home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Syndopa Plus Tablet : सिनडोपा प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानी और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Syndopa Plus Tablet : सिनडोपा प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) कैसे काम करती है?

सिनडोपा प्लस टैबलेट पार्किंसंस रोग के इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली दो दवाओं का एक संयोजन है। यह पार्किंसंस रोग के लक्षणों को दूर करने के लिए सबसे प्रभावी दवाओं में से एक है। यह दवा लेवोडोपा + कार्बिडोपा (levodopa + carbidopa) तत्व संयोजन से बनी है। इसके इस्तेमाल से कांपना, मांसपेशियों की जकड़न और चलने में कठिनाई जैसी समस्याओं से निजात मिलती है। ये लक्षण आमतौर पर मस्तिष्क में मौजूद एक प्राकृतिक पदार्थ, डोपामाइन की कमी के कारण होते हैं। लेवोडोपा, डोपामाइन में परिवर्तित हो जाता है। यह एक रासायनिक संदेशवाहक (केमिकल मैसेंजर) है जो मस्तिष्क में गति को नियंत्रित करता है। कार्बिडोपा पेरिफेरल डिकार्बोक्सिलेस इन्हिबिटर (peripheral decarboxylase inhibitor) है। जो लेवोडोपा ब्रेकडाउन को रोककर इसे मस्तिष्क में प्रवेश करने और डोपामाइन के स्तर को बढ़ाने की अनुमति देता है।

डोसेज

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) की सामान्य खुराक क्या है?

पार्किंसंस रोग के लिए सामान्य वयस्क खुराक-

प्रारंभिक खुराक: 25 मिलीग्राम -100 मिलीग्राम मौखिक रूप से दिन में तीन बार या 10 मिलीग्राम -100 मिलीग्राम मौखिक रूप से दिन में 3 या 4 बार।

इस टैबलेट के डोज के लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। बिना डॉक्टर के परामर्श के आपको किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें : Gelusil Syrup : जेलुसिल सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) की खुराक छूट जाए तो क्या करें?

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) का डोज अगर छूट जाए तो आपको जितनी जल्दी याद आ सके, उतनी जल्दी ही इस टैबलेट का सेवन कर लेना चाहिए। अगर आपके अगले डोज का वक्त हो गया है तो मिस हुए डोज को छोड़ दें। लेकिन दवा का डबल डोज एक साथ ना लें। इससे आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अगर गलती से आपने इस टैबलेट का ओवर डोज ले लिया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। किसी भी दवा का ओवरडोज होना खुद में एक मेडिकल इमरजेंसी हो सकती है।

और पढ़ें : Librium 10: लिब्रियम 10 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • डॉक्टर के निर्देश के अनुसार सामान्य रूप से दिन में तीन से चार बार इस दवा को भोजन के साथ या बिना भोजन के लिया जा सकता है। हालांकि, खाने के साथ इस टैबलेट को लेने से मतली की समस्या कम होती है।
  • इस टैबलेट के इस्तेमाल के दौरान जब तक आपका डॉक्टर ना कहे तब तक हाई प्रोटीन डायट से दूर रहें। दरअसल, ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि इससे शरीर मे प्रवेश करने वाले लीवोडोपा की मात्रा कम हो सकती है। इसके अलावा आयरन सप्लिमेंट्स से भी दूर रहें। माना जाता है कि आयरन इस टैबलेट के अवशोषित होने की प्रक्रिया को कम करता है। इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।
  • टैबलेट को बीच से तोड़ें या कुचलें नहीं। इसे रोजाना एक ही समय पर लें ताकि दवा से ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके।
  • आपकी यह दवा एक दिन के बाद प्रभाव डाल सकती है, लेकिन इसे काम करने में सात दिन तक का समय लग सकता है।
  • बिना डॉक्टर के निर्देश के आप इस टैबलेट का इस्तेमाल करना बंद ना करें। ट्रीटमेंट को अचानक बंद करने से कुछ लक्षण औेर बदतर हो सकते हैं। दवा को यदि किसी कारणवश बंद करना पड़े तो डॉक्टर से एक बार सलाह जरूर लें।
    निर्धारित टैबलेट की डोज से अधिक या छोटी डोज न लें। यदि आपको कोई अवांछनीय दुष्प्रभाव अनुभव हो तो डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : Cifran CTH : सिफ्रान सीटीएच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

सभी दवाओं की तरह, सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) के भी दुष्प्रभाव दिख सकते हैं, हालांकि हर कोई इन्हें महसूस नहीं करता है।

गंभीर साइड इफेक्ट्स

  • एलर्जी की प्रतिक्रिया, लक्षण : पित्ती, खुजली और दाने, चेहरे, होंठ, जीभ या गले में सूजन।
  • चेस्ट में दर्द,
  • अनियमित दिल की धड़कन,
  • खड़े होने पर चक्कर आना
  • आपकी आंत से ब्लीडिंग होना जो आपके स्टूल में ब्लड के रूप में देखा जा सकता है। इसे गैस्ट्रो-इंटेस्टिनल ब्लीडिंग कहते हैं।
  • रक्त की समस्याएं, लक्षण : थकावट, बुखार,गले में खराश या हल्के घाव और चोट के बाद लंबे समय तक खून बहना।
  • मांसपेशियों में अकड़न,
  • तेज बुखार,
  • भ्रम, मतिभ्रम और अवसाद सहित मानसिक बदलाव
  • फिट्स (ऐंठन)

आम दुष्प्रभाव

  • जी मिचलाना,
  • उल्टी,
  • मुंह में सूखापन,
  • कब्ज,
  • सिर चकराना,
  • सुस्ती,
  • सिरदर्द,
  • चिंता,
  • अनिद्रा (नींद में कठिनाई),
  • ऑर्थोस्टैटिक हाइपोटेंशन (खड़े होने पर ब्लड प्रेशर का अचानक कम होना)

दुर्लभ दुष्प्रभाव

  • गंभीर एब्नार्मल इन्वॉलन्टरी मूवमेंट्स (डिस्केनेसिया),
  • मूड स्विंग्स,
  • सेक्शुअल ड्राइव का बढ़ना,
  • अनियंत्रित अत्यधिक खरीदारी या खर्च करना,
  • बिंज ईटिंग (थोड़े समय में बड़ी मात्रा में भोजन करना)
  • कंप्लसिव ईटिंग (अपनी भूख को संतुष्ट करने के लिए सामान्य से अधिक भोजन करना और आवश्यकता से अधिक भोजन करना)
और पढ़ें : Caldikind Plus: कैलडिकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

दैनिक कार्यों के दौरान सो जाना

चक्कर आना, बेहोशी और उनींदापन जैसे दुष्प्रभावों के बढ़ते जोखिम के कारण इस दवा का उपयोग सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। इससे आपको अपने दिन भर की गतिविधियों के दौरान नींद आ सकती है। यह सलाह दी जाती है कि आप ऐसी कोई भी गतिविधि न करें जिसमें इस दवा को लेते समय उच्च मानसिक सतर्कता की आवश्यकता हो जैसे वाहन चलाना या मशीनरी चलाना।

कम्पलसिव बेहेवियर

कम्पलसिव या इम्पल्सिव व्यवहार के बढ़ते जोखिम के कारण इस दवा को सावधानी के साथ उपयोग किया जाना चाहिए। इनमें गैम्बलिंग, बिंज ईटिंग या पैसे खर्च करने की तीव्र इच्छा शामिल हो सकती है। इस दवा के साथ उपचार के दौरान व्यवहार और मनोदशा के किसी भी परिवर्तन के लिए रोगियों की नजदीकी निगरानी की सिफारिश की जाती है। किसी भी असामान्य लक्षण को प्राथमिकता पर डॉक्टर को रिपोर्ट किया जाना चाहिए। रोगी की नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर डोज एडजस्टमेंट की आवश्यकता हो सकती है।

