home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Oral Herpes: ओरल हर्पीस क्या है?

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम|उपचार|घरेलू उपचार
Oral Herpes: ओरल हर्पीस क्या है?

परिचय

ओरल हर्पीस (Oral herpes) क्या है?

ओरल हर्पीस मुंह का एक इंफेक्शन है। इसे हर्पीस सिम्प्लेक्स-1 या HSV-2 के नाम से भी बुलाया जाता है। हर्पीस वायरस की वजह से मुंह, होठ, मसूड़ों में इंफेक्शन हो जाता है। इस बीमारी में मुंह के आसपास गांठ और मसूड़ों में फफोले नजर आते हैं। हर्पीस वायरस चिकनपॉक्स, मुंह के छाले, मोनोन्युक्लीयर ल्युकेमिया, शिंग्ल्स वायरस परिवार से संबंध रखता है। कम उम्र में सेकेंडरी इंफेक्शन फैलता है, जिसकी वजह से 80% युवा हर्पीस वायरस टाइप-1 से संक्रमित होते हैं। हर्पीस का अन्य प्रकार टाइप-2 यौन संबंध बनाने से फैलता है।

ओरल हर्पीस कितना सामान्य है? (How common is oral herpes?)

ओरल हर्पीस

आमतौर पर हर्पीस एचआईवी या यौन संचरित रोग जैसे गोनोरेया (gonorrhea), सिफलिस से पीड़ित लोगों में होता है। हालांकि, कोई भी व्यक्ति बचपन में HSV-1 से होने वाले छालों से पीढ़ित हो सकता है। ओरल हर्पीस के जोखिम के कारकों को कम करके इसके खतरे को कम किया जा सकता है। ओरल हर्पीस की अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

लक्षण

ओरल हर्पीस के लक्षण क्या हैं? (What are the symptoms of oral herpes?)

पहली बार HSV-1 वायरस के संपर्क में आने पर कुछ लोगों को मुंह के छाले हो जाते हैं, जबकि कुछ लोगों में कोई लक्षण नजर नहीं आते हैं। आमतौर पर बचपन में 1-5 वर्ष की आयु में इसके लक्षण नजर आते हैं। यह लक्षण हल्के से लेकर गंभीर हो सकते हैं। आमतौर पर वायरस के संपर्क में आने के एक से तीन हफ्तों बाद लक्षण नजर आते हैं और यह तीन हफ्तों तक रह सकते हैं:

ओरल हर्पीस में निम्नलिखित लक्षण नजर आ सकते हैं:

  • होठ या मुंह के आसपास त्वचा में खुजली होना
  • होठ की गांठे या मुंह के आसपास फफोले पड़ना
  • होठ में झुनझुनी या मुंह के आसपास के हिस्से में यह अहसास

फफोले नजर आने से पहले आपको निम्नलिखित लक्षण नजर आ सकते हैं:

फफोले और लालिमा निम्नलिखित स्थानों पर नजर आ सकते हैं:

  • मसूड़ों
  • मुंह और गले में एक साथ
  • फफोले क्लंप्स में इक्कट्ठा हो सकते हैं

उपरोक्त लक्षणों के अलावा भी कुछ ऐसे लक्षण या संकेत हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप ओरल हर्पीस के लक्षणों को लेकर चिंतित हैं या आपका कोई सवाल है तो अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : कोल्ड सोर्स या हर्पीज लेबियालिस (Herpes labialis) का ट्रीटमेंट संभव है?

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

ओरल हर्पीस

यदि आपको उपरोक्त लक्षणों या संकेतों का अनुभव होता है या आपका कोई सवाल या चिंता है तो अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श लें। हर व्यक्ति के मामले में ओरल हर्पीस की स्थिति अलग-अलग हो सकती है। अपनी स्थिति की बेहतर जानकारी के लिए चिकित्सा परामर्श लेना हमेशा उचित रहता है।

कारण

ओरल हर्पीस के कारण क्या हैं? (What are the causes of oral herpes)

ओरल हर्पीस का कारण वायरल हर्पीस टाइप 1 (HSV-1) है, जो प्राथमिक रूप से संक्रमित व्यक्ति के साल्विया (लार) के संपर्क में आने से होता है, जैसे बचपन में किस करने से यह इंफेक्शन हो सकता है।

त्वचा के घाव के जरिए यह वायरस बॉडी में प्रवेश कर सकता है या मुंह की कोमल त्वचा के जरिए ओरल हर्पीस का इंफेक्शन हो सकता है। पहले इंफेक्शन के बाद वायरस असक्रिय बना रहता है। कुछ समय बाद यह मुंह के छालों (cold sores) का कारण बनता है।

हर्पीस वायरस टाइप-2 (HSV-2) आमतौर पर यौन संबंध के जरिए फैलता है और गुप्तांग में हर्पीस का कारण बनता है। हालांकि, कई बार HSV-2 मुंह में भी फैल सकता है। यह ओरल सेक्स के जरिए होता है और मुंह में फफोले उत्पन्न कर सकता है।

और पढ़ें: हर्पीज के इलाज के लिए आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट है प्रभावकारी, जानें इसके बारे में

जोखिम

किन कारकों से मुझे ओरल हर्पीस होने का खतरा रहता है?

निम्नलिखित कारकों से ओरल हर्पीस का होने का खतरा बढ़ जाता है:

यदि किसी समस्या के जोखिम के कारक नहीं है तो इसका मतलब यह नहीं कि आप बीमार नहीं पड़ेंगे। यदि आप इसकी अधिक जानकारी चाहते हैं तो अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

और पढ़ें : पर्सनल हाइजीन के ये 9 नियम फॉलो करने चाहिए हर महिला को

उपचार

यहां प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

ओरल हर्पीस का निदान कैसे किया जाता है? (How is oral herpes diagnosed?)

मुंह और होठ पर निकलने वाले फफोलों का अवलोकन करने के बाद डॉक्टर ओरल हर्पीस की पुष्टि कर सकता है। कई बार डॉक्टर इसका पता लगाने के लिए कुछ नमूनों को प्रयोगशाला में जांच के लिए भेज सकता है।

निम्नलिखित टेस्ट के जरिए ओरल हर्पीस की जांच की जाती है:

  • वायरल कल्चर
  • वायरस के डीएनए की जांच
  • टीजांस्क एचएसवी की जांच (Tzanck HSV)

और पढ़ें : Hepatitis A Virus Test : हेपेटाइटिस ए वायरस टेस्ट क्या है?

ओरल हर्पीस का इलाज कैसे किया जाता है? (How is oral herpes treated?)

ओरल हर्पीस का पता लगाने के लिए डॉक्टर फिजिकल जांच कर सकता है। साथ ही वह आपकी मेडिकल हिस्ट्री के साथ कुछ सवाल पूछ सकता है। लक्षणों के आधार पर वह ब्लड टेस्ट भी करा सकता है। एक से दो हफ्तों के बीच में ओरल हर्पीस के लक्षण अपने आप चले जाते हैं। दर्द को कम करने और लक्षणों को जल्द ठीक करने के लिए डॉक्टर कुछ एंटीवायरल दवाओं की सलाह दे सकता है।

ओरल हर्पीस के इलाज के दौरान निम्नलिखित दवाओं को शामिल किया जा सकता है:

  • एसिक्लोविर (Acyclovir)
  • फेमसिक्लोविर (Famciclovir)
  • वालासिक्लोविर (Valacyclovir)

यदि आप ओरल हर्पीस के सही लक्षणों में उचित समय पर इन दवाओं का इस्तेमाल करते हैं तो यह काफी कारगर साबित होती हैं।

ओरल हर्पीस में एंटीवायरल क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, यह क्रीम मंहगी हो सकती है और दिन में कुछ घंटों तक छोटी अवधि तक इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

पेनसिक्लोविर (Penciclovir) और एसिक्लोविर (acyclovir) टॉपिकल क्रीम हर्पीस में काफी कारगर साबित होती है। घरेलू उपाय जैसे मॉश्चराइजर या लिप बाम पूरी तरह बेकार हैं। आप दर्द कम करने के लिए एस्पिरिन, एसिटामिनोफेन या आइबुप्रोफेन का सेवन कर सकते हैं।

घरेलू उपचार

जीवन शैली में होने वाले बदलाव क्या हैं, जो मुझे ओरल हर्पीस को ठीक करने में मदद कर सकते हैं? (What are the lifestyle changes that can help me cure oral herpes?)

निम्नलिखित घरेलू उपाय आपको ओरल हर्पीस से लड़ने में सहायता प्रदान करेंगे:

  • टॉयलेट का इस्तेमाल करने के बाद हाथों को साबुन और गर्म पानी से साफ करें।
  • त्वचा को साफ रखें और फफोलों को सूखा रखें। संक्रमित हिस्से पर शेविंग करने से बचें।
  • किसिंग के बारे में जानें या ओरल सेक्स इस बीमारी को फैला सकता है।
  • लक्षणों को शुरुआती दौर में पहचानना सीखें। एंटीवायरल थेरेपी को जल्द शुरू करके बीमारी की लंबी अवधि को कम किया जा सकता है।
  • व्यक्तिगत हाइजीन किट्स को साझा करने से बचें।
  • यदि आपके लक्षण बदतर हो जाते हैं, आपको बुखार या फफोलों से डिस्चार्ज हो रहा है तो डॉक्टर से संपर्क करें।
  • यदि आपको गंभीर सिरदर्द, सांस छोटी होना, गंभीर आंखों का दर्द या रौशनी आपको असहज बनाती है तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें।
  • यदि आप एक साल में चार से छह बार गिरते हैं तो डॉक्टर से संपर्क करें। ऐसे में आपको रोकथाम की दवा लेने की जरूरत पड़ सकती है।
  • मेंटल और फिजिकल स्ट्रेस से लड़ना सीखें और इनसे बचें। स्ट्रेस इम्यून सिस्टम को कमजोर कर देता है, जिससे यह बीमारी दोबारा होने की संभावना होती है।
  • हेल्दी फूड्स लें। पर्याप्त नींद लें और उचित एक्सरसाइज करें।
  • सनबर्न से बचें। सूर्य की रौशनी से रिलेप्स होने की संभावना रहती है। हमेशा सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।

इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि आपके स्वास्थ्य की स्थिति देख कर ही डॉक्टर आपको उपचार बता सकते हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और ओरल हर्पीस से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x