home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Abscess Tooth: एब्सेस टूथ क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिचय|कारण|लक्षण|उपचार
Abscess Tooth: एब्सेस टूथ क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिचय

एब्सेस टूथ क्या है?

जब दांत में होने वाला दर्द लगातार होता रहता है और आपको सोने नहीं देता तो ये होने वाला आम दर्द से कहीं ज्यादा गंभीर होता है। यह दर्द किसी इंफेक्शन की वजह से हो सकता है और धीरे-धीरे फैलता जाता है। इसे दांत का फोड़ा भी कहते हैं जिससे संक्रमण तेजी से फैलता है और जड़ों तक पहुंच जाता है। यह संक्रमण दांतों के निचले कक्ष से शरू हाता है। जिसे “पल्प चैंबर” कहा जाता है।

पल्प चैंबर में रक्त वाहिकाएं और तंत्रिकाएं होती हैं इसलिए इसे पल्प चैंबर कहा जाता है। फोड़ा बनने के बाद दांत संक्रमण से लड़ने की अपनी शक्ति खो देता है। बैक्टीरिया बढ़ते जाते हैं और दांत की आखिरी जड़ तक पहुंच जाता है। एब्सेस टूथ का इलाज इस बात पर निर्भर करता है कि संक्रमण कहां पर हुआ है। डॉक्टर रूट कैनाल के जरिए इसका इलाज कर सकते हैं। कुछ मामलों में दांत को निकाला भी जा सकता है। अगर दांत का सही समय पर इलाज नहीं हुआ तो यह जानलेवा भी हो सकता है। एब्सेस टूथ की वजह स कान और गले में भी भयानक दर्द हो सकता है। एब्सेस टूथ होने से पूरा मुंह स्वच्छ नहीं रह पाता है। इससे दांतों को पीसना और ज्यादा चीनी वाला आहार लेना दांतों में दर्द को बढ़ा देता है।

और पढ़ें : दांतों की प्रॉब्लम होगी छूमंतर, बस बंद करें ये 7 चीजें खाना

एब्सेस टूथ तीन प्रकार के होते हैं। एब्सेस टूथ का प्रकार इस बात पर निर्भर करता है कि फोड़ा कहां से होना शुरू हुआ है।

पेरियापिकल एब्सेस (Periapical abscess)- यह दांत की जड़ के सिरे पर शुरू होने वाला फोड़ा है।

पीरियोडॉन्टल एब्सेस (Periodontal abscess)- यह दांत की जड़ के बगल में गम पर शुरू होने वाला फोड़ा है। यह आसपास के ऊतक और हड्डी में भी फैल सकता है।

गिंगिवल एब्सेस (Gingival abscess)- यह मसूड़ों पर शुरू होने वाला फोड़ा है।

और पढ़ें : पूरी जिंदगी में आप इतना समय ब्रश करने में गुजारते हैं, जानिए दांतों से जुड़े ऐसे ही रोचक तथ्य

कारण

एब्सेस टूथ के कारण क्या हैं?

एब्सेस टूथ यानी दांत में फोड़ा होने के कई कारण हैं। एक बहुत ही सामान्य कारण दांतों में सड़न होना है। यह कैविटी की वजह से हो सकता है। सड़न इतनी बढ़ जाती है कि यह पल्प चैंबर तक पहुंच जाता है। तब यह दांत को अंदर से सड़ा देती है और फोड़ा बनना शुरू हो जाता है। पहले यह सूजन के रूप ​में दिखता है और दर्द शुरू हो जाता है।

अगर उसी वक्त डॉक्टर को दिखा लिया गया तो पल्पाइटिस को ठीक करना संभव होता है। पल्पाइटिस होने पर दर्द और जलन शुरू हो जाती है लेकिन इसके ठीक होने की पूरी संभावना होती है। अगर पल्प चैंबर के पल्प को नुकसान होता है तो फिर ये संक्रमण दांत के मसूड़ों तक में फैल जाता है।

और पढ़ें : क्या एंटीबायोटिक्स कर सकती हैं गट बैक्टीरिया को प्रभावित?

दांत में फोड़े होने के अन्य कारण निम्नलिखित हैं-

  • दांत पर चोट लगना
  • दांत का इलाज करने करने के दौरान फिलिंग अगल पल्प चैंबर तक पहुंच जाती है तो भी एब्सेस टूथ हो जाता है।
  • दांत को पीसने या दबाने से
  • किसी भी तरह का एब्सेस टूथ पल्प को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • जब फोड़े पर बार-बार चोट लगती है तो वो अपने आप ठीक होने में असमर्थ हो जाता है।
  • साथ ही उस दांत में खून की आपूर्ति बंद हो जाती है। खून की आपूर्ति बंद होने से दांत को पोषक तत्व मिलना भी बंद हो जाते हैं।
  • इससे पल्प चैंबर पर बुरा असर पड़ता है।
  • अगर दांत का पहले कभी रूट कैनाल प्रक्रिया के जरिए इलाज किया गया है तो भी फोड़ा विकसित हो सकता है।
  • ऐसा इसलिए होता है क्योंकि दांत को ठीक से सील नहीं किया गया होता है। इससे दांत में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं।
  • एब्सेस टूथ किसी भ दांत में हो सकता है। एब्सेस टूथ ज्यादातर दाढ़ में होता है क्योंकि वो अंदर की तरफ होती है और उसे साफ रखना थोड़ा मुश्किल होता है।
  • अगर दांत में बैक्टीरिया पनपते हैं तो डॉक्टर उसे हटा देना ही बेहतर समझते हैं जिससे वो फोड़े का रूप ना ले पाए।

और पढ़ें : जब शिशु का दांत निकले तो उसे क्या खिलाएं?

लक्षण

एब्सेस टूथ के लक्षण क्या हैं?

  • एब्सेस टूथ होने पर कई तरह के लक्षण दिखाई देते हैं। दांत के आस-पास मसूड़े लाल हो जाते हैं। साथ ही दांतों के बीच छेद दिखने लगते हैं। जिसमें गंदगी भरने से और भी ज्यादा नुकसान होता है।
  • एब्सेस टूथ होने पर आमतौर पर दांतों में दर्द शुरू हो जाता है लेकिन कुछ मामलों में दर्द नहीं भी होता है।
  • खाना चबाते समय ये दर्द उभर सकता है। जड़ों में निकला हुआ फोड़ा हड्डी तक पहुंच सकता है। इससे दांतों में इतना दर्द होने लगता है कि दवाओं से भी आराम नहीं मिलता है।
  • मसूड़ों में सूजन आ जाती है और कभी-कभी मवाद भी भर जाता है। मसूड़ों पर एक दाना जैसा दिखने लगता है। इससे मुंह से बुरी ​दुर्गंध आने लगती है।
  • कभी-कभी ऐसा भी देखा गया है कि फोड़ा होने के बावजूद कोई लक्षण नहीं दिखाई देते हैं। लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि फोड़ा नुकसान नहीं पहुंचा सकता। ये संक्रमण को फैला सकता है।
  • इसके लिए नियमित रूप से रेडियोग्राफिक (एक्स-रे) परीक्षण कराते रहना चाहिए। जिससे दांतों में होने वाले किसी भी संक्रमण का जल्द से जल्द पता लग सके।

और पढ़ें : नकली दांतों को सहारा देती है ये टेक्नीक, जानिए इसके बारे में सब कुछ

उपचार

एब्सेस टूथ का इलाज क्या है?

  • एब्सेस टूथ को ठीक करने के लिए डॉक्टर सबसे पहले दांत के दर्द को कम करने के लिए दवाई देते हैं। एक-एक कर लक्षणों को दूर करने की कोशिश करते हैं। एब्सेस टूथ का इलाज करने से पहले डॉक्टर दांत का एक्स रे कर सकते हैं। एक्स-रे से ये पता चल जाता है कि संक्रमण कितनी दूर ​तक फैला है।
  • डेंटिस्ट फोड़े को दबाकर मवाद निकाल सकते हैं। इससे फोड़ा छोटा हो जाएगा। उस जगह की सफाई करके इलाज करेंगे। डॉक्टर एक रूट कैनाल प्रक्रिया भी कर सकते हैं।
  • इसके अलावा संक्रमण ज्यादा बढ़ जाने पर डॉक्टर दांत को निकाल भी सकते हैं। कुछ दवाओं के जरिए भी डॉक्टर इलाज करने की कोशिश करेंगे। वे मरीज को एंटीबायोटिक्स देंगे। इससे दांतों की इम्यूनिटी भी बढ़ेगी।
  • अगर आप डॉक्टर के पास नहीं जा सकते तो दर्द कम करने के लिए इबुप्रोफेन (एडविल, मोट्रिन) जैसी दवा ले सकते हैं। गर्म नमक के पानी से अपना मुंह धोने से भी मदद मिल सकती है।

अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

दांतों की सेहत से जुड़ा खेलें यह क्विज

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Abscess Tooth:   https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/tooth-abscess/symptoms-causes/syc-20350901#:~:text=A%20tooth%20abscess%20is%20a,side%20of%20a%20tooth%20root.. Accessed On 12 October, 2020.

Abscess Tooth. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK493149/. Accessed On 12 October, 2020.

Tooth abscess. https://medlineplus.gov/ency/article/001060.htm. Accessed On 12 October, 2020.

Tooth abscess. https://www.healthdirect.gov.au/tooth-abscess. Accessed On 12 October, 2020.

Dental abscess. https://www.nidirect.gov.uk/conditions/dental-abscess. Accessed On 12 October, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 12/10/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x