किडनी की समस्या

गंभीर प्रतिकूल प्रभावों के जोखिम के कारण किडनी की बीमारियों से पीड़ित रोगियों में सावधानी के साथ इस दवा का उपयोग किया जाना चाहिए। रोगी की नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर कुछ मामलों में किडनी फंक्शन टेस्ट, डोज एडजस्टमेंट या दूसरे विकल्प का चुनाव किया जा सकता है।

लिवर डिजीज

लिवर की बीमारियों से पीड़ित रोगियों में सावधानी के साथ इस टैबलेट का उपयोग किया जाना चाहिए। रोगी की नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर कुछ मामलों में लिवर फंक्शन टेस्ट, उचित डोज एडजस्टमेंट या अल्टरनेटिव मेडिसिन ऑप्शन के साथ नजदीकी निगरानी की आवश्यकता हो सकती है।

हृदय रोग

इस टैबलेट इस्तेमाल के दौरान हार्ट पेशेंट्स के हार्ट फंक्शन की उचित निगरानी करना जरूरी होता है।

बाल रोग में उपयोग

यह दवा 18 वर्ष से कम आयु के रोगियों में उपयोग के लिए अनुशंसित नहीं है क्योंकि उपयोग की सुरक्षा और प्रभावकारिता नैदानिक ​​रूप से स्थापित नहीं है।

डिप्रेशन

इस दवा का उपयोग अवसाद की मेडिकल हिस्ट्री वाले रोगियों में अत्यधिक सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। इस टैबलेट के सेवन से डिप्रेशन के रोगी की स्थिति के बिगड़ने का खतरा बढ़ जाता है। व्यवहार और मनोदशा में किसी भी बदलाव के लिए मरीजों की बारीकी से निगरानी की जानी चाहिए।

हल्लुसिनेशन्स

मतिभ्रम, सायकोटिक एपिसोड और भ्रम जैसे गंभीर दुष्प्रभावों के बढ़ते जोखिम के कारण सावधानी के साथ इस दवा का उपयोग किया जाना चाहिए। जोखिम विशेष रूप से बुजुर्ग रोगियों में अधिक है। इस दवा के साथ उपचार के दौरान मनोदशा और व्यवहार में किसी भी परिवर्तन के लिए रोगियों की करीबी निगरानी की सिफारिश की जाती है।

लो ब्लड प्रेशर लेवल

यह दवा ऑर्थोस्टैटिक हाइपोटेंशन के खतरे को बढ़ा सकती है। यह एक ऐसी स्थिति जब रोगी लेटा या बैठा हुआ हो और वह उठने का प्रयास करता है तो रक्तचाप अचानक गिरता है। यह जोखिम विशेष रूप से हाई ब्लड प्रेशर की दवाओं और बुजुर्ग रोगियों में अधिक होता है। नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर ऐसे रोगियों के लिए रक्तचाप की नजदीकी निगरानी आवश्यक हो सकती है। रोगियों को सलाह दी जाती है कि बेहोशी और गिरने से बचने के लिए बैठने या लेटने की स्थिति से धीरे-धीरे उठें। किसी भी असामान्य लक्षण को तुरंत डॉक्टर को बताएं।

नैरो एंगल ग्लूकोमा (Narrow angle glaucoma)

रोगी की स्थिति बिगड़ने के जोखिम के कारण नैरो एंगल ग्लूकोमा की मेडिकल हिस्ट्री वाले रोगियों में इस दवा के उपयोग के लिए सिफारिश नहीं की जाती है।

एलर्जी

दवा में मौजूद एक्टिव इंग्रिडेंट लेवोडोपा, कार्बिडोपा, या दवा में मौजूद किसी भी अन्य निष्क्रिय अवयवों से एलर्जी वाले रोगियों में उपयोग के लिए यह टैबलेट अनुशंसित नहीं है।

और पढ़ें : Sporidex: स्पोरिडेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) को लेना सुरक्षित है?

सिनडोपा प्लस टैबलेट गर्भवती महिलाओं में उपयोग के लिए अनुशंसित नहीं है जब तक कि बिल्कुल आवश्यक न हो। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए परेशानी पैदा हो सकती है। इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर के साथ सभी जोखिमों और लाभों पर चर्चा की जानी चाहिए। स्तनपान के दौरान सिनडोपा का उपयोग करना सुरक्षित नहीं है। हालांकि, दवा के प्रभाव का ह्यूमन डेटा सीमित ही है। सिनडोपा प्लस टैबलेट को लेने से पहले संभावित लाभ और हानि को तौलने के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

[mc4wp_form id=”183492″]

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो यह इस टैबलेट के साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। बचाव के लिए आप उन दवाओं की लिस्ट रखें जो डॉक्टर द्वारा पर्चे पर लिखी गई हों या ना लिखी गई हों या हर्बल प्रोडक्ट्स हो और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। आप बिना डॉक्टरी सलाह के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें। विशेष रूप से आप नीचे बताई गई दवाओं पर ध्यान दें और इनका उपयोग इस टैबलेट के साथ न करें जैसे-

नोट : इस टैबलेट का इंटरैक्शन कुछ लैबोरेटरी टेस्ट (जिसमें यूरिन कैटेचोलामीन/ग्लूकोस/कीटोन टेस्ट शामिल हैं) के साथ भी हो सकता है जिससे टेस्ट का रिजल्ट प्रभावित हो जाता है। आप डॉक्टर या लैबोरेटरी कर्मी को ध्यान से बताएं कि आप किस दवा का इस्तेमाल करते हैं।

और पढ़ें : Acemiz Plus: एसमीज प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) भोजन या शराब के साथ रिएक्शन करती है?

इस टैबलेट के साथ उपचार के दौरान शराब का सेवन गंभीर दुष्प्रभावों के जोखिम को बढ़ा सकता है। इन दुष्प्रभावों में भ्रम, चक्कर आना, मतली, उल्टी, कमजोरी और बेहोशी शामिल हो सकते हैं। इसलिए, एल्कोहॉल के साथ इस टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा शराब के साथ अगर गलती से आपने इस दवा का सेवन कर लिया है तो कुछ स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में तुरंत डॉक्टर से मिलें। यह टैबलेट विशेष तरह के फूड के साथ रिएक्ट करती है या नहीं, अभी तक इसकी कोई खास जानकारी उपलब्ध नहीं है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Glycomet SR 500 : ग्लाइकोमेट एसआर 500 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) को कैसे स्टोर करें?

सिनडोपा प्लस टैबलेट (Syndopa Plus Tablet) को कमरे के तापमान में रखना चाहिए, कोशिश करें कि उसे सीधे धूप में ना रखें। सिनडोपा टैबलेट को फ्रिज में नहीं रखना चाहिए। इसके साथ ही इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। सिनडोपा टैबलेट एक्सपायर होने के पहले ही इसका खा लें, वहीं अगर टैबलेट का लंबे समय तक सेवन करना हो तो डॉक्टर का सलाह जरूर लें। दवा एक्सपायर हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।

और पढ़ें : Bacillus Coagulans : बैसिलस कॉग्यूलंस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

किस रूप में उपलब्ध है?

ये दवा टैबलेट के रूप में उपलब्ध है।

उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस टैबलेट का सेवन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

CARBIDOPA-LEVODOPA. https://www.accessdata.fda.gov/drugsatfda_docs/label/2008/017555s069lbl.pdf. Accessed On 24 July 2020

Levodopa and Carbidopa. https://medlineplus.gov/druginfo/meds/a601068.html. Accessed On 24 July 2020

carbidopa and levodopa tablet. https://dailymed.nlm.nih.gov/dailymed/drugInfo.cfm?setid=0caee228-12c7-437c-9ea6-06b4e51722e1. Accessed On 24 July 2020

Carbidopa and levodopa. https://www.drugs.com/mtm/carbidopa-and-levodopa.html. Accessed On 24 July 2020

SYNDOPA PLUS. https://www.mims.com/india/drug/info/syndopa%20plus/syndopa%20plus%20tab. Accessed On 24 July 2020

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड