home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Chicken Collagen: चिकन कोलेजन क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज
Chicken Collagen: चिकन कोलेजन क्या है?

परिचय

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) क्या है?

चिकन कोलेज एक प्रकार का प्रोटीन है, जो कार्टिलेज, हड्डी और जानवरों और मनुष्यों में अन्य कनेक्टिव ऊतकों का हिस्सा होता है। लोग मुर्गी या मुर्गा (चिकन) के कोलेजन का इस्तेमाल दवाइयों में करते हैं।

उपयोग

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

चिकन कोलेजन जोड़ों के दर्द जो कई प्रकार के आर्थराइटिस और सर्जरी के साथ-साथ कमर दर्द, गर्दन दर्द और चोट लगने पर होने वाले दर्द में इस्तेमाल होता है।

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) कैसे कार्य करता है?

चिकन कोलेजन कैसे कार्य करता है, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें। हालांकि, पहले ही बताया जा चुका है कि चिकन कोलेजन एक ऐसा कैमिकल पैदा करता है, जो सूजन और दर्द से लड़ता है, लेकिन इसकी पुष्टि नही हुई है। चिकन कोलेजन में कोनड्रोइटिन (chondroitin) और ग्लूकोसमाइन (glucosamine) कैमिकल्स होते हैं, जो कार्टिलेज को दोबारा बनाने में मददगार होते हैं।

यह भी पढ़ें: कमर दर्द से पाना है छुटकारा, तो करें ये योग

सावधानियां और चेतावनी

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको चिकन कोलेजन के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। चिकन कोलेजन का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) कितना सुरक्षित है?

कोलेजन टाइप -2 का मौखिक रूप से 2.5 g प्रतिदिन 24 हफ्तों तक इस्तेमाल करना संभवतः सुरक्षित हो सकता है।

विशेष सावधानियां और चेतावनी

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग में कोलेजन टाइप-2 का सेवन सुरक्षित है या नहीं, इस बारे में जानकारी उपलब्ध नहीं है। सुरक्षा के लिहाज से इसका सेवन करने से बचें।

अंडे या चिकन एलर्जी: जिन लोगों को अंडे या चिकन से एलर्जी है, उन्हें कोलेजन टाइप – 2 का सेवन नहीं करना चाहिए। एलर्जी से पीड़ित लोगों में कोलेजन एलर्जी रिएक्शन दिखा सकता है।

यह भी पढ़ें: Chikungunya : चिकनगुनिया क्या है? जानें इसके कारण लक्षण और इलाज

साइड इफेक्ट्स

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इसके साइड इफेक्ट्स हैं या नहीं, यह अभी स्पष्ट नहीं है। अन्य कोलेजन प्रोडक्ट्स जैसे बोवाइन कोलेजन और जिलेटिन से एलर्जिक रिएक्शन हो सकते हैं। चूंकि चिकन कोलेजन में कोनड्रोइटिन (chondroitin) और ग्लूकोसमाइन (glucosamine) कैमिकल्स होते हैं, इससे उबकाई, हार्टबर्न, डायरिया, कब्ज, चक्कर आना, स्किन रिएक्शन और सिर दर्द जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी चिकन कोलेजन के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: उबकाई/डकार (Belching) क्यों आती है?

रिएक्शन

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

चिकन कोलेजन आपकी मौजूदा दवाइयों और मेडिकल कंडिशन के साथ रिएक्शन कर सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह अवश्य लें।

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) का सामान्य डोज क्या है?

हर मरीज के मामले में चिकन कोलेजन का डोज अलग हो सकता है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नही होती हैं। चिकन कोलेजन के उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

चिकन कोलेजन (Chicken collagen) किन रूपों में आता है?

चिकन कोलेजन निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकता है:

  • कैप्सूल
  • अन्य इनग्रीडिएंट वाला चिकन कोलेजन का पाउडर

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

और पढ़ें :-

Mouse Ear Herb: माउस ईयर हर्ब क्या है?

कई गुणों से भरपूर है रोजमेरी हर्ब, जानें इसके 5 अद्भुत फायदे

बस 2 रुपये में छूमंतर करें सर्दी-खांसी, आजमाएं ये 13 घरेलू उपाय

विटामिन डी की कमी को कैसे ठीक करें

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
11/12/2019 पर Sunil Kumar के द्वारा लिखा
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
x