home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सेक्स और डेटिंग को लेकर है कुछ कंफ्यूजन तो ये आर्टिकल कर सकता है आपकी मदद

सेक्स और डेटिंग को लेकर है कुछ कंफ्यूजन तो ये आर्टिकल कर सकता है आपकी मदद

सेक्स और डेटिंग में आजकल के युवा कंफ्यूज हो गए हैं। उन्हें लगता है कि अगर वे किसी के साथ डेट पर जा रहे हैं तो सेक्स होना आम बात है। यहां तक कि सेक्स और डेटिंग को लेकर उनकी ये सोच उन्हें डिप्रेशन, चिंता और अपराध की तरफ लेकर जाती है। एक रिसर्च के मुताबिक लड़कियां डेट पर जाने के बाद शुरू में ही सेक्स के लिए नहीं तैयार होती हैं। उन्हें थोड़ा समय लगता है। ऐसे में उनका डेटिंग पार्टनर या तो डिप्रेशन और एंग्जायटी में चला जाता है, या फिर रेप जैसे अपराध कर बैठता है। इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि सेक्स और डेटिंग क्या है, सेक्स और डेटिंग के फायदे और नुकसान क्या है?

सेक्स और डेटिंग (Differences Between Sex And Dating) दोनों अलग हैं

सेक्स से पहले आपको डेटिंग के बारे में जानना चाहिए। आजकल डेटिंग वह तरीका है जिससे लोग अपने मनपसंद साथी को चुनना चाहते हैं। आगे चलकर आप डेटिंग को एक खूबसूरत रोमेंटिक रिश्ते या यौन संबंध में भी बदल सकते हैं। डेटिंग के माध्यम से दो लोग कुछ समय के लिए मिलते हैं और एक दूसरे को समझने की कोशिश करते हैं। डेटिंग की मदद से लोग एक-दूसरे को जानते हैं और इस बात का निर्णय लेते हैं कि कोई आपके लिए उपयुक्त साथी है या नहीं।

सेक्स और डेटिंग में सेक्स डेट करने के बाद की बात है। जब हम किसी को डेट करते हैं तो हमें उससे प्यार होता है। इसके बाद करीबियां बढ़ने से विश्वास पैदा होता है और शारीरिक संबंध बनता है। इसी को सेक्स कहते हैं।

डेटिंग क्यों पॉपुलर है? (Popularity Of Dating)

डेटिंग किसी को समझने और जानने से संबंधित है। डेटिंग के फायदे निम्न हैं :

  • जब हम किसी को डेट करते हैं तो हमारे हम खुश रहते हैं। इस दौरान हमारे शरीर में ऑक्सीटोसीन हॉर्मोन का स्रावण होता है। इससे आपको खुशी मिलती है।
  • डेटिंग करने से हमारा तनाव और डिप्रेशन दूर होता है। क्योंकि जब हम किसी को डेट करते हैं तो हमें लगता है कि अब कोई है जिस पर हम इमोशनली डिपेंड हो सकते हैं।
  • प्यार हमारी जिंदगी में एक नैचुरल पेनकिलर की तरह काम करता है। क्योंकि जब हम किसी से प्यार करते हैं तो हमारे शरीर में डोपामाइन स्रावित होता है, जिससे हमारे शरीर में होने वाला दर्द कम होता है।

यह भी पढ़ें : जानिए कैसे ट्रेंड में चल रहीं इमोजी बढ़ा सकती हैं बेहतर डेटिंग के चांस

सेक्स और डेटिंग (Sex And Dating) के लिए ऑनलाइन ऐप्स के इस्तेमाल के नुकसान क्या हैं?

सेक्स और डेटिंग

  • डेटिंग ऐप या सोशल मीडिया पर डेट करने से व्यक्ति इसका लती हो जाता है। जो मानसिक स्थिति पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।
  • डेटिंग ऐप का इस्तेमाल करने वाले लोग दिन में कई घंटे सिर्फ उन पर ही बिता रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक डेटिंग ऐप पर एक व्यक्ति सामान्यतः 24 घंटे में से 90 मिनट गुजारता है। जिसमें से महिलाएं हर सेशन में 8 मिनट और पुरुष 7 मिनट का समय बिताते हैं।
  • डेटिंग ऐप या फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि पर वीडियो कॉलिंग के दौरान अपने लुक्स को लेकर लोग काफी तनाव में रहते हैं। वे खुद को अपने डेटिंग पार्टनर के सामने अच्छा दिखाने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही शुरुआत में डेटिंग एंग्जायटी से भी गुजरते हैं
  • डेटिंग ऐप या सोशल मीडिया पर कौन अपने बारे में कितना सच बता रहा कितना झूठ इस बात का आंकलन आप नहीं लगा पाते हैं। जिससे ये डर भी होता है कि आप जिसे डेट कर रहे हैं, वह आपके लिए ठीक है या नहीं।
  • डेटिंग ऐप से कई बार धोखाधड़ी के मामले भी सामने आ चुके हैं। जिसमें लोग पैसों के लेनदेन के बाद बात करना बंद कर देते हैं।
  • डेटिंग ऐप के कारण ही कई तरह के साइबर क्राइम में भी वृद्धि हुई है।
  • डेटिंग ऐप में अगर एक डेटिंग पार्टनर कैजुअल डेटिंग कर रहा है और दूसरा पार्टनर सीरियस है तो इससे इमोशनल हर्ट होने जैसी समस्याएं भी होती हैं।
  • डेटिंग ऐप पर आजकल वीडियो कॉल के द्वारा वर्चुअल सेक्स को पसंद किया जा रहा है। जिसमें लोग वीडियो कॉल पर सेक्स संबंधी बातें करते हैं। जिसमें हस्तमैथुन या सेक्स टॉय का इस्तेमाल करना भी शामिल है। अगर कोई हस्तमैथुन या सेक्स टॉय का इस्तेमाल करता है और साफ-सफाई का ध्यान नहीं देता इससे इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें : जरा संभलकर! कुछ इस तरह की फोटो से डेटिंग ऐप पर मिल सकता है रिजेक्शन!

सेक्स के फायदे क्या हैं? (Sex Benefits)

  • आमतौर पर हर शख्स हेल्दी सेक्स लाइफ की लालसा रखता है। विशेषज्ञ मानते हैं कि ‘सेक्स करने से ही सेक्स बेहतर होता है और आपके लिबिडो में सुधार होगा’। सेक्स करने से महिलाओं को वजायनल ल्यूब्रिकेशन (Vaginal lubrication) का स्तर बढ़ता है, जो सेक्स को और बेहतर बनाता हैं। इससे आपकी सेक्स करने की इच्छा(Libido) और भी बढ़ती है।
  • सेक्स के दौरान आपकी बॉडी ऑक्सीटॉक्सीन (oxytocin) रिलीज करती है। इसे ‘लव हॉर्मोन’ भी कहा जाता है। इसके अलावा ऑर्गैज्म के दौरान एंर्डोफिन भी रिलीज होते हैं। इसके कारण इंसान को बेहतर नींद आती है।
  • एक अन्य स्टडी में पाया गया कि सेक्शुअल एक्टिविटीज के कारण लोगों को माइग्रेन और अन्य सिरदर्द में राहत दे सकता है।

सेक्स और डेटिंग के फायदे क्या हैं? (Sex And Dating Benefits)

संतुष्टि

अगर आप किसी के साथ सेक्स और डेटिंग यानी कि अपने डेटिंग पार्टनर के साथ सेक्स कर रहे हैं तो आपकी कामेच्छा पूरी होती है। जिससे आप खुद को शांत और संतुष्ट महसूस करते हैं।

रिश्तों में आती है गहराई

ऐसा माना जाता है कि साथी के साथ सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ जाता है। इससे न सिर्फ शारीरिक, बल्कि मानसिक अटैचमैंट भी बढ़ जाता है। फील गुड हॉर्मोन सेरोटोनिन का स्‍तर बढ़ाने का काम करता है। यह मस्तिष्क द्वारा रिलीज होने वाला एक कैमिकल होता है। जब भी कोई अपने साथी के साथ शारीरिक संबंध बनाता है, तो मस्तिष्क में सेरोटोनिन हॉर्मोन रिलीज होता है, जो हमारे मूड के साथ-साथ भूख, नींद, सीखने की क्षमता और याद्दाश्त संबंधी कार्यों की क्षमता को भी नियंत्रित करता है। इसकी वजह से सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ने लगता है।

सेक्स से बढ़ता प्यार (Benefits OF Sex)

बता दें कि कुछ लोग बार-बार एक नए रिश्ते में आ जाते हैं, जिसके पीछे का कारण प्यार हो सकता है। दरअसल, जब तक साथी के साथ प्यार का अनुभव नहीं होता है, तब तक लोग नए साथी की तलाश जारी रखते हैं। अगर आपको ऐसा लगे कि सेक्स और डेटिंग के बाद आपकी महिला साथी आपसे ज्यादा प्यार करने लगी है, तो समझ जाएं कि ऐसा ऑक्सिटोसिन की वजह से हो रहा है।

यह भी पढ़ेंः ब्रेकअप: जानें कब किस रिश्ते को कह देना चाहिए अलविदा!

सेक्स और डेटिंग के नुकसान क्या हैं? (Demerits Of Sex And Dating)

सेक्स और डेटिंग के निम्न नुकसान हैं :

इंटरेस्ट खत्म होना

अक्सर ऐसा देखा गया है कि सेक्स और डेटिंग करने वाले लोग पहले या दूसरे डेट पर ही सेक्स करना चाहते हैं। अगर वह अपने डेटिंग पार्टनर के साथ सेक्स कर भी लें तो उसके बाद उनका इंटरेस्ट खत्म हो जाता है। जिससे दूसरा व्यक्ति इमोशनली हर्ट हो सकता है।

वन नाइट स्टैंड (One Night Stand) से हो सकता है ब्रोकन हार्ट

कई बार लोग डेटिंग का इस्तेमाल सिर्फ सेक्स करने के लिए करते हैं। ऐसे में अगर फर्स्ट डेट पर ही सेक्स कर लिया जाए और अगर वह दोनों के लिए आखिरी मीटिंग साबित हो तो इस तरह के मामलों में देखा गया है कि अक्सर लड़कियों का दिल टूटता है। क्योंकि जब वो किसी के साथ फिजिकली इन्वॉल्व होती हैं तो पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा लव हॉर्मोन (ऑक्सीटोसिन) स्रावित होता है। इससे उनका दिल टूट सकता है।

लड़कियों को शिकार बनाना होता है मकसद

कुछ मामलों में देखा गया है कि लड़का डेटिंग ऐप का इस्तेमाल करके पहले लड़की से मिलते हैं फिर रेप करते हैं। जैसा कि सभी को पता है कि रेप एक अपराध है, लेकिन उस लड़के का मकसद सिर्फ लड़की को अपना शिकार बनाना होता है। वहीं, कुछ मामलों में उल्टा भी देखा गया है कि सेक्स दोनों पार्टनर की रजामंदी से होता है, फिर बाद में किसी बात की अनबन होने पर लड़की अपने डेटिंग पार्टनर पर रेप का आरोप लगा देती है। दोनों ही मामले में व्यक्ति आर्थिक, मानसिक और शारीरिक रूप से आहत होता है।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और सेक्स और डेटिंग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x