home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Rifagut: रिफागट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Rifagut: रिफागट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

रिफागट (Rifagut) कैसे काम करती है?

रिफागट दवा में रिफाक्सीमिन साल्ट होता है जिसे आमतौर पर दस्त को रोकने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। रिफागट टेबलेट को ई कोली नामक बैक्टीरिया के कारण होने वाले दस्त व लिवर रोग (हेपेटिक एंसोफ्लोपैथी) को खत्म करने व उसे बढ़ने से रोकने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसमें मौजूद स्लॉट रिफाक्सीमिन की जानकारी के लिए पढ़ें – Rifaximin : रिफाक्सीमिन क्या है? जानिए इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

यह दवा शरीर में आरएनए (राइबोन्यूक्लिक एसिड) के मिश्रण की प्रक्रिया को पोलीमरेज करके एंजाइम रिसेप्टर्स के साथ बांधकर उसे रोकने की प्रक्रिया को शुरू करती है।

और पढ़ें – Aceclo Plus: एसिक्लो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

रिफागट (Rifagut) का सामान्य डोज क्या है?

रिफागट टेबलेट की सामान्य खुराक के बारे में निम्न जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

सामान्य दस्त के लिए – 600 एमजी खुराक के तीन भाग करके, इसका दिन में तीन बार सेवन करने की सलाह दी जाती है।

लिवर रोग के लिए – इस रोग रिफागट की डोज का अधिक मात्रा के सेवन करने की आवश्यकता होती है। 1100 एमजी को दो खुराक में डिवाइडकर के दिन में दो बार खाएं। किसी भी स्थिति में प्रतिदिन की निर्धारित खुराक से अधिक दवा का सेवन न करें।

रिफागट दवा की खुराक मरीज की उम्र, स्वास्थ्य स्थिति और बीमारी पर निर्भर करती है। इसके साथ ही आपके इलाज की प्रक्रिया की वृद्धि होने पर डोज में भी परिवर्तन किए जा सकते हैं। रिफागट का उपयोग मुख्य रूप से दस्त के लक्षणों को कम करने के लिए किया जाता है। जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती है तब तक इस दवा के सेवन की सलाह दी जाती है।

डॉक्टर से परामर्श करे बिना इस दवा को न लें। इसके अलावा रिफागट की सही खुराक लेने पर भी यदि दस्त व लिवर रोग में सुधार नहीं आता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें – Acemiz Plus: एसमीज प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अन्य दवाओं की तरह रिफागट का भी पर्याप्त मात्रा से अधिक सेवन कर लेने से कई दुष्प्रभाव और आपातकालीन जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है। अगर आपको लगता है कि आपने जरूरत से ज्यादा खुराक का सेवन किया है और आपको असुविधा महसूस हो रही है तो सबसे पहले स्थिति के लक्षणों की पहचान करें।

  • मतली
  • ब्लॉटिंग (पेट में फुलाव)
  • पैर या हाथों में सूजन
  • पेट में दर्द या ऐंठन
  • पेट में गैस
  • सांस फूलना
  • अधिक प्यास लगना
  • स्किन रैशेज
  • चिंता
  • उल्टी या मतली
  • अपच
  • गहरे रंग का मल

इनमें से किसी भी प्रकार की असुविधा महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर या किसी निकटतम आपातकालीन कक्ष से संपर्क करें।

कुछ मामलों में आपको ऐसे लक्षण भी दिखाई दे सकते हैं जिनका इस सूची में जिक्र नहीं किया गया है। ऐसे में घबराएं न और डॉक्टर को अपने लक्षणों के बारे में अच्छे से समझाएं।

और पढ़ें – Contraceptive Pills: क्या आप गर्भनिरोधक गोली लेने के बाद भी प्रेग्नेंट हो सकती हैं?

रिफागट (Rifagut) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

रिफागट की डोज मिस होने पर उसका तुरंत सेवन करें। हालांकि, अगर आपकी अगली खुराक लेने का समय हो चुका है तो मिस हुई डोज की बजाए तय किए गए नियमित समय पर अगली खुराक का सेवन करें।

एक साथ दो खुराक का सेवन न करें।

उपयोग

रिफागट (Refagut) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

रिफागट टैबलेट की खुराक डॉक्टर द्वारा बताए गए तरीके अनुसार ही लें। टेबलेट का सेवन करने से पहले उस पर लिखे निर्देश को अच्छे से पढ़ लें। खुराक और उसको लेने के समय में खुद से कोई बदलाव न करें। अगर आप रिफागट का सेवन हेपेटिक एंसेफ्लोपैथी के कारण कर रहे हैं तो इस दवा का इस्तेमाल डॉक्टर द्वारा बताई गई अवधि तक ही करें।

और पढ़ें – Aceclo Plus: एसिक्लो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिफागट टेबलेट वैसे तो एक सुरक्षित दवा मानी जाती जाता, लेकिन निम्न परिस्थितियों में इसका सेवन करने से दुष्प्रभावों का खतरा बढ़ जाता है। जैसे:

  • लिवर रोग
  • अतिसंवेदनशीलता
  • मौजूदा पदार्थ से एलर्जी
  • शराब की लत
  • अन्य दवाओं व सप्लिमेंट्स का सेवन करने पर

इसके अलावा अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान रिफागट का इस्तेमाल करने के बारे में सोच रही हैं तो इससे पहले नीचे दी गई जानकारी को पढ़ें।

साइड इफेक्ट्स

रिफागट (Rifagut) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

रिफागट टैबलेट में मौजूद सक्रिय घटक कुछ लोगों को विपरीत रूप से प्रभावित कर सकते हैं। हालांकि, अधिकतर मामलों में देखा गया है कि डॉक्टर द्वारा बताई गई डोज लेने पर साइड इफेक्ट्स की आशंका कम हो जाती है। रिफागट के कुछ सामन्य दुष्प्रभाव –

  • लाल चकत्ते
  • मतली
  • ब्लॉटिंग (पेट फूलना)
  • बुखार
  • पैर या हाथों में सूजन
  • चक्कर आना
  • पेट में दर्द या ऐंठन
  • थकान
  • पेट में गैस
  • खाना खाने में परेशानी होना
  • सांस फूलना
  • अधिक प्यास लगना
  • स्किन रैशेज
  • चिंता
  • सिर दर्द
  • उल्टी या मतली
  • अपच
  • गहरे रंग का मल

इनके अलावा भी रिफागट टेबलेट के कई अन्य साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। उनकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें। किसी भी गंभीर प्रकार की असुविधा महसूस होने पर तुंरत आपातकालीन सेवा कक्ष जाएं।

सावधानियां और चेतावनी

रिफागट (Refagut) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

रिफागट टेबलेट का सेवन शुरू करने से पहले डॉक्टर से अपनी सभी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को लेकर विचार-विमर्श करें। अगर आप किसी गंभीर बीमारी जैसे लिवर या हृदय रोग से ग्रसित हैं या बीमारी का इलाज चल रहा है तो डॉक्टर से इसे जरूर शेयर करें।

रिफागट दवा में मौजूद रिफाक्सीमिन पदार्थ से एलर्जी होने पर इसका सेवन न करें और अन्य विकल्प चुनें।

और पढ़ें – Mahacef Plus: महासेफ प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान रिफागट (Refagut) को लेना सुरक्षित है?

अगर आप प्रेग्नेंट हैं या गर्भधारण करने की प्लानिंग कर रही हैं तो बच्चे पर पड़ने वाले प्रभाव और अन्य स्थिति के बारे में डॉक्टर पूछें। यदि आप पहले से किसी अन्य जरूरी दवा व सप्लिमेंट्स का सेवन कर रहे हैं तो उनके बारे में भी डॉक्टर से एक बार जरूर परामर्श करें।

इसके अलावा स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को भी डॉक्टरी सलाह के बिना इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां रिफागट (Rifagut) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

एक से अधिक दवाओं का सेवन करने से ड्रग रिएक्शन का जोखिम बढ़ जाता है। ऐसी कई दवाएं हैं जिन्हें रिफागट के साथ नहीं लेना चाहिए क्योंकि इससे साइड इफेक्ट्स की भी आशंका बढ़ जाती है।

निम्न दवाओं के साथ रिफागट टैबलेट का सेवन न करें –

  • कीटोकोनाजोल (Ketoconazole)
  • क्लॉफ (Cloff)
  • प्रोप्रानोलोल (Propranolol)
  • क्लैरी (Clarie)
  • वार्फरिन (Warfarin)
  • सेलेक्स ओडी (Celex Od)
  • साइक्लोस्पोरिन (Cyclosporine)

अगर आप इनमें से किसी दवा का सेवन पहले से करते आ रहे हैं तो अपने डॉक्टर को इसकी जानकारी जरूर दें।

और पढ़ें – Mahacef Plus: महासेफ प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या रिफागट (Rifagut) भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

रिफागट को किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ लिया जा सकता है। बेहतर परिणाम के लिए आप इसे भोजन के साथ ले सकते हैं। हालांकि, अगर आप किसी विशेष आहार के बारे में जानना चाहते हैं तो डॉक्टर से संपर्क करें।

शराब के साथ रिफागट का प्रभाव फिलहाल अज्ञात हैं। इस विषय पर अभी तक कोई खास अध्ययन नहीं किया गया है।

और पढ़ें – Ibugesic Plus : इबुगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिफागट (Rifagut) हेल्थ कंडिशन पर क्या असर डालती है?

अन्य दवाओं की ही तरह रिफागट का भी आपके स्वास्थ्य पर अच्छा व बुरा प्रभाव पड़ सकता है। ओवरडोज के कारण साइड इफेक्ट्स की आशंका बढ़ जाती है। साथ ही शरीर पर इसके गंभीर रिएक्शन हो सकते हैं। इसके अलावा व्यक्ति दर व्यक्ति दवा का कार्य करने का तरीका विभिन्न रहता है।

इसके रिएक्शन से बचने के लिए दवा का उपयोग लेबल पर दिए गए निर्देशों या डॉक्टरी सलाह के अनुसार ही करें। सावधानी न बरतने पर इसका असर हेल्थ पर कुछ इस प्रकार पड़ सकता है :

  • उल्टी
  • सिर चकराना
  • सिर दर्द
  • मतली

और पढ़ें – Aceclo Plus: एसिक्लो प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्टोरेज

मैं रिफागट (Rifagut) को कैसे स्टोर करूं?

रिफागट को रूम टेम्प्रेचर (तापमान) पर स्टोर करना चाहिए। दवा को खराब होने से बचाने के लिए इसे लाइट, गर्मी और सूर्य किरणों से दूर रखें। इसे स्टोर करने के लिए आप चाहें तो कैमिस्ट या डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं। इसके साथ ही दवा को बच्चों और पालतू जानवरों के संपर्क में न आने दें। एक्सपायर होने पर संपूर्ण सावधानी बरतने के लिए दवा को बाथरूम या नाली में न फेंके।

और पढ़ें – Dicyclomine : डाईसाइक्लोमीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिफागट (Rifagut) किस रूप में उपलब्ध है?

रिफागट टेबलेट फॉर्म में ही आती है। हालांकि, इसके 3 प्रकार मार्केट में उपलब्ध हैं।

  • रिफागट 200 एमजी
  • रिफागट 400 एमजी
  • रिफागट 550 एमजी

उपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई मेडिकल सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

DEPARTMENT OF HEALTH & HUMAN SERVICES Public Health Service/https://www.accessdata.fda.gov/drugsatfda_docs/appletter/2010/021361s009ltr.pdf/accessed on 07/06/2020

Rifaximin/https://www.drugs.com/mtm/rifaximin.html/accessed on 07/06/2020

Use of rifaximin in gastrointestinal and liver diseases/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4970477/accessed on 07/06/2020

Rifaximin in irritable bowel syndrome: rationale, evidence and clinical use/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3610260/accessed on 07/06/2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Shivam Rohatgi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 08/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x