home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सौंफ खाने के फायदेः कई बीमारियों के लिए फायदेमंद है सौंफ के दाने

सौंफ खाने के फायदेः कई बीमारियों के लिए फायदेमंद है सौंफ के दाने

खाने में सौंफ के उपयोग के अलावा, सौंफ और इसके बीज स्वास्थ्य लाभ की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करते हैं। सौंफ में एंटीऑक्सिडेंट, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीबायोटिक गुण होते हैं। एक चम्मच सौंफ में फाइबर 2 ग्राम, विटामिन सी RDI (रिफ्रेंस डेली इंटेक) का 2% , कैल्शियम RDI का 7% ,आयरन RDI का 6% मैग्नीशियम RDI का 6%, पोटेशियम RDI का 3% , मैंगनीज RDI का 19 % पाया जाता है। एक चम्मच सौंफ खाने से बॉडी को बहुत सरे फायदे मिल सकते हैं। आइए जानते हैं सौंफ खाने के फायदे के बारें में।

और पढ़ें : Buttercup: बटरकप क्या है?

जानिए सौंफ खाने के फायदे

1. बीमारियों से लड़ने में मदद करती है

सौंफ में पॉलीफेनोल एंटीऑक्सिडेंट रोजमारिनिक एसिड, क्लोरोजेनिक एसिड, क्वेरसेटिन और एपिजेनिन आदि कंपाउंड पाए जाते हैं। पॉलीफेनोल एंटीऑक्सिडेंट एंटी इंफेलेमेट्री एजेंट है जो स्वास्थ्य पर प्रभाव डालते हैं। अध्ययन से पता चलता है कि जो लोग इन एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर आहार लेते हैं, उनमें हृदय रोग, मोटापा, कैंसर, न्यूरो लॉजिकल संबंधी रोग और टाइप 2 मधुमेह जैसे बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है।

2. वजन घटने में सहायक

सौंफ खाने से भूख कंट्रोल में रहती है। इसलिए जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उन्हें एक चम्मच सौंफ खाना चाहिए। एक स्टडीज में महिलाओं को लंच करने से पहले सौंफ की चाय पिलाई गई तो उन्होंने खाने में काम कैलोरी कंज्यूम की।

3. कब्ज, अपच के लिए सौंफ की चाय

इन बीजों में पाए जाने वाले ऑइल के कारण अपच, सूजन और कब्ज में मदद करने के लिए यह चाय को बहुत उपयोगी मानी जाती है। सौंफ के बीज में एस्ट्रैगोल, फेन्कोन और एनेथोल होते हैं। काली मिर्च के साथ सौंफ के बीज खाने से अपच, कब्ज और डायजेशन से जुड़ी अन्य समस्याएं दूर बनी रहती है।

और पढ़ें : C Reactive Protein Test : सी रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट क्या है?

4. सौंफ खाने के फायदे कम कर सकती है अस्थमा के लक्षण

सौंफ़ के बीज और उनके फाइटोन्यूट्रिएंट्स साइनस से लड़ने में मदद करते हैं। इसके लिए भी सौंफ की चाय ही फायदेमंद होती है।

5. रक्त को शुद्ध करने में मदद करती है

इन बीजों में आवश्यक तेल और फाइबर हमारे शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने के लिए बहुत उपयोगी माने जाते हैं, जिससे रक्त को शुद्ध करने में मदद मिलती है। अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करना बहुत जरुरी है जो आपके रक्त को शुद्ध करने में मदद करते हैं। जिससे पोषक तत्वों का बॉडी में अच्छी तरह अवशोषण हो सके।

6. सौंफ खाने के फायदे बढ़ाए आंखों की रोशनी

मुट्ठी भर सौंफ आपकी आंखों की रोशनी के लिए भी चमत्कार कर सकती है। सौंफ के बीज में विटामिन ए होता है, जो आंखों की रोशनी के लिए महत्वपूर्ण है। प्राचीन भारत में, मोतियाबिंद के लक्षणों में सुधार के लिए इन बीजों के अर्क का उपयोग किया जाता था।

7. मुंहासे के लिए लाभदायक

जब आप नियमित रूप से सौंफ के बीज खाते हैं, तो वे बॉडी को जिंक, कैल्शियम और सेलेनियम जैसे मिनरल्स मिलते हैं। ये खनिज हार्मोन को संतुलित करने और ऑक्सीजन संतुलन में मदद करने में बहुत सहायक होते हैं। जब इसका सेवन किया जाता है, त्वचा पर इसका ठंडा प्रभाव पड़ता है, इसलिए यह ग्लो देता है।

और पढ़ें : Dementia : डेमेंशिया क्या है?

8.प्रेग्नेंसी में उल्टी के उपचार में सौंफ आ सकती है बहुत काम

सौंफ में फाइबर, पोटैशियम, मैग्नेशियम और कैल्शियम की मौजूदगी प्रेग्नेंसी में उल्टी के उपचार में काम आने के साथ-साथ दिल को भी स्वस्थ रखती है। एक कप पानी में एक चम्मच सौंफ मिलाकर इसे 10 मिनट तक गर्म करें। फिर इसमें शहद (Honey) मिलाकर पीने से उल्टी से राहत मिलती है। हर घर में सौंफ आसानी से मिल जाती है और इसका उपयोग भी आसान है। प्रेग्नेंसी में उल्टी के उपचार में ये उपचार सबसे सरल है।

9. पेट में जलन करे दूर

सौंफ खाने के फायदे आपको पेट के जलन में लाभकारी हो सकता है। पेट में जलन से बचने के लिए कई डॉक्टर खाने के बाद थोड़ी सी सौंफ चबाने की सलाह देते हैं। सौंफ के गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल फायदों की वजह से सौंफ की चाय भी पेट में जलन दूर भागाने के लिए एक बेहतर विकल्प है। दरअसल सौंफ के रस में पाए जाने मिनरल्स अपच और पेट फूलने जैसी समस्याओं को दूर करने में सक्षम हैं।

और पढ़ें: इम्युनिटी बढ़ाने के साथ शहद नींबू के साथ गर्म पानी पीने के 9 फायदे

10. मॉर्निंग सिकनेस करे दूर

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को होने वाली मॉर्निंग सिकनेस सौंफ से दूर की जा सकती है। इसके अलावा यह उल्टी और जी-मिचलाने जैसे लक्षणों को भी कंट्रोल करता है। हालांकि, प्रेग्रेंसी के दौरान इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

11. हर्निया के इलाज में मददगार

अगर आपको हर्निया की शिकायत है तो आपको सौंफ खाने के फायदे मिल सकते हैं। हालांकि, सौंफ का उपयोग हर्निया के उपचार में कितना लाभकारी हो सकता है, इस दिशा में अभी भी उचित अध्ययन करने की आवश्यकता है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से बात करें।

यह भी पढ़ेंः Green Coffee : ग्रीन कॉफी क्या है?

सौंफ खाने के फायदे कैसे काम करते हैं?

सौंफ खाने के फायदे आपको एक औषधि के रूप में मिलता है। काम करता है इसके लिए अभी ज्यादा अध्ययन मौजूद नहीं है। इससे जुड़ी अधिक जानकारी के लिए आप किसी अच्छे आयुर्वेदिक डॉक्टर से सम्पर्क कर सकते हैं। हालांकि, कुछ अध्ययन में यह स्पष्ट है कि सौंफ कई सारे खतरनाक बैक्टीरिया को मारने का काम करता है जैसे ऐरोबैक्टर ऐरोजेन्स, बैसिलस सबटिलीस, ई.कोली, प्रोटियास वुल्गार्ली, स्यूडोमोनास ऐरूजिनोसा, स्टैफ्लोकोकस एलबियास और स्टैफ्लोकोकस औरियास आदि। इसके अलावा सौंफ में एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है और यह यह महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन को भी बढाता है।

और पढ़ें: Growth Hormone Test : ग्रोथ हॉर्मोन टेस्ट क्या है?

क्या सौंफ का सेवन करने से किसी तरह के साइड इफेक्ट हो सकते हैं?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जहां सौंफ खाने के फायदे हैं, वहीं सौंफ खाने के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। अगर अधिक मात्रा में सौंफ का सेवन किया जाए तो कुछ संभावित साइड इफेक्ट्स भी होते हैं, उनमे से कुछ जानलेवा भी हो सकते हैं जैसेः

  • दौरा पड़ना
  • उल्टी, मिचली आना, चिड़चिड़ाहट
  • हाइपर सेंस्टिविटी यानी अति-संवेदनशीलता, त्वचा संबंधी एलर्जी, फोटोसेंस्टिविटी
  • फेफड़ों में पानी भर जाना (पल्मोनरी एडिमा), हॉर्मोन से जुड़े कैंसर।
health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

9 Health Benefits of Fennel Seeds. https://food.ndtv.com/food-drinks/unveiling-the-health-benefits-of-fennel-seeds-1287281. Accessed on 11 January, 2020.

10 Science-Based Benefits of Fennel and Fennel Seeds. https://www.healthline.com/nutrition/fennel-and-fennel-seed-benefits#1. Accessed on 11 January, 2020.

Five benefits of fennel tea. https://www.medicalnewstoday.com/articles/319651.php. Accessed on 11 January, 2020.

Why is fennel good for you?. https://www.medicalnewstoday.com/articles/284096.php. Accessed on 11 January, 2020.

19 Amazing Benefits Of Fennel Seeds For Skin, Hair, And Health. https://www.stylecraze.com/articles/amazing-benefits-of-fennel-seeds/#gref. Accessed on 11 January, 2020.

FENNEL. https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-311/fennel. Accessed on 11 January, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/05/2021 को
और Pooja Shrivastava द्वारा फैक्ट चेक्ड
x