home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

वीगन डायट (Vegan Diet) क्या है? जानें इसके फायदे और नुकसान

वीगन डायट (Vegan Diet) क्या है? जानें इसके फायदे और नुकसान

वीगन डायट (Vegan Diet) एक शाकाहारी डाइट प्लान है जिसमें मांस, मछली,अंडे सभी डेयरी प्रोडक्ट के साथ पशुओं से उत्पादित किसी भी चीज को नहीं खाया जाता। यहां तक कि इस डाइट में शहद का सेवन भी नहीं किया जाता। इसके कई फायदे हैं जिनमें वजन घटाने के साथ-साथ कुछ बीमारियों से बचाव भी शामिल है। कुछ लोग इसे स्वास्थ्य तो कुछ धार्मिक कारणों के चलते अपनाते हैं। मुख्य रूप से वीगन डायट हेल्दी हार्ट, वजन घटाना और कोलेस्ट्रॉल को मेंटेन करती है। इस आर्टिकल में जानें वीगन डायट के कुछ ऐसे ही 5 बेहतरीन फायदों को।

1.वीगन डायट से पाएं हेल्दी हार्ट (Get healthy heart with vegan diet)

जो लोग वीगन डायट फॉलो करते हैं यानी कि पूरी तरह से शाकाहारी होते हैं और अपने आहार में ताजे फल, सब्जियां, फलियां और फाइबर भरपूर मात्रा में लेते हैं उनमें दिल से जुड़ी बीमारियां कम होती हैं। वेगन और शाकाहारी के बीच तुलनात्मक अध्ययन से पता चला है कि वेगन आहार लेने वालों में हाई कॉलेस्ट्रॉल की सम्भावना 75 % कम होती है। इसलिए वीगन डायट वालों का हृदय रोग का खतरा कम होता है।

और पढ़ें: स्पेशल डायट (Special diet) क्या होती है? जानिए इनके फायदों के बारे में

2.वीगन डायट करे कैंसर से बचाव (Vegan diet protects against cancer)

वीगन डायट

वीगन डायट कई तरह के कैंसर से भी बचाने में लाभदायी है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के मुताबिक सभी प्रकार के कैंसर को डाइट से ही कंट्रोल किया जा सकता है। उदाहरण के तौर पर नियमित रूप से बीन्स खाने से कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा लगभग 9–18% कम हो सकता है। शाकाहारी लोग मांसाहारी की तुलना में फल और सब्जी ज्यादा खाते हैं इसलिए उनमे कैंसर से मरने का खतरा 15 % कम होता है।

3.वीगन डायट किडनी के लिए हेल्दी (Vegan diet for Kidney Health)

शुद्ध शाकाहारी लोगों में ब्लड शुगर लेवल कम होता है जिससे टाइप-2 डायबिटीज होने का खतरा कम होता है। शाकाहारी लोगों में ब्लड शुगर लेवल कम होता है और इन्सुलिन संवेदनशीलता ज्यादा होती है जिससे किडनी की कार्य क्षमता भी बेहतर होती है और टाइप-2 डायबटीज होने की संभावना कम रहती है।

4.वीगन डायट वजन घटाने में सहायक (Vegan diet helps in weight loss)

वीगन डायट की ओर लोगों के बढ़ते रुझान का कारण मुख्य रूप से यही है कि इससे आसानी से वजन घटाया जा सकता है। इस डाइट प्लान में ज्यादा मात्रा में फल और सब्जियां शामिल होती हैं, जिससे की शरीर में अपने आप ही कम कैलोरी जाती है और इसके लिए आपको अलग से कैलोरी कम करने के लिए कोशिश नहीं करनी पड़ती।

5.वीगन डायट पोषक तत्वों से भरपूर (Vegan diet rich in nutrients)

जो लोग वीगन डायट को अपनाते हैं उन्हें मांस और पशु उत्पादों को पूरी तरह छोड़ना पड़ता है। शुद्ध शाकाहारी आहार में बहुत कुछ ऐसे पदार्थ हैं जो पोषक तत्वों से भरपूर है जैसे साबुत अनाज, फल, सब्जियां, बीन्स, मटर, नट और बीज। कई अध्ययनों के मुताबिक शाकाहारी खाने में भरपूर मात्रा में फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट, पोटेशियम, मैग्नीशियम, और विटामिन-ए, सी और ई पाया जाता है।

और पढ़ें: पालेओ डाइट क्या है? जानिए इसके अनगिनत फायदे

खाने- पीने का शौकीन होने में कोई बुराई नहीं है पर हर वो चीज जो आप खा रहें है वो सेहत के लिए कितनी फायदेमंद है यह भी आपको जरूर सोचना चाहिए। आजकल बहुत लोग अपनी सेहत के प्रति जागरुक हो गए हैं यही वजह है कि वीगन डायट की ओर लोगों का रुझान बढ़ रहा है।

वीगन डायट यानी प्लांट बेस्ट डायट

कई रिसर्च में ये बात पूर्ण रूप से सिद्ध हो चुकी है कि ज्यादा मात्रा में प्लांट बेस्ड डाइट लेने से मौत के प्रमुख कारणों से काफी हद तक बचाव किया जा सकता है। ज्यादातर शोध में पाया गया कि डायबिटीज, हार्ट की बीमारियां और ब्लड प्रेशर की वजह से पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा मौतें होती हैं। इस रिसर्च को बल मिलता है इस परिणाम से जिसमें पाया गया कि मांसाहारी डाइट से सीधे प्लांट बेस्ड डाइट शुरू कर देने पइर लोगों में सीने का दर्द यानी एंजाइना में 90 प्रतिशत तक कमी आ गई। इसका सीधा मतलब था कि ये कोलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर और हार्ट की बीमारियों पर नियंत्रण रखने में कारगर है।

और पढ़ें: कोलोन कैंसर डायट: रेग्यूलर डायट में शामिल करें ये 9 खाद्य पदार्थ

प्लांट बेस्ड डायट के ये फायदे भी हैं

डायबिटीज, हार्ट की बीमारियां और ब्लड प्रेशर नियंत्रित करने के साथ-साथ प्लांट बेस्ड डाइट के कुछ ऐसे फायदे भी है, जो आपकी रोजाना की जिंदगी को आरामदायक बना सकते हैं। रिसर्च में सामने आया कि ऐसी डाइट से बेहतर डाइजेशन, बेहतर एनर्जी और अच्छी नींद प्राप्त होती है। इतना ही नहीं ये जनरल हेल्थ के साथ-साथ आपकी मेंटल हेल्थ को भी स्थिर रखने में मददगार है।

एक्सपर्ट्स ने दावा किया कि पूरी तरह से प्लांट बेस्ड यानी वीगन डायट लेने दिल की बीमारियां को वापस ठीक किया जा सकता है। इसके पीछे कई मजबूत तर्क दिए गए। एक्सपर्ट्स ने कहा कि वीगन डायट जीवन जीने का एक अलग ही तरीका है। यह आपके लाइफ स्टाइल को बदलने के साथ-साथ आपकी लाइफ क्वालिटी पर भी सकारात्मक प्रभाव डालता है। ऐसे में इसके फायदों को नजरअंदा नहीं किया जाना चाहिए।

वीगन डायट के भी हो सकते हैं खतरे (Side effects of vegan diet)

हर सिक्के के दो पहलू होते हैं इसी तरह वीगन डायट या प्लांट बेस्ड डाइट के फायदे के साथ नुकसान भी हैं। कई रिसर्च दावा करती हैं, जिन चीजों में वीगन डायट मददगार है ये उसका कारण भी बन सकती है। यानी की वीगन डायट जिन बीमारियाें से बचाव करती है, उसे शुरू भी कर सकती है। इसलिए वीगन डायट या किसी भी डाइट को शुरू या बंद करने से पहले हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह लेना न भूलें। ऐसे में आप कई संभावित नुकसानों से बच सकते हैं।

और पढ़ें: शुगर लेवल को ऐसे कंट्रोल करता है नाशपाती

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और वीगन डायट से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

All sources accessed on 19/2/2020

Food & Vegan diet

https://www.peta.org.uk/living/vegan-health-benefits/

Nutrition facts

https://nutritionfacts.org/topics/plant-based-diets/

the vegan diet/https://www.nhs.uk/live-well/eat-well/the-vegan-diet/

Might a Vegan Diet Be Healthy, or Even Healthier?/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK396513/

लेखक की तस्वीर badge
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/03/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x