क्यों हमारी नींद जल्दी नहीं खुलती? जानें कैसे इससे बचा जा सकता है

Medically reviewed by | By

Update Date दिसम्बर 10, 2019
Share now

सुबह जल्दी उठना है इसलिए टाइम पर सो जाना चाहिए। जब ये ख्याल मन में आता है तो ये डर भी लगा रहता है कि नींद खुलेगी भी या नहीं ? भाग-दौड़ भरी इस जिंदगी में हर कोई टाइम का पाबंद होना चाहता है। सभी काम टाइम से खतम कर लिए फिर भी जब सुबह उठने की बारी आती है तो जागने का बिल्कुल मन नहीं करता है। कभी सोचा है आपने कि ऐसा क्यों होता है?

अलार्म बजने के बाद उसे स्नूज में डाल देना। ऐसा एक बार नहीं बल्कि कई बार करना। ये सब इस बात का संकेत देता है कि आप की नींद अभी पूरी नहीं हुई है। नींद पूरी न हो पाने के कई कारण हो सकते हैं। हमारे खान-पान से लेकर मन में आने वाले ख्याल, शारिरिक समस्याएं या फिर एकाग्रता में कमी अधूरी नींद का कारण हो सकती है। आप भी जान लें कहीं ये कारण आपकी नींद को डिस्टर्ब तो नहीं कर रहें ?

यह भी पढ़ें- दोपहर में क्यों आती है नींद? क्या दोपहर में सोने के फायदे भी हैं?

बेड टाइम से पहले या शाम को काम करना

हम अक्सर ऐसा सोचते हैं कि शाम के समय वर्कआउट कर लें क्योंकि सुबह उठना बड़ी चुनौैती होता है। वर्कआउट के बाद शरीर को ऊर्जा मिलती है और हमको ये लगता है कि हमे रात में अच्छी नींद आएगी। लेकिन ऐसा सब के साथ नहीं होता है। कई लोगों को वर्कआउट के बाद भी अच्छी नींद नहीं आती है। रात में देर तक काम करने से भी स्लीप साइकल में इफेक्ट होता है। जब हमारा शरीर थकावट के बाद नींद की तैयारी कर रहा होता है उस समय हम काम कर रहे होते हैं जिसकी वजह से हमें अच्छी नींद से हाथ धोना पड़ जाता है और हम सुबह देर सोते रहते हैं।

यह भी पढ़ें- किन वजहों से हमें रातों को नींद नहीं आती है?

सोने के एक घंटे पहले खाना

शरीर सोने की तैयारी कर रहा है और आप कुछ समय पहले खाना खा रहे हैं। ऐसा बिल्कुल भी न करें। जब खाना शरीर में पहुंचता है तो शरीर को उसे पचाने के लिए काम करना पड़ता है। यदि आप वेजीटेरियन हैं तो सोने के 3 घंटे पहले खाना खाएं। यदि आप नॉन-वेजीटेरियन है तो सोने के 3 से 4 घंटे पहले खाना खाएं। शरीर को आराम देने के लिए आपको सोने से पहले थोड़ा रिलेक्स देना होगा तभी आप एक अच्छी नींद ले पाएंगे।

यह भी पढ़ें – क्या नींद में कमी कर सकती है आपकी इम्यूनिटी को कमजोर?

सोने से पहले पॉजिटिव सोचें

जब आपके बच्चे या फिर खुद आपको कहीं घूमने या फिर पिकनिक के लिए जाना होता है तो आप सुबह बिना आलार्म के भी जाग जाते हैं। आपने कभी सोचा है कि आखिर नींद अपने आप कैसे खुल जाती है। इसके पीछे एक ही लॉजिक है ‘ पॉजिटिव थिंकिंग’ । रात में सोने से पहले ध्यान कर लें कि अगले दिन आपका क्या शेड्यूल है। मन में किसी बात को न रखें। जो भी हो उसे सॉल्व कर लें। मन में अगर बातों का जाल नहीं होगा तो दिमाग रिलेक्स फील करेगा और आप चैन से सो सकेंगी।

और पढ़ें- बच्चे नींद में क्यों हंसते हैं?

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    अच्छी नींद के लिए सोने से पहले न करें इलेक्ट्रॉनिक्स का यूज

    रोत को अच्ची नींद के लिए फॉलों करें सोने के टिप्स। अच्छी नींद के लिए आएगी काम। सोने से पहले ना करें इलेक्ट्रॉनिक का इस्तेमाल। और जानें

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Dr. Pranali Patil

    क्या आपका बच्चा नींद के कारण परेशान रहता है? तो इस तरह दें उसे स्लीप ट्रेनिंग

    क्या आपका बच्चा नींद न आने के कारण परेशान रहता है? तो हो सकता है उसे स्लीप ट्रेनिंग (Sleep Training) देने की जरूरत पड़े। लेकिन कब और किन बच्चों के स्लीप ट्रेनिंग देनी चाहिए, यहां पढ़ें।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Hema Dhoulakhandi

    बच्चे को चैन की नींद सुलाने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स

    बच्चे की अच्छी नींद के लिए बहुत जरुरी है सही रुटिन। अगर बच्चे को अच्छी नींद के लिए तैयार करना है तो आपको कुछ नई आदतें उनके अंदर डालनी पड़ेंगी। पढ़ें और

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Lucky Singh

    काफी गहरा पड़ता है डिप्रेशन का नींद पर असर, जानिए इसे दूर करने के तरीके

    डिप्रेशन का नींद पर असर क्या होता है, इसके लक्षण क्या हैं और डिप्रेशन का नींद पर असर पड़ने से क्या क्या समस्याएं हो सकती हैं, इस बारे में जानिए विस्तार से। जानिए डिप्रेशन (Depression) और नींद (Sleep) के बारे में।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Hema Dhoulakhandi