बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए फ्रीज में रखें हेल्दी फूड्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट दिसम्बर 11, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

अच्छा पोषण एक स्वस्थ जीवन की कुंजी है। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें भविष्य में भी उनकी मदद करती हैं। यह वयस्कों और बच्चों यहां तक कि शिशुओं और टॉडलर्स के लिए भी जरूरी होती हैं। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें उनके शरीर को स्वस्थ, एक्टिव और मजबूत रहने के लिए पोषक तत्वों की जरूरत को पूरा करती हैं। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें शुरुआत से विकसित होती हैं। ये शुरुआती साल आपके लिए बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने का एक अच्छा मौका हो सकता है और यह आदतें उनके साथ बड़े होने तक रहती हैं।

यह भी पढ़ेंः बच्चों की गलतियां नहीं हैं गलत, उन्हें समझाएं यह सीखने की है शुरुआत

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें कैसे डलवाएं

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें तब शुरू होती हैं, जब वे छोटे होते हैं मतलब जब वह शिशु होते हैं। इसलिए माता-पिता बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाना और उनको प्रोत्साहित करना जरूरी है। यहां कुछ तरीके दिए गए हैं, जिनसे आप अपने बच्चे को स्वस्थ खाने की आदतें सीखानें में मदद कर सकते हैं।

शिशुओं (infants) की स्वस्थ खाने की आदतें

सबसे अधिक ध्यान रखने वाली बात यह है कि शिशुओं की जरूरतें दूसरों के मुकाबले काफी अलग होती हैं। बहुत छोटे बच्चों की जरूरत मां का दूध या फॉर्मूला होता है। मां का दूध और फार्मूला उन्हें उनके जीवन के पहले साल के दौरान हर पोषक तत्व देता है।

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतों के लिए इन बातों पर दें ध्यानः

यह भी पढ़ेंः पेसिफायर की आदत कहीं छीन न ले बच्चों की मुस्कान की खुबसूरती

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें कैसे करें शुरू

बच्चे एकदम से बड़े होते हैं। जैसे उनके बड़े होने का पता नहीं चलता वैसे ही उनको अधिक भूख लगने लगती है। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें जितनी जल्दी शुरू करें उतना बच्चे के लिए अच्छा होता है। वे एक दिन में बहुत कुछ खा सकते हैं और शायद ही अगले दिन कुछ भी न खाएं। यह बहुत सामान्य बात है। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें उनकी पसंद पर भी निर्भर करती हैं। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें उन्हें वह पोषक तत्व देती हैं, जिनकी उन्हें जरूरत होती है।

  • बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें बनाए रखने के लिए अपने बच्चे को पूरे दिन स्वस्थ स्नैक्स दें। उन्हें पनीर के छोटे क्यूब्स, फल, लो फैट दही या ग्रेंस दें।
  • बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवानी हों, तो उन्हें खाने के लिए विकल्प दें। अपने बच्चे को हेल्दी फूड ऑप्शन्स में से चुनने का मौका दें। वह अपने द्वारा चुने गए  खाने को ज्यादा प्यार से खाएंगें।
  • पीकी ईटर्स के लिए थोड़ा धैर्य रखें। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें बनाने के लिए कभी-कभी बच्चों को खाना खिलाने से पहले 10 से 15 बार कोशिश करनी चाहिए। थोड़ी कोशिश के बाद बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए उनका पीछा न छोड़ें।
  • बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें लगाने के लिए उनसे उनका खाना बनवाने में मदद ले सकते हैं। अगर वे खाना बनाने में मदद करते हैं, तो वे हेल्दी खाने को खाने की कोशिश करेंगे।
  • अपने फ्रिज में हेल्दी फूड और स्नैक्स रखें। इनमें स्ट्रिंग पनीर, कटा हुआ सेब, गाजर और पीनट बटर शामिल हैं। अगर आप जल्दी में हैं, तब भी आपके पास चुनने के लिए बहुत सारे हेल्दी विकल्प होते हैं।
  • बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतों में सबसे जरूरी है हेल्दी लिक्विड। अपने बच्चों को ज्यादातर दूध और पानी जैसे लिक्विड की आदत लगाएं।  जूस, कोल्ड ड्रिंक्स, स्पोर्ट्स ड्रिंक्स में कैलोरी और चीनी होती है, जो छोटे बच्चों को नहीं देनी चाहिए।

यह भी पढ़ेंः बनने वाली हैं ट्विन्स बच्चे की मां तो जान लें ये बातें

स्कूल जाने वाले बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें

एक बार जब आपका बच्चा स्कूल जानें लगता है, तो दिन के दौरान वह जो खाता है उस पर आपका कंट्रोल कम होता है। लेकिन अभी भी कुछ चीजें हैं, जो बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए आप कर सकते हैं।

  • बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें बनाने के लिए हर दिन अपने बच्चे के दोपहर के भोजन को पैक करें ताकि आप यह कंट्रोल कर सकें कि उन्हें क्या खाना है।
  • अगर वे अपना दोपहर का लंच खरीदेंगे, तो उनके दोपहर के खाने के मेन्यू को देखें और उन्हें बताएं कि आप उनसे क्या खाने की उम्मीद करते हैं। बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डालने के लिए उन्हें मोटिवेट करें।
  • जब वे स्कूल से घर आते हैं, तो उन्हें स्वस्थ नाश्ता दें। उनके लिए बैलेंस ब्रेकफास्ट और डिनर तैयार करें।
  • याद रखें कि आपका बच्चा आपको देखकर सीखता है। अगर आप स्वस्थ भोजन करते हैं तो आपको देखकर बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें विकसित होती हैं।

यह भी पढ़ेंः इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी छोटे बच्चे के पेट में समस्या

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डालने के लिए ध्यान रखें

कम उम्र में अच्छा पोषण सिर्फ खाने के विकल्प के बारे में नहीं है। यह आपके बच्चे को खाने की स्वस्थ आदतें डालने में भी मदद करने के बारे में भी है। यहां कुछ दूसरे तरीके हैं, जिनसे आप अपने बच्चे को एक हेल्दी ईटर बना सकते हैं।

  • अपने बच्चे को खाने के लिए मजबूर न करेंः बच्चों को यह सीखने की जरूरत है कि उनके शरीर की जरूरत को कैसे समझें ताकि जब पेट भर जाए तो वे खाना बंद कर सकें। एक बच्चे को खाने के लिए मजबूर करना आम तौर पर उनके कम खाने का कारण बनता है।
  • खाना के लिए इनाम देना छोड़ेंः जब आप भोजन को रिवॉर्ड के रूप में या प्यार दिखाने के लिए उपयोग करते हैं, तो आपका बच्चा अपनी भावनाओं से निपटने के लिए खाने का उपयोग करना शुरू कर सकता है। इसके बजाए उनको खाने के लिए गले लगाएं, उनकी बात सुनें, उन्हें समय दें और उनकी तरफ ध्यान दें।
  • भोजन के समय स्क्रीन बंद करेंः जब आप खा रहे हों, तो अपने बच्चे को टीवी देखने न दें। यह माइंडलेस ईटिंग को प्रोत्साहित करता है और वह जरूरी संकेतों को समझने में परेशानी खड़ी कर सकता है। कई बार टीवी देखते हुए खाने से वह यह भूल जाते हैं कि उन्हें और भूख है या उनका पेट भर चुका है।
  • खाने के समय इंटरैक्ट करेंः खाने के समय को मजबूत पारिवारिक संबंधों को बनाने के समय की तरह उपयोग करें। खाना खाते समय अपने बच्चे के साथ बात करें और उन्हें अकेले न खाने दें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्यों लोगों की फेवरेट बन रही है 16/8 इंटरमिटेंट डायट? जानिए इसके फायदे

इंटरमिटेंट डायट क्या है, इंटरमिटेंट डायट कैसे अपनाएं, 16/8 इंटरमिटेंट फास्टिंग डायट के फायदे, 16/8 इंटरमिटेंट डायट, 16/8 intermittent diet tips in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

‘मेडिटेरेनियन डायट’ इसके फायदे जानने के बाद आप कह उठेंगे वाह!

मेडिटेरेनियन डायट क्या है, मेडिटेरेनियन डायट चार्ट, वजन घटाने वाला डायट, वजन कम करने वाला डायट, Mediterranean Diet in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन मार्च 17, 2020 . 10 मिनट में पढ़ें

Child Tantrums: बच्चों के नखरे का कारण कैसे जानें और इसे कैसे हैंडल करें

बच्चों के नखरे का कारण कुछ भी हो सकता है। वे किसी भी वजह से जिद और नखरे दिखा सकते हैं। ऐसा मानिसक और शारीरिक स्थिति दोनों की वजह से हो सकता है। इस आर्टिकल में जानें बच्चों के नखरे दिखाने का कारण और इससे निपटने के आसान टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग जनवरी 14, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

बच्चों में फूड एलर्जी के कारण, बच्चों में फूड एलर्जी क्यों होता है, फूड एलर्जी के लिए क्या करें, कैसे पहचाने फूड एलर्जी kids Food Allergy, जानें और

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Lucky Singh
बच्चों का पोषण, पेरेंटिंग दिसम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

वेट लॉस डायट प्लान-weight loss diet plan indian recipes

वेट लॉस डायट प्लान में शामिल करें ये 5 इंडियन रेसिपीज, पांच दिन में घटेगा वजन

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ मई 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
शाकाहारी आहार और स्ट्रोक

क्या वेजीटेरियन या वेगन लोगों को स्ट्रोक का खतरा ज्यादा होता है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ मई 13, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

महिला और पुरुषों की लंबाई में अंतर क्यों होता है? जानें लंबाई से जुड़े रोचक फैक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ मई 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
डिनर के बाद फल

डिनर के बाद फल खाने चाहिए या नहीं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
प्रकाशित हुआ अप्रैल 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें