backup og meta

Herpes Skin Rash: हर्पीस स्किन रैश की समस्या क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण और इलाज

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/02/2022

Herpes Skin Rash: हर्पीस स्किन रैश की समस्या क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण और इलाज 

कई बार त्वचा पर कील-मुंहासे या पिंपल्स की समस्या अनहेल्दी खानपान की वजह से शुरू हो जाती है। स्किन से जुड़ी एक और समस्या है हर्पीस। हर्पीस की समस्या अलग-अलग तरह की होती है। वैसे तो ये स्किन डिजीज (Skin disease) ज्यादा गंभीर नहीं है, लेकिन सावधानी रखनी बेहद जरूरी है, जिससे इसे फैलने से रोका जा सके। इसलिए आज इस आर्टिकल में हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) के बारे में जानेंगे। 

  • हर्पीस स्किन रैश क्या है?
  • हर्पीस स्किन रैश के लक्षण क्या हैं?
  • हर्पीस स्किन रैश के कारण क्या हैं?
  • हर्पीस स्किन रैश का निदान कैसे किया जाता है?  
  • हर्पीस स्किन रैश का इलाज कैसे किया जाता है?
  • हर्पीस की समस्या होने पर घरेलू उपाय क्या करें?
  • डॉक्टर से कब कंसल्ट करना जरूरी है?

और पढ़ें : सिर्फ 3 बातों को समझकर स्किन केयर के लिए बेस्ट प्रॉडक्ट का चुनाव करना हो सकता है आसान!

चलिए अब एक-एक कर हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) के इन ऊपर बताये सवालों के जवाब जानते हैं।

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) क्या है?

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash)

हर्पीस सिम्प्लेक्स वायरस (Herpes Simplex Virus [HSV]) की वजह से होने वाली समस्या है हर्पीस स्किन रैश (HSV)। शरीर पर पानी भरे दाने हर्पीस स्किन रैश की ओर इशारा करते हैं। कई बार इसे मामूली से स्किन प्रॉब्लेम समझकर इग्नोर कर दिया जाता है। हालांकि हर्पीस स्किन रैश को इग्नोर कर आप अनजाने अपनी स्किन प्रॉब्लेम (Skin problem) को बढ़ा रहें हैं। इसलिए हर्पीस स्किन रैश के लक्षण (Herpes Skin Rash symptoms)को आगे समझें और ऐसी परेशानी होने पर सतर्क रहें। 

और पढ़ें : Warts treatment: वार्ट्स का इलाज कैसे किया जाता है?

हर्पीस स्किन रैश के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Herpes Skin Rash)

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash)

चेहरे पर, होठों के पास, नाक पर पानी से भरे हुए दाने हो जाते हैं, जो हर्पीस स्किन रैश के लक्षण हैं। इसके अलावा हर्पीस स्किन रैश शरीर के किसी भी हिस्से पर नजर आ सकते हैं। 

हर्पीस स्किन रैश के कारण क्या हैं? (Cause of Herpes Skin Rash)

हर्पीस स्किन रैश दो अलग-अलग तरह के होते हैं और उनके कारण भी अलग-अलग हो सकते हैं। जैसे- 

हर्पीस स्किन रैश 1 या ओरल हर्पीस के कारण (Cause of HSV-1 or Oral herpes)

  • वायरस इन्फेक्टेड लोगों के स्किन (Skin to skin) के संपर्क में आने से। 
  • वायरस इन्फेक्टेड को किस (Kissing) करने से। 
  • वायरस इन्फेक्टेड के लिप बाम (Lip balm) या टूथब्रश (Toothbrush) के इस्तेमाल से। 

हर्पीस स्किन रैश 2 या जेनाइटल हर्पीस के कारण (Cause of HSV-2 or Genital herpes) 

हर्पीस स्किन रैश के कारण इन ऊपर बताई स्थितियों में हो सकती है। इसलिए ऐसी स्थिति में डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। 

और पढ़ें : सिर्फ 3 बातों को समझकर स्किन केयर के लिए बेस्ट प्रॉडक्ट का चुनाव करना हो सकता है आसान!

हर्पीस स्किन रैश का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Herpes Skin Rash)

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash)

हर्पीस स्किन रैश के निदान के लिए डॉक्टर पेशेंट्स की मेडिकल कंडिशन और तकलीफों को समझकर निम्नलिखित टेस्ट (Test) करवाने की सलाह देते हैं। जैसे: 

  • वायरल कल्चर (Viral Culture) : इस टेस्ट में लैब में जांच के लिए टिशू सैंपल या घाव का थोड़ा सा हिस्सा लिया जाता है।
  • पोलीमरेज चेन रिएक्शन टेस्ट  (Polymerase Chain Reaction Test) : पोलीमरेज चेन रिएक्शन टेस्ट के दौरान ब्लड सैंपल (Blood Sample), घाव के टिशू या स्पाइनल फ्लूइड से DNA का सैंपल लिया जाता है, जिससे इंफेक्शन (Infection) की जानकारी मिलती है। 
  • ब्लड टेस्ट (Blood Test) : ब्लड सैंपल से भी इंफेक्शन की जानकारी मिलती है। 

इन टेस्ट रिपोर्ट्स और बीमारी की गंभीरता को ध्यान में रखकर इलाज शुरू किया जाता है। 

नोट: हर्पीस स्किन रैश के अलावा अगर पेशेंट किसी अन्य हेल्थ कंडिशन (Health Condition) से पीड़ित हैं, तो ऐसी स्थिति में इन ऊपर बताए टेस्ट के अलावा अन्य टेस्ट भी करवाने की सलाह डॉक्टर दे सकते हैं । 

और पढ़ें: चेहरे से जुड़ी अनेक परेशानियों का इलाज हायल्यूरॉनिक एसिड डर्मल फिलर, जानें कैसे करता है काम

हर्पीस स्किन रैश का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Herpes Skin Rash)

हर्पीस स्किन रैश की समस्या होने पर ये अपने आप कुछ हफ्तों में ठीक हो जाते हैं। अगर हर्पीस स्किन रैश की समस्या बार-बार होने लगे तो ऐसे में डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करना चाहिए। क्योंकि ऐसी स्थिति में हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) को रोकने के लिए डॉक्टर दवा प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। वहीं अगर हर्पीस स्किन रैश में जलन या खुजली जैसी अन्य तकलीफ महसूस होने पर डॉक्टर निम्नलिखित दवाओं के सेवन की सलाह दे सकते हैं। जैसे:

  • ऐसीक्लोविर (Acyclovir)
  • फैम्सिक्लोविर (Famciclovir)
  • वैलसिक्लोविर (Valacyclovir) 

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) की समस्या से निजात पाने के लिए ओवर-द-काउंटर (OTC) मिलने वाले दवाओं का भी सेवन किया जा सकता है। 

और पढ़ें : Prevent Pimples: जानिए पिंपल से बचाव के 3 स्टेप और 5 घरेलू उपाय

हर्पीस की समस्या होने पर घरेलू उपाय क्या करें?  (Home remedies for Herpes)

स्किन से जुड़ी इस तकलीफ को दूर करने के लिए निम्नलिखित घरेलू उपाय अपनाये जा सकते हैं। जैसे:

1. एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar ACV)

एप्पल साइडर विनेगर में मौजूद एंटीवायरल गुणों हर्पीस की समस्या को दूर करने में मददगार हो सकते हैं। इसलिए एप्पल साइडर विनेगर को पानी के साथ मिक्स करें और कॉटन की सहायता से इन्फेक्टेड एरिया पर लगाएं। 

2. एलोविरा (Aloe Vera)

एलोवेरा में मौजूद एंटी-इंफ्लामेटी (Anti-inflammatory) गुण किसी भी तरह के स्किन इंफेक्शन को दूर करने में सहायक माना गया है। एलोवेरा में एंटी-इंफ्लामेटी गुण के साथ-साथ विटामिन ए (Vitamin A), विटामिन सी (Vitamin C), विटामिन ई (Vitamin E), विटामिन बी 12 (Vitamin-12) और फोलिक एसिड (Folic Acid) स्किन के लिए अत्यधिक लाभकारी माना गया है। यही कारण है कि हर्पीस स्किन रैश के लिए घरेलू उपाय में एलोवेरा को शामिल किया गया है। 

4. एंटीऑक्सिडेंट रिच सब्जियां (Antioxidant rich vegetables)

हर्पीस स्किन रैश के लिए घरेलू उपाय करना चाहते हैं, तो आपको अपने डायट में एंटीऑक्सिडेंट रिच सब्जियां जैसे पालक, गोभी या ब्रोकली को नियमित रूप से शामिल करना चाहिए। 

हर्पीस स्किन रैश (Herpes Skin Rash) की समस्या को दूर करने के लिए इन 3 घरेलू उपायों को अपनाया जा सकता है। 

और पढ़ें : पर्सनल हाइजीन के ये 9 नियम फॉलो करने चाहिए हर महिला को

डॉक्टर से कब कंसल्ट करना जरूरी है? (Consult Doctor if) 

निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर से कंसल्ट करें। जैसे:

  • प्राइवेट पार्ट्स में खुजली या परेशानी (Genital Irritation or Itching) महसूस होने पर। 
  • जेनिटल और एनल ब्लिस्टर्स (Genital or Anal Blisters) की समस्या होने पर। 
  • सेक्स के दौरान दर्द (Painful intercourse) महसूस होना। 
  • टॉयलेट के दौरान दर्द (Painful urination) महसूस होना। 
  • असामान्य और दुर्गंध भरा डिस्चार्ज (Unusual or Foul-Smelling Discharge)
  • वजायना या पीनस का लाल होना, दर्द या सूजन (Vaginal or Penile Redness, Soreness or Swelling) महसूस होने पर। 

हर्पीस स्किन रैश की समस्या को दूर करने के लिए ओवर-द-काउंटर मिलने वाली दवाओं की मदद ली जा सकती है, लेकिन अगर जल्द फायदा नजर नहीं आने पर डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। डॉक्टर पेशेंट की हेल्थ कंडिशन, मेडिकल हिस्ट्री और बीमारी की गंभीरता को ध्यान में रखकर इलाज करते हैं।

आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज के बारे में जानें संपूर्ण जानकारी नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर। आयुर्वेदिक ब्यूटी एक्सपर्ट पूजा नागदेव खास जानकारी साझा कर रहीं हैं आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज की, जिससे आप आसानी से अपना सकती हैं और चेहरे पर एक्ने (Acne) के दाने या अन्य दाग-धब्बों को दूर करने के उपाय।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/02/2022

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement