home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

महिलाओं को ऑर्गेज्म न होने के मुख्य कारण क्या है?

महिलाओं को ऑर्गेज्म न होने के मुख्य कारण क्या है?

यह बहुत ही दुखद किंतु सत्य है कि महिलाओं को ऑर्गेज्म का अनुभव कर पाना वास्तव में बहुत कठिन है यानी महिलाओं को चरम सुख नहीं मिल पाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार केवल 10 फीसदी महिलाएं ही आसानी से एक ऑर्गेज्म का सुख (चरम सुख) प्राप्त कर पाती हैं। अन्य 90 फीसदी महिलओं को बहुत सारे बाहरी कारणों की वजह से ऑर्गेज्म का सुख भोगने में कठिनाई होती है। तो आज हम आपको कुछ मुख्य कारण बताने जा रहे हैं जिनकी वजह से महिलाओं को ऑर्गेज्म (Organism) का सुख नहीं मिल पाता है।

और पढ़ें : सेक्स के दौरान पूप: जानिए क्यों होता है ऐसा और इससे कैसे बचें

महिलाओं को ऑर्गेज्म की जरूरत क्यों होती है?

Female orgasm- महिलाओं को ऑर्गेज्म

एक तरह से देखा जाए, तो महिलाओं को ऑर्गेज्म प्राप्त करना कितना जरूरी हो सकता है। इस बारे में शायद ही विचार किया जाता हो। सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म प्राप्त करने का उद्देश्य सिर्फ पुरुष साथी से ही जुड़ा माना जाता है। इसके अलावा, पुरुष साथी के ऑर्गेज्म प्राप्त करने के बाद ही महिला गर्भवती हो सकती है। हालांकि महिलाओं का ऑर्गेज्म (Female orgasm) सेक्स के दौरान या गर्भावस्था (Sex during pregnancy) के लिए कितना अहम हो सकता है, इस पर अभी भी उचित जानकारी की आवश्यकता है। इस तरह से देखा जाए, तो महिलाओं को ऑर्गेज्म सिर्फ उनके शारीरिक आनंद प्राप्त करने का ही उद्देश्य के लिए ही हो सकता है।

महिलाओं को ऑर्गेज्म पर रिपोर्ट

साल 2016 के एक अध्ययन के दावों के अनुसार, महिला संभोग सुख का कोई स्पष्ट विकासवादी लाभ नहीं हो सकता है। हालांकि, यह महिलाओं के शरीर के हॉर्मोन बैलेंस में एक बड़ी भूमिका निभा सकता है। जो हर महिला के लिए मानसिक और शारीरिक दोनों ही तरह से लाभकारी साबित हो सकता है। इसके अलावा, महिलाओं में ऑर्गेज्म (Female orgasm) की प्राप्ति उनके मन में सेक्स की इच्छा को अधिक बढ़ा सकती है, जो दोनों ही साथी के लिए लाभकारी हो सकती है और उनके शारीरिक संबंधों के साथ ही मानिसक संबंधों को भी मजबूत बनाने में भी अहम भूमिका निभा सकती है। वहीं, इसका दूसरा फायदा यह भी देखा गया कि, जिन महिलाओं को ऑर्गेज्म की प्राप्ति होती है, वे तनाव जैसी स्थितियों से उबरने में ऑर्गेज्म प्राप्त न करने वाली महिलाओं के मुकाबले कम समय ले सकती हैं।

और पढ़ें : सेक्स से लगता है डर? हो सकता है जेनोफोबिया

महिलाओं में ऑर्गेज्म के फायदे क्या हैं? (Benefits of Organism in female)

महिलाओं में ऑर्गेज्म के निम्न फायदे हैं, जिनमें शामिल हैंः

जननांगों में रक्त का प्रवाह बढ़ाना

सेक्स के दौरान चरम सुख पाने से महिलाओं के जननांगों में रक्त का प्रवाह बढ़ा जाता है, जिससे वे अधिक संवेदनशील हो जाते हैं। जो सेक्स के अनुभव को बढ़ाने और सेक्स के समय को भी बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। जैसे-जैसे योनि की उत्तेजना बढ़ती है, वैसे ही हृदय की गति, रक्तचाप और श्वास दर भी बढ़ सकता है, जो शरीर में खून के प्रवाह और ऑक्सिजन (Oxygen) के प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। वहीं, कुछ महिलाओं में जैसे ही ऑर्गेज्म नजदीक आता है। मांसपेशियों में मरोड़ या ऐंठन का अनुभव भी हो सकता है।

तनाव कम होता है

महिलाओं में ऑर्गेज्म की प्राप्ति उनके मानसिक तनाव को काफी हद तक कम कर सकता है। तनाव (Tension) के कारण, अक्सर महिलाएं पुरुष साथी के साथ सेक्स सिर्फ अपने रिश्ते के चलते या पुरुष साथी के भावनाओं का मान रखने के लिए ही कर सकती हैं। लेकिन, अगर सेक्स के दौरान महिलाओं में ऑर्गेज्म की प्राप्ति होती है, तो चरम सुख पाने के लिए भी उसके मन में सेक्स की जिज्ञासा अधिक बढ़ सकती है।

और पढ़ें : क्या हिस्टेरेक्टॉमी (Hysterectomy) सर्जरी के बाद भी सेक्स लाइफ रहेगी हिट?

महिलाओं को ऑर्गेज्म न होने के मुख्य कारण क्या है?

महिलाओं को ऑर्गेज्म न होने के कई मुख्य कारण हो सकते हैं, जिसमें शामिल हैंः

ऑक्सिटोसिन (Oxytocin) की कमी

ऑक्सीटोसिन को आमतौर पर “लव” हार्मोन के नाम से भी जाना जाता है। ऑर्गेज्म यानी चरम सुख के लिए शरीर में इस हार्मोन का रिलीज होना बहुत जरूरी है। कई यौन रोग विशेषज्ञों के अनुसार यदि आपका शरीर इसका पर्याप्त उत्पादन नहीं कर रहा है, तो आपको ऑर्गेज्म तक पहुंचने में मुश्किल हो सकती है। ज्यादा तनाव होने की वजह से भी ऑक्सिटोसिन (Oxytocin) का उत्पादन कम हो सकता है। यही कारण भी हो सकता है कि महिलाओं को ऑर्गेज्म का अनुभव बहुत कम होता है।

दवाओं का सेवन रोक सकता है महिलाओं को ऑर्गेज्म तक पहुंचने में

कई यौन रोग विशेषज्ञ ऐसा मानते हैं कि ऐसी कई दवाएं हैं जिनके सेवन से आपको कुछ साइड इफ़ेक्ट्स का सामना करना पड़ता है। इन दवाओं के सेवन से आपके शरीर में प्रोलैक्टिन (Prolactin) के स्तर में बढ़ोतरी होती है। यह एक ऐसा प्रोटीन जो आपकी सेक्स ड्राइव (Sex drive) को कम करता है और ऑर्गेज्म तक पहुंचने से रोकता है। आमतौर पर, ब्लड प्रेशर (Blood pressure) की दवाएं, गर्भ निरोधक गोलियां (Contraceptive pills) और एंटीडिप्रेसेंट (Antidepressant) की गोलियां मुख्य रूप से इस समस्या का कारण है।

शरीर में पानी की कमी

पूरे दिन सही मात्रा में पानी पीने से थकान और कब्ज (Constipation) जैसी रोजमर्रा की स्वास्थ्य समस्याओं से तो बचा ही जा सकता है, बल्कि ये आपके यौन जीवन से गायब ऑर्गेज्म को भी वापस लाने में में भी मदद कर सकता है।

कभी नहीं किया मास्टरबेशन तो हो सकती है दिक्कत

अपने साथी के साथ ऑर्गेज्म के सुख को प्राप्त करना इस बात पर निर्भर करता है कि आपने स्वयं को हस्तमैथुन (Masterbetion) द्वारा कितनी बार संतुष्ट किया है। यदि आपने बार-बार हस्तमैथुन द्वारा ऑर्गेज्म का आनंद लिया है, तो यह आपके साथी के साथ सेक्स (Sex) के अंत में ऑर्गेज्म मिलने की संभावना को सीधे प्रभावित करता है। हस्तमैथुन के दौरान आप अपनी कल्पना का उपयोग कर मानसिक अवरोधों को खत्म कर ऑर्गेज्म का सुख पाने में सफल होती हैं। इस प्रकार आपको अपने शरीर के उन हिस्सों के बारे में भी पता चलता है जहां स्पर्श करने से आप उत्तेजित होती हैं। सेक्स के दौरान इन अनुभवों का बहुत लाभ मिलता है।

और पढ़ें : जानें क्यों महिलाओं में होती है कम सेक्स ड्राइव की समस्या?

क्या आप सेक्स से पहले पेशाब करती हैं?

हर कोई यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) को रोकने के लिए सेक्स के ठीक बाद पेशाब करते हैं, लेकिन इससे भी स्मार्ट उपाय यह है कि आप सेक्स के पहले भी पेशाब करें। इसके पीछे का कारण सरल है, गॉल ब्लैडर (Gallbladder) भरे होने की वजह से आपका ध्यान सेक्स की बजाय पेशाब करने के लिए बन रहे दबाव को महसूस करने में रहता है। जिस वजह से आप कभी भावनात्मक रूप से सेक्स के हिस्सा बन ही नहीं पाते और ऑर्गेज्म तक नहीं पहुंच पाते।

यह कुछ सामान्य कारण हैं, जिनकी वजह से महिलाओं को ऑर्गेज्म प्राप्त करने में दिक्कत होती है। अगर इसके अलावा भी आपको कोई लक्षण या संदेह लगता है तो तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Female Sexual Arousal: Genital Anatomy and Orgasm in Intercourse. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3894744/#:~:text=Although%20approximately%2090%25%20of%20women,orgasm%20solely%20from%20sexual%20intercourse. Accessed On 22 September, 2020.

Difficulty reaching female orgasm. https://www.healthdirect.gov.au/difficulty-reaching-female-orgasm. Accessed On 22 September, 2020.

Orgasmic dysfunction in women. https://medlineplus.gov/ency/article/001953.htm. Accessed On 22 September, 2020.

Orgasm. https://www.getthefacts.health.wa.gov.au/sex/orgasm. Accessed On 22 September, 2020.

Female Orgasmic Disorder (FOD) and Wellbutrin XL. https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT00248209. Accessed On 22 September, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x