Diarrhea After Drinking Alcohol: एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या क्यों हो सकती है?

    Diarrhea After Drinking Alcohol: एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या क्यों हो सकती है?

    दोस्तों या फेमली मेंबर से मिलना और साथ बैठकर ड्रिंक करना विदेशों के साथ-साथ अपने देश में भी यह चलन तेज है, लेकिन एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या हो सकती है। इसलिए आज इस आर्टिकल में एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया (Diarrhea After Drinking Alcohol) से जुड़े सवालों का जवाब जानेंगे।

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या क्यों हो सकती है?

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया (Diarrhea After Drinking Alcohol)

    अलग-अलग रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार एल्कोहॉल का सेवन जब किया जाता है, तो एल्कोहॉल पेट में ट्रेवल करता है। ऐसी स्थिति में फूड में मौजूद न्यूट्रीएंट्स और एल्कोहॉल दोनों ब्लडस्ट्रीम में एब्सॉर्ब हो जाते हैं। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार एल्कोहॉल के सेवन से डायजेशन की प्रक्रिया को सामान्य से धीरे बना सकती है। वहीं अगर बिना कुछ खाये पीये एल्कोहॉल का सेवन किया जाए तो यह स्मॉल इंटेस्टाइन से इंटेस्टाइनल वॉल तक ज्यादा तेजी से पास होता है। इसलिए खाली पेट या बिना कुछ खाये पीए एल्कोहॉल का सेवन करने से ज्यादा ट्रिगर होता है। रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या हो सकती है।

    और पढ़ें : Bland Diet: पेट की समस्याओं को दूर करने के लिए ब्लांड डायट है रामबाण!

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या किन लोगों में ज्यादा हो सकती है?

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या निम्नलिखित स्थितियों में ज्यादा बनी रहती है। जैसे:

    इन बीमारियों से पीड़ित लोग पहले से ही सेंसेटिव डायजेस्टिव ट्रैक्ट (Sensitive digestive tracts) की समस्या से परेशान रहते हैं और एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या शुरू हो सकती है। वहीं जिन लोगों का सोने का समय रेगुलर (Irregular sleep schedules) नहीं होता है, तो उन्हें भी एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या हो सकती है। यू.एस. नैशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन (U.S. National Library of Medicine) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार नींद की कमी या सोने का पैटर्न ठीक नहीं होने की स्थिति में भी एल्कोहॉल के सेवन से डायरिया की समस्या हो सकती है।

    और पढ़ें : Benefits of Kale: केल के फायदे हैं कई, लेकिन साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए क्या है कहती हैं रिसर्च?

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या ना हो, इसके लिए क्या हैं घरेलू उपाय? (Home remedies for Diarrhea)

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या ना हो इसलिए निम्नलिखित घरेलू उपाय किये जा सकते हैं। जैसे:

    क्या खाएं (What to Eat)

    • सोडा क्रैकर (Soda crackers)
    • टोस्ट (Toast)
    • केला (Bananas)
    • अंडे (Eggs)
    • चावल (Rice)
    • चिकन (Chicken)

    इन खाद्य पदार्थों का सेवन करने से डायरिया की समस्या से बचने में मदद मिल सकती है।

    क्या नहीं खाएं (What to avoid)

    • हाय फाइबर फूड (High-fiber foods) का सेवन ना करें।
    • दूध (Milk) और आइसक्रीम (Ice cream) का सेवन ना करें।
    • हाई फैट फूड (High-fat foods) का सेवन ना करें।
    • अत्यधिक मसालेदार (Highly spiced) खाने का सेवन ना करें।

    घरेलू उपाय (Home remedies)

    नारियल पानी (Coconut water)- अगर किसी व्यक्ति को हल्के दस्त की समस्या हो, तो इस तकलीफ को दूर करने के लिए नारियल पानी बेहद लाभकारी माना जाता है। लेकिन ध्यान रखें कि अगर डायरिया की समस्या गंभीर है, तो ऐसे में सिर्फ नारियल पानी लाभकारी नहीं हो सकता है।

    शहद (Honey)- रिसर्च के अनुसार डायरिया की समस्या होने पर शहद का सेवन लाभकारी माना जाता है, क्योंकि इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, जो डायरिया की परेशानी को दूर हो सकती है।

    दही (Cured)- जर्नल ऑफ प्रोबायोटिक एंड हेल्थ (Journal of Probiotics & Health) के रिसर्च अनुसार दही में प्रोबायोटिक मौजूद होता है, जो पेट के लिए बेहद लाभकारी माना जाता है। दही के सेवन से पेट ठंडा रहता है और डायरिया की तलिफ भी दूर होती है।

    ग्रीन टी (Green Tea)- एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) के अनुसार ग्रीन टी दस्त की समस्या से निजात दिलाने में लाभकारी माना जाता है। दरअसल ग्रीन टी में मौजूद कैटेकिन डायरिया (Diarrhea) की तकलीफ को कम करने में लाभकारी माना जाता है, लेकिन ध्यान रखें की जरूरत से ज्यादा ग्रीन टी का सेवन न करें और अगर परेशानी लगातार बनी हुई है, तो डॉक्टर से कंसल्ट करें।

    यह भी ध्यान रखें-

    • एल्कोहॉल (Alcohol) का सेवन न करें।
    • स्मोकिंग (Smoking) न करें
    • सिट्रस फ्रूट्स ना खाएं।
    • ड्राय फ्रूट्स का सेवन नहीं करें।
    • कैफीन का सेवन न करें।
    • स्ट्रीट फूड या जंक फूड (Junk food) से दूरी बनाये रखें।

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या या ऐसे अगर आपको डायरिया की समस्या होती है, तो ऊपर बताये गए जिन खाद्य पदार्थों के सेवन की सलाह दी गई है उनका सेवन कर सकते हैं वहीँ जिन खाद्य पदार्थों के सेवन की सलाह नहीं दी गई है उनके सेवन से बचें।

    और पढ़ें : Movement In Lower Abdomen: लोअर एब्डॉमेन में मूवमेंट के कारण क्या हो सकते हैं?

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया: डायरिया का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Diarrhea)

    डायरिया का इलाज निम्नलिखित तरह से की जा सकती है। जैसे:

    ओआरएस (ORS)– डायरिया या दस्त की तकलीफ होने पर ओआरएस (Oral Rehydration Salt) के घोल का सेवन किया जा सकता है। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार ओआरएस या इलेक्ट्रोलाइट ड्रिंक्स के सेवन से दस्त (Diarrhea) की परेशानी दूर हो सकती है। दस्त की वजह से बॉडी तेजी से डिहाइड्रेट करने लगती है, जिससे पेशेंट्स कमजोरी महसूस होने लगती है। इसलिए ऐसी स्थिति में ओआरएस या इलेक्ट्रोलाइट ड्रिंक्स सिर्फ दस्त ही नहीं कमजोरी दूर करने में भी सहायक है।

    एंटीबायोटिक या एंटी-पैरासिटिक (Antibiotics or anti-parasitic)- डायरिया की समस्या को दूर करने के लिए एंटीबायोटिक या एंटी-पैरासिटिक दवाओं का सेवन किया जा सकता है। हालांकि इन दवाओं का सेवन अपनी मर्जी से ना करें और डॉक्टर से सलाह लें।

    और पढ़ें : Short Bowel Syndrome: शॉर्ट बॉवेल सिंड्रोम क्या है? जानिए शॉर्ट बॉवेल सिंड्रोम के कारण और इलाज।

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया, ऐसी स्थिति होने पर डॉक्टर से कब करें कंसल्ट? (Consult Doctor if-)

    निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर से कंसल्ट करना जरूरी है। जैसे:

    • अत्यधिक प्यास (Excessive thirst) लगना।
    • मुंह सुखना (dry mouth)।
    • रूखी त्वचा (Dry skin) की समस्या।
    • यूरिन (Urine) कम होना या नहीं होना।
    • बार-बार (Infrequent urination) यूरिन के लिए जाना।
    • यूरिन का रंग गहरा (Dark-colored urine) होना।
    • अत्यधिक कमजोरी (Extreme weakness) महसूस होना।
    • चक्कर (Dizziness) आना।
    • थकान (Fatigue) महसूस होना।
    • हल्का सिरदर्द (Lightheadedness) होना।
    • दो दिन से ज्यादा डायरिया (Diarrhea) की समस्या होना।
    • पेट दर्द (Abdominal) होना या रेक्टल में दर्द (Rectal pain) होना।
    • स्टूल (Stool) का रंग काला या गहरा लाल होना।
    • बुखार (Fever 102˚F [39˚C]) या इससे ज्यादा होना।

    इन स्थितियों में डॉक्टर से कंसल्ट करना जरूरी है।

    और पढ़ें : Tight Stomach: टाइट स्टमक की समस्या क्या हैं? जानिए इसके कारण, लक्षण और इलाज

    एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया (Diarrhea After Drinking Alcohol) की समस्या कुछ खास स्थितियों में शुरू हो सकती है। इसलिए इसके कारणों को समझकर इस परेशानी से बचने में मदद मिल सकती है। वहीं अगर आप एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया (Diarrhea After Drinking Alcohol) की समस्या काफी समय से महसूस कर रहें हैं, तो देरी ना करें और हेल्थ एक्सपर्ट से सलाह लें।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Circadian rhythms, alcohol and gut interactions/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4431951/Accessed on 16/03/2022

    Diarrhea/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/diarrhea/diagnosis-treatment/drc-20352246/Accessed on 16/03/2022

    Alcohol-related diarrhea/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20575826/Accessed on 16/03/2022

    Alcohol and Diarrhea/https://alcoholrehabhelp.org/addiction/effects/diarrhea/Accessed on 16/03/2022

    How alcohol affects your body/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/how-alcohol-affects-your-body/Accessed on 16/03/2022

    Alcohol Use and Your Health/https://www.cdc.gov/alcohol/fact-sheets/alcohol-use.htm/Accessed on 16/03/2022

    How alcohol affects your health/https://www.healthdirect.gov.au/how-alcohol-affects-your-health/Accessed on 16/03/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/03/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड