home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के कारण और उनसे राहत पाने के उपाय

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के कारण और उनसे राहत पाने के उपाय

सेक्स के कई शारीरिक और मानसिक लाभ हैं। इससे न केवल तनाव दूर होता है बल्कि मूड भी अच्छा रहता है। लेकिन,सेक्स के दौरान या इसके बाद दर्द और ऐंठन होना महिलाओं में सामान्य है। सर्वे के अनुसार लगभग 75% महिलाएं जिंदगी में कभी न कभी इस समस्या को महसूस करती हैं। इसका परिणाम यह होता है कि इस ऐंठन के कारण महिलाएं सेक्स करने से घबराती या नजरअंदाज करती हैं। सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के कई कारण हैं। जानिए कौन-कौन से हैं यह कारण और कैसे इन्हें दूर किया जा सकता है।

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के कारण

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं:

वैजिनिस्मस (Vaginismus)

वैजिनिस्मस एक ऐसी स्थिति है जिसमें योनि की मांसपेशिओं में ऐंठन होती है। इसका मुख्य कारण है चोट लगना। इसलिए जब संभोग की कोशिश की जाती है, तो वैजिनिस्मस के कारण दर्द हो सकती है। विभिन्न तरह की थेरेपीस से इस समस्या का इलाज किया जाता है।

और पढ़ें:Quiz : चरमसुख यानी ऑर्गेज्म के बारे में जानिए क्विज से

वजाइनल इंफेक्शंस

वजाइनल इंफेक्शंस बहुत ही सामान्य है, जिसमें यीस्ट इंफेक्शन भी शामिल है। बैक्टीरियल, यीस्ट, या यौन संचारित संक्रमण से सेक्स के बाद या दौरान दर्द या ऐंठन हो सकती है। आमतौर पर इसके अन्य लक्षण भी हो सकते हैं, जैसे डिस्चार्ज।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

ग्रीवा (cervix ) की समस्याएं

जब लिंग पेनिट्रेट करता है तो वो ग्रीवा (cervix) तक पहुंचता है। इसलिए, अधिक पेनिट्रेशन के कारण वो ग्रीवा की समस्या या दर्द का कारण बन सकता है।

गर्भाशय की समस्याएं

गर्भाशय की समस्याओं में फाइब्रॉएड शामिल हैं जो डीप संभोग के कारण दर्द का वजह बन सकते हैं

एंडोमेट्रियोसिस

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन का एक कारण है एंडोमेट्रियोसिस। एंडोमेट्रियोसिस वो स्थिति है जब एंडोमेट्रियोसिस गर्भाशय के बाहर विकसित होता है। एंडोमेट्रियोसिस अक्सर इस परेशानी का कारण बन सकती है। एंडोमेट्रियोसिस गर्भाशय के टिश्यू हैं। जिन महिलाओं को यह समस्या होती है वो मासिक धर्म में भी परेशानी महसूस कर सकती हैं।

अंडाशय की समस्याएं

ऐसी समस्याओं में ओवेरियन सिस्ट शामिल हो सकते हैं जो सेक्स के दौरान या बाद में दर्द और ऐंठन का कारण बन सकते हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज

इस समस्या में अंदर के टिशूज बुरी तरह से फूल जाते हैं, और इससे संभोग के दबाव के कारण गहरा दर्द होता है।

एक्टोपिक प्रेग्नेंसी

यह एक ऐसी गर्भावस्था है जब फर्टिलाइज्ड अंडाणु गर्भाशय से बाहर कहीं विकसित होते हैं। यह भी सेक्स के दौरान या बाद में दर्द और ऐंठन का कारण बनता है।

सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शंस (STIs)

सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शंस में गुप्तांगों में मस्से, दाद, घाव या अन्य बीमारियां हो सकती हैं जो इस समस्या का कारण बन सकती हैं।

घाव या चोट

अगर योनि या योनि के आसपास आपको कोई घाव या चोट लगी हो तो भी सेक्स के दौरान या बाद में दर्द हो सकती है। यह घाव या चोट प्रसव के दौरान लग सकती हैं या इनके अन्य कारण भी हो सकते हैं।

और पढ़ें:पीरियड सेक्स- क्या सेक्स के लिए सुरक्षित अवधि है?

चिंता या तनाव

अगर आपके दिमाग में कोई डर, चिंता , शर्मिंदगी या परेशानी हो, तो आपको सेक्स के दौरान या बाद में दर्द हो सकती है। जब आपका दिमाग शांत न हो तो इसका परिणाम दर्द और ऐंठन हो सकता है। इसके साथ ही तनाव और थकावट सेक्स की इच्छा पर अपना प्रभाव डाल सकती है।

पार्टनर के साथ अच्छे संबंध न होना

अपने पार्टनर के साथ आपकी कोई समस्या या रिश्ते में तनाव भी सेक्स के दौरान या बाद और ऐंठन का एक कारण हो सकता है।

दवाईयाँ

कुछ दवाईयाँ आपकी सेक्सुअल इच्छाओं को कम कर सकती हैं। इसमें बर्थ कंट्रोल पिल्स भी शामिल हैं। इसके साथ ही दर्द कम वाली दवाईयाँ भी इन इच्छाओं को कम कर सकती है। मेडिकल और सर्जिकल स्थितियां भी इसे प्रभावित कर सकती हैं जैसे डायबिटीज ,कैंसर, थायराइड आदि। इनसे भी आपको सेक्स के दौरान परेशानियां हो सकती हैं।

पार्टनर को सेक्सुअल समस्या

अगर आपके पार्टनर को सेक्सुअल समस्या है, तो आपको सेक्स को लेकर चिंता हो सकती है। अगर आपके पार्टनर इरेक्टाइल डिसफंक्शन की दवाई ले रहा है तो उसे ऑर्गैज्म में देरी हो सकती है। जिससे संभोग दर्द भरा हो सकता है।

अन्य कारण

  • प्रसव या सर्जरी के बाद सेक्स करने से भी यह समस्या हो सकती है।
  • अगर आपको कोई त्वचा सम्बन्धी विकार हो जो आपके गुप्तांगों को प्रभावित करेगी।
  • रजोनिवृति यानि मेनोपॉज के बाद भी महिलाएं सेक्स के दौरान या बाद में दर्द महसूस कर सकती हैं।
  • खराब रूप से फिट डायाफ्राम या सर्वाइकल कैप भी इस समस्या का कारण हो सकती हैं। ये जन्म नियंत्रण की विधियां हैं।

और पढ़ें:महिलाओं के लिए सेक्स वियाग्रा के उपयोग और साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

अगर शारीरिक संबंध दौरान या बाद में ऐंठन हो तो क्या करें

लुब्रीकेंट का प्रयोग करें

अगर आपको योनि में जलन या संवेनशीलता महसूस हो रही है तो पानी में घुलने वाले लुब्रीकेंट का प्रयोग कर सकते हैं। सिलिकॉन वाले लुब्रीकेंट एक अच्छा विकल्प है। लेकिन, कंडोम के साथ पेट्रोलियम जेली, बेबी ऑयल आदि का प्रयोग न करें।

संभोग के लिए सही समय

सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन को दूर करने के हो सेक्स के लिया सही समय निर्धारित करें। सेक्स के लिए ऐसा समय निकालें जब आप और आपका पार्टनर थका हुआ या तनाव में न हो। इसके साथ ही अपने पार्टनर के साथ बात करें कि आपको कब और कहां ऐंठन हो रही है। इसके साथ ही जो शारीरिक गतिविधियां आपको आनंद देती हैं उन्हें भी शेयर करें।

यौन गतिविधियां

सेक्स के दौरान या बाद में इन परेशानियों से बचने के लिए ,ऐसी यौन गतिविधियां करें जिनमें आपको दर्द न हो जैसे अगर संभोग में आपको दर्द हो रहा हो तो आप और आपके पार्टनर ओरल सेक्स या मास्टरबेशन आदि का सहारा ले सकते हैं।

और पढ़ें:सेक्स पावर है बढ़ाना तो यह सेक्स वर्कआउट जरूर अपनाएं

डॉक्टर की सलाह लें

तनाव, चिंता या अवसाद की स्थिति में भी यह समस्या हो सकती है या अगर आप कोई दवाई ले रहे हैं तो आप इस समस्या का शिकार हो सकते हैं इससे बचने के लिए अपने डॉक्टर की सलाह लें।

अन्य उपाय

  • सेक्स से पहले कुछ आसान तरीके अपनाएं जैसे अपने ब्लैडर को खाली करें, गर्म पानी से नहाएं और सम्भोग से पहले दर्द दूर करने वाली दवाईयां लें।
  • सेक्स के दौरान या बाद में दर्द और ऐंठन से छुटकारा पाने के लिए कपड़े में बर्फ या फ्रोजेन जेल पैक का प्रयोग योनि पर करें।

अगर सम्भोग (शारीरिक संबंध) के दौरान या बाद में आपको कोई भी परेशानी होती है और इस समस्या के कारण आप या तो सेक्स को नजरअंदाज कर रहे हैं या नहीं करना चाहते हैं तो डॉक्टर की सलाह लें। क्योंकि डॉक्टर आपकी शारीरिक जांच कर के इस समस्या का सही निदान कर सकते हैं। ताकि, आप इस समस्या से छुटकारा पाएं और सामान्य रूप से संभोग का मजा ले सके।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड