backup og meta

छोटे बच्चे की नाक कैसे साफ करें? हर मां को परेशान करता है ये सवाल

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड डॉ. अभिषेक कानडे · आयुर्वेदा · Hello Swasthya


Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/10/2020

छोटे बच्चे की नाक कैसे साफ करें? हर मां को परेशान करता है ये सवाल

नवजात शिशु के नासिका मार्ग छोटे होते हैं और  नाक साफ न होने के कारण बच्चे को असहज महसूस होता है। कई बार उन्हें समस्याओ का सामना करना पड़ जाता है, जैसे कि सांस लेने में दिक्कत। इसलिए जरूरी है कि बच्चे की नाक को साफ रखा जाए ताकि उसे सांस लेने में कोई परेशानी न आए। नाक साफ रहने से बच्चे को इंफेक्शन होने की संभावना कम होती है।

इस बारे में डॉ विनोद कुमार (चिकित्सक, पुरहेनवां अस्पताल, नेपाल) ने हैलो स्वास्थ्य को बताया कि, बच्चों की नाक साफ करने में थोड़ी परेशानी होती है। लेकिन बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए यह करना जरुरी होता है।  शिशु की नाक बहुत कोमल और छोटे होती है, जिससे पेरेंट्स को यह चिंता सताती है कि नाक कैसे साफ करें? तो आइए आपको बच्चे की नाक साफ करने के कुछ तरीके बताते हैं।

और पढें : बच्चे के सुसाइड थॉट को अनदेखा न करें, इन बातों का रखें ध्यान

बच्चे की नाक साफ कैसे करें?

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? स्टीम का उपयोग करें

नाक कैसे साफ करें? अगर आप भी इस सवाल से चिंतित हैं तो हल्की स्टीम की मदद से भी बच्चे की नाक साफ की जा सकती है। इसके लिए बाथरुम में कुछ मिनट के लिए हॉट शॉवर चालू कर दें। उसके बाद बच्चे को बाथरूम में थोड़ी देर के लिए लेकर बैठ जाएं। यह नॉस्ट्रिल में गंदगी लूज करने में मदद करता है। इससे बच्चे की नोज आसानी से क्लीन की जा सकता है।

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? नेजल स्प्रे का करें उपयोग

नेजल स्प्रे का इस्तेमाल करना सबसे सुरक्षित होता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए बच्चे को पीठ के बल लेटा दें उसके बाद चिन से सिर को थोड़ा सा ऊपर करें। उसके बाद 2-3 बूंद नेजल स्प्रे की बूंदें नाक में डालें। इसे डालने के बाद बच्चे को छींक आ सकती है, लेकिन परेशान होने की जरुरत नहीं है। इससे बच्चे की नाक अच्छी तरह से साफ हो जाएगी और सांस लेने में कोई दिक्कत भी नहीं होगी।

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? ईयर बड का करें उपयोग

नवजात शिशु की नाक साफ करने के लिए ईयर बड सबसे आसान तरीका होता है। बच्चे के नाक के छिद्र छोटे होने की वजह से आपको ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत होती है। इस स्थिति में यह बड़ा सवाल होता है कि नाक कैसे साफ करें ? इसके लिए ईयर बड के आखिरी हिस्से को बच्चे की नाक में डालकर साफ करें। इसे करते समय एक बात का जरूर ध्यान दें कि यह नाक में अंदर तक न चला जाए।

और पढ़ें : 6 सामान्य लेकिन, खतरनाक शिशु स्वास्थ्य मुद्दे

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? सूती कपड़े से

गीले सूती कपड़े या तौलिए की मदद से भी बच्चे की नाक आसानी से साफ की जा सकती है। इसे बच्चे की नाक में डालकर साफ करें। इसे करते समय एक बात का ध्यान रखें कि इससे बच्चे को दर्द ना हो।

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? वेपर रब का इस्तेमाल करें

बेबी वेपर रब को बच्चे के पैरों के तलवों पर रगड़िए और मोजे पहना दीजिए। यह आपके बच्चे को सांस लेने में मदद करेगा। इसे आप बच्चे की छाती और पीठ के साथ-साथ बच्चे के सिरहाने गद्दे पर भी लगा सकते हैं जिससे बच्चे को सांस लेने में कठिनाई नहीं होगी।

इसकी जगह अगर कुछ कुदरती चीज इस्तेमाल करना चाहें, तों नीलगिरी का तेल बहुत बेहतर है। ज्यादातर डॉक्टर बच्चों पर वेपर रब के इस्तेमाल की सलाह नहीं देते। इससे जलन पैदा हो सकती है और बच्चे को बेचैनी हो सकती है। इसलिए इसे बच्चे की आंखों और दूसरे नाजुक अंगों के पास लगाने से बचें।

[mc4wp_form id=’183492″]

बच्चे की नाक साफ कैसे करें? नाक के एक्यूप्रेशर पॉइंट्स को दबा कर

एक्यूप्रेशर बच्चे की बंद नाक को खोलने का एक बेहतर तरीका है। यदि बच्चा बहुत छोटा है, तो इसे खुद ही करना ठीक है। नाक कैसे साफ करें होंठ के ऊपर और नाक के दोनों किनारों और आंख के अंदरूनी किनारों वाले हिस्से पर स्थित एक्यूप्रेशर पॉइंट्स पर हल्के हाथ से दबाएं। यह बच्चे की बंद नाक खोलने में बड़ा कारगर है।

इस तरह से शिशु के नाक को आसानी से साफ किया जा सकता है, लेकिन बच्चे काफी नाजुक होते हैं, इसलिए उनकी कोमल त्वचा का ध्यान रखते हुए उनकी नाक काे साफ करें।

बच्चों के कान की सफाईकी बात आती है तो मां को समझ नहीं आता की ये कैसे किया जाए। कई बार बच्चों को बचपन में ही कान में इंफेक्शन हो जाता है और बाद में कान में समस्याएं बढ़ जाती हैं। हम यहां कुछ खास तरीके बता रहें हैं जिनका बच्चों के कान की सफाई में ध्यान देना बहुत जरूरी होता है।

और पढ़ें : नवजात शिशु के लिए 6 जरूरी हेल्थ चेकअप

नहलाने के बाद दे ध्यान 

बच्चों को रोजाना स्नान कराना जरूरी होता है, लेकिन नहलाने में विशेष ध्यान की जरूरत होती है। बच्चे को नहलाने के बाद कान की सफाई करना नहीं भूलना चाहिए। कान के अंदर पानी न जाए ये नहलाते वक्त ध्यान देना चाहिए। नहलाने के बाद कान के आस-पास की सफाई ठीक से करें। कान के आस-पास की सफाई के लिए गर्म पानी में तोलिए को भीगोकर करना चाहिए।

बेबी ईयर बड

बच्चों के कान साफ करने के लिए बेबी इयर बड बाजार में मिलते हैं, लेकिन इसका प्रयोग करते समय बहुत ही ध्यान की जरूरत होती है। बच्चा जब भी जाग रहा हो तब इसका प्रयोग न ही करें तो बेहतर है। बच्चे को स्तनपान कराते समय इसका प्रयोग किया जा सकता है। इयर बड को बहुत अंदर तक न डालें।

सोते समय करें सफाई

बच्चों के कान के आस-पास और अंदर तक की सफाई जहां तक हो सके सोते वक्त करें। सफाई करते समय हमेशा ध्यान रखें कि बहुत अंदर तक कोई भी चीज नहीं डालनी है। ज्यादा गहराई में इयर बड भी डालने से बचना चाहिए इसकी वजह से कान के पर्दे में चोट लग सकती है।

और पढ़ें : पिता के लिए ब्रेस्टफीडिंग की जानकारी है जरूरी, पेरेंटिंग में मां को मिलेगी राहत

बच्चे की नाक साफ करने के लिए सलाइन नेजल स्प्रे का उपयोग कितना सुरक्षित है?

शिशुओं और बच्चों की नाक साफ करने के लिए सलाइन नेजल स्प्रे का उपयोग एक सुरक्षित विकल्प माना जा सकता है। यह बलगम को पतला करने में मदद करता है। जिससे भरी नाक की समस्या से जल्द ही राहत मिल सकती है।

सलाइन नेजल स्प्रे का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

इसका इस्तेमाल करने के लिए आप निम्न चरण का ध्यान रख सकते हैंः

  • सबसे पहले बच्चे को उसकी पीठ पर लेटाएं।
  • फिर बच्चे के सिर को थोड़ा पीछे की तरफ झुकाएं। इसके लिए आप बच्चे के सिर को पीछे की तरफ झुकाने के लिए आप तकीये का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके बाद एक-एक करके नाक के दोनों तरफ इसकी दो से तीन बूंद डालें।
  • इसके बाद बच्चे के सिर को इसी अवस्था में लगभग 30 से 40 सेकंड कर रहने दें।
  • जब आपको शिशु की नाक से कोई तरल पदार्थ बहता हुआ दिखाई दे, तो शिशु के सिर को सीधा कर दें और मुलायम कपड़े या टिश्यू की मदद से धीरे से पोंछ दें।
  • इसके बाद बच्चे को करवट लेकर या पेट के बल सुलाएं। ताकि नाक से सारा पानी आसानी से बाहर निकल जाए।

ध्यान रखें कि, ऐसा करते समय स्पे की बूंदें शिशु के आंख, कान या मुंह में न जाए। इसीलिए इसका इस्तेमाल करते समय सावधानी का भी ख्याल रखें। अगर ऐसी कोई स्थिति होती है, तो तुरंत शिशु के आंख, कान या मुंह को साफ ताजे पानी से धोएं। किसी भी तरह की जटिलताएं होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

डॉ. अभिषेक कानडे

आयुर्वेदा · Hello Swasthya


Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/10/2020

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement