home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

कोरोना वायरस को ट्रैक करेगा 'आरोग्य सेतु ऐप',आसान स्टेप्स से जानें इसके इस्तेमाल का तरीका

कोरोना वायरस को ट्रैक करेगा 'आरोग्य सेतु ऐप',आसान स्टेप्स से जानें इसके इस्तेमाल का तरीका

कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी कोविड19 को बिल्कुल खत्म करने और फैलने से रोकने के लिए सभी देशों में कुछ न कुछ जरूर कदम उठाए जा रहे हैं, जिससे लोगों को संक्रमित होने से बचाया जा सके। इसी क्रम में भारत सरकार ने ‘आरोग्य सेतु ऐप’ (Aarogya Setu App) नाम से सरकारी कोरोना वायरस ट्रैकर ऐप लॉन्च किया है। यह कोविड- 19 ट्रैकर ऐप कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे और जोखिम का आंकलन करने में मदद करेगी। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड (aarogya setu app download) और इस्तेमाल कैसे करना है। अगर नहीं, तो हम आपको यहां पूरी जानकारी देंगे।

और पढ़ें: कोरोना से बचाने में मददगार साबित होंगे ये आयुर्वेदिक उपाय, मोदी ने किए शेयर

सरकारी कोरोना वायरस ट्रैकर ‘आरोग्य सेतु ऐप’ से कैसे मदद मिलेगी?

आरोग्य सेतु ऐप एक सरकारी कोरोना वायरस ट्रैकर (Coronavirus tracker app) है, जो यूजर को किसी कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर अलर्ट करता है। मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, इस ऐप की मदद से ताजा मामलों का पता लगाया जा सकेगा और केवल उन्हीं लोगों को सतर्क किया जाएगा, जो संक्रमित व्यक्ति के आसपास रह रहे हैं या गुजरे हैं। इस ऐप में एडवांस ब्लूटूथ टेक्नोलॉजी, एल्गोरिदम और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया गया है। आरोग्य सेतु ऐप हिंदी और अंग्रेजी समेत भारत के कुल 11 प्रमुख भाषाओं में उपलब्ध है। जिसे एंड्रॉयड फोन यूजर गूगल प्ले स्टोर और आईफोन यूजर ioS स्टोर से डाउनलोड कर सकेंगे।

आरोग्य सेतु ऐप आपके द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक एक ग्राफ का इस्तेमाल करता है, जिससे हाई या लो रिस्क कैटेगरी का पता चलता है। जब भी आप किसी हाई रिस्क कैटेगरी में आएंगे, तो यह आपको अलर्ट करके टेस्ट करवाने का भी सुझाव देता है। इसके अलावा, ऐप में हर राज्य के मुताबिक कोविड- 19 हेल्प सेंटर के फोन नंबर्स की सूचि भी उपलब्ध करवाई गई है और आप इसमें बीमारी का सेल्फ असेसमेंट भी कर सकते हैं। अगर आप में सेल्फ असेसमेंट के दौरान कोरोना वायरस का कोई लक्षण दिखता है, तो यह ऐप आपको सेल्फ आइसोलेशन (Self Isolation) की सलाह देता है।

और पढ़ें: कोरोना वायरस फैक्ट चेक: कोरोना वायरस की इन खबरों पर भूलकर भी यकीन न करना, जानें हकीकत

आरोग्य सेतु ऐप संक्रमित व्यक्ति का पता कैसे लगाएगा?

जानकारी के मुताबिक, जब भी कोई व्यक्ति कोरोना वायरस टेस्ट में संक्रमित पाया जाएगा, तो उसका मोबाइल नंबर और जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बनाए गए डाटाबेस में शामिल की जाएगी और उसी के साथ इस ऐप पर भी सूचना अपडेट की जाएगी। तो जब कोई स्वस्थ व्यक्ति इन संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क या रेड जोन में आने या गुजरने वाला होता है, तो उसे अलर्ट दिया जाएगा। जिससे वह सही समय पर कोरोना वायरस से बचाव या शंका होने पर आइसोलेशन या क्वारेंटाइन कर सके। इसके अलावा, सरकार ने आश्वासन दिया है कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की प्राइवेसी का पूरा ख्याल रखा जाएगा और व्यक्तिगत जानकारी साझा नहीं की जाएगी।

आपको बता दें कि, भारत के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक 3 अप्रैल 2020 को सुबह 9 बजे तक देश में 2088 कोरोना वायरस इंफेक्शन से संक्रमित मरीजों की पहचान कर ली गई है। जिसमें से 156 का इलाज करने के बाद छुट्टी दे दी गई है, वहीं 56 लोगों की जान जा चुकी है। मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक भारत में संक्रमित मरीजों की सबसे ज्यादा संख्या महाराष्ट्र में हो गई है, जहां 335 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। इसके बाद तमिलनाडु 309 मामले और केरल 286 केस का नंबर आता है।

और पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

आसान स्टेप में जानें आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड और इस्तेमाल कैसे करें? (aarogya setu app download and use)

  1. सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर या आईओएस एप स्टोर पर जाकर ‘aarogyasetu’ टाइप करके ऐप को ढूंढे।
  2. ऐप डाउनलोड करने से पहले देख लें कि उसका आधिकारिक पार्टनर NIC (National Informatic Centre) होगा। इससे आपको फेक ऐप डाउनलोड करने से बचने में मदद मिलेगी।
  3. ऐप डाउनलोड होने के बाद आप उसे खोलें।
  4. ऐप आपके आसपास के क्षेत्र को ट्रैक करने के लिए आपका मोबाइल नंबर, ब्लूटूथ औऱ लोकेशन डेटा का इस्तेमाल करता है।
  5. मोबाइल नंबर रजिस्टर करने के बाद आपके मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा, जिसे आपको भरकर सब्मिट करना होगा।
  6. मोबाइल नंबर रजिस्टर करने के बाद आरोग्य सेतु ऐप आपसे मोबाइल का ब्लूटूथ और जीपीएस का एक्सेस मांगता है, जिसे आपको एप्रूव करना होता है।
  7. इसके बाद ऐप में आपका नाम, जेंडर, उम्र, पेशा और पिछले 30 दिनों की ट्रैवल हिस्ट्री जैसी पर्सनल डीटेल्स पूछी जाती है। आप इन विकल्प को स्किप भी कर सकते हैं।
  8. इसके बाद ऐप में भाषा का चयन करने का विकल्प आता है। इसमें आप सुविधाजनक भाषा का चुनाव कर सकते हैं।
  9. इस ऐप के जरिए आप खुद को कोरोना वायरस के संकट की घड़ी में एक वॉलिंटियर के तौर पर रजिस्टर भी कर सकते हैं।

इन ऊपर बताये गए आसान टिप्स से आरोग्य सेतु ऐप आसानी से डाऊनलोड किया जा सकता है।

डब्ल्यूएचओ के आंकड़े

डब्ल्यूएचओ ने अपनी दैनिक सिचुएशन रिपोर्ट 73 में कोरोना वायरस से जुड़े आंकड़े पेश किए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, 2 अप्रैल 2020 को सुबह 10 बजे तक दुनियाभर में 8,96,450 संक्रमित मरीज पाए जा चुके हैं, जिसमें से 45,526 लोगों की जान जा चुकी है।

और पढ़ें: शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाकर कोरोना वायरस से करनी होगी लड़ाई, लेकिन नींद का रखना होगा खास ध्यान

कोरोना वायरस से सावधानी

कोरोना वायरस इंफेक्शन से बचने के लिए भारत सरकार ने लोगों के लिए कुछ सलाह दी है। कोरोना वायरस के कारण कुछ ही समय में बहुत से बदलाव आ चुके हैं, इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की जरूरत है।सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन के साथ इन एहतियात रूपी सलाह को फॉलो करने से आप कोरोना वायरस संक्रमण से काफी हद तक बच सकते हैं।

  1. हाथों को क्लीन रखें। हाथों की सफाई के लिए साबुन या फिर सैनिटाइजर यूज करें।
  2. भीड़ में जाने से सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन नहीं रह पाएगी। भीड़ में जाने से बचें।
  3. आंखों, नाक और मुंह को छूने से कोरोना आसानी फैलता है, इसलिए मुंह में बिना धुलें हाथ न लगाएं।
  4. छींकते या खांसते समय रूमाल का यूज करें।
  5. बुखार, खांसी या सांस लेने में दिक्कत हो तो लापरवाही न करें और डॉक्टर से तुरंत मिलें।
  6. अगर आपको कोरोना के बारे में जानकारी नहीं है तो तुरंत डॉक्टर से मिले।
  7. अगर मास्क का यूज कर रहे हैं तो पहले अपने हाथों को एल्कोहॉल बेस्ड हैंड रब या फिर साबुन साफ जरूर कर लें।
  8. डिस्पोजल मास्क को बार-बार यूज न करें।
  9. मास्क को यूज करने के बाद इध-उधर न फेंके बल्कि डस्टबिन का यूज करें।
  10. कुछ ही समय में दुनिया में बदलाव हुए हैं, इसलिए सतर्कता बहुत जरूरी है।

इन ऊपर बताये गए टिप्स को फॉलो कर और आरोग्य सेतु ऐप डाऊनलोड कर इस इनफिकेशन से बचा जा सकता है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 3/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 3/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 3/4/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 73 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200402-sitrep-73-covid-19.pdf?sfvrsn=5ae25bc7_2 – Accessed on 3/4/2020

Novel Corona Virus – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 3/4/2020

Government launches official Covid- 19 tracking app, aarogya setu – https://timesofindia.indiatimes.com/gadgets-news/government-of-india-launches-official-covid-19-tracking-app/articleshow/74946627.cms?from=mdr – Accessed on 3/4/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/06/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड