मसूड़ों में सूजन हो सकता है कैंसर का संकेत, जानिए इसके लक्षण

Medically reviewed by | By

Update Date जून 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

कैंसर की बीमारी पिछले कुछ सालों से अभिशाप बनती जा रही है। एक अध्ययन के अनुसार, हमारे देश में हर साल लगभग सात लाख मौतें केवल कैंसर से होती हैं। मुंह का कैंसर भी कैंसर का ही प्रकार है, जिसके मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। यही नहीं, ब्रेस्ट और सर्वाइकल कैंसर से भी ज्यादा मौतें मुंह के कैंसर से होती हैं। इस कैंसर का शिकार 20 से 25 साल के युवा अधिक बन रहे हैं और उसका कारण है तंबाकू या धूम्रपान। आइए जानें कि क्या मसूड़ों में सूजन हो सकता है कैंसर का संकेत और इस बारे में और अधिक।

जानिए क्या है मुंह का कैंसर? (What is Mouth Cancer)

कैंसर हमारे शरीर की कोशिकाओं की ऐसी ग्रोथ है, जिसे नियंत्रित नहीं किया जा सकता। इनके विकास से शरीर के अन्य टिश्यू को भी नुकसान पहुंचता है। मुंह का कैंसर छाले, सूजन या अन्य गांठ आदि के रूप में हो सकता है। यही नहीं,  मुंह का कैंसर होंठो, जीभ, गालों या अन्य किसी भी स्थान पर हो सकता है। अगर इसका उपचार सही समय पर न हो, तो यह मृत्यु का कारण भी बन सकता है।

और पढ़ें : अंडरवायर ब्रा पहनने से होता है ब्रेस्ट कैंसर का खतरा? 

मुंह के कैंसर के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Mouth Cancer)

मुंह के कैंसर के हर व्यक्ति के लिए लक्षण अलग हो सकते हैं। मुंह का कैंसर होने पर मसूड़ों, टॉन्सिल्स या मुंह में सफेद या लाल धब्बे और दर्द या मसूड़ों में सूजन हो सकता है। इसके अलावा इसके अन्य लक्षण इस प्रकार हैं:

  • गले में सूजन
  • गले में छाले
  • गले में गांठ बनना
  • निगलने या चबाने में मुश्किल होना
  • ऐसा प्रतीत होना जैसे किसी ने आपका गला पकड़ रखा है
  • जबड़े या जीभ हिलाने में मुश्किल होना
  • वजन का कम होना और थकावट
  • मुंह में सफेद व लाल चकत्ते दिखाई देना
  • निचले होठ या ठोडी में सुन्नता महसूस होना
  • दवा लेने के बावजूद मुंह के अल्सर का ठीक न होना
  • लगातार मुंह में बदबू रहना
  • लगातार कान में दर्द होना
  • मसूड़ों में सूजन या ब्लीडिंग
  • दांत ढीले होना या डेंचर की खराब फीटिंग होना

क्या मसूड़ों में सूजन है कैंसर का संकेत?

हां, अगर लंबे समय से आपके मसूड़ों में सूजन है, तो यह कैंसर का एक संकेत हो सकता है। हालांकि, ऐसा जरूरी नहीं कि अगर आपके मसूड़ों में सूजन है तो यह केवल कैंसर के कारण ही है। इसके पीछे अन्य कारण भी हो सकते हैं। मसूड़ों के टिश्यू की असमान्यताएं जैसे मसूड़ों में सूजन कई अलग-अलग कष्टों का संकेत भी हो सकते हैं, लेकिन अगर आपके मसूड़ों में कोई सूजन इतनी है, जैसे कोई पॉपकॉर्न मुंह में हो तो यह मसूड़ों और मुंह की समस्याओं की शुरुआत हो सकती है। बहुत-से लोग इन परेशानियों के बारे में नहीं जानते और इसे हल्के में लेते हैं। लेकिन, यह सूजन भविष्य में मुंह के कैंसर की संकेत हो सकती है।

और पढ़ें : क्या ब्रेस्ट सकिंग कैंसर का कारण बन सकता है ?

मुंह के कैंसर होने का कारण क्या है?

मसूड़ों में सूजन मुंह के कैंसर का एक लक्षण या संकेत हो सकता है, लेकिन इसके अन्य कई कारण भी हो सकते हैं। अगर यह सूजन है तो समझने की कोशिश करें कि ऐसा क्यों है और डॉक्टर से मिलें, ताकि आप सही कारण का पता कर सकें। कैंसर के कारण कुछ इस तरह से हो सकते हैं।

तंबाकू का प्रयोग (Use of Tobacco)

सिगरेट, बीड़ी, पाइप्स, सिगार या तंबाकू को चबाना आदि का प्रयोग मुंह के कैंसर की संभावना बढ़ा देता है। अधिक शराब पीने से भी इसका खतरा बना रहता है। इसलिए इन चीजों से जितना दूर रह सकें, उतना दूर रहें।

और पढ़ें : रेड मीट बन सकता है ब्रेस्ट कैंसर का कारण, इन बातों का रखें ख्याल

ह्यूमन पपिल्लोमा वाइरस (HPV)

कैंसर को (HPV) से जोड़ा जाता है जो आमतौर पर गले, जीभ के नीचे या टॉन्सिल्स में पाया जाता है। HPV से गले के कैंसर (Oral cancer) की संभावना बढ़ती है।

सूर्य की रोशनी (Sunlight)

अगर आप सूर्य की रोशनी में अधिक रहते हैं, तो आपके होंठों के अधिक सूर्य की रोशनी में रहने से मुंह के कैंसर की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए, आप अच्छी लिप बाम या SPF युक्त क्रीम के प्रयोग से इस खतरे से बच सकते हैं। 45 साल की अधिक उम्र के होने पर इस कैंसर के होने का खतरा बढ़ जाता है।

मुंह की ढंग से सफाई न करना

मुंह के कैंसर की एक वजह मुंह की ठीक से साफ सफाई न करना है। इससे भी कैंसर की आशंका बढ़ जाती है। खराब फिटिंग वाले डेंचर लगाना भी मुंह के कैंसर का जोखिम बढ़ाता है। इसलिए मसूड़ों में सूजन या कोई अन्य परेशानी को टालें नहीं।

और पढ़ें : अगर आपके परिवार में है किसी को ब्रेस्ट कैंसर है, तो आपको है इस हद तक खतरा

कैसे बचे मुंह के कैंसर से?

विशेषज्ञ इस बात को सही से बताने में असमर्थ हैं कि मुंह के कैंसर की असली वजह क्या है, लेकिन मुंह के कैंसर से बचने के लिए इन चीजों का ध्यान रखें और सावधानियां बरतें।

  • अपने खान-पान को सही रखें और इसमें खूब सारे फलों और सब्जियों को शामिल करें।
  • अगर डेंचर यानी नकली दांतों का प्रयोग कर रहे हैं तो रात को उसे खोल कर सोएं और रोजाना साफ करें।
  • अपने दांतों और मुंह की सफाई पर खास ध्यान दें
  • इसमें कोई संदेह नहीं कि मसूड़ों में सूजन या अन्य रोग और मुंह के कैंसर का सीधा संबंध है। इसलिए, आपको अपने दांतों और मसूड़ों का खास ध्यान रखना चाहिए।

बहुत से लोग ऐसा मानते हैं कि मुंह के कैंसर अधिकतर तंबाकू चबाने के कारण होता है। किंतु, एक शोध के मुताबिक 25 प्रतिशत मुंह का कैंसर का शिकार वो लोग बनते हैं जो तंबाकू का सेवन नहीं करते। मसूड़ों में सूजन या दांतों की समस्याओं को हल्के में न लें, बल्कि अगर आपको मुंह या दांतों में कोई भी समस्या हो,मसूड़ों में सूजन हो, तो तुरंत डॉक्टर की राय लें। समय-समय पर अपने दांतो की जांच कराना न भूलें, ताकि किसी भी खतरे से पहले ही बचा जा सके। हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में मसूड़ों में सूजन और मुंह के कैंसर से जुड़ी जानकारी दी गई है। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी पाना चाहते हैं तो आप अपना सावाल कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। हम अपने एक्सपर्ट्स से उनका उत्तर दिलाने की पूरी कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

लार ग्रंथि में पथरी क्या है?

जानिए लार ग्रंथि में पथरी क्या है in hindi, लार ग्रंथि में पथरी के कारण, जोखिम और लक्षण क्या है, Salivary duct stones के लिए क्या उपचार है।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Kanchan Singh
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z फ़रवरी 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Gastric Cancer: गैस्ट्रिक कैंसर का पता कैसे लगता है? जानें इसके लक्षण

गैस्ट्रिक कैंसर क्या है? कैसे होता है? गैस्ट्रिक कैंसर के कारण, लक्षण और उपाय संबंधी सभी जानकारियां पढ़ें इस आर्टिकल में। इस आर्टिकल में यह भी जानें कि किन लोगों को इस तरह का कैंसर होने की संभावना ज्यादा रहती है।

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Surender Aggarwal
हेल्थ सेंटर्स, पेट का कैंसर जनवरी 13, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

रेड मीट बन सकता है ब्रेस्ट कैंसर का कारण, इन बातों का रखें ख्याल

प्रोसेस्ड मीट (Processed Meat) और रेड मीट (Red Meat) से क्यों बढ़ सकती है ब्रेस्ट कैंसर की समस्या? जानें किन-किन खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए ?

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Nidhi Sinha
हेल्थ सेंटर्स, ब्रेस्ट कैंसर नवम्बर 3, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

कैंसर होने के बाद स्वस्थ्य जीवन जीने के लिए अपनाएं ये टिप्स?

कैंसर शरीर की कोशिकाओं में असामान्य तरीके से बढ़ता है, जो गांठ अथवा ट्यूमर का रूप ले लेती हैं। हालांकि कैंसर होने के बाद भी सामान्य जीवन जी सकते हैं

Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
Written by Nidhi Sinha
हेल्थ सेंटर्स, ब्रेस्ट कैंसर सितम्बर 18, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कैंसर स्क्रीनिंग

कैंसर स्क्रीनिंग के बारे में हर किसी को होनी चाहिए यह जानकारी

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on मई 8, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
मसूड़े में खुजली

मसूड़े में खुजली से क्या आप भी परेशान हैं? जानें इलाज और रोकथाम

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on अप्रैल 21, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
लंग कैंसर के उपचार-lung Cancer

Quiz : लंग कैंसर के उपचार से पहले जान लें उससे जुड़ी जरूरी बातें

Written by Ankita Mishra
Published on फ़रवरी 16, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें
निपाह वायरस संक्रमण -Nipah-virus

Quiz: कितना जानते हैं आप निपाह वायरस संक्रमण के बारे में

Written by Ankita Mishra
Published on फ़रवरी 11, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें