home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सेक्स पावर है बढ़ाना तो यह सेक्स वर्कआउट जरूर अपनाएं

सेक्स पावर है बढ़ाना तो यह सेक्स वर्कआउट जरूर अपनाएं

सेक्स जरूर अपने आप में एक प्रकार का वर्कआउट है। एक छोटे से अध्ययन में पाया गया कि सेक्स वर्कआउट से पुरुष प्रति मिनट लगभग 4.2 कैलोरी बर्न करते हैं। वहीं, महिलाएं सेक्स के दौरान हर मिनट 3.1 कैलोरी बर्न करती हैं, लेकिन लगभग 20 मिनट तक चलने वाले सेक्स सेशन के लिए वास्तव में यह कोई अच्छा सॉल्यूशन नहीं है। एक स्टडी से पता चला है कि ट्रेडमिल पर 30 मिनट में पुरुषों की 276 कैलोरी और महिलाओं की 213 कैलोरी बर्न होती है,लेकिन, गुड सेक्स के लिए, साइंस की मानें तो जिम में कैलोरी बर्न करना ज्यादा अच्छा रहता है।

आपने सुना ही होगा कि वर्कआउट करने से सेक्स ड्राइव में लाभ होता है। कामोत्तेजित महसूस करने के लिए, आपका शरीर उसी तरह के फंक्शन्स को एंगेज करता है जैसे आप एक्सरसाइज करते समय करते हैं। जब आप सेक्शुअल इंटरकोर्स (Sexual Intercourse) के दौरान पसीने से तर हो जाते हैं, तो आपका शरीर अपनी हृदय गति, ब्लड प्रेशर, ब्लड फ्लो, श्वसन दर (Respiratory Rate) और मांसपेशियों को उस ही तरह संलग्न एंगेज है। यह ठीक वैसे ही काम करता है जैसे किसी जिम सेशन के दौरान होता है। वर्क आउट करने से शरीर में जागरूकता भी बढ़ती है, जो शोध से पता चलता है कि शारीरिक संवेदनाओं (Body Sensations) को बढ़ा सकते हैं।

सेक्स वर्कआउट (Sex Workout) में पेल्विक फ्लोर मसल्स हैं अहम

एक अध्ययन में पाया गया है कि बच्चे के जन्म के बाद भी आठ सप्ताह तक लगातार की गई पेल्विक मसल्स एक्सरसाइज से पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियां में ताकत और यौन आत्मनिर्भरता बढ़ सकती है। स्टडी यह भी बताती है कि प्रसव के बाद महिला में सेक्शुअल इमोशनल रिएक्शंस की क्षमता में बढ़ोत्तरी होती है।

और पढ़ें : पार्टनर से सेक्स टॉक क्यों जरूरी है?

सेक्स वर्कआउट कैसे करें? (Tips For Sex Workout)

विज्ञान को ध्यान में रखते हुए, यहां बेहतर सेक्स वर्कआउट के लिए महत्वपूर्ण मांसपेशियों को ध्यान में रखते हुए एक कसरत तैयार की गई है। यह वास्तव में फील-गुड एंडोर्फिन का लाभ उठाने का समय है जो कि एक कसरत के जरिए आपको मिल सकता है। इसके लिए 20-30 मिनट के लिए एक टाइमर सेट करें और जब तक कि टाइमर बंद न हो जाए इस सेक्स वर्कआउट रूटीन को दोहराएं।000

बेहतर सेक्स वर्कआउट: (Best Sex Workouts)

  • 20 सेकंड के लिए प्लैंक (Plank)
  • ग्लूट ब्रिज के 15 रेप्स
  • जंप स्क्वाट (Jump Squat) के 10-15 रेप्स करें
  • 5-10 सेकंड के होल्ड्स के साथ 10 कीगल रेप्स (Kegel Reps)
  • 10-15 रेप्स पुशअप्स (Pushups)
  • पिजन पोज, हर साइड पर 1 मिनट के लिए होल्ड करें

यह वर्कआउट रूटीन आप सेक्स एक्टिविटी में पार्टिसिपेट करने से पहले भी कर सकते हैं। इससे निश्चित रूप से आपकी सेक्स ड्राइव को बढ़ने में मदद मिलेगी। एक अध्ययन में पाया गया कि यौन संबंध से तुरंत पहले सामान्य व्यायाम से एंटीडिप्रेसेंट लेने वाली महिलाओं की उत्तेजना में सुधार किया।

और पढ़ें : पुरुष सेक्स ड्राइव बढ़ाने के लिए ये 7 फूड्स होंगे फायदेमंद

प्लैंक (Plank)

प्लैंक एक्सरसाइज पुरुषों और महिलाओं दोनों के अच्छे स्वास्थ्य और सेक्स ड्राइव के लिए अच्छी होती है। यह पेट, पीठ और पेल्विक एरिया के आसपास की मांसपेशियों को मजबूत करता है। यह लंबे समय तक सेक्शुअल इंटरकोर्स के लिए अच्छा साबित हो सकता है।

सेक्स वर्कआउट

कैसे करें?

  • इसके लिए पुशअप की स्थिति में आएं और फिर कोहनी को जमीन पर रखें। यह सभी प्लैंक एक्सरसाइज का पहला स्टेप है।
  • अपनी कोहनियों को कंधे के नीचे रखें और पूरे शरीर को सीधे ऊपर की ओर उठाएं।
  • आपके लोअर बैक सैगिंग को रोकने के लिए आपके कोर को टाइट होना चाहिए।
  • आपके कंधों को पीछे और नीचे रोल करना चाहिए, और एक सीधी रेखा को बनाए रखने के लिए आपकी गर्दन और सिर स्टेबल होना चाहिए।

ग्लूट ब्रिज (Glute bridge)

ग्लूट ब्रिज न केवल पेल्विक फ्लोर के लिए अच्छा होती है। बल्कि, आपके हैमस्ट्रिंग और ग्लूट्स को भी मजबूत करने में मदद करते हैं। हम अक्सर अपने ग्लूट्स का उपयोग नहीं करते हैं, इसलिए उन्हें सेक्स वर्कआउट (sex workout) में एंगेज करके मांसपेशियों को मजबूत कर सकते हैं। नतीजन, इससे सेक्स के दौरान नई-नई सेक्स पोजीशन (sex positions) को आजमाने में मदद मिलती है।

कैसे करें?

सेक्स वर्कआउट

  • इसके लिए एक चटाई पर लेट जाएं, घुटनों को मोड़ें, पैरों और हथेलियों को जमीन पर टिकाएं।
  • यदि आप एक्स्ट्रा वेट का उपयोग करना चाहते हैं, तो अपने पेल्विक पर डंबल या प्लेट को ध्यान से रखें, फिर इसे अपने हाथों से धीरे-धीरे चलाएं।
  • इस दौरान अपने कोर पर ध्यान केंद्रित करें और अपनी श्रोणि को जमीन से ऊपर उठाएं। सुनिश्चित करें कि आपके कंधे और अपर बैक चटाई से लगे हुए हों।
  • जब आप प्रॉपर एक ब्रिज की पोजीशन में हों, तो अपने ग्लूट्स को स्क्वीज़ करें। फिर धीरे-धीरे नीचे की ओर आएं।सेक्स वर्कआउट

और पढ़ें : हेल्दी टिप्स: सेक्स परफॉरमेंस बढ़ाने के घरेलू उपाय

जंप स्क्वैट्स (Jump Squats)

सेक्स के दौरान आप ज्यादा स्टैमिना की जरूरत होती है, तो अपने वर्कआउट में थोड़ा HIIT (हाई-इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग) शामिल करें। यह आपके शरीर को तीव्र या मैराथन सेक्स सेशन के लिए तैयार करता है। हार्ट रेट को बढ़ाने के लिए जंप स्क्वैट्स बहुत बढ़िया साबित होते हैं। इसके साथ ही अपने पार्टनर के साथ कुछ नई सेक्स पोजीशन आजमाने के लिए यह सेक्स वर्कआउट आपके पैरों की मजबूती और स्थिरीकरण में सुधार करता है।

कैसे करें?

  • अपने पैरों को कंधे की चौड़ाई के बराबर रखें और हाथों को कोहनी से मोड़ें और नीचे की ओर झुकें।
    नीचे बैठें, अपनी आर्म्स को आपके सामने लाएं।
  • ऊपर उठने के लिए कूदें और अपनी आर्म्स को नीचे की ओर धकेलें क्योंकि इस दौरान आपके पैर गति के साथ जमीन पर आ जाते हैं।
  • जैसे ही आपके पैर जमीन पर आते हैं और आर्म्स वापस ऊपर आते हैं, वैसे ही तुरंत एक और स्क्वाट करें।

और पढ़ें : सेहत ही नहीं, त्वचा के लिए भी फायदेमंद है ऑर्गेज्म, जानिए कैसे

कीगल एक्सरसाइज (Kegel Exercise)

शोधकर्ताओं ने रिसर्च के दौरान 37 साल की उम्र के आसपास 176 महिलाओं में पाया कि ऑर्गेज्म और कामोत्तेजना का संबंध पेल्विक फ्लोर मसल्स फंक्शन से संबंधित हैं। इसके अलावा, सही समय पर उन मांसपेशियों को स्क्वीज करने से मेल पार्टनर में सेक्शुअल प्लेजर बढ़ सकता है।

कैसे करें?

  • कीगल व्यायाम को प्रभावी ढंग से करने के लिए, आपको पहले सही मांसपेशियों की पहचान करने की आवश्यकता होगी। ऐसा करने का सबसे आसान तरीका यूरिनेशन के दौरान यूरिन को रोकें। इस दौरान जो मसल्स यूरिनेशन रोकने में मदद करती हैं। इन मांसपेशियां को ही कीगल एक्सरसाइज में इस्तेमाल किया जाता है।
  • इन मांसपेशियों को सिकोड़ें और 10 सेकंड के होल्ड करें। फिर 10 सेकंड के लिए रिलीज करें।
  • शुरुआत में आप इसको 5 सेकंड के लिए करें और धीरे-धीरे 10 सेकंड तक बढ़ाएं।

और पढ़ें : कमजोरी दूर कर अच्छे प्रदर्शन के लिए सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं

पुशअप (Push-ups)

पुशअप उन कपल्स के लिए बहुत जरूरी है जो सेक्स के दौरान नई सेक्स पोजीशन या नई चीजों को अपनाने की कोशिश करना चाहते हैं। अगर आप पहली बार पुशअप्स कर रहे हैं तो किसी एक्सपर्ट की देखरेख में करें।

कैसे करें?

सेक्स वर्कआउट

  • पुशअप्स पोजिशन में आएं। इसके बाद पैर को जमीन पर टिका कर रखें।
  • अपने सिर और गर्दन को स्टेबल करते हुए कोर को मजबूत रखें। इससे आपका शरीर ऊपर से नीचे तक एक सीधी रेखा बनाता है।
  • अब अपनी कोहनी को झुकाकर अपने शरीर को नीचे करें और तब तक चलते रहें जब तक आपका चेस्ट जमीन को न छु ले।
  • अपनी हथेलियों के माध्यम से पुश अप करें, अपनी आर्म्स को एक्सटेंड करें।
  • अपनी लोअर बैक या कूल्हों को शिथिल न होने दें। इस दौरान स्पाइन और गर्दन न्यूट्रल रखें।

और पढ़ें : बाथ टब में सेक्स का बना रहे हैं प्लान, तो ट्राई करें ये सेक्स पोजिशन

पिजन पोज (Pigeon Pose)

पिजन पोज आपके कमर, कूल्हों और ग्लूट्स को मजबूती देकर कैथेड्रल एरिया में फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि बेहतर सेक्स के लिए शरीर का लचीलापन होना जरूरी है।

कैसे करें?

सेक्स वर्कआउट

  • अपने दाहिने घुटने को आगे लाएं और इसे अपनी दाहिनी कलाई के पीछे आराम करने दें। अब अपने दाहिने पैर को ऊपर ओर बाईं ओर घुमाएं, अपने दाहिने एंकल को अपने बाएं कूल्हे के पास रखें।
  • अपने बाएं पैर को सीधा करना शुरू करें और अपने पैर की उंगलियों पीछे की ओर खिसकाएं।
  • जितना हो सके अपने आप को नीचे करें, अब अपनी कोहनी को झुकाकर और अपने ऊपरी शरीर को जमीन की ओर लाएं। इस खिंचाव के दौरान आपकी पेल्विक को जमीन की तरफ करने की कोशिश करें, लेकिन इसे बलपूर्वक न लें।
  • अगर आपकी बॉडी एकदम भी फ्लेक्सिबल नहीं है, तो इसे न करें।
  • इसके साथ ही आप बेहतर सेक्स के लिए योगासन भी ट्राई कर सकते हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और सेक्स वर्कआउट से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

REVIEWS: Pelvic Floor Involvement in Male and Female Sexual Dysfunction and the Role of Pelvic Floor Rehabilitation in Treatment: A Literature Review. https://www.jsm.jsexmed.org/article/S1743-6095(15)31493-4/fulltext. Accessed On 29 June 2020

Female sexual arousal: Genital anatomy and orgasm in intercourse. https://www.sciencedirect.com/science/article/abs/pii/S0018506X10002990?via%3Dihub. Accessed On 29 June 2020

Kegel exercises: A how-to guide for women. https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/womens-health/in-depth/kegel-exercises/art-20045283. Accessed On 29 June 2020

EXERCISE IMPROVES SEXUAL FUNCTION IN WOMEN TAKING ANTIDEPRESSANTS: RESULTS FROM A RANDOMIZED CROSSOVER TRIAL. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4039497/. Accessed On 29 June 2020

Squat Jumps. https://www.acefitness.org/education-and-resources/lifestyle/exercise-library/116/squat-jumps/. Accessed On 29 June 2020

Push-up. https://www.acefitness.org/education-and-resources/lifestyle/exercise-library/41/push-up/. Accessed On 29 June 2020

Squat Jumps/https://www.acefitness.org/education-and-resources/lifestyle/exercise-library/116/squat-jumps/Accessed On 29 June 2020

Pigeon Pose https://www.ekhartyoga.com/resources/yoga-poses/pigeon-pose. Accessed On 29 June 2020

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x