home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

करेले का जूस पीने से होते हैं इतने फायदे

करेले का जूस पीने से होते हैं इतने फायदे

करेले का नाम सुनते ही कई लोग मुंह बनाने लगते हैं। लेकिन करेले में ऐसे-ऐसे फायदे होते हैं, जो आपको हैरान कर सकते हैं। यही कारण है कि जिन्हें करेले के फायदे पता हैं, वो लोग करेले के जूस का सेवन करते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि करेला वास्तव में सब्जी नहीं, बल्कि एक फल है। यह पौधे का वह भाग है, जिसका उपयोग मेडिसिन के तौर पर भी किया जाता है।

रिसर्च के अनुसार करेला में केमिकल होता है, जो इन्सुलिन की तरह काम करता है। इसके सेवन से शरीर में शुगर लेवल भी बैलेंस्ड रहता है। करेले में प्रचुर मात्रा में विटामिन-ए, विटामिन-बी एवं विटामिन-सी के साथ-साथ जिंक, पोटैशियम, कैरोटीन, बीटाकैरोटीन, आयरन, लूटीन, मैग्नीशियम और मैगनीज जैसे फ्लावोन्वाइड मौजूद होते हैं। ये सभी पोषक तत्व शरीर के लिए लाभकारी होते है। करेले में मौजूद फास्फोरस कफ और कब्ज जैसी परेशानियों से दूर रखने में सहायक होता है। इसमें सूजन कम करने वाले, एंटीफंगल, एंटी-बायोटिक, एंटी-एलर्जिक, एंटीवायरल और एंटीपारासिटिक गुण पाए जाते हैं। यूएसडीए (यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर) के अनुसार, 100 ग्राम करेले में 13 मिलीग्राम सोडियम, 602 ग्राम पोटैशियम, सात ग्राम कुल कार्बोहाइड्रेट और 3.6 ग्राम प्रोटीन के साथ लगभग 34 कैलोरी होती है।

इस आर्टिकल में करेले के जूस के फायदे क्या हैं? करेले के जूस के फायदे कौन-कौन सी बीमारियों को दूर रखने में सहायक है, यह समझने की कोशिश करेंगे।

और पढ़ें : तामसिक छोड़ अपनाएं सात्विक आहार, जानें पितृ पक्ष डायट में क्या खाएं और क्या नहीं

करेले के जूस के फायदे क्या हैं?

करेले के जूस के फायदे निम्नलिखित शारीरिक परेशानियों को दूर करने में सहायक होता है। जैसे:

करेले के जूस के फायदे 1: ब्लड शुगर लेवल करे संतुलित

करेले में एक इंसुलिन जैसा कंपाउंड होता है, जिसे पॉलीपेप्टाइड-पी या पी-इंसुलिन कहा जाता है। यह डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए यूज किया जाता है। एस एथनोफार्माकोली में प्रकाशित 2011 के एक अध्ययन के अनुसार, चार सप्ताह तक किए गए क्लिनिकल ट्रायल में जब टाइप -2 मधुमेह से पीड़ित रोगियों को नियमित रूप से 2,000 मिलीग्राम करेला दिया गया। ऐसा करने से इनका ब्लड शुगर का लेवल काफी कम हो गया। अध्ययनों से पता चला है कि करेले के पौधे में यह इंसुलिन टाइप -1 डायबिटीज के रोगियों को भी मदद करता है। लेकिन, करेले के रस का सेवन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

करेले के जूस के फायदे 2: खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है

करेले का जूस खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में भी मदद कर सकता है। इससे यह दिल के दौरे और स्ट्रोक के खतरे को काफी कम कर देता है। पोटैशियम होने के कारण यह ब्लड प्रेशर को भी बनाए रखता है, जो शरीर में अत्यधिक सोडियम को एब्जॉर्ब करता है। इसके अलावा, यह आयरन और फोलिक एसिड से भरपूर है, जो स्ट्रोक के खतरे को कम करने और दिल को स्वस्थ रखने के लिए जाना जाता है।

और पढ़ें : Calcitonin : कैल्सीटोनिन क्या है?

करेले के जूस के फायदे 3: बालों और स्किन को स्वस्थ बनाए करेले का जूस

करेले के रस में विटामिन-ए और विटामिन-सी के साथ शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो समय से पहले त्वचा की उम्र बढ़ने से रोकते हैं और झुर्रियों को कम करते हैं। इसके अलावा, यह एक्जिमा और सोरायसिस के इलाज में यूज होता है। यह मुंहासों को कम करता है, साथ ही हानिकारक यूवी किरणों से त्वचा की रक्षा करता है।

करेले के जूस के फायदे 4: लिवर को क्लीन करता है

करेले का जूस आंत को साफ करता है और साथ ही लिवर की कई समस्याओं को ठीक करता है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ विटामिन एंड न्यूट्रीशन में प्रकाशित, एक अध्ययन के अनुसार मोमोर्डिका चारेंटिया नामक एक कंपाउंड लिवर में एंजाइमों की एंटी-ऑक्सीडेंट गतिविधि को मजबूत करके लिवर डैमेज से सुरक्षा प्रदान करता है। यह आपके ब्लैडर की कार्यप्रणाली को भी बढ़ावा देता है।

