ठंडा पानी पीने के जोखिम और लाभ क्या हैं?

    ठंडा पानी पीने के जोखिम और लाभ क्या हैं?

    गर्मी के माैसम में ठंडा पानी पीने से ही प्यास को राहत मिलती है। हाइड्रेटेड रहना हमारे स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन जब बात ठंडे पानी की आती है, तो कई लोगों के मन में यह सवाल होता है कि क्या ठंडा पानी ठंडा पानी स्वास्थ्य के लिए सही है? कुछ अधिवक्ताओं का मानना ​​है कि ठंडा पानी पीना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। पानी शरीर के लिए बहुत जरूरी है, आपके पाचन और चयापचय और शरीर के सामान्य तापमान को बनाए रखने सहित सभी शारीरिक कार्यों का समर्थन करने के लिए हर दिन पर्याप्त पानी का सेवन आवश्यक है। हाइड्रेटेड रहना मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य, दोनों के लिए लाभकारी है। लेकिन यहां बाता ठंडे पानी की है। कुछ लोगों का मानना ​​है कि ठंडा पानी पीना एक बुरी आदत है, जो आपके दीर्घकालिक स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है। ठंडा पानी पीने से आपका पेट सिकुड़ता है, जिससे भोजन के बाद भोजन को पचाना कठिन हो जाता है। कुछ लोगों का यह भी मानना ​​है कि अगर आप बर्फ के तापमान के करीब या 36 डिग्री फारेनहाइट (4 डिग्री सेल्सियस) से कम पानी पी रहे हैं, तो आपके शरीर को 98.6 डिग्री फारेनहाइट (37 डिग्री सेल्सियस) के आंतरिक तापमान को बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। तो आइए जानते हैं इस अर्टिकल में कि क्या ठंडा पानी स्वास्थ्य के लिए सही है?

    और पढ़ें: Drinking Water In The Morning: सुबह पानी पीना क्या होता है हेल्थ के लिए अच्छा?

    क्या ठंडा पानी पीना आपके लिए हानिकारक है (Is drinking cold water bad for you)?

    हमारी आयुर्वेदिक चिकित्सा की भारतीय परंपराओं के अनुसार, ठंडा पानी शरीर में असंतुलन पैदा कर सकता है और पाचन प्रक्रिया को धीमा कर सकता है। शरीर का मुख्य तापमान लगभग 98.6 डिग्री फारेनहाइट होता है और ठंडा पानी पीने के बाद शरीर को इस तापमान को बनाए रखने के लिए शरीर को अतिरिक्त ऊर्जा खर्च करने की आवश्यकता होती है। आयुर्वेदिक चिकित्सकों का यह भी मानना ​​है कि गर्म या गर्म पानी पाचन को आसान बनाने में मदद करता है। ठंडा पानी शरीर या पाचन के लिए खराब हो सकता है। सामान्य पानी की सही मात्रा पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है, पाचन में सहायता मिलती है और कब्ज को रोका जा सकता है।

    और पढ़ें: इजी डायजेस्टिव फूड के बारे में जाने यहां और अपने पाचन को दे आराम

    ठंडा पानी पीने से नाक की श्लेष्मा मोटी हो जाती है और इससे रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट के फैक्शन में कुछ कठनाई आ सकती है। ऐसे में कुछ अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि गर्म सूप और गर्म पानी ने लोगों को बंद नाक की समसया में और सांस लेने में मदद मिल सकती है। यदि आप सर्दी या फ्लू का इलाज करने की कोशिश कर रहे हैं, तो ठंडा पानी पीने से आपका कंजेशन खराब हो सकता है।इसके अलावा, कुछ स्वास्थ्य स्थितियां ऐसी भी होती हैं, जो ठंडा पानी पीने से बढ़ सकती है। ठंडे पानी पीने से उन लोगों में माइग्रेन ट्रिगर हो सकता है, जो पहले से ही माइग्रेन का अनुभव कर रहे हैं। पारंपरिक चीनी चिकित्सा में, माना जाता है कि गर्म भोजन के साथ ठंडा पानी पीने से असंतुलन पैदा हो सकता है।

    और पढ़ें: उबलते हुए पानी से जलना (Boiling Water Burns): जानिए क्या है बॉयलिंग वॉटर बर्न का इलाज!

    ठंडा पानी पीने के फायदे (Benefits of drinking cold water)

    कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि एक्सरसाइज के दौरान ठंडा पानी पीने से किसी भी व्यक्ति के प्रदर्शन और एनर्जी लेवल में सुधार देखने काे मिल सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें बॉडी को वॉर्मअप करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है, तो ऐसे में कैलोरी भी तेजी से घट सकती है। कुछ लोगों का दावा है कि ठंडा पानी पीने से वजन घटाने में मदद मिल सकती है। हालाँकि कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि अधिक पानी पीने से शरीर को थोड़ी अधिक कैलोरी बर्न करने में मदद मिल सकती है, लेकिन ठंडे पानी और कमरे के तापमान के पानी पीने के बीच थोड़ा अंतर प्रतीत होता है।

    और पढ़ें: दूध का पाचन होने में कितना समय लगता है? जानिए दूध के बारे में सबकुछ

    क्या ठंडा पानी पीने से वजन कम होता है (Does drinking cold water reduce weight)?

    अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो आपको अपने डायट से ठंडा पानी निकालना होगा, क्योंकि ठंडा पानी फैट को गलने नहीं देता है और न ही शरीर से पसीना निकलते देता है। तो ऐसे में गर्म पानी को फैट कटर के रूप में भी देखा सकता है। सादा पानी पीना भी दिन भर में कम कैलोरी की मात्रा के साथ जुड़ा हुआ है। नॉर्मल पानी पीना आपके पाचन के लिए भी अच्छा है और एक मध्यम वजन बनाए रखता है। सुबह गर्म पानी पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म सक्रिय हो सकता है, जिसके परिणामस्वरूप दिन भर में अधिक फैट बर्न होता है। लेकिन ठंडे पानी का सेवन अगर दूसरे पहलू से देखें, तो ठंडा पानी पीने से आपको कुछ अतिरिक्त कैलोरी बर्न करने में मदद मिल सकती है, क्योंकि आपके शरीर को अपना मुख्य तापमान बनाए रखने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। लेकिन यह संभावना नहीं है कि वजन घटाने के लिए ठंडा पानी पीना प्रभावाकरी और फायदेमंद टूल है।

    और पढ़ें: प्रोटीन का पाचन और अवशोषण शरीर में कैसे होता है? जानें प्रोटीन की कमी को दूर करना क्यों है जरूरी

    क्या गर्म पानी ठंडे पानी से बेहतर है (Is Hot water better than cold water)?

    ऐसा माना जाता है कि गर्म पानी पीने से कई अतिरिक्त स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। शरीर को हाइड्रेट रखना स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण चीजों में से एक है। गर्म पानी पीने से शरीर और त्वचा को और भी कई फायदे मिल सकते हैं। हम सभी जानते हैं कि हमारे शरीर के 60% हिस्से में पानी होता है और शरीर को एनर्जी देने, अंगों के सही फंक्शन और सभी महत्वपूर्ण अंगों के समुचित कार्य के लिए पानी का सेवन करना महत्वपूर्ण है। डॉक्टर आपकी जीवनशैली और आपके शरीर की जरूरतों के आधार पर हर दिन 11 से 16 गिलास पानी पीने की सलाह देते हैं। जबकि हम में से ज्यादातर लोग ठंडा पानी पीते हैं, आयुर्वेद इसके बजाय गर्म पानी पीने की सलाह देता है।

    • पाचन में मदद करें
    • परिसंचरण में सहायता
    • शरीर के इंफेक्शन और बैक्टीरिया को बाहर निकाले
    • वेट लाॅस में मददगार है
    • स्किन के लिए गर्म पानी का सवेन भी प्रभावी माना जाता है

    गर्म या गर्म पानी पीने से आपको प्यास कम लगती है। यह उन दिनों खतरनाक हो सकता है जब आपका शरीर पसीना अधिक लॉस कर रहा हो। यदि आप गर्म पानी पीने का विकल्प चुनते हैं, तो ध्यान रखें कि आपको उतनी बार प्यास नहीं लगेगी जितनी आपको चाहिए।

    और पढ़ें: गर्म पानी के साथ शहद और नींबू लेने से बढ़ती है इम्युनिटी, जानें इसके फायदे

    यह बताने के लिए बहुत कम वैज्ञानिक प्रमाण हैं कि ठंडा पानी पीना लोगों के लिए हानिकारक है। वास्तव में, ठंडा पानी पीने से व्यायाम के समय एनर्जी में सुधार हो सकता है, खासकर गर्म वातावरण में। हालांकि, अचलसिया (Achalasia) वाले लोगों में ठंडा पानी पीने से लक्षण खराब हो सकते हैं, जो भोजन नली को प्रभावित करता है। बर्फ का ठंडा पानी पीने से कुछ लोगों में सिरदर्द भी हो सकता है, खासकर उन लोगों में जो माइग्रेन के साथ रहते हैं। ठंडा पानी आपके स्वास्थ्य के लिए सही है या नहीं इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    To ice or not to ice?
    https://kripalu.org/resources/ice-or-not-ice-ayurvedic-question

    Cardiovascular and metabolic responses to tap water ingestion in young humans
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/24684853

    Response of esophagus to high and low temperatures in patients with achalasia.
    http://www.jnmjournal.org/journal/view.html?doi=10.5056/jnm.2012.18.4.391

    Physical and perceptual cooling with beverages to increase cycle performance in a tropical climate.
    https://journals.plos.org/plosone/article?id=10.1371/journal.pone.0103718

    Saketkhoo K, et al. (1978). Effects of drinking hot water, cold water, and chicken soup on nasal mucus velocity and nasal airflow resistance.
    journal.chestnet.org/article/S0012-3692(15)37387-6/fulltext

     

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड