डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) कैसे मिल सकता है?

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) कैसे मिल सकता है?

    त्वचा की चमक और हेल्दी की स्किन के लिए जरूरी है कि आप उसकी समय-समय पर देखभाल करें। त्वचा अपने आपको को समय-समय पर स्किन प्राकृतिक रूप से खुद को खुद को रीन्यू करती है। ये प्रोसेस त्वचा की बाहरी लेयर (एपिडर्मिस) में होती है, जहां मृत त्वचा निकलने के बाद नई त्वचा का निर्माण होता है। एक्सफोलिएशन की प्रोसेस में डेड स्किन से जल्दी छुटकारा मिल जाता है लेकिन इसमें अधिक सावधानी की जरूरत पड़ती है वरना त्वचा को नुकसान भी पहुंच सकता है। डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) छुटकारा हर कोई पाना चाहता है लेकिन सही तरीके के बारे में जानकारी ना होने पर अक्सर लोग अपनी स्किन को नुकसान पहुंचा देते हैं, जो कि बहुत गलत है। अगर आप भी डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पाना हैं, तो आपको सबसे पहले अपनी स्किन टाइप के बारे में जानना होगा और उसके बाद ही कोई कदम उठाना होगा। एक्सफोलिएशन के प्रोसेस के बारे में अक्सर लोगों को जानकारी नहीं होती है। आइए जानते हैं कि डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पाने के लिए किन तरीकों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

    और पढ़ें: स्किन के लिए बादाम का तेल हो सकता है इतना फायदेमंद, आपने सोचा नहीं होगा

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin)

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin)

    स्किन एक्फोलिएशन को लेकर अक्सर लोगों में कई प्रकार की भ्रांतियां रहती हैं। इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। एक्सफोलिएशन के समय आपको जेंटल मेथड का इस्तेमाल करना जरूरी होता है। आपको फेस में अपने आंखों के आसपास की स्किन, लिप के आसपास की स्किन को अवॉइड करना चाहिए। एक्सफोलिएशन के पहले स्किन को साफ जरूर कर लें। आप स्किन को मैनुअली या फिर केमिकली एक्सफोलिएट कर सकते हैं। मैनुअल एक्सफोलिएशन (Manual exfoliation ) में चेहरे से मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने के लिए स्क्रब का उपयोग किया जाता है वहीं कैमिकल एक्सफोलिएशन में मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने के लिए एसिड का इस्तेमाल किया जाता है।

    स्किन के लिए कैमिकल एक्सफोलिएंट्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो सुरक्षित होते हैं। आपको जानकारी लेने के बाद ही एक्सफोलिएशन का प्रोसेस करना चाहिए। लोगों को शुरुआत में हफ्ते में एक बार से ज्यादा केमिकल एक्सफोलिएंट्स का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि एएचए, बीएचए और रेटिनॉल (AHAs, BHAs, and retinol ) का एक साथ उपयोग न करें क्योंकि वे त्वचा पर बहुत कठोर होंगे। जानिए स्किन के प्रकार के बारे में।

    नॉर्मल स्किन: ऊतक पर कोई तेल नहीं, और सूखापन नहीं होता है।
    रूखी त्वचा: ऊतक या टिशू पर कोई तेल नहीं होता है।
    ऑयली स्किन: ऊतक पर तेल, और त्वचा चमकदार दिखती है।
    कॉम्बिनेशन स्किन: गाल सामान्य या सूखे होते हैं; नाक, माथे या ठुड्डी के टिशू पर तेल।
    सेंसिटिव स्किन: त्वचा में खुजली होती है और लाल या सूखी दिखती है।

    और पढ़ें: Herpes Skin Rash: हर्पीस स्किन रैश की समस्या क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण और इलाज

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin): एक्सफोलिएंट्स के विभिन्न फॉम क्या हैं?

    एक्सफोलिएंट्स के विभिन्न फॉम हो सकते हैं। आप स्किन के प्रकार के हिसाब से विभिन्न एक्सफोलिएंट्स फॉर्म अपना सकते हैं। यहां हम आपको उसके बारे में कुछ जानकारी देने जा रहे हैं।

    वॉशक्लोथ (Washcloth) का इस्तेमाल

    अगर आपकी स्किन बहुत सेंसिटिव है, तो ऐसे में आप वाशक्लोथ का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह बहुत ही अच्छा ऑप्शन साबित होता है। इसके लिए आपको एक कपड़े या क्लोथ की जरूरत है, जिसे कि आप गुनगुने पानी से गीला कर सकते हैं। इसके बाद आप बहुत ही हल्के हाथों से स्किन में रख कर रगड़ें। आपको एक्फोलिएशन की प्रोसेस से पहले चेहरे को साफ कर लेना चाहिए जिससे कि स्किन के पोर्स खुल जाते हैं।

    और पढ़ें: स्किन टैग क्या कैंसर का बन सकता है कारण, जानिए स्किन टैग के बारे में विस्तार से!

    स्पॉन्ज (Natural sponge) भी दिला सकता है डेड स्किन से छुटकारा

    आपने नैचुरल स्पॉन्ज के बारे में तो सुना ही होगा। नेैचुरल स्पॉन्ज डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) दिलाने में मदद करता है। आप इसका इस्तेमाल फेस में भी कर सकते हैं। सबसे पहले आपको इसे गिला करना होगा फिर इसके बाद सर्कुलर मूवमेंट की मदद से चेहरे को हल्का सा रब करना होगा। आपको बहुत ज्यादा स्किन में प्रेशर देने की जरूरत नहीं है। नहीं तो आपको इरिटेशन की समस्या भी हो सकती है। इसकी मदद से आप आसानी से डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पा सकते हैं।

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पाने के लिए स्क्रब

    डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पाना के लिए फेस स्क्रब का इस्तेमाल किया जा सकता है। एक्सफोलिएटिंग स्क्रब का इस्तेमाल करने से जहां एक ओर डेड स्किन को हटाने में आसानी रहती है वहीं स्किन की सफाई भी हो जाती है। हो सकता है आपको स्क्रब के बाद स्किन में हल्का टीयर या फिर इरिटेशन की समस्या पैदा हो। आपको स्क्रब के दौरान ऐसे प्रोडक्ट से बचना चाहिए, जो बहुत कठोर होते हैं। जिन स्क्रब को बनाने में सॉल्ट और शुगर का इस्तेमाल किया जाता है, वो स्किन के लिए अच्छे होते हैं। आपको स्क्रबर का इस्तेमाल सप्ताह में एक बार से ज्यादा नहीं करना चाहिए। आप चाहे तो अच्छे प्रोडक्ट खरीद सकती हैं या फिर घर में भी स्क्रब बना सकती हैं। चीनी या ओटमील स्क्रब सभी स्किन के लिए बेहतर साबित होते हैं।

    और पढ़ें: स्किन टोन को इवन कैसे करें?

    कुछ केमिकल्स भी निभा सकते हैं अहम रोल

    एएचए त्वचा की ऊपरी परत को डिस्सॉल्व करके न्यू सेल्स बनाने का काम करता है। साथ ही में ये स्किन के पोर्स को छोटा करने का काम भी करता है। ग्लाइकोलिक एसिड एएचए की तरह काम करता है। वहीं सैलिसिलिक एसिड का इस्तेमाल बीएचए (BHA) के रूप में किया जाता है। ये एक्ने के ट्रीटमेंट के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आप स्किन की अच्छी हेल्थ के लिए रेटिनॉल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। ये विटामिन ए (Vitamin A) का एक रूप है और साथ ही कैमिकल एक्सफोलिएंट भी है, जो एक्ने के ट्रीटमेंट में इस्तेमाल किया जाता है।

    और पढ़ें: Skin Ulcers: जानिए स्किन अल्सर के लक्षण, कारण और इलाज

    जब आप अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट कर रहे हो, तो उस वक्त आपको कई बातों का ध्यान रखने की जरूरत होती है। आपको ऐसे प्रोडक्ट खरीदने चाहिए, जो आपके फेस को नुकसान ना पहुंचाएं और ऐसे ही प्रोडक्ट इस्तेमाल करें जिनको खासतौर पर फेस के लिए बनाया गया हो। अगर आपकी स्किन धूप में जल चुकी है, तो ऐसे में आपको किसी एक्सपर्ट से जानकारी लेने के बाद ही एक्सफोलिएशन का प्रोसेस कराना चाहिए। एक्सफोलिएशन के बाद किन को मॉश्चराइज जरूर करें और साथ ही सनस्क्रीन (Sunscreen) का भी इस्तेमाल भी करें।

    इस आर्टिकल में हमने आपको को लेकर डेड स्किन से छुटकारा (Get rid of dead skin) पाने को लेकर जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की ओर से दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/02/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड