आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

सेक्स के दौरान पूप: जानिए क्यों होता है ऐसा और इससे कैसे बचें

    सेक्स के दौरान पूप: जानिए क्यों होता है ऐसा और इससे कैसे बचें

    सेक्स के दौरान पूप ये पढ़कर या सुनकर आपको भले ही अजीब लगे, लेकिन यह इतना भी विचित्र नहीं है। कई लोग इस परेशानी का अनुभव करते हैं। अच्छी बात ये है कि कुछ चीजाें को मैनेज करके इसके रिस्क को कम किया जा सकता है। एक स्टडी के अनुसार 23 प्रतिशत महिलाएं जिन्होंने फीकल इनकॉटिनेंस (fecal incontinence) का अनुभव किया था उनकी सेक्स डिजायर लो थी साथ ही उन्हें सेक्शुअल एक्टिविटीज में संतुष्टि नहीं थी और उन्हें वजायनल लुब्रिकेशन और ऑर्गेज्म प्राप्त करने के लिए भी संघर्ष करना पड़ा था।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    सेक्स के दौरान पूप के क्या कारण हैं?

    सामान्यत: पूपिंग एनल सेक्स के दौरान होती है, लेकिन ये वजायनल पेनिट्रेशन या स्ट्रॉन्ग ऑर्गेज्म के दौरान भी हो सकती है। इसके कुछ और कारण भी हैं। जानते हैं इनके बारे में।

    और पढ़ें: ये 7 आरामदायक सेक्स पोजीशन (पुजिशन) जिसे महिलाएं करती हैं पसंद

    सेक्स पॉजिशन

    सेक्स के दौरान आपकी पॉजिशन एब्डोमिन पर प्रेशर डाल सकती है जिसकी वजह से लोअर इंटेस्टाइन और रेक्टम पर प्रेशर पड़ता है। जो कभी-कभी सेक्स के दौरान पूप का कारण बन सकता है। इसका मतलब ऐसा नहीं है कि आपको हमेशा टॉयलेट जाना होगा, लेकिन आपको ऐसा महसूस जरूर होगा कि जाने की आवश्यकता है। इसके साथ ही अगर सेक्स की शुरुआत के पहले अगर आपको बाथरूम जाने का मौका नहीं मिला था तो सेक्स के दौरान एक्सीडेंटली पूपिंग हो सकती है। वो भी तब जब आप रिलैक्स महसूस कर रहे हों और एंजॉय कर रहे हो।

    और पढ़ें: आखिर जी स्पॉट है क्या? इससे कैसे मिल सकता है ऑर्गेज्म का प्लेजर

    ऑर्गेज्म

    आपने अक्सर सुना होगा कि चाइल्ड बर्थ के दौरान महिलाओं का स्टूल पास हो जाता है। ऐसा ही वजायनल सेक्स के दौरान भी होता है जब इंटेंस ऑर्गेज्म की अनूभूति होती है। क्योंकि ऑर्गेज्म गर्भाशय के संकुचन का कारण बनता है यही लेबर के दौरान भी होता है पूप स्लिप आउट होने का कारण बनता है।

    जब आप ऑर्गेज्म फील करते हैं, तो प्रोस्टाग्लैंडिंस नामक हॉर्मोन यौगिक जारी होते हैं। ये आपके गर्भाशय को सिकुड़ने का कारण बनते हैं, साथ ही चिकनाई में मदद करने के लिए आपके लोअर पेल्विस में रक्त के प्रवाह को बढ़ाते हैं। यह एक्सट्रा लूब्रिकेशन कई बार पूप और पी को होल्ड नहीं कर पाता और यह सेक्स के दौरान पूप का कारण बन जाता है।

    और पढ़ें: Anal Sex: एनल सेक्स से जुड़े मिथक और उनके पीछे का सच

    एनल सेक्स

    एनल सेक्स के दौरान पूप की इच्छा महसूस हो सकती है। साथ ही एनल सेक्स के दौरान पूपिंग भी हो सकती है क्योंकि बॉडी के इस पार्ट में बहुत सारी नर्व एंडिंग हैं। जब आपका इंटरनल एनल स्पिंगटर रिलैक्स होता है ऐसा फील होता है कि आप पूप करने वाले हैं। साथ ही जब आप किसी एनल सेक्स में इनवॉल्व होते हैं तो कामोत्तेजना एनल टिशूज के बीच ब्लड फ्लो को बढ़ा देती है। जिससे एनल कैनाल में नमी आ जाती है जिससे पूप बाहर आ सकता है।

    इस स्थिति में भी हो सकती है ये परेशानी

    नर्व डैमेज और एनल स्फिंगटर में इंजरी के कारण भी सेक्स के दौरान पूपिंग हो सकती है। इस प्रकार की इंजरी से लगातार होने वाला कब्ज, चाइल्ड बर्थ के दौरान या सेक्शुअल एसॉल्ट की वजह से हो सकती हैं। हेमरॉइड्स भी एनल लीकेज का कारण बन सकते हैं।

    और पढ़ें: जानिए, बेहतर सेक्स के लिए क्या खाएं और क्या नहीं?

    डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

    अगर यह एक बार हुआ है स्पेशली स्ट्रॉन्ग ऑर्गेज्म फील करने के बाद तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, लेकिन अगर ऐसा बार-बार हो रहा है और आप इसको लेकर चिंतिंत है तो अच्छा होगा कि डॉक्टर या किसी प्रोफेशनल से बात करें। वे आपकी ये जानने में मदद करेंगे कि क्या इसके पीछे कोई कारण जिम्मेदार हैं? साथ ही वे आगे क्या करना चाहिए ये भी गाइड करेंगे।

    सेक्स के दौरान पूपिंग से कैसे बच सकते हैं?

    इसके लिए सबसे आसान उपाय है जिससे आप इस कंडिशन से बच सकते हैं इसके लिए किसी भी सेक्शुअल एक्टिविटी में बिजी होने से पहले टॉयलेट जाकर बॉवेल को क्लीन कर लें। जितना कम वेस्ट मटेरियल आपके कोलन में होगा उतना ही कम सेक्स के दौरान इसके बाहर आने की संभावना होगी।

    इसके साथ ही आपको एक हेल्दी बॉवेल रूटीन फॉलो करने की जरूरत है जिसके लिए फाइबर रिच फूड्स का सेवन करें और एक्सरसाइज करें। अगर एनल सेक्स के दौरान पूपिंग को लेकर चिंतिंत है तो आप इसके पहले एनिमा का उपयोग भी कर सकते हैं, लेकिन इसका उपयोग करने से पहले डॉक्टर या फर्मासिस्ट से सलाह जरूर लें।

    अगर सेक्स के दौरान ऐसा हो तो क्या करें?

    अगर आपके या आपको पार्टनर के साथ ऐसा कोई एक्सपीरियंस होता है तो पैनिक न हो और बुरा बिहेव न करें। हो सकता है कि वह किसी मेडिकल कंडिशन से जूझ रहा हो इसलिए उसकी बात को सुनें और समझें। अगली बार इस सिचुएशन से बचने के लिए प्लान और पॉजिशन के बारे में बात करें।

    इसके साथ ही सेक्स के दौरान हमेशा कुछ सेक्शुअल हाइजीन को फॉलो करना चाहिए। जानते हैं उनके बारे में।

    और पढ़ें: सेक्स हाइजीन टिप्स : यौन संबंध बनाने से पहले और बाद में जरूर करें इन नियमों का पालन

    सेक्स के दौरान कुछ हाइजीन टिप्स को जरूर फॉलो करें

    • महिलाओं को यीस्ट इंफेक्शन आदि से बचाव के लिए अपने जेनेटाइल्स को वाॅश करना जरूरी है। वजायना से एनस तक कीटाणुओं के ट्रांसफर को रोकने के लिए दोनों पार्ट्स को क्लीन करने की सिफारिश की जाती है।
    • साथ ही पुरुषों को पेनिस को गुनगुने पानी से धोने की सलाह दी जाती है।
    • दोनों पार्टनर को सेक्स के बाद और उसके पहले हाथ और नेल्स को धोना चाहिए ताकि जर्म और बैक्टीरिया ट्रांसफर न हों।
    • गर्मियों और नमी के दौरान प्राइवेट पार्ट्स को ट्रिम करना जरूरी है क्योंकि पसीने से फोड़े या स्किन प्रॉब्लम्स हो सकती हैं।
    • पीरियड्स के शुरुआती दो दिन सेक्स करने से बचना चाहिए।
    • ओरल सेक्स से बचें यदि आपके साथी को मुंह या जेनेटाइल पार्ट में कोई घाव हो क्योंकि यह आप तक ट्रांसफर हो सकता है।
    • सेक्स के बाद बेडशीट को बदल देना चाहिए।
    • किसी प्रकार के लूब्रिकेंट का उपयोग कर रहे हैं तो उसको अप्लाई करने के बाद हाथों को साफ करना चाहिए।

    उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और सेक्स के दौरान पूप से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

     

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    सायकल की लेंथ

    (दिन)

    28

    ऑब्जेक्टिव्स

    (दिन)

    7

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    https://www.nwhn.org/how-do-i-practice-good-post-sex-hygiene/Why do I feel like I have to go to the bathroom when I have sex?/https://goaskalice.columbia.edu/answered-questions/why-do-i-feel-i-have-go-bathroom-when-i-have-sex/Accessed on 15th September 2020

    How Do I Practice Good Post-Sex Hygiene?/https://www.nwhn.org/how-do-i-practice-good-post-sex-hygiene/Accessed on 15th September 2020

    What is fecal incontinence?
    https://familydoctor.org/condition/fecal-incontinence/Accessed on 15th September 2020

    Accidental Bowel Leakage/
    https://www.acog.org/patient-resources/faqs/gynecologic-problems/accidental-bowel-leakage/Accessed on 15th September 2020

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/09/2020 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: