home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल के फायदे एवं नुकसान - Health Benefits of Evening Primrose Oil

परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोजेज|उपलब्ध
ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल के फायदे एवं नुकसान - Health Benefits of Evening Primrose Oil

परिचय

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल क्या है?

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल उत्तर अमेरिका में पाए जाने वाले ईवनिंग प्रिमरोज पौधों से तैयार किया जाता है। औषधीय गुणों से भरपूर इस तेल से त्वचा संबंधित परेशानियां जैसे एक्जिमा, सोरायसिस और मुंहासों से निजात पाया जा सकता है। इसमें गामा लिनोनिक एसिड (GLA) और ओमेगा-6 फैटी एसिड, विटामिन-सी और फेनिलएलनिन पाए जाते हैं। इसका इस्तेमाल साबुन और अन्य उत्पाद बनाने के लिए भी किया जाता है।

अमेरीका के मूल निवासी ईवनिंग प्रिमरोज पौधे की जड़ का इस्तेमाल बवासीर के इलाज और इसकी पत्तियों को मामूली घावों और गले में खराश के लिए इस्तेमाल करते हैं। प्रिमरोज ऑयल को एक्जिमा, रूमेटॉइड अर्थराइटिस, प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (पीएमएस), ब्रेस्ट पेन, अल्जाइमर, स्किजोफ्रेनिया, दिल संबंधित बीमारियां, अस्थमा और मेनोपॉज के उपचार के लिए निर्देशित किया जाता है।

और पढ़ें : मेनोपॉज के बाद स्किन केयर और बालों की देखभाल कैसे करें?

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल का उपयोग किस लिए किया जाता है?

कई रिसर्च में सामने आया है कि ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल एक्जिमा और एटॉपिक डर्मेटाइटिस से निजात दिलाने के लिए वरदान समान है। इसका इस्तेमाल कैंसर के इलाज के लिए भी किया जाता है।

2005 में हुए एक शोध के मुताबिक, ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल के कैप्सूल स्किन को स्मूथ और बेहतर बनाने के लिए प्रयोग किए जा सकते हैं। ये त्वचा में थकान को दूर कर नमी प्रदान करता है। स्टडी में बताया है कि अच्छी स्किन के लिए गामा लिनोनिक एसिड (GLA) जरूरी होता है, जो स्किन खुद से नहीं बना पाती है। इसके कैप्सूल से स्किन को गामा लिनोनिक एसिड (GLA) मिलता है जो त्वचा को ओवरऑल हेल्दी रखने में मदद करता है।

पीएमएस के लक्षणों को दूर करने में मददगार:

पीएमएस के लक्षणों जैसे डिप्रेशन, चिड़चिड़ापन, पेट में सूजन का इलाज करने में ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल अत्यधिक कारगर है। बहुत सारी औरतों को पीएमएस इसलिए होते हैं क्योंकि

वजन कम करने के लिए भी फायदेमंद:

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल में लिनोलेनिक एसिड होता है, जो हमारे शरीर में वसा को नष्ट करने का काम करता है।

हाईपरएक्टिव डिसऑर्डर:

कई बच्चे ध्यानाभाव और अतिसक्रियता विकार से ग्रसित होते हैं। ईवनिंग प्रिमरोज तेल में पाया जाने वाला ओमेगा-6 फैटी एसिड इस बिमारी के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

हाई ब्लड प्रेशर:

हाई ब्लड प्रेशर के पेशेंट को डॉक्टर की सलाह अनुसार इसका सेवन करना चाहिए। इससे ब्लड प्रेशर संतुलित रहता है। रिसर्च के अनुसार 500 mg ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल का सेवन एक दिन में दो बार किया जा सकता है। इस दौरान ऐसी कोई भी दवा का सेवन न करें जिससे ब्लड प्रेशर कम हो। इसलिए इसके सेवन से पहले डॉक्टर से जरूर राय लें।

दिल को रखता है स्वस्थ:

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल एंटी-इंफ्लेमेटरी युक्त होता है। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित किया जा सकता है। कई लोग जिन्हें हार्ट डिजीज की परेशानी होने के साथ ही शरीर में सूजन की भी समस्या होती है। इसलिए यह दिल को स्वस्थ रखने के साथ ही सूजन से भी बचाने में मदद करता है।

स्तन में होने वाले दर्द से राहत मिल सकती है:

पीरियड्स के दौरान कई महिलाओं को ब्रेस्ट में दर्द महसूस भी होता है। ऐसे में इस ऑयल के मालिश से दर्द की परेशानी कम हो सकती है। साल 2010 में हुए एक रिसर्च के अनुसार इसके सेवन से पीरियड्स के दौरान में होने वाले ब्रेस्ट पेन में राहत मिल सकती है। अगर यह ऑयल आपको आसानी से नहीं मिल पा रहा हो तो इसके बदले विटामिन-ई के सेवन से फायदा मिल सकता है।

कैसे काम करता है ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल?

फैटी एसिड (fatty acid) के असंतुलन से महिलाओं में ब्रेस्ट पेन की शिकायत देखने को मिलती है। ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल में फैटी एसिड होते हैं, जो ब्रेस्ट पेन दूर करने में बहुत असरदार होता है। इसके अलावा फैटी एसिड गठिया और एक्जिमा में होने वाली सूजन को कम करने में भी मदद करता है।

उपयोग

कितना सुरक्षित है ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल का उपयोग ?

  • प्रेग्नेंसी के समय में इसे बिल्कुल नहीं लेना चाहिए। ये मां के साथ-साथ बच्चे की हेल्थ पर भी बुरा असर डाल सकता है।
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी इसे एवॉइड करना चाहिए।
  • जो लोग खून को पतला करने वाली दवाई खा रहे हैं उन्हें इससे दूर रहना चाहिए, क्योंकि दोनों को एक साथ लेने से ब्लीडिंग बढ़ सकती है।
  • मिर्गी के मरीजों और न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर पेशेट्स को इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। अगर आपको पहले भी कोई न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर रहा है तो भी इससे दूर ही रहे।
  • अगर आपकी कोई सर्जरी हुई है या होने वाली है तो इसको इस्तेमाल न करें। इसके इस्तेमाल से सर्जरी के दौरान और बाद में ब्लीडिंग होने की संभावना होती है।
  • अपने डॉक्टर को अपनी सभी बीमारियों और एलर्जी के बारे में बताकर इसका इस्तेमाल करने की सलाह लें।

और पढ़ें : इलायची क्या है?

साइड इफेक्ट्स

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल ज्यादातर सभी लोगों के लिए सेफ है, लेकिन एक समय तक। अगर कोई इसे लंबे समय तक लेता है तो इसके हल्के साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं जैसे-

  • पेट खराब होना
  • पेट दर्द होना
  • जी मिचलाना
  • सिरदर्द होना

इन परेशानियों के साथ-साथ कुछ और भी शारीरिक परेशानी हो सकती है। जैसे-

और पढ़ें : कैफीन क्या है?

डोजेज

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल को लेने की सही खुराक क्या है?

इसका निम्नलिखित तरह से सेवन क्या जा सकता है। जैसे-

  • ब्रेस्ट पेन के लिए रोजाना तीन से चार मिलीग्राम
  • हर मरीज के लिए ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल की खुराक अलग होती है। ये मरीज की उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए इसको लेने से पहले अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से एक बार जरूर संपर्क करें।
  • अगर कोई महिला गर्भावस्था में डायबिटीज से ग्रसित है तो विटामिन-डी3 के साथ एक ग्राम ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल लें। इससे उनका ग्लाइसेमिक और लिपिड प्रोफाइल बेहतर होगा।
  • इस ऑयल को मौखिक रूप से एडल्ट 6 से 8 ग्राम और बच्चे 2 से 4 ग्राम हर दिन ले सकते हैं।

और पढ़ें : पपीता क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल प्योर ऑयल और डाइटरी कैप्सूल के रूप में उपलब्ध है।

अगर आप ईवनिंग प्रिमरोज ऑयल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

EVENING PRIMROSE OIL/https://ww5.komen.org/BreastCancer/EveningPrimroseOil.html/Accessed on 10/01/2020

Evening primrose/https://www.mayoclinic.org/drugs-supplements-evening-primrose/art-20364500/Accessed on 10/01/2020

What is evening primrose oil?/https://www.versusarthritis.org/about-arthritis/complementary-and-alternative-treatments/types-of-complementary-treatments/evening-primrose-oil/Accessed on 10/01/2020

Evening Primrose Oil. https://www.nccih.nih.gov/health/evening-primrose-oil. Accessed On 21 September, 2020.

Evening Primrose (Oenothera biennis) Oil in Management of Female Ailments. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6718646/. Accessed On 21 September, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 23/09/2019
x