करेले के जूस के फायदे 5: किडनी स्टोन की परेशानी होती है दूर

किडनी स्टोन की परेशानी को दूर करने के लिए करेले का जूस अत्यधिक लाभकारी माना जाता है। रिसर्च के अनुसार करेले का जूस शरीर में बढ़े हुए अतिरिक्त एसिड को बैलेंस करने में सहायक होता है।

करेले के जूस के फायदे 6: आंख के लिए है लाभकारी

करेले का जूस आंखों के लिए अत्यंत लाभकारी माना जाता है। दरअसल करेले में मौजूद बीटा-कैरोटिन आंखों से संबंधित बीमारियों को दूर करने में सहायक होता है। रिसर्च के अनुसार इसके सेवन से आंखों की रोशनी अच्छी होती है।

करेले के जूस के फायदे 7: डायजेशन होता है बेहतर

पाचन संबंधी परेशानियों को दूर के लिए करेले का जूस रामबाण माना जाता है। करेले के जूस का सेवन नियमित और संतुलित मात्रा में करने फायदा होता है। यही नहीं करेले के जूस के सेवन से कब्ज (कॉन्स्टिपेशन) की परेशानी नहीं रहती है और बवासीर (पाइल्स) का खतरा भी नहीं रहता है।

करेले के जूस के फायदे 8: वजन होता है संतुलित

अगर आप बढ़े हुए वजन की वजह से परेशान रहते हैं और कई विकल्प अपना चुके हैं, लेकिन फायदा नहीं हो रहा है, तो करेले के जूस का सेवन करें। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार करेले के जूस का सेवन नियमित और संतुलित मात्रा में करने से बढ़े हुए वजन को कम किया जा सकता है।

करेले के जूस के फायदे 9: सूजन की परेशानी होती है दूर

करेले में एंटी-इन्फ्लामेटरी गुण भी मौजूद होते हैं। एंटी-इन्फ्लामेटरी शरीर में होने वाले सूजन की परेशानी को भी दूर करने में सहायक होता है।

और पढ़ें : अल्सरेटिव कोलाइटिस रोगी के डाइट प्लान में क्या बदलाव करने चाहिए?

करेले के जूस के फायदे एक नहीं बल्कि कई हैं, लेकिन करेले के जूस के फायदे के साथ ही इसका सेवन कुछ खास परिस्थितियों में नुकसानदायक भी हो सकता है। इसलिए निम्नलिखित परिस्थितयों में करेले के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे:

  • अगर करेले के जूस के सेवन के बाद पेट में ऐंठन, सिरदर्द या फिर लूज मोशन की समस्या हो, तो इसका सेवन न करें।
  • डायबिटीज की समस्या से पीड़ित व्यक्ति अगर शुगर लेवल को कंट्रोल रखने के लिए दवाओं का सेवन करते हैं, तो ऐसी स्थिति में करेले के जूस का सेवन न करें या हेल्थ एक्सपर्ट से सलाह लेकर ही इसका सेवन करना लाभकारी हो सकता है।
  • हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार गर्भवती महिलाओं को करेले के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे मिसकैरिज का खतरा हो सकता है।
  • ब्रेस्टफीडिंग करवाने वाली महिलाओं को भी करेले के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। दरअसल करेले में कुछ विषाक्त भी मौजूद होते हैं, जो स्तनपान करवाने वाली महिला के साथ-साथ शिशु के लिए भी हानिकारक हो सकते हैं।

करेले के जूस के फायदे अनेक हैं, इसलिए कोशिश करें कि आप इसे अपनी डायट में शामिल करें।

और पढ़ें : पालक से शिमला मिर्च तक 8 हरी सब्जियों के फायदों के साथ जानें किन-किन बीमारियों से बचाती हैं ये

करेले का सेवन कैसे किया जा सकता है?

करेले का सेवन जूस के साथ-साथ निम्नलिखित तरह से भी किया जा सकता है। जैसे:

  • करेले की सब्जी बनाकर।
  • करेले का अचार बनाकर।
  • अन्य सब्जियों में भी करेले को मिक्स कर बनाया जा सकता है।

अगर आप करेले या करेले के जूस के फायदे से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

3 Bitter Melon Juice Recipes (And 11 Unique Benefits You Get With Each Sip)/https://justjuice.org/bitter-melon-juice/Accessed on 21/09/2020

10 Benefits of Bitter Melon That Makes It Even More Worth Eating/https://www.lifehack.org/articles/lifehack/10-benefits-bitter-melon-that-makes-even-more-worth-eating.html/Accessed on 21/09/2020

Fermented bitter melon juice as complimentary promising agent for diabetes type-2 treatment/https://www.longdom.org/proceedings/fermented-bitter-melon-juice-as-complimentary-promising-agent-for-diabetes-type2-treatment-47635.html/Accessed on 21/09/2020

Sample records for bitter melon extract/https://worldwidescience.org/topicpages/b/bitter+melon+extract.html/Accessed on 21/09/2020

 

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Manjari Khare द्वारा लिखित
अपडेटेड 11/07/2019
x