home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

विटामिन-सी के ये फायदे, शायद नहीं होंगे पता

विटामिन-सी के ये फायदे, शायद नहीं होंगे पता

विटामिन-सी को एस्कॉर्बिक एसिड के नाम से भी जाना जाता है। यह शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्वों में से एक है। विटामिन-सी की कमी से कई बीमारियां जैसे-मोतियाबिंद, चर्म रोग, गर्भपात, भूख न लगना आदि हो सकती हैं। विटामिन-सी शरीर को कई बीमारियों से बचाने के साथ ही सांस और पाचन संबंधी समस्याओं से भी निजात दिलाता है। विटामिन-सी में एंटी-एलर्जिक और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण होते हैं। आइए जानते हैं विटामिन-सी के फायदे के बारे में…

और पढ़ें: डायट एंड इटिंग प्लान- ए-जेड : वेट लॉस और वेट मैनेजमेंट की पूरी जानकारी

विटामिन-सी के अच्छे स्रोत क्या हैं?

विटामिन सी खाद्य पदार्थों के माध्यम से शरीर में जाता है। संतरा, आलू, टमाटर आदि विटामिन-सी के अच्छे स्रोत माने जाते हैं। साथ ही खट्टे फलों जैसे-आंवला, अनानास, स्ट्रॉबेरी, नारंगी और अंगूर में भी विटामिन-सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा विटामिन-सी के और भी कई स्रोत हैं जैसे-अमरूद, केला, बेर, कटहल, शलगम, पुदीना, मूली के पत्ते, मुनक्का, चुकंदर, बंदगोभी और पालक।

विटामिन-सी हमारे शरीर के लिए कितना उपयोगी है?

विटामिन-सी के फायदे: स्ट्रेस को दूर करता है (Relieves stress)

स्ट्रेस एक बहुत ही सामान्य समस्या है। लोग जरूरत से ज्यादा सोचते हैं और खुद को बीमार और कमजोर बना लेते हैं। स्ट्रेस भी इम्युनिटी को कमजोर करने का एक बड़ा कारण है और जिन लोगो में ऐसा होता है उनके लिए विटामिन-सी का सेवन जरूरी है। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है।

और पढ़ें: पाइल्स में डायट पर ध्यान देना होता है जरूरी, इन फूड्स का करें सेवन

विटामिन-सी के फायदे: सर्दी से सुरक्षा कवच प्रदान करता है (Protects from cold and cough)

विटामिन-सी सामान्य सर्दी या जुखाम का इलाज तो नहीं है पर यह सर्दी के लक्षणों को गंभीर होने से जरूर रोकता है। इसलिए सर्दी होने पर विटामिन-सी का सेवन करने से यह कम बढ़ती है जिससे निमोनिया और लंग इंफेक्शन का खतरा कम होता है।

विटामिन-सी के फायदे: हार्ट अटैक के खतरे को कम करता है (Lower the risk of heart attack)

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन की एक रिसर्च में पाया गया है कि जिन लोगों के ब्लड में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा पाई गई उनमें हार्ट अटैक का खतरा कम पाया गया वहीं जिनके ब्लड में विटामिन-सी कम पाया गया उनमें यह जोखिम ज्यादा था। हालांकि, शोध में इसका कारण स्पष्ट नहीं हुआ पर यह पूरी तरह से स्पष्ट है कि जो लोग रसीले फल और सब्जियां ज्यादा खाते हैं उनमें विटामिन-सी पर्याप्त मात्रा में होता है।

और पढ़ें: जानें ऐसी 7 न्यूट्रिशन मिस्टेक जिनकी वजह से वेट लॉस डायट प्लान पर फिर रहा है पानी

विटामिन-सी के फायदे: ग्लोइंग स्किन के लिए फायदेमंद (Beneficial for glowing skin)

शरीर में इलास्टिन का निर्माण विटामिन सी के स्तर पर निर्भर करता है। इलास्टिन त्वचा की कोशिकाओं को गाढ़ा, संरक्षित और सुरक्षित करता है। इलास्टिन आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखता है। यदि आप एक बेहतर त्वचा चाहते हैं, तो विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों को डायट में शामिल करें।

विटामिन-सी के फायदे: क्रोनिक डिजीज के होने के खतरे को कम करता है (May reduce your risk of chronic disease)

विटामिन-सी में पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर की प्राकृतिक सुरक्षा को मजबूत करता है। एंटीऑक्सीडेंट वो मोलिक्यूल होते हैं जो इम्यून सिस्टम को बूस्ट करते हैं। साथ ही ये फ्री रेडिकल्स से निजात दिलाते हैं। शरीर में फ्री रेडिकल्स जमा होते हैं तो ऑक्सीडेटिव तनाव के रूप में जाने जाते हैं। ये कई क्रोनिक डिजीज से जुड़े होते हैं।

और पढ़ें: वेट लॉस डायट चार्ट: जरूर ट्राई करें ये आसान और असरदार चार्ट

विटामिन-सी के फायदे: एंटी एजिंग प्रॉपर्टीज (Anti-aging properties)

विटामिन सी भरपूर मात्रा में लेने से आप अधिक समय तक जवान दिखते हैं क्योंकि यह स्किन सेल्स को अंदर और बाहर दोनों तरफ से पोषण देता है इसलिए, जो लोग फल और सब्जी ज्यादा खाते हैं उनकी स्किन हमेशा ग्लो करती है साथ ही स्किन पर रिंकल्स यानी की झुर्रियां भी जल्दी नहीं होती

विटामिन-सी के फायदे: आंखों के लिए फायदेमंद (Beneficial for eyes)

आंखों के लिए भी विटामिन-सी बहुत फायदेमंद है क्योंकि इसकी कमी से मोतियाबिंद या ग्लूकोमा जैसे रोग होने का खतरा बढ़ जाता है। इसके लिए भरपूर मात्रा में फल सब्जी खाएं। ये आंखों की रोशनी को भी बेहतर बनाता है।

विटामिन-सी हमारे शरीर के लिए कितना उपयोगी है? यह तो आप समझ ही गए होंगे इसलिए आज से ही अपने दैनिक आहार में ऐसी चीजों को शामिल करें जिनमें विटामिन सी भरपूर मात्रा हो। अगर आपको फल खाना पसंद नहीं है तो आप सुबह नाश्ते में जूस या शेक बना कर भी ले सकते है।

विटामिन-सी के फायदे: हाई ब्लड प्रेशर को मैनेज करता है (Manage high blood pressure)

अध्ययनों से पता चलता है कि जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है, विटामिन सी उनमें ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है। जानवरों पर किए गए एक शोध के अनुसार, विटामिन सी सप्लीमेंट लेने से दिल से रक्त ले जाने वाली रक्त वाहिकाओं को आराम करने में मदद मिलती है, जिससे रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद होती है।

और पढ़ें: 30 प्लस वीमेन डायट प्लान में होने चाहिए ये फूड्स, एनर्जी रहेगी हमेशा फुल

विटामिन-सी के फायदे: ब्लड यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है (May reduce blood uric acid levels)

यूरिक एसिड शरीर द्वारा उत्पादित किया गया वेस्ट होता है। शरीर में इसकी उच्च मात्रा के कारण जोड़ों में क्रिस्टलीकृत जमा हो सकते है, जिससे गाउट की समस्या होती है। कई शोध के अनुसार विटामिन-सी ब्लड में यूरिक एसिड की मात्रा को कम करता है।

विटामिन-सी के फायदे: आयरन की कमी को रोकने में मदद करता है (Helps prevent iron deficiency)

शरीर में आयरन एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने और पूरे शरीर में ऑक्सीजन का परिवहन करने के लिए आवश्यक होता है। विटामिन सी डायट से आयरन के अवशोषण को बेहतर बनाने में मदद करता है। 100 मिलीग्राम विटामिन सी का सेवन करने से 67% लोहे के अवशोषण में सुधार हो सकता है। इससे विटामिन सी आयरन की कमी से ग्रस्त लोगों में एनीमिया के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

और पढ़ें: हाइपरटेंशन के लिए डैश डायट लेकर करें बीमारी को दूर

विटामिन सी के साइड इफेक्ट्स

विटामिन-सी के फायदे तो आपने जान लिए, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसकी हाई डोज लेने से निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

विटामिन सी की 2000 मिलीग्राम से ज्यादा डोज लेने से मना की जाती है। इसकी हाई डोज लेने से गंभीर दस्त और गुर्दे की पथरी के होने का खतरा होता है। इसके साथ ही गर्भावस्था के दौरान विटामिन-सी का सेवन सुरक्षित होता है। हालांकि इसकी अत्यधिक डोज नवजात शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है। सामान्यतया, इसकी 85 और 120 मिलीग्राम प्रति दिन डोज पर्याप्त मानी जाती है। विटामिन सी रक्त शर्करा को भी बढ़ा सकता है। इसलिए डायबिटीज में इसका सेवन सावधानी के साथ करना चाहिए। मधुमेह से पीड़ित वृद्ध महिलाओं में, प्रतिदिन 300 मिलीग्राम से अधिक मात्रा में विटामिन सी हृदय रोग के जोखिम को बढ़ाता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Vitamin C: https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminC-Consumer/ Accessed July 17, 2020

Effect of High-Dose Vitamin C: https://www.hindawi.com/journals/crim/2017/5202606/ Accessed July 17, 2020

Vitamin C for preventing and treating the common cold: https://www.cochranelibrary.com/cdsr/doi/10.1002/14651858.CD000980.pub3/full?cookiesEnabled Accessed July 17, 2020

Vitamin C for preventing and treating the common cold: https://www.cochranelibrary.com/cdsr/doi/10.1002/14651858.CD000980.pub4/full?cookiesEnabled Accessed July 17, 2020

Clinical Trial of High dose of Vitamin C: https://jamanetwork.com/journals/jamaophthalmology/fullarticle/268224 Accessed July 17, 2020

Effects of vitamin C supplementation on blood pressure: https://academic.oup.com/ajcn/article/95/5/1079/4576767 Accessed July 17, 2020

Vitamins C and E and Beta Carotene Supplementation and Cancer Risk: https://academic.oup.com/jnci/article/101/1/14/914826 Accessed July 17, 2020

Long-Term Use of Supplemental Multivitamins, Vitamin C, Vitamin E, and Folate Does Not Reduce the Risk of Lung Cancer: https://www.atsjournals.org/doi/full/10.1164/rccm.200709-1398OC  Accessed July 17, 2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित
अपडेटेड 09/07/2019
x