home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Endometrial Ablation: एंडोमेट्रियल एबलेशन क्या है?

परिचय|जोखिम|प्रक्रिया|रिकवरी
Endometrial Ablation: एंडोमेट्रियल एबलेशन क्या है?

परिचय

एंडोमेट्रियल एबलेशन क्या है?

आज के दौर में मेडिकल पद्धति ने काफी तरक्की कर ली है। अलग-अलग बीमारियों के कई तरह की दवाइयां और सर्जरी लोगों की जान बचाने के लिए काफी काम कर रही हैं। एंडोमेट्रियल एबलेशन भी इसी तरह की एक सर्जरी है, जिससे काफी लोगों की बीमारियों को दूर किया जा चुका है। डोमेट्रियल एबलेशन एक प्रकार की गाइनेकोलॉजिकल ऑपरेशन है, जो पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग से राहत दिलाने के लिए किया जाता है। ज्यादातर महिलाओं को पीरियड्स में दर्द होता है, जो महिलाओं को काफी तकलीफ देता है। लेकिन, ज्यादा ब्लीडिंग की समस्या से खून की कमी होने का खतरा रहता है। एंडोमेट्रियल एबलेशन में कॉम्प्लिकेशन बहुत कम होते हैं और महिला जल्दी कर लेती है।

यह भी पढ़ें : अनियमित पीरियड्स को नियमित करने के 7 घरेलू नुस्खे

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी की जरूरत कब होती है?

हर महीने महिलाओं को माहवारी होती है, जिसमें गर्भाशय से एंडोमेट्रीयम

  • हर घंटे पैड या टैम्पून द्वारा ज्यादा ब्लड सोखा जाता है, जिससे पता चलता है कि ब्लीडिंग ज्यादा हो रही है।
  • कई बार ज्यादा खून निकलने से एनीमिया हो जाता है, तब इस सर्जरी की जरूरत पड़ सकती है।

वहीं, डॉक्टर ब्लीडिंग को कम करने के लिए दवाएं देते हैं। वहीं, प्रोजेस्ट्रॉन रिलीजिंग इंटरायूटोराइन डिवाइस (IUD) का प्रयोग कर के ब्लीडिंग को नियंत्रित करने की कोशिश करते हैं। जब IUD काम नहीं करता है तब एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी की जरूरत पड़ती है।

यह भी पढ़ें : पीरियड्स के दौरान जरूर फॉलो करें ये मेन्स्ट्रुअल हाइजीन

जोखिम

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी करवाने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

ऐसा बिल्कुल न समझें कि ऊपर बताई गई समस्याओं में हर महिला ये सर्जरी करवा सकती है। कुछ ऐसी कंडिशंस हैं, जिस दौरान इस सर्जरी को नहीं कराया जा सकता। नीचे बताई गई समस्याओं में इस सर्जरी को ना कराने की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं :

  • जो महिलाएं भविष्य में गर्भवती होना चाहती हैं, उन्हें ये सर्जरी नहीं करानी चाहिए।
  • पीरियड्स के साथ अलग तरह की ऐंठन होने पर ये सर्जरी नहीं करानी चाहिए।
  • जिन महिलाओं को गर्भाशय का कैंसर हो, उन्हें ये सर्जरी नहीं करानी चाहिए।
  • जल्द ही गर्भवती हुई महिला को ये सर्जरी नहीं करानी चाहिए।

यह भी पढ़ें : पीरियड्स के दौरान योनि में जलन क्यों होती है? जानिए इसके कारण और इलाज

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

एंडोमेट्रियल एबलेशन में कई तरह के रिस्क है। इसलिए सर्जरी कराने से पहले अपने सर्जन से सभी तरह के जोखिम और साइड इफेक्ट्स की जानकारी लें। एंडोमेट्रियल एबलेशन में होने वाली समस्याएं हैं :

एंडोमेट्रियल एबलेशन में संभावित रिस्क हैं :

  • सर्जिकल उपकरण से यूटेराइन वॉल में पंक्चर इंजरी हो जाना
  • आसपास के अंगों का डैमेज हो जाना
  • दर्द, ब्लीडिंग या इंफेक्शन
  • भविष्य में फर्टिलिटी प्रभावित होना

एंडोमेट्रियल एबलेशन के बाद भी कई महिलाओं में प्रेग्नेंसी होती है, लेकिन ये प्रेग्नेंसी बच्चे और मां दोनों के लिए जोखिम से भरी होती है। इस तरह की प्रेग्नेंसी में अक्सर गर्भपात यानी कि मिसकैरिज होने का खतरा रहता है, क्योंकि गर्भाशय का एंडोमेट्रियम पूरी तरह डैमेज हो चुका होता है। जिस महिला को भविष्य में मां बनना होता है वो एंडोमेट्रियल एबलेशन नहीं कराती हैं। कुछ महिलाएं एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के समय ही नसबंदी भी करा लेती हैं, ताकि भविष्य में गर्भवती होने का जोखिम खत्म हो सके। अमूमन ये समस्याएं सभी को नहीं होती है। लेकिन फिर भी आपको इसके साइड इफेक्ट्स और होने वाली समस्याओं के बारे में जान लेना चाहिए। साथ ही सर्जरी से संबंधित कोई सवाल हो तो सर्जन से जरूर शेयर करें।

यह भी पढ़ें : पीरियड्स से जुड़ी गलत धारणाएं और उनकी सच्चाई

प्रक्रिया

एंडोमेट्रियल एबलेशन के लिए मुझे खुद को कैसे तैयार करना चाहिए?

किसी की कोई भी सर्जरी हो उसके लिए आपको खुद को पूरी तरह तैयार करने की जरूरत होती है। ठीक एंडोमेट्रियल एबलेशन में भी यही है। एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के एक हफ्ते पहले डॉक्टर निम्न चीजें कर सकते हैं :

  • डॉक्टर एंडोमेट्रीयम का एक छोटा सैंपल लैब में भेजते हैं, ताकि कैंसर की जांच की जा सके। अगर आपके गर्भाशय में कैंसर पाया जाता है तो डॉक्टर एंडोमेट्रियल एबलेशन करने के बजाए हिस्टीरेक्टमी सर्जरी करते हैं।
  • आपका एंडोमेट्रीयम जितना पतला होगा सर्जरी के लिए उतना अच्छा होगा। अगर एंडोमेट्रीयम पतला होगा तो दवाओं से भी ठीक हो सकता है। वहीं, साथ ही डाइलेशन और क्यूरेटेज के द्वारा भी एंडोमेट्रीयम को निकाला जाता है, जिसमें डॉक्टर गर्भाशय से एकस्ट्रा टिश्यू को खुरच के निकाल लेते हैं।
  • अपने एनेस्थीसिया के लिए डॉक्टर से सर्जरी के पहले मिल लें। साथ ही किस तरह की एनेस्ठीसिया की जरूरत पड़ेगी, इसके बारे में भी बात कर लें।

यह भी पढ़ें : पहली बार पीरियड्स होने पर ऐसे रखें अपनी बच्ची का ख्याल

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी में होने वाली प्रक्रिया क्या है?

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी करने में लगभग 30 मिनट का समय लगता है। सर्जरी करने से पहले एनेस्ठेटिस्ट आपको बेहोश करते हैं। आपकी गाइनिकोलॉजिस्ट वजायनल के द्वारा हिस्टीरोस्कोप को गर्भाशय में डालते हैं। इसके बाद आपके गर्भाशय को हिस्टीरोस्कोप की मदद से फुला दिया जाता है। इसके बाद लेजर एनर्जी से पॉलिप्स या छोटे फाइब्रॉइड्स और एंडोमेट्रीयम को हटाया जाता है। इसके अलावा, अधिक जानकारी के लिए आप अपने सर्जन से बात कर लें।

यह भी पढ़ें : पीरियड्स के दौरान दर्द को कहना है बाय तो खाएं ये फूड

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के बाद क्या होता है?

  • एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के बाद आप उसी दिन घर जा सकती हैं।
  • सर्जरी के बाद आपका स्वास्थ्य नॉर्मल होने में लगभग एक हफ्ते लग जाएंगे।
  • सर्जरी के लगभग चार हफ्तों तक आपको थोड़ी ब्लीडिंग होती रहेगी।

रिकवरी

एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के बाद मुझे खुद का ख्याल कैसे रखना चाहिए?

सर्जरी के बाद किसी का भी शरीर कमजोर पड़ सकती है। इसके लिए व्यक्ति को खास देखभाल की जरूरत होती है। इस सर्जरी के बाद आपको ऐसा कुछ नहीं करना करना है, जिससे आपके शरीर को नुकसान पहुंचे या सर्जरी के बाद रिकवरी करने में कठिनाई हो। एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी के बाद आप एक्सरसाइज के द्वारा बहुत हद तक जल्दी रिकवरी कर सकती हैं। लेकिन, किसी भी एक्सरसाइज को शुरू करने से पहले आप अपने डॉक्टर से पूछ लें।

उम्मीद है आपको एंडोमेट्रियल एबलेशन सर्जरी से जुड़ी जरूरी जानकारियां हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में मिल गई होंगी। इस आर्टिकल में हमने आपको इस सर्जरी से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी देने की कोशिश की है। अगर आपको इस बारे में और कोई सवाल है, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपको इससे जुड़ी और भी जानकारी देने की कोशिश करेंगे, ताकि आपको इसकी जानकारी और भी विस्तार से मिल सके।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने सर्जन से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें :-

Eyelid Surgery : आइलिड सर्जरी या ब्लेफेरोप्लास्टी क्या है?

Cholesteatoma surgery : कोलेस्टेटोमा सर्जरी क्या है?

Anal Fistula Surgery : एनल फिस्टुलेक्टोमी सर्जरी क्या है?

De Quervain Surgery : डीक्वेवेंस सर्जरी क्या है?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Endometrial ablation. http://www.mayoclinic.org/tests-procedures/endometrial-ablation/basics/definition/prc-20014190. Accessed on November 4, 2019.

Endometrial Ablation. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK459245/ Accessed on November 4, 2019.

Endometrial Ablation. http://www.webmd.com/women/endometrial-ablation-16200. Accessed on November 4, 2019.

Endometrial Ablation https://www.medicalnewstoday.com/articles/320633.php Accessed on November 4, 2019.

 

 

 

 

 

लेखक की तस्वीर
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/06/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड