिए जरूरी है, जिससे आप दिन भर तरो-ताजा महसूस कर सकते हैं और अपने काम में भी ध्यान लगा सकते हैं।
  • नींद न आने की परेशानी को दूर करने आपको नियमित समय पर रोजाना सोने की आदत डालनी होगी। ऐसा करने से आपको नींद आने की परेशानी से राहत मिल सकती है और आपको अच्छा महसूस होगा।
  • अच्छी नींद के लिए जरूरी है कि सोने से कुछ देर पहले इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का इस्तेमाल न करें जैसे मोबाइल, टीवी, कंप्यूटर या कोई अन्य गेजेट्स।
  • रात के बीच में आपकी नींद खराब न हो इसलिए सोने से पहले चाय,कॉफी, सोडा जैसी चीजों को सेवन नहीं करना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार चाय, कॉफी या अन्य हर्बल टी जैसे ग्रीन टी का सेवन देर शाम न करें। क्योंकि इनके सेवन से नींद नहीं आ सकती है।
  • सोने से पहले बाथरूम जाएं (टॉयलेट) और उसके बाद पानी न पिएं। ऐसा करने से दो फायदे हो सकते हैं। पहला ब्लैडर में इंफेक्शन की संभावना कम होगी और रात को सोने के दौरान नींद बार-बार नहीं खुलेगी।
  • सोने से पहले अपने कमरे को थोड़ा ठंडा करें और समय से लाइट बंद करें इससे अच्छी नींद आती है।
  • रोजाना कम से कम 30 मिनट योगा या एक्सरसाइज करने से भी आपको अच्छी नींद आने में मदद मिल सकती है। सोने से पहले हल्का म्यूजिक आपको रिलैक्स करने के साथ-साथ अच्छी नींद के लिए भी मददगार होगा।
  • सोने के कमरे को साफ रखें और रेड लाइट (नाइट बल्ब) का प्रयोग करें। रिसर्च के अनुसार अच्छी नींद न आने की परेशानी को दूर करने में रेड लाइट काफी मददगार होता है।

इन कारणों के अनुसार, पोषण और व्यायाम के साथ-साथ, अच्छी नींद लेना भी सेहत के लिए बहुत जरुरी है। अपनी नींद का ख्याल रखे, बिना नींद के आप अच्छी सेहत नहीं प्राप्त कर सकते। अगर आप नींद न आने की परेशानी से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

 

Sleep tips: 6 steps to better sleep/https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/adult-health/in-depth/sleep/art-20048379/Accessed on 30/01/2020

10 Reasons Why Good Sleep Is Important/https://www.healthline.com/nutrition/10-reasons-why-good-sleep-is-important/Accessed on 30/01/2020

A Good Night’s Sleep/https://www.nia.nih.gov/health/good-nights-sleep/Accessed on 30/01/2020

Tips for Better Sleep/https://www.cdc.gov/sleep/about_sleep/sleep_hygiene.html/Accessed on 30/01/2020

Sleep Health/https://www.healthypeople.gov/2020/topics-objectives/topic/sleep-health/Accessed on 30/01/2020

 

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mubasshera Usmani द्वारा लिखित
अपडेटेड 08/07/2019
x