आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Peeling Skin: जानिए पीलिंग स्किन के 4 कारण और 13 लक्षण!

Peeling Skin: जानिए पीलिंग स्किन के 4 कारण और 13 लक्षण!

स्किन से जुड़ी कई परेशानियों जैसे एक्ने, ड्राय स्किन या फिर स्किन एलर्जी के बारे में तो हमसभी जानते हैं, लेकिन क्या आपने कभी त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या के बारे में पढ़ा है? अगर नहीं, तो कोई बात नहीं आज हम पीलिंग स्किन (Peeling Skin) जुड़ी जानकारी आपके साथ शेयर करेंगे।

और पढ़ें : Face Wash For Oily Skin: ऑयली स्किन के लिए कौन-से फेसवॉश का किया जा सकता है इस्तेमाल?

  • पीलिंग स्किन की समस्या क्या है?
  • पीलिंग स्किन के कारण क्या है?
  • पीलिंग स्किन के लक्षण क्या हैं?
  • पीलिंग स्किन का निदान कैसे किया जाता है?
  • पीलिंग स्किन का इलाज कैसे किया जाता है?
  • पीलिंग स्किन से बचाव कैसे संभव है?
  • त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या किन लोगों में ज्यादा देखी जा सकती है?

त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या यानी पीलिंग स्किन से जुड़े इन सवालों का जवाब जानेंगे।

और पढ़ें : सैलीसिलिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड: ब्यूटी प्रोडक्टस में प्रयोग होने वाले यह एसिड किस तरह से हैं फायदेमंद, जानिए

पीलिंग स्किन की समस्या क्या है? (About Peeling Skin)

पीलिंग स्किन (Peeling Skin)

पीलिंग स्किन जिसे आम बोलचाल की भाषा में त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या कहते हैं। वैसे तो पीलिंग स्किन की समस्या (Peeling skin problem) ज्यादातर सनबर्न (Sunburn) की वजह से होती है। क्लीवलैंड क्लिनिक (Cleveland Clinic) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पीलिंग स्किन के कई कारण भी हो सकते हैं जिनके बारे में आर्टिकल में आगे समझेंगे।

और पढ़ें : हाइड्रोजन पेरोक्साइड और स्किन कंडिशन: क्यों स्किन के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

पीलिंग स्किन के कारण क्या है? (Causes of Peeling Skin)

पीलिंग स्किन के कारण कई हो सकते हैं, जो इस प्रकार हैं। जैसे:

1. स्किन डैमेज (Skin damage)-

  • त्वचा का जल (Burns) जाना।
  • स्किन इरिटेशन (Skin irritation) होना।
  • सनबर्न (Sunburns) होना।

2. जेनेटिक या इन्फ्लामेट्री डिजीज (Genetic or inflammatory diseases)-

3. इन्फेक्शस डिजीज (Infectious diseases)-

  • ग्रुप ए स्ट्रेप्टोकोकल इंफेक्शन जैसे स्कार्लेट फीवर (Group A streptococcal infections like scarlet fever) होना।
  • स्टैफ इंफेक्शन जैसे इम्पेटिगो (Staph infections like impetigo) होना।
  • टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम (Toxic shock syndrome) होना।

4. स्किन कंडिशन (Skin conditions)-

  • एलर्जिक रिएक्शन (Allergic reactions) की समस्या होना।
  • टीनिया पेडिस (Tinea pedis) और टीनिया क्रूरिस (Tinea cruris) की समस्या होना।
  • ड्राय स्किन (Dry skin) की समस्या होना।
  • एडिमा (Edema) की समस्या होना।
  • त्वचा पर फफोले (Pemphigus) की समस्या होना।
  • सेबोरेहिक डर्मेटाइटिस (Seborrheic dermatitis) की समस्या होना।
  • एक्जिमा (Eczema) की समस्या होना।
  • सोरायसिस (Psoriasis) की समस्या होना।

इन ऊपर बताई गई स्किन कंडिशन (Skin condition) को पीलिंग स्किन के कारण (Peeling skin cause) में शामिल किया है।

और पढ़ें : Skin Lesions: स्किन लीजन क्या है? जानिए स्किन लीजन का कारण, इलाज और घरेलू उपाय

पीलिंग स्किन के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Peeling Skin)

पीलिंग स्किन (Peeling Skin)

पीलिंग स्किन के लक्षण इस प्रकार हैं-

  1. त्वचा की ऊपरी परत (Skin layer) निकलना।
  2. स्किन से ब्लड (Bleeding) आना।
  3. त्वचा पर फफोले (Blistering) आना।
  4. स्किन ड्राय (Dry skin) होना।
  5. स्किन में अंदुरुनी सूजन (Inflammation) आना।
  6. स्किन इरिटेशन (Skin Irritation) होना।
  7. स्किन में खुजली (Itching) होना।
  8. स्किन पर रैश (Rash) आना।
  9. त्वचा का लाल (Redness) पड़ना।
  10. स्किन स्केलिंग (Scaling) नजर आना।
  11. स्किन में सूजन (Swelling) आना।
  12. त्वचा का जरूरत से ज्यादा मोटा (Skin thickening) पड़ना।
  13. त्वचा में गर्माहट (Warmth) आना।

ऐसे लक्षण पीलिंग स्किन के लक्षण की ओर इशारा करते हैं। इन लक्षणों को इग्नोर नहीं करना चाहिए और डर्मेटोलॉजिस्ट से कंसल्ट करना चाहिए।

और पढ़ें : Best Vitamin C serum: जानिए बेस्ट विटामिन सी सीरम के फायदे और किन बातों को रखकर चुने सीरम!

पीलिंग स्किन का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Peeling Skin)

पीलिंग स्किन के निदान के लिए डर्मेटोलॉजिस्ट सबसे पहले स्किन प्रॉब्लम को मॉनिटर करते हैं और पेशेंट्स से तकलीफों को समझकर निम्नलिखित टेस्ट करवाने की सलाह देते हैं। जैसे-

इन टेस्ट रिपोर्ट्स को ध्यान में रखकर पीलिंग स्किन का इलाज (Peeling Skin treatment) शुरू किया जाता है।

पीलिंग स्किन का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment of Peeling Skin)

पीलिंग स्किन का इलाज निम्नलिखित दवाओं से किया जा सकता है। जैसे:

  • एलर्जिक मेडिकेशन (Allergy medications)
  • एंटीबायोटिक मेडिकेशन (Antibiotics medications)
  • एंटीफंगल मेडिकेशन (Antifungals medications)
  • कॉर्टिकॉस्टेरॉइड्स (Corticosteroids)
  • नॉनस्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लामेट्री ड्रग्स (Nonsteroidal anti-inflammatory drugs [NSAIDs])

इन दवाओं को पेशेंट की स्किन कंडिशन (Skin condition) और हेल्थ कंडिशन (Health condition) को ध्यान में रखकर किया जाता है।

नोट: आप अपनी मर्जी से किसी भी दवाओं का सेवन ना करें।

और पढ़ें : Blind Pimple: ब्लाइंड पिंपल से छुटकारा पाने के लिए 7 घरेलू उपाय एवं 9 टिप्स कर सकते हैं फॉलो!

पीलिंग स्किन से बचाव कैसे संभव है? (Tips to prevent Peeling Skin)

निम्नलिखित टिप्स को फॉलो कर पीलिंग स्किन से बचाव संभव हो सकता है। जैसे:

  1. त्वचा पर एलोवेरा (Aloe vera) लगाएं।
  2. बिना सुगंध वाले हाइपोएलर्जेनिक मॉइस्चराइजिंग क्रीम या ऑइंटमेंट (Hypoallergenic moisturizing cream or ointment) का इस्तेमाल करें,
  3. क्योंकि हाइपोएलर्जेनिक मॉइस्चराइजिंग क्रीम या ऑइंटमेंट सामान्य लोशन से ज्यादा बेहतर हो सकते हैं।
  4. रोजाना तरल पदार्थों एवं पानी (Water) का सेवन करें, जिससे त्वचा हाइड्रेट रहे।
  5. अगर आप स्मोकिंग (Smoking) करते हैं, तो स्मोकिंग ना करें।
  6. गर्म पानी से स्नान (Hot water bath) ना करें।
  7. सूर्य की तेज किरणों में बाहर ना निकलें।

इन सात टिप्स को फॉलो करने से पीलिंग स्किन से बचाव (Peeling Skin prevention) में मदद मिल सकती है।

और पढ़ें : Hyaluronic Acid For Skin: जानिए शरीर एवं त्वचा के लिए हाईऐल्युरोनिक एसिड के 10 फायदे!

त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या (Peeling Skin) किन लोगों में ज्यादा देखी जा सकती है?

जर्नल्स ऑफ जेएएमए डर्मेटोलॉजिस्ट (Journal of JAMA Dermatologist) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पीलिंग स्किन यानी त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या सेंसेटिव स्किन (Sensitive skin) वालों में ज्यादा देखी जाती है। वहीं जिन लोगों को सनबर्न (Sunburn) होता है उनमें भी त्वचा की ऊपरी परत के निकलने की समस्या का खतरा ज्यादा बना रहता है।

डॉक्टर से कब कंसल्ट करना जरूरी है? (Consult Doctor if-)

निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर से सलाह लें। जैसे:

  • त्वचा की ऊपरी परत निकलने के साथ-साथ रैश (Rash) होना।
  • त्वचा की ऊपरी परत निकलने के साथ ही ब्लड (Blood) आना या घाव होना।
  • त्वचा का अत्यधिक रुखा (Dry) पड़ना।
  • अत्यधिक खुजली (Itching) की समस्या होना।

कभी-कभी घरेलू उपायों से भी स्किन से जुड़ी परेशानी दूर नहीं होती हैं। इसलिए अगर आप पीलिंग स्किन की समस्या से परेशान हैं तो डॉक्टर से सलाह लें।

हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल में पीलिंग स्किन (Peeling Skin) से जुड़ी जानकारी आपके लिए लाभकारी होंगी। इसलिए अगर आप लंबे वक्त से पीलिंग स्किन (Peeling Skin) या किसी भी तरह के स्किन की समस्याओं के शिकार हैं और यह परेशानी दूर नहीं हो रही है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करें। डॉक्टर बीमारी की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए मेडिसिन प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। स्किन प्रॉब्लेम (Skin problem) से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए आप हैलो स्वास्थ्य के त्वचा संबंधी समस्याओं पर क्लीक करें।

आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज के बारे में जानें संपूर्ण जानकारी नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर। आयुर्वेदिक ब्यूटी एक्सपर्ट पूजा नागदेव खास जानकारी साझा कर रहीं हैं आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज की, जिससे आप आसानी से अपना सकती हैं और चेहरे पर एक्ने के दाने या अन्य दाग-धब्बों को दूर करने के उपाय।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Peeling Skin/https://my.clevelandclinic.org/health/symptoms/17832-peeling-skin#possible-causes/Accessed on 21/06/2022

Acral peeling skin syndrome/https://medlineplus.gov/genetics/condition/acral-peeling-skin-syndrome/Accessed on 21/06/2022

Dry skin – self-care/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000751.htm/Accessed on 21/06/2022

Peeling skin syndrome/https://www.science.gov/topicpages/p/peeling+skin+syndrome/Accessed on 21/06/2022

Skin Resurfacing Chemical Peels/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK547752/Accessed on 21/06/2022

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड